GLIBS

17-11-2019
रोजर फेडरर को युवा टेनिस प्लेयर सितसिपास ने दी मात, एटीपी फाइनल्स से किया बाहर

लंदन। 20 बार के ग्रैंड स्लैम विजेता रोजर फेडरर को हराकर ग्रीस से युवा टेनिस खिलाड़ी स्टीफानोस सितसिपास ने एटीपी फाइनल्स से बाहर कर दिया है। 21 वर्षीय सितसिपास ने शानदार प्रदार्शन करते हुए फेडरर को सीधे सेटों में 6-3, 6-4 से मात दी। प्रतियोगिता के फाइनल में उनका मुकाबला अब आस्ट्रिया के डोमिनिक थीम से होगा।

सितसिपास वर्ष 2009 के बाद से इस प्रतियोगिता के फाइनल में पहुंचने वाले सबसे युवा खिलाड़ी हैं। 2009 में जुआन मार्टिन डेल पोट्रो ने टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई थी। इस टूर्नामेंट में 2002 के बाद ऐसा मौका आया है जब फेडरर, जोकोविक या नडाल में से कोई भी फाइनल मैच में नहीं खेल रहा है। आस्ट्रिया के डोमिनिक थीम ने कहा कि "फाइनल में मुझे लगता है कि खिलाड़ियों के बैकहैंड के बीच कड़ा मुकाबला होगा। हम दोनों अटैकिंग खिलाड़ी हैं, उन्हें खेलते हुए देखकर बहुत आनंद आता है। मुझे सितसिपास को खेलते हुए देखना बहुत पसंद है और मैं उनका मुकाबला करने के लिए उत्सुक हूं।

17-11-2019
विश्व पैरा एथलेटिक्स स्पर्धा : भारत ने किया शानदार प्रदर्शन, जीते सबसे ज्यादा पदक

नई दिल्ली। विश्व पैरा एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में भारत ने नौ दिन की प्रतियोगिता में 24वें स्थान पर रहकर अपना अभियान समाप्त किया। इसके साथ ही भारत ने अपने सबसे ज्यादा पदक जीतने का भी रिकॉर्ड कायम कर दिया है, जिसमें कुल मिलाकर नौ पदक जीते गए हैं। इससे पहले लंदन 2017 भारत का अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन था, जहां पैरा एथलीट संयुक्त रूप से 34वें स्थान पर पांच पदक (एक स्वर्ण) के साथ समाप्त हुए थे। भारत ने टोक्यो 2020 पैरालिम्पिक्स में 13 क्वालीफाइंग स्पॉट हासिल करने के साथ कुछ चौथे स्थान के अलावा दो स्वर्ण, दो रजत और पांच कांस्य जीते। चीन 25 स्वर्ण सहित 59 पदकों के साथ पदक तालिका में शीर्ष पर रहा। ब्राजील (39) और ग्रेट ब्रिटेन (28) चीन के बाद रहे। यूएसए 34 पदक के साथ चौथे स्थान पर रहा। 2016 के डोपिंग प्रतिबंध के बाद पहली बार चैंपियनशिप में भाग लेने वाला रूस 41 पदकों के साथ छठे स्थान पर था।

एशियाई पैरा गेम्स 2018 के चैंपियन भाला फेंक खिलाड़ी संदीप चौधरी ने पुरुषों की भाला-दौड़ वर्ग में 65.80 मीटर के व्यक्तिगत स्वर्ण पदक के साथ नया विश्व रिकॉर्ड स्थापित करके भारतीय खिलाड़ियों के बीच शानदार उपलब्धि हासिल की। इसी स्पर्धा में, भारत ने एक-दो पोडियम फिनिश किए,जिसमें सुमित एंटिल ने रजत जीता (62.88 मी) और अपनी ही श्रेणी (एफ 64) में विश्व रिकॉर्ड बनाया। सुंदर सिंह गुर्जर ने पुरुषों के भाला एफ46 में अपने खिताब का बचाव किया, जिसमें सीजन की सबसे अच्छी दूरी 61.22 मीटर थी। अनुभवी हाई जम्पर शरद कुमार ने भारत के लिए अन्य रजत पदक जीता, जो पुरुषों के उच्च कूद टी63 फाइनल में 1.83 मीटर में मिला। पैरालंपिक कमेटी ऑफ इंडिया (पीसीआई) के अंतरिम अध्यक्ष गुरशरण सिंह ने टीम के प्रदर्शन पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा, "खिलाड़ी हमारी उम्मीदों पर खरा उतरे हैं। नौ पदकों के अलावा, खिलाड़ियों ने कई व्यक्तिगत और सीज़न के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी किए। कुछ पोडियम मिस भी थे। "मुझे उम्मीद है कि सभी खिलाड़ी टोक्यो 2020 में और भी बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं। मैं उन सभी को धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने भारत में पैरालंपिक आंदोलन को समर्थन और योगदान दिया।

16-11-2019
हांगकांग ओपन के सेमीफाइनल में हारे किदांबी श्रीकांत  

नई दिल्ली।  भारत के बैडमिंटन खिलाड़ी किदाम्बी श्रीकांत को यहां जारी हांगकांग ओपन के पुरुष एकल वर्ग के सेमीफाइनल में शनिवार को हार का सामना करना पड़ा और इस हार के साथ ही टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई। टूर्नामेंट में एकमात्र चुनौती रहे श्रीकांत को सेमीफाइनल में हांगकांग के ली चेयुक से खिलाफ शिकस्त का सामना करना पड़ा। चेयुक ने वर्ल्ड नंबर-13 श्रीकांत को 42 मिनट तक चले मुकाबले में 21-9, 25-23 से मात दी।
श्रीकांत पहला गेम 9-21 से गंवा बैठे। दूसरे गेम में उन्होंने अच्छी वापसी की और एक समय 14-20 की बढ़त बना ली थी। लेकिन स्थानीय खिलाड़ी चेयुक ने इसके बाद जबर्दस्त वापसी और एक समय मुकाबला 22-22 से बराबरी पर ला दिया। इसके बाद उन्होंने 25-23 से गेम और मैच जीत लिया। वर्ल्ड नंबर-27 चेयुक ने इस जीत के साथ ही श्रीकांत से पिछली हार का बदला भी चुकता कर लिया और भारतीय खिलाड़ी के खिलाफ अपना रिकॉर्ड 1-1 का कर लिया है। श्रीकांत ने पिछले साल इंडिया ओपन में चेयुक को हराया था।

 

16-11-2019
भारत बनाम बांग्लादेश टेस्ट सीरीज : टीम इंडिया के गेंदबाजों के सामने नहीं टिक पाए बांग्लादेशी बल्लेबाज

इंदौर। भारत और बांग्लादेश के बीच पहला टेस्ट मैच 14 नवंबर से इंदौर के होलकर स्टेडियम में खेला गया। शनिवार को तीसरे दिन टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बांग्लादेश को धूल चटा दी। भारत ने बांग्लादेश को एक पारी और 130 रनों से हराया और दो मैचों की टेस्ट सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली। सीरीज का दूसरा मैच कोलकाता के ईडन गार्डन्स में 22 नवंबर से खेला जाएगा। बता दें कि यह टेस्ट मैच डे-नाइट फॉर्मेट में खेला जाएगा और दोपहर 1 बजे से शुरू होगा। इंदौर टेस्ट में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए बांग्लादेश की टीम पहली पारी में 150 रनों पर ढेर हो गई। भारत ने इसके जवाब में अपनी पहली पारी में 6 विकेट पर 493 रन बनाकर पारी घोषित कर दी। भारत को पहली पारी के आधार पर 343 रनों की बढ़त मिली। दूसरी पारी में भारतीय गेंदबाजों ने मेहमान बांग्लादेश टीम को 213 रन पर समेट कर पारी और 130 रनों से जीत दर्ज कर ली। भारत के लिए इस मैच में मोहम्मद शमी ने 7, रविचंद्रन अश्विन ने 5, उमेश यादव ने 4 और ईशांत शर्मा ने 3 विकेट लिए। भारत लगातार 6 मैच जीतकर आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप में 300 पॉइंट के साथ शीर्ष पर बरकरार है।

दूसरी पारी में बांग्लादेश की शुरुआत बेहद खराब रही। सलामी बल्लेबाज इमरूल काएस एक बार फिर असफल रहे और छह रन के निजी स्कोर पर तेज गेंदबाज उमेश यादव का शिकार बने। काएस पहली पारी में भी छह रन पर आउट हुए थे। मेहमान टीम का स्कोर 16 रन ही हुआ था कि उसे दूसरा झटका लगा। इस बार ईशांत शर्मा ने बेहतरीन गेंद डाली और शादमान इस्लाम (6) को पवेलियन की राह दिखा दी। कप्तान मोमिनुल हक भी अपनी टीम की लड़खड़ाती पारी को संभाल नहीं पाए और सात के निजी स्कोर पर मोहम्मद शमी ने उन्हें अपना शिकार बनाया। शमी ने 44 के कुल योग पर मोहम्मद मिथुन को भी चलता किया। मिथुन एक छोर पर टिके हुए थे और 18 रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे थे, लेकिन उनके पास भी शमी की दमदार गेंद का कोई जवाब नहीं था। मोहम्मद शमी ने मोमिनुल हक को 7 और महमूदुल्लाह को 15 रन पर आउट किया। इसके बाद अश्विन ने लिटन दास (35) को पवेलियन लौटा दिया। भारत ने अपनी पहली पारी में 6 विकेट पर 493 रन बनाकर पारी घोषित कर दी। भारत को पहली पारी के आधार पर 343 रनों की बढ़त मिली। टीम इंडिया के लिए पहली पारी में मयंक अग्रवाल ने अपने टेस्ट करियर का दूसरा दोहरा शतक लगाया। मयंक अग्रवाल ने 330 गेंद पर 243 रनों की पारी खेली। अजिंक्य रहाणे ने 86, चेतेश्वर पुजारा ने 54 और रवींद्र जडेजा ने नाबाद 60 रन की पारी खेली।

 

13-11-2019
राष्ट्रीय क्रीड़ा स्पर्धा के लिए डीएवी मुख्यमंत्री पब्लिक स्कूल से 3 छात्रों का चयन

दंतेवाड़ा। डीएवी मुख्यमंत्री पब्लिक स्कूल जावंगा से तीन छात्र कार्तिक कुमार शाह, राजमनी हपका एवं प्रमीना मिंज डीएवी हुडको(भिलाई)जोनल स्तर खेल प्रतिस्पर्धा खो-खो में शानदार प्रदर्शन करते हुए डीएवी राष्ट्रीय क्रीड़ा प्रतिस्पर्धा पानीपत हरियाणा के लिए चयनित हुए और विद्यालय परिवार को गौरवान्वित किया। संस्था प्रमुख डॉ आर कृष्णमूर्ति ने उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

 

12-11-2019
चीन में आयोजित गोल्फ चैम्पियनशिप में सरगुजा की बेटियों का रहा दबदबा

अंबिकापुर। चीन के झाउझैंग में आयोजित वर्ल्ड मिनी गोल्फ चैम्पियनशिप में नगर के युवा खिलाडिय़ों ने भारतीय टीम की ओर से खेलते हुए अपनी प्रतिभा की छाप छोड़ी। टूर्नामेंट में शिवानी सोनी, प्रेरणा सिंह एवं साकेत केडिया ने शानदार खेल दिखाया। चीन में 23 से 27 अक्टूबर तक आयोजित प्रतियोगिता में इन तीनों खिलाडिय़ों ने मिनी गोल्फ में सरगुजा का परचम लहराया। खेल के बाद नगर पहुंचने पर तीनों खिलाडिय़ों का स्वागत किया गया। सोमवार को जिला बास्केटबाल संघ की ओर से गांधी स्टेडियम के बास्केटबाल ग्राउंड में स्वागत कार्यक्रम का आयोजन किया गया। बास्केटबाल संघ के अध्यक्ष आदित्येश्वर शरण सिंहदेव ने तीनों खिलाडिय़ों को सम्मानित किया।

 

11-11-2019
सुंदर सिंह गुर्जर ने भाला फेंक स्पर्धा में जीता गोल्ड, भारत को तीन पैरालंपिक कोटा

नई दिल्ली। शीर्ष भाला फेंक एथलीट सुंदर सिंह गुर्जर ने कंधे की चोट से उबरते हुए सीजन के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बदौलत विश्व पैरा एथलेटिक्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक अपने नाम किया। सुंदर ने 61.22 मीटर की थ्रो के साथ गोल्ड मेडल हासिल किया। इसके साथ ही भारत ने 2020 में होने वाले टोक्यो पैरालंपिक खेलों के लिए तीन कोटे भी हासिल कर लिए हैं। बता दें कि गुर्जर ने 2013 में लियोन में गोल्ड और 2015 में दोहा चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीता था। इससे पहले शुक्रवार को भारतीय पैरा-एथलीट संदीप चौधरी ने जेवलिन थ्रो स्पर्धा में संयुक्त एफ 42-64 श्रेणी में स्वर्ण पदक जीता था। संदीप अपने दूसरे प्रयास में 66.18 मीटर के थ्रो के साथ एफ-44 श्रेणी में विश्व रिकॉर्ड बनाने में भी सक्षम थे। इसके अलावा, उनके थ्रो ने उन्हें टोक्यो 2020 पैरालिम्पिक्स में बर्थ भी दिलवा दी।  दूसरी ओर सुमित अंतिल ने अपने दूसरे प्रयास में 62.88 मीटर की सर्वश्रेष्ठ थ्रो के साथ रजत पदक जीता था। यहां तक कि सुमित का फेंक एफ-64 श्रेणी में विश्व रिकॉर्ड बन गया। पिछला विश्व रिकॉर्ड भी उनके नाम पर था, जो 61.32 मीटर था। संदीप और सुमित दोनों ने टॉप-4 के साथ टोक्यो 2020 पैरालिंपिक में अपनी-अपनी बर्थ अर्जित की है।

 

11-11-2019
अनिला भेंड़िया ने किया राज्य स्तरीय सब जूनियर  बालक-बालिका कबड्डी खेल का शुभारंभ

रायपुर। महिला एवं बाल विकास समाज कल्याण मंत्री अनिला भेंड़िया दल्लीराजहरा में राज्यस्तरीय जूनियर, सब जूनियर बालक बालिका कबड्डी खेल उदघाटन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुईं। उन्होंने ध्वजारोहण कर व रिबन काटकर कब्बड्डी खेल का शुभारंभ किया। वह खिलाड़ियों और प्रशिक्षकों से मिलीं और टॉस कर मैच प्रारंभ किया। कार्यक्रम के विशेष अतिथि रविन्द्र भेंड़िया थे। इस अवसर पर बड़ी संख्या में खिलाड़ी, खेल प्रेमी सहित गणमान्य नागरिक अतिथि उपस्थित थे।

11-11-2019
15 साल की शेफाली ने तोड़ा सचिन का रिकॉर्ड, हासिल की ये बड़ी उपलब्धि...

नई दिल्ली। भारत ने निर्धारित 20 ओवर में चार विकेट पर 185 रन का स्कोर खड़ा किया। इसके बाद भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज को 9 विकेट पर 101 रन पर समेट मुकाबले को अपने नाम कर लिया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान टीम के लिए कोई बड़ी साझेदारी नहीं बनी जिसमें केवल शर्मेन कैम्पबेल ही 34 गेंद में 33 रन बनाकर शीर्ष स्कोर रहीं। वेस्टइंडीज ने 14.1 ओवर तक 86 रन पर छह विकेट खो दिए थे। भारत ने पांच मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त हासिल कर ली। तेज गेंदबाज शिखा पांडे, स्पिनर राधा यादव और पूनम यादव ने दो-दो विकेट हासिल किए जबकि दीप्ति शर्मा और पूजा वस्त्राकर को एक-एक विकेट मिला।

पहले विकेट पर 143 रन जोड़े

बल्लेबाजी का निमंत्रण मिलने के बाद भारत के लिए अपना पांचवां टी-20 खेल रही शेफाली ने अपने पहले अंतरराष्ट्रीय अर्द्धशतक के लिए छह चौके और चार छक्के जड़े। शेफाली और मंधाना ने पहले विकेट के लिए रिकॉर्ड 143 रन की साझेदारी निभाई। यह भारत के लिए टी-20 में किसी भी विकेट के लिए सर्वोच्च भागीदारी है। पिछला भारतीय रिकॉर्ड थिरूष कामिनी और पूनम राउत का था जिन्होंने 2013 में बांग्लादेश के खिलाफ 130 रन की साझेदारी की थी। मंधाना ने 46 गेंद की पारी में 11 चौके जमाए।

शेफाली ने तोड़ा सचिन का 30 साल पुराना रिकॉर्ड

पंद्रह साल की शेफाली वर्मा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अर्द्धशतक जड़ने वाली भारत की सबसे युवा खिलाड़ी बन गई हैं। उन्होंने सचिन तेंदुलकर का 30 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया। शेफाली ने यह उपलब्धि 15 साल और 285 दिन की उम्र में हासिल की। इस तरह उन्होंने दिग्गज क्रिकेटर तेंदुलकर को पीछे छोड़ा, जिन्होंने अपना पहला टेस्ट अर्द्धशतक 16 साल और 214 दिन की उम्र में बनाया था। हरियाणा की इस युवा खिलाड़ी ने पिछले महीने सूरत में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने करिअर के दूसरे टी-20 मैच में 46 रन की पारी खेली थी। 

 

10-11-2019
10 वर्षीय इस बालक ने बनाया ऐसा रिकॉर्ड कि बन गया सबसे कम उम्र का अंतरराष्ट्रीय मास्टर

नई दिल्ली। भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक अभिमन्यु मिश्रा 10 साल 9 महीने और 3 दिन में दुनिया के सबसे कम उम्र के शतरंज के अंतरराष्ट्रीय मास्टर बन गए हैं, जिसने आर प्रग्गानंधा का विश्व में सबसे कम उम्र का अंतरराष्ट्रीय मास्टर बनने का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। ग्रैंड मास्टर प्रग्गानंधा ने 30 मई 2016 को 10 महीने 9 महीने और 20 दिन की उम्र में यह उपलब्धि हासिल की थी। अभिमन्यु का अगला लक्ष्य अब सबसे युवा ग्रैंडमास्टर बनने का है। फिलहाल यह रिकॉर्ड रूस के सर्गे कर्जकिन के नाम दर्ज है जिन्होंने 12 साल और 7 महीने की उम्र में यह उपलधि हासिल की थी।

10-11-2019
ऐश्वर्य, अंगद और मेराज ने पदक जीतकर हासिल किया ओलंपिक कोटा

नई दिल्ली। अगंद वीर सिंह बाजवा ने 14वीं एशियाई चैंपियनशिप में पुरुषों की स्कीट स्पर्धा में स्वर्ण और मेराज खान अहमद ने रजत पदक जीता। वहीं ऐश्वर्य प्रताप सिंह तोमर ने 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन में कांस्य पदक जीता। इन तीनों निशानेबाजों ने पदक के साथ ओलंपिक कोटे भी हासिल किए। इससे भारत अब तक निशानेबाजी में रिकॉर्ड 15 कोटा स्थान हासिल कर चुका है। लंदन ओलंपिक 2012 में 11, जबकि रियो ओलंपिक 2016 में 12 भारतीय निशानेबाजों ने भाग लिया था। अंगद और मेराज का फाइनल में एक समान 56 स्कोर रहा। इसके बाद शूटॉफ  में अंगद ने मेराज को 6-5 से मात देकर पीला तमगा जीता। ऐश्वर्य ने आठ निशानेबाजों के फाइनल में 449.1 अंक बनाकर तीसरा स्थान हासिल किया। कोरिया के किम जोंगयुन (459.9) ने स्वर्ण ओर चीन के झोंगहाओ झाओ (459.1) ने रजत पदक जीता। ऐश्वर्य ने इसके बाद चैन सिंह और पारुल कुमार के साथ मिलकर टीम स्पर्धा में भी कांस्य पदक जीता। इस 18 वर्षीय भारतीय निशानेबाज ने क्वालिफाइंग में 1168 अंक बनाकर फाइनल में जगह बनाई थी। इस स्पर्धा में भाग ले रहे अन्य भारतीयों में चैन सिंह क्वालिफिकेशन में 17वें और पारुल कुमार 20वें स्थान पर रहे। मध्यप्रदेश के खरगौन निवासी तोमर ने जर्मनी के सुहल में आईएसएसएफ जूनियर विश्व कप में राइफल थ्री पोजीशन में जूनियर वर्ग में विश्व रिकॉर्ड बनाया था। तोमर थ्री पोजीशन में संजीव राजपूत के बाद कोटा हासिल करने वाले दूसरे भारतीय निशानेबाज हैं।

10-11-2019
बैकुंठपुर में शालेय स्तरीय खेलकूद स्पर्धा शुरू

बैकुंठपुर। कोरिया जिला के बैकुंठपुर एसईसीएल ग्राउंड पर 19वीं शालेय स्तरीय क्रीड़ा प्रतियोगिता 2019-20 का  शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम राज्य गीत से शुभारंभ हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सविप्रा उपाध्यक्ष विधायक गुलाब कमरो थे। अध्यक्षता बैकुंठपुर विधायक अम्बिका सिंहदेव ने की। विशिष्ट अतिथि मनेन्द्रगढ़ विधायक डॉ. विनय जायसवाल, जिला पंचायत अध्यक्ष कलावती मरकाम, महापौर डमरू रेड्डी, नगरपालिका बैकुंठपुर अध्यक्ष अशोक जायसवाल, चरचा अध्यक्ष अजीत लकड़ा थे।  


 

Please Wait... News Loading