GLIBS

29-03-2020
टीएस सिंहदेव ने दक्षिण कोरिया के राजदूत से कोविड-19 नियंत्रण की रणनीति की ली जानकारी

रायपुर। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने रविवार को भारत में दक्षिण कोरिया के राजदूत शिन बॉग-किल से फोन पर चर्चा कर दक्षिण कोरिया द्वारा कोविड-19 के सफल नियंत्रण की रणनीति की जानकारी ली। उन्होंने किल से वहां कोविड-19 के संक्रमण को रोकने और पीड़ितों के इलाज के लिए किए गए उपायों सहित अस्पतालों में गई त्वरित व्यवस्था की भी जानकारी ली। सिंहदेव ने उन्हें इस बीमारी पर नियंत्रण के लिए छत्तीसगढ़ में त्वरित गति से उठाए जा रहे कदमों के बारे में बताया। किल ने यहां सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों को सही दिशा में जाता कदम बताया। उल्लेखनीय है कि दक्षिण कोरिया कोविड-19 के सबसे बेहतर प्रबंधन एवं नियंत्रण में सफलता पाने वाला अग्रणी देश है।

स्वास्थ्य मंत्री ने एम्स रायपुर के निदेशक डॉ.नितिन नागरकर से वीडियो कॉन्फ्रेसिंग से चर्चा कर वहां कोरोना वायरस संक्रमितों के इलाज के लिए की गई व्यवस्था की जानकारी ली। डॉ. नागरकर ने बताया कि एम्स में 200 लोगों के इलाज के लिए अलग से विशेष यूनिट तैयार किया जा रहा है। सिंहदेव ने वहां उपचाररत कोरोना पाजिटिव्ह पाए गए मरीजों के स्वास्थ्य के बारे में भी जानकारी ली। स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने विभागीय सचिव निहारिका बारिक सिंह, संचालक स्वास्थ्य सेवाएं नीरज बंसोड़ और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला से भी वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए चर्चा कर प्रदेश में युद्ध स्तर पर कोविड-19 से निपटने की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने मेडिकल स्टॉफ के लिए मुहैया कराए जा रहे मास्क व व्यक्तिगत सुरक्षात्मक उपकरणों की आपूर्ति और अस्पतालों में वेंटीलेटर्स के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने स्कूलों और छात्रावासों की साफ-सफाई करवाकर आपात स्थिति से निपटने की दिशा में भी तैयारियों के निर्देश दिए। सिंहदेव ने स्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉ.योगेश जैन से भी प्रदेश में कोविड-19 के नियंत्रण एवं रोकथाम के संबंध में चर्चा की।

29-03-2020
पूर्व नेता प्रतिपक्ष सलीम रोकड़िया ने वार्ड के 65 परिवारों को दिया राशन

धमतरी। लॉक डाउन के इस समय में ऐसे परिवारों के लिए मुसीबत खड़ी हो गई है,जो रोजाना काम कर किसी तरह अपना परिवार चलाते है। काम बंद होने से उन्हें राशन तक नहीं मिल पा रहा है। हालांकि यह राहत की खबर है कि ऐसे परिवारों की मदद करने लोग हाथ आगे बढ़ा रहे है। नगर निगम के पूर्व नेता प्रतिपक्ष व कांग्रेस नेता सलीम रोकड़िया अपने वार्ड साल्हेवारपारा के 65 गरीब परिवारों की सुध लेते हुए उनके लिए राशन की व्यवस्था की। चावल, दाल, आटा, आलू, प्याज, निरमा, साबुन आदि का पैकेट बनाकर उसे वार्डवासियों के घरों तक पहुंचाया, पूर्व नेता प्रतिपक्ष द्वारा किये गए इस सेवा कार्य की लोग सराहना कर रहे है।

29-03-2020
प्रदेश कांग्रेस ने राजीव भवन में बनाया कंट्रोल रूम

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस ने कोरोना से लोगों को राहत पहुंचाने के लिए राजीव भवन में कंट्रोल रूम बनाया है। इस कंट्रोल रूम के माध्यम से प्रदेश की जिला इकाइयों और ब्लाक इकाइयों की गतिविधियों की निगरानी की जाएगी। उल्लेखनीय है कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी, छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया के निर्देश पर प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने प्रदेश के सभी जिलों में सेवादल के जिलाध्यक्ष के संयोजकत्व में जिला कांग्रेस अध्यक्ष, युवा कांग्रेस एनएसयूआई की टीम गठित की जो जिलों और ब्लाकों में जिला प्रशासन के सहयोग से जनता के बीच राहत और बचाव कार्य करेंगे।

कमेटी गठित होने के साथ ही कांग्रेसजनों ने युद्ध स्तर पर राहत और बचाव कार्य शुरू भी कर दिया है। लोगों को राशन सामग्री, मजदूरों को भोजन सहित तमाम जरूरत के समान कांग्रेस के कार्यकर्ता जनप्रतिनिधि उपलब्ध करवा रहे पीसीसी अध्यक्ष खुद भी राहत सामग्री वितरण के काम में लगे है। प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम के निर्देश पर प्रदेश कंट्रोल रूम में प्रभारी महामंत्री चंद्रशेखर शुक्ला प्रतिदिन बैठकर सभी जिलों की दिनभर की गतिविधियों की रिपोर्ट अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राज्य प्रभारी पीएल पुनिया, कंट्रोल रूम दिल्ली और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को प्रेषित करेंगे। मुख्यप्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने बताया कि सोशल डिस्टेंसिग का पालन करने राजीव भवन में स्थापित कंट्रोल रूम में जिनकी ड्यूटी है उनके अतिरिक्त किसी के भी आवागमन पर सख्त प्रतिबन्ध लगाया गया है।

29-03-2020
राहुल गांधी ने लिखा प्रधानमंत्री को पत्र, मजदूरों के पलायन को लेकर की चिंता जाहिर

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को लेकर कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। तीन पन्नों के पत्र में राहुल ने लॉकडाउन का समर्थन किया है। पत्र में उन्होंने मजदूरों के पलायन को लेकर चिंता जाहिर की है। राहुल ने कहा कि हम सभी इस संकट के समय वायरस के खिलाफ सरकार द्वारा उठाए जा रहे कदम में सहयोग देने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि भारत की परिस्थिति अलग है। हमें दूसरे देशों की लॉकडाउन रणनीति से इतर कदम उठाने होंगे। राहुल ने कहा कि हमारे देश में दिहाड़ी पर काम करने वाले गरीब लोगों की संख्या ज्यादा है इसलिए हम आर्थिक गतिविधियों को बंद नहीं कर सकते। पूरी तरह से आर्थिक बंदी के कारण कोविड-19 वायरस से होने वाली मृत्यु दर बढ़ जाएगी।

राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री से आग्रह किया कि वे 'राष्ट्रव्यापी देशबंदी का हमारे लोगों, हमारे समाज और हमारी अर्थव्यवस्था पर पड़े संभावित प्रभाव' पर दोबारा विचार करें। उन्होंने कहा कि 'अचानक हुई देशबंदी से दहशत और भ्रम की स्थिति पैदा हो गई' जिसके कारण बड़ी संख्या में प्रवासी मजदूर अपने घर वापस जाने की कोशिश कर रहे हैं। राहुल ने पत्र में लिखा है कि हमारे यहां रोज की कमाई पर निर्भर रहने वाले गरीब लोगों की संख्या काफी ज्यादा है। इसलिए एकतरफा कार्रवाई करके सभी आर्थिक गतिविधियों को बंद नहीं कर सकते हैं। आर्थिक गतिविधियों को बंद कर देने से कोविड-19 की तबाही और बढ़ जाएगी।

राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी से आग्रह किया कि वे सामाजिक सुरक्षा जाल को मजबूत करें और गरीब मजदूरों की मदद और उन्हें आश्रय देने के लिए सार्वजनिक संसाधनों का उपयोग करें। उन्होंने सरकार द्वारा घोषित किए गए वित्तीय पैकेज को एक अच्छा पहला कदम बताते हुए उसके जल्द से क्रियान्वयन का आह्वान किया। उन्होंने वायरस के प्रभाव और आर्थिक बंदी से प्रमुख वित्तीय और रणनीतिक संस्थानों के आसपास रक्षात्मक दीवार स्थापित करने का सुझाव दिया। राहुल ने कहा कि हमारी प्राथमिकता बुजुर्गों और इस वायरस से ज्यादा खतरा झेल रहे कमजोर लोगों को बचाने और उन्हें आइसोलेट करने की होनी चाहिए। सरकार की तरफ से अचानक लॉकडाउन की घोषमा करने से दहशत और भ्रम की स्थिति पैदा हुई। हजारों प्रवासी मजदूर अपने किराए के घरों को छोड़ने को मजबूर हो गए हैं क्योंकि अब वे किराया नहीं दे सकते। इसलिए सरकार तुरंत कदम उठाए और उन्हें किराया देने के लिए रकम मुहैया कराए। लॉकडाउन की वजह से हजारों प्रवासी मजदूर पैदल अपने घरों की तरफ निकल पड़े हैं और अलग-अलग राज्यों की सीमाओं पर फंस गए हैं। हमें उनसे बात करके, उन्हें विश्वास में लेकर समय पर कदम उठाने की आवश्यकता है।

 

28-03-2020
मुख्यमंत्री की पहल पर गेंहू की बिक्री करेगी एफसीआई,व्यापारी निर्धारित दर पर कर सकेंगे उठाव

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर भारतीय खाद्य निगम गेंहू बिक्री करेगा। प्रदेश के व्यापारी और आटा मिल वाले निर्धारित दर पर इसका उठाव कर सकेंगे। इस पहल से लॉकडाउन की स्थिति में आम नागरिकों को गेंहू निर्धारित दर पर आसानी से उपलब्ध हो सकेगा। एफसीआई द्वारा प्रदेश में बिक्री के लिए सात हजार 250 मीटरिक टन गेंहू उपलब्ध कराया गया है। इस गेंहू की बिक्री के लिए प्रदेश के सात जिलों में गेंहू की कुल मात्रा और उसकी दर भी निर्धारित की गई है। एफसीआई द्वारा गेंहू की दर 2135 रूपए और इसमें परिवहन दर के साथ जिलेवार इसकी दर भी निर्धारित की गई है।  

रायपुर जिले के मंदिरहसौद में 900 मीटरिक टन गेंहू की मात्रा निर्धारित की गई है, यहां गेंहू की बिक्री 2393 रूपए प्रति क्विंटल की दर से की जाएगी। इसी प्रकार बिलासपुर जिले के लिए 300 मीटरिक टन की मात्रा निर्धारित की गई है और यहां 2401 रूपए प्रति क्विंटल की दर से बिक्री होगी। सूरजपुर जिले के विश्रामपुर में 4000 मीटरिक टन गेंहू उपलब्ध कराया गया है, यहां इसी बिक्री 2368 रूपए प्रति क्विंटल की दर से की जाएगी। रायगढ़ जिले में 600 मीटरिक टन की मात्रा निर्धारित की गई है, यहां 2458 रूपए प्रति क्विंटल की दर से बिक्री की जाएगी। जांजगीर-चांपा जिले के नैला में उपलब्ध 150 मीटरिक टन गेंहू को 2425 रूपए प्रति क्विंटल की दर से बेचा जाएगा। बस्तर जिले के जगदलपुर में उपलब्ध 300 मीटरकि टन गेंहू की बिक्री 2468 रूपए प्रति क्विंटल की दर से की जाएगी। राजनांदगांव जिले में उपलब्ध 1000 मीटरिक टन गेंहू की बिक्री 2394 रूपए प्रति क्विंटल की दर से की जाएगी।

28-03-2020
विशाल ह्रदय दिखाए दक्षिण विधायक,छोटा सा किट बांटने की जवाबदारी मंडल अध्यक्ष को दे : विकास तिवारी

रायपुर। दक्षिण विधानसभा निवासी एवं कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने तंज कसते हुए कहा है कि 6 बार के विधायक बृजमोहन अग्रवाल, डॉ.भीमराव अम्बेडकर अस्पताल के 25 चिकित्सकों के लिए 25 किट देकर तीनों लोक जीत लिया है। इसके लिए मैं उनका साधुवाद ज्ञापित करता है। जारी प्रेस विज्ञप्ति में विकास तिवारी ने कहा है कि बृजमोहन हमेशा "तत्पर" रहने वाले नेता है। दक्षिण विधानसभा के सभी रहवासियों की ओर से मैं अनुरोध करता हूं कि वे विशाल रूप धारण करें, जिस रूप में वे विधानसभा चुनाव के समय नजर आते हैं। वे कोरोना कोविड-19 वायरस से पीड़ितों की मदद के लिए आगे आए। छोटा सा किट देने का काम तो रामसागर पारा और पुरानी बस्ती मंडल के नेताओं पर छोड़ देना चाहिए। तिवारी ने कहा है कि 14 अप्रैल तक वे अपने विशाल ह्दय दिखाते हुए कोई विशाल कार्य प्रतिपादित करे। अंत में उन्होंने लिखा है कि आशा है कि वे तत्काल जागृत होंगे।

28-03-2020
कोरोना के खिलाफ लड़ाई में करें आर्थिक सहयोग : नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोरोना के 149 मामले सामने आने के साथ ही देश में अब कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 873 हो गई है। लेकिन, देश ने कोरोना वायरस के खिलाफ पहले ही जंग छेड़ दी है। पूरे देश में लॉक डाउन लागू है। ऐसे में पीएम मोदी ने देशवासियों से कोरोना वायरस के खिलाफ इस जंग में आर्थिक सहयोग देने की अपील की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, "PM-CARES फंड सूक्ष्म दान को भी स्वीकार करता है। यह आपदा प्रबंधन क्षमताओं को मजबूत करेगा और नागरिकों की सुरक्षा पर अनुसंधान को प्रोत्साहित करेगा। आइए हम अपनी भावी पीढ़ियों के लिए भारत को स्वस्थ और अधिक समृद्ध बनाने में कोई कसर न छोड़ें।" इसके साथ ही इस ट्वीट में पीएम मोदी ने PM-CARES की बैंक डिटेल्ट भी जारी की, जिमें लोग अपनी ओर को आर्थिक योग दान दे सकते हैं।

28-03-2020
लॉकडाउन में मदद करेंगे कांग्रेसी, संगठन प्रमुखों को टीम की कमान, देखिए सूची...

रायपुर। देश मे फैली वैश्विक महामारी कोरोना से निपटने के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने देश भर के कांग्रेस कार्यकर्ताओं से  सहयोग की अपील की है। कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष की मंशा के अनुरूप छत्तीसगढ़ में भी कांग्रेसी लोगों की मदद के लिए प्रशासन का सहयोग करेंगे। पार्टी हाई कमान की अपील के परिपालन में पीसीसी अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कांग्रेस के सभी संगठनों को चुनिंदा कार्यकर्ताओं की टीम बनाने का निर्देश दिया है। इसके अनुसार प्रत्येक जिला, ब्लाक में छोटी छोटी समिति बनाकर प्रशासन को सहयोग करने के लिए स्वयं सेवकों की टीम तैयार कर, चुनिंदा गंभीर जिम्मेदार और सीमित लोगों को शामिल करने के निर्देश दिए गए हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम के निर्देश पर प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी महामंत्री (संगठन)चंद्रशेखर शुक्ला ने प्रदेश के सभी जिलों के लिए कांग्रेस की राहत कमेटी की घोषणा की है। इस कमेटी के संयोजक जिला कांग्रेस सेवादल प्रमुख होंगे या  जिला कांग्रेस अध्यक्ष, जिला युवा कांग्रेस के अध्यक्ष और एनएसयू आई के जिला अध्यक्ष इसके सदस्य होंगे।

जिलों की राहत कमेटी के सदस्यों की सूची...

27-03-2020
नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने केंद्रीय मंत्री और छग प्रभारी मुंडा से की चर्चा

रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने केन्द्रीय मंत्री और क़ोरोना रोकथाम एवं राहत के लिए पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा नियुक्त छग प्रभारी अर्जुन मुंडा से प्रदेश में कोरोना महामारी के हालात पर दूरभाष पर बात की। इस दौरान  मुंडा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में इस वैश्विक महामारी के खिलाफ व्यापक अभियान पूरे देश चलाया जा रहा है। छत्तीसगढ़ में भी कोरोना के खिलाफ कारगर लड़ाई लड़ी जा रही है। हमारी जीत जरूर होगी। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने खाद्य मंत्री अमरजीत भगत से पूरे प्रदेश में खद्यान्न सहजता से मिले इस मसले पर चर्चा हुई।  साथ ही गांवों के स्तर पर अलग के खद्यान्न का भंडारण भी रहे इसकी चिंता करने आग्रह किया। कौशिक ने कहा कि जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, उन्हें भी राशन मुहैय्या कराया जाये। केन्द्र सरकार ने कई जनहित के फैसले लिये हैं। उन्होंने प्रदेशवासियों से अपील की है कि लॉकडाउन का पूरी तरह से पालन करें। किसी को भी डरने की ज़रूरत नहीं है लेकिन सतर्कता ज़रूरी है।

 

27-03-2020
नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने दादी जानकी के निधन पर जताया शोक

रायपुर। महिलाओं की ओर से संचालित दुनिया के सबसे बड़े आध्यात्मिक संगठन ब्रह्माकुमारीज संस्थान की मुख्य प्रशासिका तथा स्वच्छ भारत मिशन ब्रांड अम्बेसडर राजयोगिनी दादी जानकी का 104 वर्ष की उम्र में देहावसान हो गया। माउण्ट आबू के ग्लोबल हॉस्पिटल में 27 मार्च को प्रातः 2 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने ट्वीट कर लिखा है कि आध्यात्म के माध्यम से समाज में मानवीय मूल्यों की स्थापना व लोगों के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन के लिए उनका समूचा जीवन समर्पित रहा है। मैं उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ।

 

Please Wait... News Loading