GLIBS

28-05-2020
कोरोना संकट के बीच जूनियर डॉक्टर्स नाराज, राजधानी सहित अन्य जिलों में इस्तीफे की खबर 

रायपुर। कोरोना संकट के बीच राजधानी रायपुर सहित बिलासपुर, रायगढ़ और राजनांदगांव में जूनियर डॉक्टरों ने इस्तीफा सौंपकर चौंका दिया है। जूनियर डॉक्टर व्यवस्था से खासे नाराज हैं। कोरोना वायरस से बचने के लिए सुरक्षा व्यवस्था का आभाव, समय पर वेतन नहीं मिलना और ज्वाइनिंंग की स्थिति स्पष्ट नहीं होना कारण बता रहे हैं। इंटर्न डॉक्टर्स को जूनियर डॉक्टर बनाने के बेस पर हुई ज्वाइनिंग पर स्थिति स्पष्ट नहीं होने से जूनियर डॉक्टर्स में नाराजगी है।  बुधवार को मेडिकल कॉलेज  के 15 जूनियर डॉक्टरों ने रायपुर में इस्तीफा सौंपा था। हालांकि एस्मा के कारण इस्तीफा स्वीकार नहीं किया गया है।  इधर रायगढ़ मेडिकल कॉलेज,सिम्स बिलासपुर और राजनांदगांव में जूनियर डॉक्टर्स ने इस्तीफा सौंपा है।

 

 

28-05-2020
 गौठानों में बने जैविक खाद को मिला क्वालिटी सर्टिफिकेट, कोरबा बना प्रदेश का पहला जिला

 कोरबा। कोरोना काल में भी कलेक्टर किरण कौशल का एक और अभिनव प्रयास सफल हो गया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की महत्वकाँक्षी योजना नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी के तहत बने जिले के गौठानो में उत्पादित वर्मी कम्पोस्ट को छतीसगढ़ की खाद गुणवत्ता प्रामाणिकरण संस्था ने मानक गुणवत्ता का पाया है और कोरबा जिले को उत्पादित कम्पोस्ट को मानक गुणवत्ता प्रमाणपत्र दिया है। गौठानों में बने खाद को गुणवत्ता को जाँच कर उसका मानक प्रमाणन प्राप्त करने वाला कोरबा प्रदेश का पहला और एकमात्र जिला है। कलेक्टर किरण कौशल को हरे कृष्णा स्व सहायता समूह माहोरा की अध्यक्ष ने जैविक खाद प्रमाणन पत्र सौंपा। कलेक्टर ने समूह को इस उपलब्धि पर बधाई और शुभकामनाएं दी तथा खाद को आकर्षक पकैजिंग कर उसका बड़े पैमाने पर व्यापार करने को कहा। गौठान में जैविक खाद उत्पादन में गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए राज्य शासन अंतर्गत सीजी सर्ट सोसायटी द्वारा हरे कृष्णा स्व सहायता समूह को सीजी सर्ट अप्रूवल प्रमाण पत्र प्रदान किया गया है। यह सर्टिफिकेट जैविक खाद उत्पादन के दौरान एनपीओपी के कड़े मानकों को पूरा करने के उपरांत दिया जाता है। हरे कृष्णा स्व सहायता समूह को सीजी सर्ट प्रमाणीकरण मिलने पर कलेक्टर किरण कौशल और जिला पंचायत सीईओ एस जयवर्धन ने समिति की सदस्यों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी है।

कलेक्टर कौशल ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा गौठानों में जैविक खाद बनाने के लिए स्व सहायता समूहों को प्रदान किये जा रहे विशेष सहयोग समूह को प्रमाणीकरण मिलने में सहायक साबित हुए। कलेक्टर ने समूह सद्वारा उत्पादित जैविक खाद को समुचित ब्रांडिग के साथ सभी बाजारों में बेचने की सलाह समूह के सदस्यों को दी है। समूह के सदस्यों ने बताया कि जिले में वृहद रूप से होने वाले वृक्षारोपण के लिए वन विभाग, उद्यानिकी विभाग, कृषि विभाग सहित कई एजेंसियों से खाद की मांग आ रही है। जिला पंचायत सीईओ एस.जयवर्धन ने बताया कि राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी कार्यक्रम के तहत खेतों में रासायनिक खाद के बदले जैविक खादों के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए गौठानों को विकसित किया गया है। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन अंतर्गत ग्राम पंचायत भांवर के महोरा गौठान में हरे कृष्णा स्व सहायता समूह के सदस्यों द्वारा 42 क्विंटल खाद उत्पादन किया जा चुका है तथा 28 क्विंटल खाद की बिक्री भी दस रूपये प्रति किलोग्राम के दाम पर हो चुकी है। खाद के संबंध में उद्यानिकी विभाग ने संतुष्टी जताई है तथा खाद गुणवत्ता उच्चतम होने के कारण उत्पादन अधिक और लागत कम आ रही है। समूह द्वारा बनाये गये खाद को हसदेव अमृत नाम के ब्राण्ड से बाजार में बेचा जा रहा है। प्रचुर मात्रा में जैविक खाद उत्पादन से समूह की महिलाओं की आर्थिक स्थिति सुधर गई है।

समूह द्वारा बनाये जा रहे खाद को सीजी सर्ट की निरीक्षण समिति के द्वारा क्षेत्र निरीक्षण के पश्चात जैविक खाद का लैब टेस्ट करवाया गया है। लैब टेस्ट में पास होने तथा पंजी संधारण, संग्रहण व्यवस्था आदि की समुचित प्रबंध से संतुष्ट होने के बाद ही प्रमाण पत्र जारी किया गया है। हरे कृष्णा स्व सहायता समूह की कांति देवी कॅवर कहती है कि यह तो सोने पर सुहागा है कि हम जो उत्पादन करते है उसे बनाने का खर्च तो है ही नही और दस रूपये प्रति किलोग्राम की दर से कमाई हो जाती है। खपत के लिये गांव में ही जरूरत होती है, साथ ही शासकीय विभागों द्वारा मांग जारी की जाती है। इस तरह बनी हुई खाद से कचरा प्रबंधन भी होता है और कम समय मे अच्छी कमाई भी हो जाती है। वर्तमान में कटघोरा विकासखंड की राधे कृष्ण स्वसहायता समूह ढेलवाडीह, अंबे सहायता समूह ढपढप, बुढ़ादेव स्वसहायता समूह रंजना, शिवशक्ति स्व सहायता समूह अरदा, पूजा स्वसहायता समूह अमरपुर, कोरबा विकासखंड के चंद्रहासिनी स्वसहायता समूह चिर्रा, सहेली स्वसहायता समूह बेला, करतला विकासखंड के जय माॅ दुर्गा स्वसहायता समूह कटबितला, जय माता दी स्वसहायता समूह उमरेली, पाली विकासखंड के गोठान महिला समूह मदनपुर, शिव शक्ति स्वसहायता समूह केराझरिया, महामाया स्वसहायता समूह नंदीपाली एवं जय लक्ष्मी स्वसहायत समूह उड़तां द्वारा गौठानों में बिहान अंतर्गत लगभग नौ टन वर्मी कम्पोस्ट उत्पादन कर विक्रय किया जा चुका है। साथ ही लगभग 35 टन उत्पादन प्रक्रियाधीन है। राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा इन समूहों को प्रशिक्षण उपरांत उत्पादन हेतु कच्चा सामान जैसे गोबर, पत्ते, मिट्टी, पानी, वर्मी बेड, केंचुआ एवं विक्रय के लिए बाजार की उपलब्धता भी सुनिश्चित कराई गई है ताकि महिला समूह अपने ग्राम की जैविक खाद की आवश्यकता पूर्ति कर इसे अन्य बाजार में उपलब्ध करा सके।

28-05-2020
सहभागिता व सहयोग से ही कोरोना की जंग में विजय होगी : नम्रता गांधी

धमतरी। निवर्तमान कलेक्टर रजत बंसल जिला धमतरी के आदेशानुसार सीईओ जिला पंचायत नम्रता गांधी के नेतृत्व में अनुविभागीय अधिकारी मनीष मिश्रा,मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.डीके तुर्रे, डाॅ.विजय फूलमाली,जिला संगठक प्रदीप साहू,बीईओ डीआर गजेन्द्र की उपस्थिति में कांटेक्ट ट्रेसिंग टीम की कार्यशाला, सहप्रशिक्षण मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी प्रशिक्षण केन्द्र धमतरी में आयोजित किया गया। सीईओ जिला पंचायत नम्रता गांधी ने कहा कि सभी की सहभागिता व सहयोग से ही धमतरी जिले को कोरोना जैसे महामारी से मुक्ति दिला सकते हैं। इसकी पूर्व तैयारी के लिए सक्रिय एवं उर्जावान शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है ताकि आपात कालीन स्थिति में अपनी सेवाएं दे सके। इसमें धमतरी विकासखंड के प्राथमिक माध्यमिक एवं हाई हायर सेकेंडरी में कार्यरत शिक्षकों को कोरोना कोविड-19 की रोकथाम एवं सुरक्षा के लिए कांटेक्ट ट्रेसिंग प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षकों द्वारा बताया गया कि जब कोरोना पाजिटिव की परिस्थिति आती है तो मुख्य रूप से कौन-कौन सी जानकारी संबंधित व संबंधित के परिवार पड़ोसी से जानकारियां एकत्रित कांटेक्ट ट्रेसिंग के माध्यम से लिपिबद्ध किया जाना है। “ए”, “बी” व “सी” की ग्रुप में होगी जैसे “ए” ग्रुप का कार्य जैसे ही कोरोना पाजिटिव की सूचना प्राप्त होगी तीन व्यक्तियों की कान्टेक्ट ट्रेसिंग टीम को पाजिटिव मरीज के घर पर निवास स्थान में भेजा जावेगा।

प्रथम “ए” व्यक्ति पिछले 15 दिनों में उसके यात्रा के इतिहास एवं ठिकाने तथा संपर्क में आये हुये व्यक्यिों के बारे में जानकारी लेना होगा। टीम के द्वितीय व्यक्ति “बी” द्वारा परिवार आगंतुको,रिश्तेदारों आदि के विवरण के बारे में पुछा जावेगा। टीम के तृतीय व्यक्ति “सी” द्वारा उसके पड़ोसीयों से पाजिटिव मरीज या उनके परिवार में आने-जाने वालो तथा उनकी सामान्य गतिविधियों की पूछताछ एवं संबंधित जानकारी एकत्रित करना होगा। एक बार सभी जानकारी एकत्र करने बाद टीम “ए” “बी” “सी” को प्राप्त विवरण को संकलित किया जावेगा। यदि विसंगतियों या विरोधाभास की स्थिति बनती है तो संबंधित व्यक्तियों से पुनः पूछताछ कर सुधार किया जावेगा। छः घंटे के भीतर पूरी संपर्क सूची तैयार किया जावेगा। प्रशिक्षण के दौरान ड्यूटी में लगे अधिकारी कर्मचारियों की सुरक्षा को विशेष ध्यान रखते हुए पीपीई किट पहने के तरीके एवं उपयोग पश्चात् डिस्पोज करने के तरीके के साथ-साथ अपने आप को किस प्रकार से पूर्ण रूप से सैनिटाराइज किया जावेगा की विस्तृत जानकारी दिया गया।

 

28-05-2020
महिला कांग्रेस ने मजदूर-सफाई कर्मचारी महिलाओं को बांटा सेनेटरी नैपकिन और साबुन, प्रदेशभर में होगा वितरण

रायपुर। राष्ट्रीय महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुष्मिता देव की ओर से गुरुवार को शुरू किए गए गरिमा अभियान और निर्देशानुसार प्रदेश महिला कांग्रेस ने सेनेटरी नैपकिन और साबुन का वितरण किया। राज्यसभा सांसद व महिला कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष फूलोदेवी नेताम ने महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए रेलवे स्टेशन और राजा तालाब में महिला सफाई कर्मचारी,मजदूर महिलाओं को वितरण किया। फूलोदेवी नेताम ने कहा कि लॉक डाउन के समय में गरीब महिलाओं के पास खाने-पीने की व्यवस्था नहीं हो पा रही है। ऐसे में मासिक धर्म स्वच्छता के लिए सेनेटरी नैपकिन की व्यवस्था करने में परेशानी हो रही है। महिला कांग्रेस की ओर से प्रदेश प्रत्येक जिले में गरिमा कार्यक्रम के तहत गरीब  महिलाओं को सेनेटरी नैपकिन व साबुन वितरण किया जाएगा। आज राजधानी के गरिमा कार्यक्रम में वरिष्ठ उपाध्यक्ष उषारज्जन श्रीवास्तव, महासचिव सुधा सरोज, अर्पणा फांसिस, राधा राजपाल, सरिता शर्मा, शहर अध्यक्ष आशा चौहान, ग्रामीण अध्यक्ष अनीता गुरूपंच,सायरा खान उपस्थित थीं।

28-05-2020
समाजसेवियों ने 'डोनेशन ऑन व्हील' को भेंट किया 146 थर्मल स्कैनर, विधायक की पहल

रायपुर। कोरोना संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण के लिए आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। जिला प्रशासन के प्रयासों में अपनी सहभागिता देते हुए विधायक कुलदीप सिंह जुनेजा की पहल पर समाजसेवियों ने 146 थर्मल स्कैनर "डोनेशन ऑन व्हील्स" में प्रदान किए हैं। गुरुवार को प्रभारी कलेक्टर सौरभ कुमार,वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आरिफ शेख और सीईओ डॉ.गौरव कुमार सिंह से भेंट कर समाजसेवी समीर दुबे,सुषमा दुबे और पल्लवी पटेल के साथ प्रतिनिधिमंडल ने ये थर्मल स्कैनर जिला प्रशासन को उपलब्ध कराए। प्रभारी कलेक्टर सौरभ कुमार ने सहयोग की प्रशंसा करते हुए कहा कि इससे लोगों को सुविधा होगी। सौरभ कुमार ने सामाजिक व स्वयंसेवी संस्थाओं के सकारात्मक सोच के लिए सभी की सराहना की। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ङॉ.गौरव सिंह ने बताया कि जिला प्रशासन की ओर से डोनेशन ऑन व्हील्स से जिले के संवेदनशील और समाजसेवी लोगों, स्वयसेवी व सामाजिक संगठन,व्यावसायिक संस्थाओं की ओर से चावल, राशन और अन्य दैनिक जरुरतों की सामग्री  का दान किया जा रहा है। आज दान किए गए इन चिकित्सा उपकरणों से संभावित कोरोना संक्रमित लोगों की जांच में अत्यधिक मदद मिलेगी।

28-05-2020
मानसिक स्वास्थ्य एवं कल्याण विषय पर हुआ वेबिनार, मनोवैज्ञानिकों ने दिए कई सुझाव

रायपुर। साइक्लोजिकल फोरम छत्तीसगढ़ एवं मनोविज्ञान अध्ययन शाला के संयुक्त तत्वाधान में दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय वेबीनार एवं फोरम के वार्षिक सम्मेलन का आयोजन किया गया। फोरम की मीडिया प्रभारी डॉ.रोली तिवारी ने बताया कि इस अंतरराष्ट्रीय वेबिनार में कोविड-19 के दौरान मानसिक स्वास्थ्य एवं कल्याण से संबंधित मुद्दे एवं चुनौतियां, भय, पलायन मनोवैज्ञानिकों के समक्ष उत्पन्न होने वाले मुद्दे और चुनौतियां, विद्यार्थियों के लिए चुनौतियां, एनजीओ समाजसेवियों एवं कोरोना वॉरियर्स की भूमिका, भविष्य की असुरक्षा एवं वर्तमान में किए जाने वाले परोपकारी व्यवहार जैसे कई ज्ञानवर्धक विषयों पर मनोवैज्ञानिकों द्वारा चिंतन किया गया एवं इसके लिए सुझाव दिए।
आयोजन के पहले दिन प्रमुख वक्ताओं में बस्तर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.एसके सिंह ने ऐसे आयोजनों को बढ़ावा देने और मनोवैज्ञानिकों की भूमिका को महत्वपूर्ण बताया। प्रो. ओपी वर्मा, सचिव, विवेकानंद विद्यापीठ मे भारतीय संस्कृति एवं विवेकानंद के जीवन दर्शन को इस विषय से जोड़ने पर बल दिया। पंडित सुंदरलाल शर्मा ओपन यूनिवर्सिटी के कुलपति प्रो.डीजी सिंह ने कहा कि निम्न वर्ग पर भी ध्यान केंद्रित करना एवं एक मनोवैज्ञानिक के रूप में अपनी सेवाएं जनसामान्य तक पहुंचाना हमारी नैतिक जिम्मेदारी है। उन्होंने बताया कि मनोविज्ञान विषय में आइसोलेशन चाहे शारीरिक व मानसिक हो या सामाजिक किसी भी रूप में उचित नहीं है, क्योंकि इस विश्वव्यापी बीमारी की वजह से हमें यह व्यवहार अपनाना पड़ रहा है। ऐसे में मनोवैज्ञानिकों की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है।

मुख्य वक्ता प्रो.गिरीश्वर मिश्र, पूर्व कुलपति महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय वर्धा ने कहा कि भारतीय संस्कृति हमें प्रेम करना सिखाती। यदि इस पर ध्यान ना दिया जाए तो प्रकृति का यह विकराल रूप भी हमें देखना पड़ता है। उन्होंने भारतीय संस्कृति का पालन करने आध्यात्मिक ज्ञान एवं आत्मबल पर जोर देकर इस बीमारी से लड़ने का सुझाव दिया। डॉ.रेणुका देवी चेन्नई ने विद्यार्थियों से संबंधित समस्याओं को सुलझाने के कुछ सुझाव दिए। यूनिवर्सिटी ऑफ अलास्का यूएसए प्रोफेसर डीएनए एंड सेल्फ ट्रेनिंग पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि एक विश्वव्यापी मुद्दा है और ऐसे में मनोवैज्ञानिक परामर्शदाताओं की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है। युनिवर्सिटी ऑफ अलास्का यूएस से प्रो.बीएल दुबे ने स्किल जेवलपमेंट एंड सेल्फ ट्रेनिंग पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि यह एक विश्वव्यपी मुद्दा है और एसे में मनोवैज्ञानिक, परामर्शदाताओं की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है। इसी तरह अन्य जगहों से आए विशेषज्ञों ने अपने वक्तव्य दिए। सभी वरिष्ठ मनोवैज्ञानिक को शिक्षकों एवं परामर्शदाताओं ने साइक्लोजिकल फोरम छत्तीसगढ़ की इस पहल पर उन्हें बधाई दी कि “मानसिक स्वास्थ्य एवं कल्याण” से संबंधित महत्वपूर्ण विषय को इस संस्था ने चुना और तकनीक के माध्यम से सैकड़ों लोगों को जोड़कर उनमें जागरूकता फैलाने का सफल प्रयास किया। कार्यक्रम का संचालन साइक्लोजिकल फोरम छत्तीसगढ़ के सचिव डॉ.जय सिंह ने किया। अध्यक्षीय उद्बोधन संस्था के अध्यक्ष डॉ. बसंत सोनबेर ने दिया।

 

28-05-2020
रायपुर सराफा एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री का किया अभिनंदन,सरकार के निर्णय से व्यापार जगत में हर्ष

रायपुर। राज्य सरकार के लॉक डाउन में सप्ताह के 6 दिन व्यवसाय खोलने के निर्णय से व्यापार जगत में खुशी की लहर है। गुुरुवार को रायपुर सराफा एसोसिएशन के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री निवास पहुंचकर भूपेश बघेल का अभिनंदन किया। एसोसिएशन के अध्यक्ष हरख मालू ने कहा कि 6 दिन व्यापार खोलने के फैसले से पूरे व्यापार जगत में खुशी की लहर है ही, अब इस माह के अंतिम शनिवार और रविवार को भी व्यापार को खोलने के निर्णय से व्यापारी अभिभूत हैं। लग रहा था इस सप्ताह सिर्फ 5 दिन ही व्यापार करने को मिलेगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री और मंत्रिमंडल का निर्णय इस लॉक डाउन अवधि में व्यापार जगत के लिए मील का पत्थर साबित होगा। व्यापारिक गतिविधियों में तेजी आएगी।
हरख मालू ने मुख्यमंत्री बघेल को बताया कि पंडरी में जेम्स एंड ज्वेलरी पार्क के निर्माण के निर्णय से भी सराफा व्यापारी बहुत खुश है। जेम्स एंड ज्वेलरी पार्क के निर्माण से सराफा व्यवसायियों को एक ही छत के नीचे होलसेल रिटेल, रिफाइनरी, कारीगर, हॉल मार्किंग सेंटर, हाई सिक्योरिटी, बैंक, एटीएम, पुलिस चौकी आदि सारी सुविधाएं उपलब्ध हो सकेंगी। इसके लिए रायपुर सराफा एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया। इस दौरान हरख मालू के साथ भीकमचंद कोचर, धर्मचंद भंसाली, तिलोकचंद बरडिया, लक्ष्मी नारायण लाहोटी, पवन अग्रवाल, प्रह्लाद सोनी, अनिल कुचेरिया उपस्थित थे।

 

28-05-2020
कोरोना पॉजिटिव मिलने से स्वास्थ्य विभाग अलर्ट

कांकेर। जिले के भानुप्रतापपुर में स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाया गया। सीएमएचओ डॉ.जेएल उईके ने इनकी पुष्टि की है। भानुप्रतापपुर में स्थानीय प्रशासन की टीम पहुंचकर क्षेत्र को चारों तरफ से सील कर दिया है। स्वास्थ्य विभाग भी अलर्ट हो गया है। विदित हो कि अभी तक कांकेर एवं दुर्गुकोंदल ब्लाक के क्षेत्र में ही कोरोना के मरीज मिल रहे थे। गुरुवार को जिला का स्वास्थ्य कर्मचारी, जिसकी रिपोर्ट कोरोना पाजेटीव आई,जिससे भानुप्रतापपुर क्षेत्र की समस्त दुकानें आगामी आदेश तक बंद रखने के आदेश नगर पंचायत सीएमओ ललित साहू ने दिए हैं। इसमें फल,दूध,दवाई एवं पेट्रोल पंप  सहित सभी प्रतिष्ठान बंद रहेंगे।

28-05-2020
एमआरपी से अधिक कीमत पर सैनिटाइजर बेचते दुकान संचालक को औषधि विभाग ने पकड़ा

भिलाई। एमआरपी से ज्यादा कीमत पर सैनिटाइजर बेचते हुए एक दुकान के संचालक को पकड़ा गया और सरकारी कार्यवाही में सहयोग नहीं करने औषधि विभाग को पुलिस बुलानी पड़ी। मिली जानकारी के अनुसार सुपेला, भिलाई स्थित खंडेलवाल प्लास्टिक एन्ड क्रोकरी में दुगने कीमत पर सैनिटाइजर बेचते हुए खाद्य एवं औषधि प्रशासन द्वारा धरा गया। इस दौरान कारोबारी द्वारा असहयोग के जाने पर विभाग को पुलिस बल भी बुलाना पड़ा। विभाग के औषधि निरीक्षक बृजराज सिंह द्वारा गुरुवार को जब्ती की कार्रवाई की गई है। औषधि निरीक्षक बृजराज सिंह ने बताया कि सुपेला मार्केट स्थित खंडेलवाल प्लास्टिक एंड क्रॉकरी शॉप में नामी कंपनी का हैंड सैनिटाइजर बोतल पर मुद्रित कीमत से दुगनी दरों पर विक्रय करते हुए पकड़ा गया। इस पर विभाग द्वारा संचालक से अत्यधिक कीमत पर हैंड सैनिटाइजर बेचे जाने से संबंधित सामग्री का क्रय बीजक दस्तावेज मांगा गया परंतु दुकान का संचालक कार्यवाही में सहयोग करने के बजाय औषधि विभाग की टीम के साथ दुर्व्यवहार करने लगा। इस पर निरीक्षक बृजराज सिंह द्वारा सुपेला थाने को सूचित किया गया। घटनास्थल पर तत्काल सुपेला पुलिस उपस्थित रही। औषधि निरीक्षक बृजराज सिंह ने बताया कि दुगनी कीमत पर बेची जा रहे हैंड सैनिटाइजर की बोतल जब्त की गई है। औषधि निरीक्षक ब्रजराज सिंह, द्वारा सैनिटाइजर व क्रय बीज को जब्त कर आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 के तहत कार्यवाही की गई। इसके अतिरिक्त गुणवत्ता में संदेह के आधार पर एक अन्य हैंड सैनिटाइजर के नमूने का संकलन किया गया। फर्म के प्रो./मालिक द्वारा कार्यवाही में सहयोग न करने पर संबंधित थाने पुलिस बल को बुलाया गया। फर्म के प्रो./मालिक से में संग्रहित सैनिटाइजर के बिक्री बीजक प्रस्तुत करने को कहा गया परंतु फर्म बीजक प्रस्तुत नहीं कर सका। इसके बाद मामला दर्ज किया गया और कार्रवाई की गई।

 

28-05-2020
बिना जांच पड़ताल पत्रकार की गिरफ्तारी का पत्रकारों ने किया विरोध, सीएम के नाम कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

कांकेर। शहर के वरिष्ठ पत्रकार सुशील शर्मा की अचानक एवं एक तरफा गिरफ्तारी का विरोध करते हुए आज प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकार कांकेर कलेक्टर को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम ज्ञापन सौंपा है। इसमें पत्रकार सुशील शर्मा को रायपुर पुलिस ने बिना किसी आचार संहिता का पालन करते हुए एक महिला अधिकारी की फर्जी आरोपों वाली शिकायत पर आनन-फानन में एफआईआर दर्ज कर सीधे कांकेर स्थित उनके निवास पर थाना खमारडीह रायपुर से कोरोना काल के बावजूद पुलिस पार्टी भेजकर गिरफ्तारी कर 5000 रूपए के मुचलके पर रिहा किया गया है। बस्तर बन्धुु का कार्य तथा न्याय क्षेत्र कांकेर होने के बावजूद रायपुर में रिपोर्ट लिखी गई और कांकेर के किसी भी पुलिस अधिकारी अथवा पत्रकार अथवा जनप्रतिनिधि को सूचित किए बिना, शासन के दिशा-निर्देशों/आचार संहिता को ताक में रखकर सीधे घर आकर गिरफ्तारी की गई है,जो किसी भी दृष्टिकोण से सही नहीं है और इसे प्रजातंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला ही माना जाएगा। जिस तथ्य व सबूतों के आधार पर महिला अधिकारी के संबंध में समाचार प्रकाशित किया गया है उस पर पत्रकार सुशील शर्मा से किसी भी प्रकार की जांच-पड़ताल या पूछताछ नहीं की गई है,जिससे यह प्रतीत होता है कि इस गिरफ्तारी के पीछे कहीं न कहीं पत्रकारों के अधिकारों व आजादी पर पाबंदी लगाने की कोशिश की जा रही है साथ ही पत्रकारों पर ऐसे झूठे व बेबुनियाद आरोप लगाकर फंसाया जा रहा है। अत: सभी पत्रकारगण इस एकतरफा तथा तानाशाही गिरफ्तारी का विरोध करते है साथ ही अफसर की भी जांच की जाये और गलत ढंग से एफआईआर दर्ज कर गिरफ्तारी किए जाने के दोषी पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई करते हुए सुशील शर्मा पर दर्ज धारा 504 व 509 के प्रकरण को समाप्त करने की मांग की है। ज्ञापन सौंपने वालों में राजेश शर्मा, टिनकेश्वर तिवारी,कमल शुक्ला, अमित चौबे,  खालिद अख्तर, नरेश भीमगज, रूपेश नागे, नीरज तिवारी, गौरव श्रीवास्तव, आंशु शुक्ला, सुशील सलाम, एसके खान, टोकेश्वर साहू, चंद्रजीत यादव, विनोद साहू, हबीब राज, हेमन्त बेश्रा, हाफिज रिजवी, हिरेश्वर साहू, निपेन्द्र सिंह ठाकुर, तामेश्वर सिन्हा, राजेश सिन्हा, डाकेश्वर सोनी, सुनील ठाकुर, दीपक पुड़ो, मोहनीश सोनी, प्रांजल झा सहित बड़ी संख्या में प्रिंट व इलेक्ट्रानिक मीडिया के पत्रकार मौजूद थे।

28-05-2020
एम्स में मरीज तक आवश्यक सामग्री पहुंचाने-लाने का काम करेगी रोबोट नर्स, मुख्यमंत्री ने किया शुभारंभ

 रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गुरुवार को अपने निवास कार्यालय में शोभा टाह फाउंडेशन बिलासपुर की ओर से अत्याधुनिक तकनीक से निर्मित रोबोट नर्स का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने सुरक्षात्मक दृष्टि से बेहतर उपयोग के लिए रोबोट नर्स को एम्स (अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान) रायपुर के कोविड-19 वार्ड को मौके पर ही सौंपा। मुख्यमंत्री ने इस खोज के लिए शोभा टाह फाउंडेशन की सराहना की। इसे कोविड-19 और विभिन्न संक्रामक बीमारियों से बचाव के लिए बहुत उपयोगी बताया।यह रोबोट नर्स एक बार में एक निश्चित दूरी लगभग 90 फीट की लंबाई तक सामग्री के आदान-प्रदान सेवाओं जैसे मानवीय क्रियाकलाप में सक्षम है। वार्ड में बिना मानव के मरीज तक आवश्यक दवाइयां, कपड़े सहित खान-पान की सामग्रियों को पहुंचाने के साथ-साथ वापस लाने की सुविधा से युक्त है। इसके साथ ही रोबोट नर्स के माध्यम से अस्पताल में चिकित्सक और मरीज के बीच कैमरे और मोबाइल से फोटो, वीडियोग्राफी, वीडियोकॉलिंग और चैटिंग आदि भी की जा सकेगी। इसके लिए चिकित्सक को मरीज के पास जाने की जरूरत नहीं होगी। इस तरह मेन पॉवर के बिना रोबोट नर्स के माध्यम से मरीज तक आवश्यक सुविधाओं की सेवाएं जल्द से जल्द पहुंचाई जा सकेगी। इससे वर्तमान में कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से बचाव के लिए अस्पताल में कार्यरत चिकित्सक, नर्स तथा सफाईकर्मी आदि लोगों को भी इलाज आदि के कार्यों में काफी सहूलियत होगी। शुभारंभ के दौरान टाह फाउंडेशन से जुड़े सतीश कुमार,अमर गिर्दवानी और एम्स रायपुर के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ. करण पीपरे सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

Please Wait... News Loading