GLIBS

06-12-2019
नगरीय निकाय निर्वाचन: नाम निर्देशन पत्र की संवीक्षा 7 दिसंबर को   
     

रायपुर। नगरीय निकाय निर्वाचन में पार्षद पद के प्रत्याशियों के लिए नाम निर्देशन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि के बाद कल 7 दिसंबर को सुबह 10 बजे से संवीक्षा (जांच) होगी। संवीक्षा के दौरान प्रत्याशी के साथ तीन और लोग ही निर्वाचन अधिकारी के समक्ष उपस्थित रह सकते हैं। इनमें प्रत्याशी के साथ उसका निर्वाचन अभिकर्ता, एक प्रस्तावक और लिखित में सम्यक रूप से प्राधिकृत एक अन्य व्यक्ति। किंतु एक से अधिक नाम निर्देशन पत्र प्रस्तुत किए जाने की स्थिति में यदि अलग अलग प्रस्तावक है तो ऐसी स्थिति में एक ही प्रस्तावक को साथ ले जाने की अनुमति होगी। अभ्यर्थी 9 दिसम्बर दोपहर 3 बजे तक अपना नाम निर्देशन पत्र वापस ले सकते है। संवीक्षा के बाद प्रस्तुत नाम निर्देशन पत्रों में से यदि एक भी स्वीकृत हो जाता है तो वह प्रत्याशी सम्यक् रुप से नाम निर्दिष्ट समझा जाता है। समस्त नाम निर्देश पत्रों को स्वीकृत या अस्वीकृत होने के बाद रिटर्निंग ऑफिसर इसकी एक सूची तैयार कर उसे अपने कार्यालय के सूचना फलक पर प्रदर्शित करेगा।

 

06-12-2019
सरकार ने किया भगोड़े नित्यानंद का पासपोर्ट रद्द, हाई कमीशनों को किया आगाह

नई दिल्ली। भारत सरकार ने देश छोड़कर फरार हुए रेप आरोपी नित्यानंद का पासपोर्ट रद्द कर दिया है। साथ ही उसकी ओर से दी गई नए पासपोर्ट की अर्जी को भी खारिज कर दिया है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ये जानकारी दी है। रवीश कुमार ने बताया कि मंत्रालय ने विदेशों में स्थित सभी हाई कमीशन को भी नित्यानंद के बारे में सतर्क कर दिया है। उनको जानकारी दे दी गई है कि किस तरह के गंभीर अपराध के मामले उसके खिलाफ चल रहे हैं। गुजरात पुलिस ने पिछले दिनों बताया था कि स्वयंभू बाबा नित्यानंद देश छोड़कर भाग गया है। बताया गया है कि उसने दक्षिण अमेरिका महाद्वीप के मध्य में इक्वाडोर के पास एक द्वीप को खरीदकर उस पर एक नया देश हिंदू राष्ट्र कैलाश बसा दिया है। 

06-12-2019
कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा, 31 दिसंबर तक पूरा करें सड़क मरम्मत काम

कोरिया। कलेक्टर डोमन सिंह ने शुक्रवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में नेशनल हाइवे एवं लोक निर्माण विभाग तथा विद्युत विभाग की संयुक्त बैठक ली। उन्होंने विभागीय कार्यों की समीक्षा एवं डीएमएफ के तहत स्वीकृत कार्यों की जानकारी ली। बैठक में कलेक्टर ने मध्यप्रदेश बॉर्डर से कोरिया जिला बॉर्डर तक नेशनल हाईवे क्रमांक 43 में सड़क निर्माण व नवीनीकरण के कार्यों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि कुल 86 किमी लंबाई की इस सड़क में डामरीकरण व चौड़ीकरण का कार्य किया जाएगा। कलेक्टर ने सड़क मरम्मत के कार्य को 31 दिसंबर तक पूरा करने के निर्देश दिए हैं। नेशनल हाइवे निर्माण व नवीनीकरण से संबंधित अधिकारी ने बताया कि बैकुंठपुर से मनेन्द्रगढ़ नेशनल हाईवे सड़क नवीनीकरण में आवश्यक स्थानों पर लघु व वृहद पुल का भी निर्माण किया जा रहा है। यह कार्य जून 2020 तक पूरा कर लिया जाएगा। बैठक में कलेक्टर ने कहा कि सड़क निर्माण के संबंध में आने वाली सभी शिकायतों का जल्द से जल्द निराकरण करें। उन्होंने बैकुण्ठपुर शहर के बीच सड़क के चैड़ीकरण एवं डिवाइडर के लिए कार्ययोजना बनाने के भी निर्देश दिए हैं। इसके बाद कलेक्टर ने लोक निर्माण विभाग के अधिकारी से पैच रिपेयर की गई सड़कों की प्रगति की जानकारी ली, जिसमें जिले के केंदई-चोटिया-खड़गवां-बैकुंठपुर मार्ग, पटना-भैयाथान मार्ग, मनेन्द्रगढ़-केल्हारी-जनकपुर से एमपी सीमा मार्ग, कोटाडोल-जनकपुर, नागपुर-चिरमिरी, बिहारपुर-बदरा-सोनहत, चैनपुर-साजापहाड़ एवं सिरौली पहुंच मार्ग शामिल हैं।

कलेक्टर ने उक्त सड़कों में पैच रिपेयर के कार्य सहित लोक निर्माण विभाग के भवन निर्माण के कार्यों के अंतर्गत विकासखंड मनेन्द्रगढ़ के ग्राम नागपुर स्थित शा.उ.मा.वि. भवन निर्माण एवं परिवार न्यायालय के कर्मचारियों हेतु जी टाइप एवं आई टाइप आवासगृह निर्माण को 31 दिसंबर 2019 तक पूरा करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही बैकुंठपुर में स्टेडियम निर्माण के कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। नवीन पॉलीटेक्निक भवन निर्माण एवं ग्राम भरतपुर में 50 सीटर पोस्ट मैट्रिक आदिवासी कन्या छात्रावास भवन का निर्माण कार्य पूरा कर 26 जनवरी तक सौंपने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने भू-अर्जन की जानकारी के साथ ही प्राथमिकता से रिकॉर्ड दुरुस्त करने एवं अर्जित भूमि के स्वामी को शीघ्र राशि का भुगतान करने के निर्देश दिये। विद्युत विभाग के कार्यों की समीक्षा करते हुए उन्होंने सड़क मार्ग के मध्य लगे बिजली खम्भों की जानकारी ली और शिफ्टिंग के निर्देश दिए। उन्होंने संबंधित अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि प्रस्तावित एयर स्ट्रिप स्थल पर जाकर निरीक्षण करें और यदि एयर स्ट्रिप मार्ग में बिजली खंभे हों तो उसे शिफ्ट करवाएं अथवा उचित व्यवस्था की जाए। खराब ट्रांसफार्मर को बदलने एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 26 जनवरी तक बिजली संबंधी शिकायतों के निराकरण के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने बैठक में उपस्थित समस्त विभागों के इंजीनियरों को पंचायत, एसडीएम एवं सीईओ जनपद के साथ बैठक करने को कहा, जिससे ग्रामीणों की समस्याओं को समझकर शीघ्र समाधान किया जा सके।

 

06-12-2019
7 दिसंबर को इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की आवश्यक बैठक

रायपुर। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन शनिवार 7 दिसंबर को आवश्यक बैठक करने जा रही है। यह बैठक निजी अस्पताल में हंगामे को लेकर हो रही है। एसोसिएशन उक्त अस्पताल के बचाव में आगे आई है। बता दें कि शुक्रवार को निजी हास्पिटल में एक्सपायरी डेट के इंजेक्शन लगाने के बाद युवती की मौत हो गई थी। इस पर परिजनों ने चिकित्सकों पर लापरवाही का आरोप लगाया और अस्पताल में हंगामा किया।

 

06-12-2019
राज्यपाल से संयुक्त पेंशनर्स फेडरेशन के प्रतिनिधिमण्डल ने की मुलाकात

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके से शुक्रवार को राजभवन में छत्तीसगढ़ राज्य संयुक्त पेंशनर्स फेडरेशन रायपुर के अध्यक्ष वीरेन्द्र नामदेव के नेतृत्व में प्रतिनिधिमण्डल ने सौजन्य मुलाकात की। प्रतिनिधिमण्डल ने पेंशनरों के हित के संबंध में ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर गंगा प्रसाद साहू, एएन शुक्ला एवं जेपी मिश्रा सहित अन्य सदस्य उपस्थित थे।
 

06-12-2019
दो बाइक में भिड़ंत, अधेड़ की मौत, चार घायल

कांकेर। दुर्गूकोंडल थानातर्गत कोदापाखा मार्ग पर पोस्टमार्टम भवन के पास दो बाइक की भिड़ंत होने से 1 अधेड़ की मौत हो गई वहीं 4 युवक घायल हो गए है। थाना प्रभारी रविंद्र मंडावी ने बताया की शाम करीब 5 बजे दो बाइक सवार आपस में भीड़ गए। इससे मानू कुमेटी पिता फतेसिंह, उम्र 55 वर्ष, ग्राम डोड़काएनहूर की मौके पर मौत हो गई है। वहीं संतोष पिता अलीराम, 35 वर्ष, रंग दास 45 वर्ष, ग्राम डोड़काएनहूर, रोशन पटेल पिता फाकसिंह, 30 वर्ष, शैलेश रावटे पिता नरेंद्र रावटे 25 वर्ष गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। इनको प्राथमिक उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया दो बाइक सवार कोदापाखा सिंहारी की ओर से  दुर्गूकोंदल की ओर तेज रफ्तार से आ रहे थे। जबकि डोड़काएनहूर निवासी मानूराम, कुमोटी, संतोष जाड़े, रविदास बाइक से अपने साइड से घर वापस जा रहे थे। तभी नशे में धुत चेमल गांव के युवकों टक्कर मार दी। इससे अंदरूनी चोट लगने मानूराम कुमेटी की मौके पर मौत हो गई और चार घायल हो गए। इन्हें प्राथमिक उपचार के लिए दुर्गूकोंदल अस्पताल में भर्ती कराया गया और प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल के लिए रिफर किया गया।

 

06-12-2019
चाय के बागान ने समूह की महिलाओं के जीवन में घोली मिठास

रायपुर। प्रदेश के सीमावर्ती जशपुर जिले के पठारी क्षेत्र स्थित सारूडीह चाय बागान की महक दूरदराज तक जहां तेजी से फैलने लगी है, वहीं इसमें कार्यरत महिला समूहों की आमदनी भी दिनों-दिन बढ़ने लगी है। इस तरह चाय बगान ने समूह की महिलाओं के जीवन में मिठास घोल दी है। जशपुर नगर वनमंडल के अंतर्गत सारूडीह चाय बागान स्व-सहायता समूह द्वारा चाय की खेती की जा रही है। यह समूह घुरवा कोना की 20 एकड़ भूमि में चाय की खेती करता है। समूह की महिलाओं ने बताया कि इसकी पहली फसल में ही कुल दो लाख रूपए की चाय का उत्पादन हुआ है। प्रधान मुख्य वन संरक्षक राकेश चतुर्वेदी ने बताया कि यह चाय बागान वर्ष 2011 में स्थापित किया गया था। कतिपय कारणों से यह कुछ वर्षो तक बंद पड़ा रहा। वर्ष 2017 से इसे पुनः शुरू किया गया है।

यहां चाय बागान में महिलाओं के दो समूह कार्य करते हैं। एक समूह मुख्य रूप से उत्पादन तो दूसरा समूह विपणन और प्रसंस्करण का काम देखता हैै। इनमें लक्ष्मी स्व-सहायता समूह की अध्यक्षा मधु एक्का हैं और सारूडीह स्वसहायता की अध्यक्षा एम्बाबुलेटा तिर्की है। लक्ष्मी समूह की सचिव पूर्णिमा बताती हैं कि विगत आठ माह में वे लोग करीब 10 क्विंटल चाय का हरा पत्ता तोड़े हैं। लगभग पांच किलो हरी चायपत्ती सूखकर सिर्फ एक किलो चायपत्ती बनती है। इस तरह समूह द्वारा तोड़े गए 10 क्विंटल चायपत्ती सूखकर दो क्विंटल हुई है। इस पत्ती से समूह द्वारा तैयार ग्रीन टी को दो हजार रूपए प्रति किलोग्राम तथा सीटीसी चाय को 400 रूपए प्रति किलोग्राम की दर से बिक्री की जा रही हैै। कुल मिलाकर अभी तक दोनों महिला समूहों द्वारा पहली फसल में ही दो लाख रूपए की चायपत्ती बनाए गए हैं।

 

06-12-2019
निवेश पॉलिसी की मैच्योरिटी रकम नहीं देने पर लगा 4.21 रुपये लाख हर्जाना

दुर्ग। निवेशक को मैच्योरिटी राशि का भुगतान नहीं करना सहारा क्यू शॉप यूनिक प्रोडक्ट्स रेंज लिमिटेड को भारी पड़ गया। ग्राहक की शिकायत पर कंपनी को व्यवसायिक कदाचरण और सेवा में निम्नता के लिए जिम्मेदार करार देते हुए जिला उपभोक्ता फोरम के सदस्य राजेन्द्र पाध्ये और लता चंद्राकर ने 4 लाख 21 हजार रुपये हर्जाना अदा करने का आदेश पारित किया। 

क्या है मामला
भिलाई 3 चरोदा निवासी परिवादी उमाशंकर पाल ने सहारा क्यू शॉप यूनिक प्रोडक्ट्स रेंज लिमिटेड की भिलाई 3 शाखा प्रबंधक पर विश्वास कर कंपनी के क्यू शॉप प्लान एचपी की चार पॉलिसियाँ वर्ष 2012-13 में ली थी। अनावेदक कंपनी के बताए अनुसार 6 वर्ष में रकम दुगुनी होकर मिलनी थी। परिपक्वता पश्चात परिवादी ने सभी आवश्यक दस्तावेजों को जमा कर अपनी मैच्योरिटी रकम की मांग की परंतु अनावेदक कंपनी के शाखा कार्यालय ने कहा कि मुख्य कार्यालय से चेक नहीं आया है और दो-चार महीने समय लगेगा। बार-बार चक्कर काटने पर भी राशि नहीं मिलने से परिवादी ने पुलिस अधीक्षक दुर्ग के समक्ष शिकायत की एवं अपने अधिवक्ता के माध्यम से नोटिस भी जारी करवाया परंतु उसे उसकी मैच्योरिटी रकम नहीं मिली। फोरम की नोटिस मिलने के बाद अनावेदकगण के अधिवक्ता प्रकरण में उपस्थित हुए परंतु उनकी ओर से कोई प्रतिरक्षा नहीं ली गई।

फोरम का फैसला
अनावेदक कंपनी द्वारा प्रकरण में बचाव नहीं लिए जाने से परिवादी द्वारा प्रस्तुत दस्तावेजों के आधार पर जिला उपभोक्ता फोरम के सदस्य राजेन्द्र पाध्ये और लता चंद्राकर ने अनावेदक कंपनी को उपभोक्ता के प्रति व्यवसायिक कदाचरण और सेवा में निम्नता का जिम्मेदार माना। जिला उपभोक्ता फोरम के सदस्य राजेन्द्र पाध्ये और लता चंद्राकर ने कंपनी पर 4 लाख 21 हजार रुपये हर्जाना लगाया, जिसमें परिपक्वता राशि 400300 रुपये, मानसिक क्षतिपूर्ति के रूप में 20000 रुपये तथा वाद व्यय 1000 रुपये अदा करने का आदेश दिया, उक्त राशि पर 7.50 प्रतिशत वार्षिक दर से ब्याज भी देना होगा।

 

06-12-2019
चबाने वाला तंबाकू भी हानिकारक, लगाई जाए पाबंदी

रायपुर। प्रदेश में नई पीढ़ी को तम्बाकू उत्पादों से होने वाली स्वास्थ्य हानि और नशे की आदत से मुक्त बनाने के लिए रायपुर में शुक्रवार को तीन दिवसीय राष्ट्र स्तरीय बैठक का समापन हुआ। यह बैठक ‘डब्ल्यूएचओ एफसीटीसी (विश्व स्वास्थ्य संगठन-फ्रेमवर्क कन्वेंशन ऑन टोबैको कंट्रोल) कन्वेंशन को प्रदेश में प्रभावी रूप से लागू करवाने के लिए द यूनियन की ओर से आयोजित की गई थी। समापन समारोह को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य सचिव निहारिका बारीक़ सिंह ने कहा स्वास्थ्य को प्रभावित करने वाले हुक्का बार बंद करने के लिए कानूनी मसौदा तैयार करने का समय आ गया है। धूम्रपान और तंबाकू के सेवन पर पाबन्दी लगाने के लिए कड़ाई से पालन करना होगा। उन्होंने कहा कि चबाने वाला तंबाकू भी हानिकारक होता है,जिसे रोका जाना चाहिए। इसके लिए रणनीति बनाना आवश्यक है। तंबाकू उत्पाद करने वाले इंडस्ट्री के इंटर फेयर को रोकने के लिए एफसीटीसी (विश्व स्वास्थ्य संगठन-फ्रेमवर्क कन्वेंशन ऑन टोबैको कंट्रोल)5.3 सेक्शन उपयोग करने के लिए समिति बनाने का कार्य छत्तीसगढ़ में किया जाएगा।


राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (छत्तीसगढ़) के मिशन संचालक डॉ.प्रियंका शुक्ल ने कहा यह हमारा दायित्व है की आने वाली पीढ़ी को तंबाकू के सेवन और नशे से दूर करने के लिए इस तरह की कार्यशालाओं को करते रहना चाहिए। द यूनियन के उप संचालक डॉ.राणा जे. सिंह ने कहा गया तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम एवं कोटपा अधिनियम 2003 के परिपालन के लिये प्रत्यक्ष एवं बेहतर रूप से राज्यों में किया जा रहा है| कार्यक्रम के बेहतर क्रियान्वयन हेतु के लिए राज्य में तंबाकू उद्योग के हस्तक्षेप को रोकने के लिए बेहतर रणनीति का गठन किया जाना चाहिए। देश के 13 राज्यों में यह रणनीति गठित की जा चुकी है और परिपालन भी नियमित रूप से किया जा रहा है। प्रदेश में ग्लोबल एडल्ट टोबाको सर्वे – 2016-17 के अनुसार,छत्तीसगढ़ में 39.1 प्रतिशत लोग किसी प्रकार के तम्बाकू का सेवन करते हैं। यह देश की औसत 28.4 % से अधिक है| इन में से 7.3% तम्बाकू का सेवन करने वालों ने 15 वर्ष की उम्र से पहले सेवन शुरू किया था,29%  ने 15-17 वर्ष की उम्र से और 35.4% ने 18-19 वर्ष में सेवन शुरू किया था यानि औसतन 18.5 वर्ष की आयु में तम्बाकू का सेवन शुरू किया गया था।


राज्य नोडल अधिकारी डॉ. कमलेश जैन ने बताया एफसीटीसी को लागू करने से पहले कोटपा अधिनियम 2003 का परिपालन सुनिश्चित किया जा रहा है। साथ ही डब्ल्यूएचओ के एफसीटीसी (विश्व स्वास्थ्य संगठन-फ्रेमवर्क कन्वेंशन ऑन टोबैको कंट्रोल) को छत्तीसगढ़ में जल्द ही लागू कर दिया जाएगा। इसमें मुख्य रूप से तंबाकू विक्रेता को वेंडर लाइसेंसिंग किया जाएगा साथ ही  तंबाकू उत्पाद कंपनीयों को स्कूल कॉलेज और सरकारी कार्यालयों में प्रचार-प्रसार को पूर्ण रूप से बंद किया जाएगा।

 

Please Wait... News Loading