GLIBS

31-07-2021
मुख्यमंत्री से मिला गौरेला पेंड्रा मरवाही का प्रतिनिधिमंडल,जिले को नगर पंचायत से नगरपालिका में उन्नयन करने की चर्चा

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से शनिवार को उनके निवास कार्यालय में पेंड्रा नगर पंचायत अध्यक्ष राकेश जालान के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ राज्य खनिज विकास निगम के अध्यक्ष गिरीश देवांगन भी मौजूद थे। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से पेंड्रा एवं गौरेला को नगर पंचायत से नगरपालिका में उन्नयन करने के संबंध में चर्चा की। इस अवसर पर ओमप्रकाश बंका, शंकर पटेल, बूंदकुंवर सिंह, आशीष केसरी, अभिषेक राजपूत शामिल थे।

 

31-07-2021
भूपेश बघेल से राज्य युवा आयोग के सदस्य उत्तम वासुदेव ने की मुलाकात,जताया आभार

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से शनिवार को उनके निवास कार्यालय में छत्तीसगढ़ राज्य युवा आयोग के सदस्य उत्तम वासुदेव ने सौजन्य मुलाकात की। उन्होंने आयोग के सदस्य बनाये जाने पर मुख्यमंत्री का आभार जताया।

31-07-2021
एसपी ने किया 32 पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों का तबादला

कोरबा। पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल ने शनिवार को दो अलग-अलग तबादला सूची जारी कर कुल 32 पुलिस कर्मियों की पदस्थापना में फेरबदल किया है। तबादला में कटघोरा थाना प्रभारी लखनलाल पटेल को रक्षित केन्द्र भेजा गया है। उनके स्थान पर निरीक्षक नवीन देवांगन कटघोरा के नए थाना प्रभारी होंगे। नवीन देवांगन फिलहाल मानिकपुर पुलिस सहायता केन्द्र प्रभारी हैं। इसी तरह बांकीमोंगरा थाना में पदस्थ एसआई राजेश चंद्रवंशी को करतला थाना का प्रभारी पदस्थ किया गया है। अन्य प्रभावित पुलिस कर्मियों में एसआई शिवकुमार धारी कुसमुंडा से मानिकपुर पुलिस सहायता केन्द्र प्रभारी बनाए गए हैं। एएसआई सुरेश कुमार जोगी कुसमुंडा से बांकीमोंगरा भेजे गए हैं। उप निरीक्षक प्रेमनाथ बघेल थाना दर्री से रक्षित केन्द्र भेजे गए हैं। इनके अलावा प्रधान आरक्षक रामकुमार पाण्डेय उरगा, राकेश सिंह कोतवाली, चक्रधर राठौर दर्री, योगेश रात्रे बांकीमोंगरा, शिव खरे बांगो को भी रक्षित केन्द्र भेजा गया है। 10 अन्य आरक्षक भी रक्षित केन्द्र भेजे गए हैं। रक्षित केन्द्र से प्रधान आरक्षक दीपक खांडेकर, सुदेश तिर्की, लक्ष्मण सिंह सिदार, जागेन्द्र लहरे, आरक्षक कन्हैयालाल कोसले, ओमप्रकाश कंवर, उत्तरा बंजारे, राजेश कर्ष, दिलीप झा, रामकुमार पैकरा को थानों में भेजा गया है। प्रधान आरक्षक जागेन्द्र लहरे बांकीमोंगरा से रक्षित केन्द्र भेजे गए हैं।

 

31-07-2021
रायपुर के मुख्य बाजारों में बनाए जाएंगे ब्लू टॉयलेट, पहला अर्बन लान्ज पंडरी कपड़ा मार्केंट में जल्द होगा तैयार 

रायपुर। महापौर एजाज ढेबर ने एक और सकारात्मक पहल की है। रायपुर के विभिन्न मुख्य बाजारों में राजधानीवासियों को स्वच्छ  एवं स्वस्थ परिवेश शीघ्र उपलब्ध करवाने अर्बन लान्ज ( ब्लू टायलेट) का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए तैयार किए गए पोस्टर का विमोचन शनिवार को किया गया। निगम मुख्यालय भवन महात्मा गांधी सदन के महापौर कक्ष में जोन क्रमांक 2 के जोन अध्यक्ष हरदीप सिंग होरा बंटी की उपस्थिति में विमोचन किया गया।  महापौर ढेबर ने बताया कि शहर में पहला अर्बन लान्ज (ब्लू टायलेट ) राजधानी के पंडरी कपड़ा बाजार क्षेत्र में अगले एक-दो माह में जनउपयोग के लिए जोन 2 के तत्वावधान में तैयार कर लिया जाएगा। अर्बन लान्ज शहर के मुख्य बाजारों में शीघ्र उपयुक्त स्थानों को चिन्हित कर 8-10 स्थानों पर बनवाए जाएंगे। ब्लू टायलेट का अच्छी तरह से रखरखाव करने के लिए अर्बन लान्ज के भवनों में विभिन्न बैंकों के एटीएम लगवाए जाएंगे। एटीएम से प्राप्त होने वाली आय को ब्लू टायलेट के अच्छे रखरखाव कार्य में व्यवहारिक आवश्यकता को ध्यान रखकर व्यय किया जाएगा। इससे मुख्य बाजारों में जाने वाले राजधानीवासियों को अर्बन लान्ज (ब्लू टायलेट ) में पूर्ण स्वच्छ  एवं स्वस्थ परिवेश सहजता और सरलता से प्राप्त हो सकेगा। अर्बन लान्ज ( ब्लू टायलेट) में जेंट्स टायलेट, वॉशरूम, लान्ज विश्राम के लिए टीवी, सोफा इत्यादि लगवाया जाएगा, इंडक्शन, वाटर हीटर इत्यादि लगवाया जाएगा। एटीएम लगाना प्रस्तावित है। इससे ब्लू टायलेट का निरंतर अच्छी तरह से रखरखाव हो सके। इसका उपयोग करने पर नागरिकों को बाजारों में कोई असुविधा न हो इसका ध्यान रखा जाएगा।

 

31-07-2021
रायपुर में रविवार को भी लगाई जाएगी वैक्सीन, 77 केन्द्रों में 5850 टीकाकरण का लक्ष्य

रायपुर। जिले में कोविड-19 वैक्सीनेशन के तहत रविवार को भी  77 सेशन साइट में टीकाकरण किया जाएगा। 5850 टीकाकरण का लक्ष्य है। उल्लेखनीय है कि रायपुर जिले के शहरी एवं ग्रमीण क्षेत्रो में द्रुत गति से वैक्सीनेशन का कार्य किया जा रहा है। जिले के रायपुर एवं बीरगांव नगर निगम के साथ-साथ सभी नगरीय क्षेत्रों और विकासखंडों के 77 शासकीय केन्द्रों में सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक वैक्सीन लगाई जाएगी। जिले में कोविशील्ड और कोवैक्सिन दोनों प्रकार के टीके लगाए जा रहे हैं। कोविड-19 वैक्सीनेशन के तहत ऐसे नागरिक, जिन्हें कोविशिल्ड वैक्सीन का पहला डोज लिए 84 दिवस हो चुका है अथवा जिन्हें को-वैक्सीन का पहला डोज लिए 28 दिन पूरा हो चुका है, वे इसका दूसरा डोज लगवा सकते हंै।

31-07-2021
उन्मुक्त अभियान : सरकार की नीति के अनुसार पात्र दोषसिद्ध सजायाफ्ता बंदियों को किया जाएगा रिहा

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण बिलासपुर एवं जेल विभाग रायपुर के संयुक्त तत्वाधान में एक अभियान उन्मुक्त शुरू किया गया है। इसके अंतर्गत उन दोषसिद्ध सजायाफ्ता बंदियों को रिहा किया जाएगा,जो राज्य शासन की ओर से बनाए गए नीति के अनुसार समय-पूर्व रिहाई के लिए पात्र हैं। यह अभियान उच्चतम न्यायालय की ओर से एसएलपी प्रकरण क्र. 529/2021, पक्षकार सोनाधर विरुद्ध छत्तीसगढ़ राज्य में दिए गए निर्देश के आधार पर प्रारंभ किया गया है। उच्चतम न्यायालय की ओर से छत्तीसगढ़, उत्तरप्रदेश एवं बिहार राज्य को यह दायित्व सौंपा गया है कि वह 1 अगस्त 2021 से पायलट प्रोजेक्ट को लागू कर पात्र दोषसिद्ध बंदियों को रिहा किए जाने बाबत आवश्यक कार्यवाही करना तय करेंगे। 


छत्तीसगढ़ राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के सदस्य सचिव सिद्धार्थ अग्रवाल ने बताया कि न्यायमूर्ति प्रशांत कुमार मिश्रा, कार्यपालक अध्यक्ष, सालसा की ओर से इस अभियान की बारिकी से निगरानी की जा रही है। इस बाबत राज्य के समस्त जिला विधिक सेवा प्राधिकरणों के जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष को यह आदेश दिया गया है कि वे जेल प्रशासन की आवश्यक मदद करें। यह अभियान 4 प्रमुख चरणों से गुजरेगा। इसमें प्रथम चरण के अंतर्गत पात्र दोषसिद्ध बंदियों की पहचान करते हुए उनकी ओर से आवेदन प्रस्तुत कराकर और आवश्यक दस्तावेज संकलित कर उन्हें रिहा किए जाने बाबत कार्यवाही की जाएगी। यदि किसी पात्र बंदी का आवेदन निरस्त किया जाता है, तब राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण की ओर से ऐसे बंदियों की ओर से विधिक सहायता उपलब्ध कराकर अपील की कार्यवाही तय की जाएगी। 


इसके पूर्व न्यायमूर्ति प्रशांत कुमार मिश्रा, कार्यपालक अध्यक्ष, सालसा की ओर से रिट पीटिशन क्रं. 78/2017, पक्षकार-अमरनाथ विरुद्ध छत्तीसगढ़ राज्य के अंतर्गत  जिला न्यायालयों में पदस्थ न्यायिक अधिकारियों को पूर्व से ही यह निर्देश दिए जा चुके हैं। कहा गया है कि वह दोषसिद्ध बंदियों को धारा 432(2) दं.प्र.सं. के अंतर्गत रिहा किए जाने के संबंध में  अपना अभिमत देने की कार्यवाही 3 माह के भीतर पूर्ण करेंगे।

31-07-2021
छत्तीसगढ़ से मलेरिया को खत्म करने 21 जिलों में अभियान, 20.43 लाख लोगों की होगी जांच

रायपुर। मलेरिया मुक्त छत्तीसगढ़ अभियान के तहत स्वास्थ्य विभाग की टीम अब तक चार लाख आठ हजार 266 घरों में पहुंचकर 18 लाख 38 हजार 607 लोगों की मलेरिया जांच कर चुकी है। इस दौरान पॉजिटिव पाए गए दस हजार 930 मरीजों का मौके पर ही इलाज शुरू किया गया है। बस्तर संभाग के सातों जिलों में इस अभियान का चौथा चरण 15 जून से शुरू किया गया है। चौथे चरण में अब तक वहां 11 लाख से अधिक लोगों की मलेरिया जांच की गई है, जिनमें 9707 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं। सरगुजा संभाग के पांचो जिलों में इस अभियान के दूसरे चरण तथा पहले चरण वाले नौ जिलों को मिलाकर सात लाख 12 हजार 892 लोगों की मलेरिया जांच की गई है, जिनमें 1223 मलेरियाग्रस्त पाए गए हैं। इनमें से 215 मरीजों में मलेरिया के कोई लक्षण नहीं थे। बस्तर संभाग में भी बिना लक्षण वाले मलेरिया के 5053 मामले मिले हैं।  


बस्तर और सरगुजा संभाग में पूर्व में संचालित मलेरिया मुक्त छत्तीसगढ़ अभियान के अच्छे नतीजों को देखते हुए इस बार इसे प्रदेश के 21 जिलों में विस्तारित किया गया है। राज्य शासन के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग और राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन छत्तीसगढ़ की ओर से संचालित इस अभियान के अंतर्गत 20 लाख 43 हजार से अधिक लोगों की मलेरिया जांच का लक्ष्य है। अभियान के दौरान मितानिनों एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की टीम घने जंगलों और पहाड़ों से घिरे बस्तर संभाग के पहुंचविहीन, दुर्गम एवं दूरस्थ इलाकों में घर-घर पहुंचकर 11 लाख 37 हजार से अधिक लोगों की जांच करेगी। 14 अन्य जिलों में करीब नौ लाख छह हजार लोगों की मलेरिया जांच की जाएगी।


स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग व राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला ने बताया कि बस्तर संभाग में अभियान के पहले, दूसरे और तीसरे चरण में पॉजिटिविटी दर क्रमश: 4.6 प्रतिशत, 1.27 प्रतिशत और 1.03 प्रतिशत रही थी, जो अभी वर्तमान में संचालित चौथे चरण में और घटकर 0.86 प्रतिशत पर आ गई है। अभियान के प्रभाव से वहां मलेरिया के मामलों में लगातार कमी आ रही है। चौथे चरण के दौरान अब तक पॉजिटिव पाए  गए 48 प्रतिशत मरीजों में मलेरिया के लक्षण दिखाई दे रहे थे, जबकि 52 प्रतिशत में इसके कोई लक्षण नहीं थे।


बस्तर संभाग में मलेरिया मुक्त छत्तीसगढ़ अभियान के चौथे चरण में स्वास्थ्य विभाग की टीम अब तक दो लाख 33 हजार 49 घरों में पहुंचकर 11 लाख 25 हजार 715 लोगों की मलेरिया जांच कर चुकी है। इस दौरान पॉजिटिव पाए गए 9707 लोगों का तत्काल इलाज शुरू किया गया। अभियान के तहत अब तक बस्तर जिले में एक लाख 44 हजार 441, बीजापुर में दो लाख 7 हजार 847, दंतेवाड़ा में दो लाख 40 हजार 445, कांकेर में 67 हजार 115, कोंडागांव में 59 हजार 841, सुकमा में दो लाख 64 हजार 280 और नारायणपुर में एक लाख 41 हजार 746 लोगों की जांच की जा चुकी है। इस दौरान बस्तर जिले में 1458, बीजापुर में 1455, दंतेवाड़ा में 1215, कांकेर में 537, कोंडागांव में 371, सुकमा में 1102 और नारायणपुर में 3569 लोग मलेरियाग्रस्त पाए गए। 


मलेरिया मुक्त छत्तीसगढ़ अभियान के दूसरे चरण वाले सरगुजा जिले में अब तक 66 हजार 749, सूरजपुर में 21 हजार 143, बलरामपुर-रामानुजगंज में एक लाख 18 हजार 522, जशपुर में 98 हजार 311 और कोरिया में 65 हजार 930 लोगों की जांच की गई है। अभियान में पहली बार शामिल गरियाबंद जिले में अब तक एक लाख 11 हजार 411, धमतरी में 71 हजार 753, कोरबा में 22 हजार 634, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही में 15 हजार 246, रायगढ़ में 31 हजार 635, मुंगेली में 4670, राजनांदगांव में 38 हजार 435, कबीरधाम में 22 हजार 458 तथा बालोद में 23 हजार 995 लोगों की मलेरिया जांच की गई है। इन जिलों में स्वास्थ्य विभाग की टीम अब तक एक लाख 71 हजार घरों में पहुंचकर सात लाख 12 हजार 892 लोगों की जांच कर चुकी है, जिनमें 1223 पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं। इनमें सरगुजा के आठ, बलरामपुर के 11, कोरिया के 21, जशपुर के चार, गरियाबंद के 481, धमतरी के 224, कोरबा व मुंगेली के एक-एक, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के दो, रायगढ़ के 20, राजनांदगांव के 309, कबीरधाम के 76 और बालोद जिले के 65 मरीज शामिल हैं।


अभियान के दौरान मलेरिया के मरीजों को निशुल्क दवा देने के साथ ही घरों में मच्छररोधी स्प्रे का छिड़काव, लार्वा को नष्ट करने की गतिविधि और मेडिकेटेड मच्छरदानियों का वितरण किया जा रहा है। लोगों को मच्छरों और मलेरिया से बचाव के बारे में जागरुक भी किया जा रहा है। नियमित सर्विलेंस के दौरान मलेरिया के लक्षण रहित मरीज पकड़ में नहीं आते हैं। बिना लक्षण वाले मरीज रिजर्वायर के रूप में समुदाय में रहते हैं और इनके ओर से मलेरिया का संक्रमण होते रहता है। लक्षण रहित मलेरिया एनीमिया और कुपोषण का भी कारण बनता है।

31-07-2021
निराश्रित निधि का अधिक से अधिक उपयोग निर्धन और बेसहारा लोगों की मदद के लिए हो : अनिला भेंड़िया

रायपुर। समाज कल्याण मंत्री अनिला भेंड़िया की अध्यक्षता में शनिवार को रायपुर के आवास कार्यालय में निराश्रितों एवं निर्धन व्यक्तियों की सहायता के लिए गठित राज्य स्तरीय सलाहकार समिति की वर्चुअल बैठक हुई। बैठक में मंत्री भेंड़िया ने निर्देश दिए कि निराश्रित निधि का अधिक से अधिक उपयोग निर्धन और बेसहारा लोगों की मदद के लिए किया जाए। उन्होंने कहा कि समाज के बेघर और निराश्रित लोगों तक पहुंचकर उनके पुनर्वास के काम को प्राथमिकता और संवेदनशीलता के साथ किया जाए। यह तय किया जाए कि निराश्रित निधि का कम से कम उपयोग भवनों आदि के निर्माण जैसे आदि कार्यों में हो। बैठक में समाज कल्याण के क्षेत्र में 5 वर्षों का कार्य अनुभव वाले 5 अशासकीय सदस्यों के मनोनयन पर चर्चा की गई। बैठक में विभागीय संचालक पी. दयानंद, उप सचिव राजेश तिवारी सहित मंडी बोर्ड, स्वास्थ्य विभाग सहित समिति के सदस्य उपस्थित थे।

31-07-2021
छत्तीसगढ़ में नर्सिंग की परीक्षाएं 16 अगस्त से, आयुष विवि ने जारी किया नया टाइम टेबल

रायपुर। छत्तीसगढ़ में नर्सिंग की परीक्षाएं 16 अगस्त से शुरू होंगी। पंडित दीनदयाल उपाध्याय स्मृति स्वास्थ्य एवं आयुष विश्वविद्यालय के कुलसचिव ने संसोधित अधिसूचना जारी कर दी है। बीएससी नर्सिंग,पोस्ट बेसिक बीएससी नर्सिंग,एमएससी नर्सिंग का टाइम टेबल फिर से जारी किया गया है। परीक्षाएं 16 अगस्त से दो पालियों में शुरू होगी। परीक्षा कक्ष में अनिवार्य सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना होगा। कक्षा में प्रवेश से पहले सैनेटाइजेशन और हैंडवॉश की व्यवस्था होगी। सभी को मास्क पहनना अनिवार्य होगा।  बता दें कि छत्तीसगढ़ में बीएससी नर्सिंग की परीक्षाएं स्थगित कर दी  गई थी। हाईकोर्ट के आदेश के बाद परीक्षा स्थगित की गई थी। बीएससी नर्सिंग की परीक्षाएं 6 जुलाई से शुरू होने वाली थी। पिछले दो साल से नर्सिंग छात्रों की परीक्षाएं आयोजित नहीं की गई थी। इस पर छात्रों ने प्रदर्शन किया था। छात्रों के प्रदर्शन के बाद स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने नाराजगी जाहिर करते हुए अधिकारियों को फटकार लगाई थी।

31-07-2021
भारत-चीन के बीच हुई 12वें दौर की बैठक, पूर्वी लद्दाख सेक्टर में चल रहे सैन्य गतिरोध को हल करने पर हुई चर्चा  

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच 12वें दौर की कॉर्प्स कमांडर लेवल की बैठक हुई। ये बैठक पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चीन की तरफ मोल्डो सीमा बिंदु पर हुई। बैठक नौ घंटे चली, जो सुबह साढे दस बजे शुरू हुई और शाम साढे सात बजे खत्म हुई। आर्मी सूत्रों के मुताबिक, नौ घंटे तक चली बैठक में दोनों पक्षों ने पूर्वी लद्दाख सेक्टर में चल रहे सैन्य गतिरोध को हल करने के मुद्दों पर चर्चा की। भारतीय आर्मी के सूत्रों ने बताया कि भारत और चीन ने गोगरा हाइट्स और हॉट स्प्रिंग्स क्षेत्र सहित फ्रिक्शन प्लाइंट्स से सैनिकों को हटाने पर चर्चा की। बातचीत का यह दौर पिछली बार हुई वार्ता से साढ़े तीन महीने से भी ज्यादा समय के बाद हुआ। इससे पहले 11वें दौर की सैन्य वार्ता 9 अप्रैल को एलएसी पर भारत की ओर चुशुल सीमा बिंदु पर हुई थी और यह बातचीत करीब 13 घंटे तक चली थी।

 

31-07-2021
नगर पंचायत राजिम का चिन्हित क्षेत्र माइक्रो कन्टेनमेंट जोन घोषित, आवाजाही पर प्रतिबंध

राजिम। नगर पंचायत के वार्ड नम्बर 15 में कोरोना वायरस के सक्रिय प्रकरण पाए जाने पर कलेक्टर निलेश कुमार क्षीरसागर ने माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। कलेक्टर के जारी आदेश के अनुसार कंटेनमेंट जोन के चिन्हित क्षेत्र अंतर्गत सभी दुकानें एवं अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश पर्यन्त तक बन्द रहेंगे। सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन पूर्ण प्रतिबन्ध रहेगा। मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य किन्हीं भी कारणों से घर के बाहर निकलना प्रतिबंधित रहेगा। जोन में केवल एक प्रवेश एवं निकास द्वार होगा।कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी गरियाबंद को दायित्व सौंपा गया है। खण्ड चिकित्सा अधिकारी को स्वास्थ्य टीम को दवा, मास्क, पीपीई कीट इत्यादि उपलब्ध कराने एवं बायोमेडिकल अपशिष्ट प्रबंधन तथा महिला एवं बाल विकास विभाग के पर्यवेक्षक को घरों का एक्टिव सर्विलांस व विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी को खंड स्तर पर स्थापित नियंत्रण कक्ष में व्यवस्था के लिए दायित्व सौंपा गया है। पुलिस विभाग के संबंधित अनुविभागीय अधिकारी को दुकानें बंद करवाने और आवागमन प्रतिबंधित करने दायित्व सौंपा गया है। संबंधित क्षेत्र के लिए पर्यवेक्षण अधिकारी नियुक्त किया गया है एवं संबंधित अनुविभागीय दण्डाधिकारी (राजस्व) जीडी वाहिले को संबंधित क्षेत्र के सम्पूर्ण प्रभार एवं इंसीडेन्ट कमांडर का दायित्व सौंपा गया है। 

 

Please Wait... News Loading