GLIBS

16-01-2021
सर्दियों में स्किन का ड्राई होना और खुजली कॉमन प्रॉब्लम है, राहत के लिए इस्तेमाल कीजिए क्लींजर

रायपुर। सर्दियों में तापमान घटने लगता है, जिसके कारण ह्यूमिडिटी का स्तर भी कम हो जाता है। इस वजह से स्किन में नमी नहीं रहती जैसे गर्मियों और अन्य मौसम में रहती है और स्किन ड्राई हो जाती है। त्वचा शुष्क होने पर खुजली की समस्या बढ़ जाती है। क्लींजर का उपयोग कर सर्दियों के मौसम में त्वचा की देखभाल। इससे आपकी स्किन ड्राई होने से बची रहेगी। ऐसे क्लींजर का चुनाव करें जिससे आपकी स्किन का नैचुरल ऑयल बना रहे। क्रीम युक्त क्लींजर का इस्तेमाल करने से त्वचा को गहराई से पोषण मिलता है और नमी बनी रहती है।

16-01-2021
टाइम कम हो और ऊपर से बच्चों की हाय तौबा तो ट्राई कीजिए बिस्किट पिज़्ज़ा, फटाफट तो बनता ही है स्वादिष्ट भी है

रायपुर। नाश्ते में हो रही है देरी और आपके बच्चे को चाहिए कुछ अच्छा नाश्ता तो बिस्कुट पिज़्ज़ा ट्राई कीजिए। ये जल्दी भी बन जाता है। घर में ही रखे सामने से तैयार हो जाता है ये स्वादिस्ट नाश्ता।

सामग्री :
मोनेको बिस्कुट
पिज़्ज़ा चीज कसा
प्याज बारीक कटा
शिमला मिर्च बारीक कटा
पिज़्ज़ा सॉस
पिज़्ज़ा सीजनिंग
चिली फ्लेक्स

विधि :
बिस्कुट के ऊपर पिज़्ज़ा सॉस लगा कर कटे प्याज कटी शिमला मिर्च लगाएं। उसके ऊपर पिज़्ज़ा सॉस व पिज़्ज़ा सीजनिंग लगा कर पिज़्ज़ा चीज डालें। एक पैन में सारे बिस्कुट लगा दें और 2 मिनट या चीज पिघलने तक पकाएं। निकाल कर गरम परोसें।

16-01-2021
घर को सजाने का शौक हर किसी को होता है पर महंगाई आड़े आती है, ऐसे में ट्राई कीजिए घरेलू वेस्ट और सजाइए घर को

रायपुर। घर को सजाना हर कोई चाहता है पर महंगे सामान लेना सबके बस में नहीं होता है, तो घर में रखे कुछ सस्ते सामान से ही आप घर को सजा सकते हैं। घर में अक्सर ऐसे कुछ सामान होते हैं जो किसी काम नहीं आते, ऐसे ही सामान से हम कुछ उपयोगी बना सकते हैं। तो बना सकते हैं मल्टीपर्पज कैडी, जिसे आप सजावट के साथ-साथ कैंडल स्टेंड के तौर पर भी प्रयोग में ले सकते हैं। इसके लिए हमें अलग-अलग साइज के कुछ लकड़ी के टुकड़े लेने हैं और थोड़ी छोटी व बड़े आकार की कील व एक हथौड़ा। सबसे बड़ी साइज के लकड़ी के टुकड़े को नीचे रखें और उस पर अन्य लकड़ी के टुकड़े लगा कर कील से ठोक लें। इसस वह मजबूत हो जाएगा। इसके दोनों ओर कील की सहायता से छेद कर एक वायर लगा कर हैंडल का रूप दें। अब इसे आप अपने किचन, ड्राइंगरूम या बैडरूम में सजावट के तौर पर काम में ले सकते हैं।
 

15-01-2021
सर्दियों में खाए उड़द की दाल, एनर्जी लेवल के साथ आती है नर्वस सिस्टम में मजबूती 

रायपुर। सर्दियों में उड़द के दाल खाने के अनेक फायदे हैं। वैसे दाल तो सेहत के लिए फायदेमंद होती हैं। दाल में प्रोटीन और फाइबर समेत कई तरह के मिनरल्स होते हैं। उड़द दाल के फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं डॉक्टर भी रोजाना दाल खाने की सलाह देते हैं। उड़द दाल को स्प्सिट ब्लैक ग्राम के नाम से भी जाना जाता है। इसका सेवन भारत समेत कई एशियाई देशों में इस्तेमाल किया जाता है। इसमें विटामिन बी, आयरन, कैल्शियम और फोलिक एसिड पाया जाता है। 

पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद-
उड़द डाल में कई तरह के फाइबर्स पाए जाते हैं। जो पाचन में सुधार करते हैं। पेट की किसी भी तरह की समस्या से छुटकारा पाने के लिए डाइट में उड़द की दाल को जरूर शामिल करें। 

नर्वस सिस्टम को करती है मजबूत- 
उड़द दाल के सेवन से नर्वस सिस्टम मजबूत होता है। इसे खाने से दिमाग स्वस्थ रहता है। इसका सेवन स्वास्थ्य समस्याओं जैसे तंत्रिका संबंधी दुर्बलता, आंशिक पक्षाघात या पैरालिसिस, चेहरे का पक्षाघात और अन्य विकारों को ठीक करने के लिए किया जाता है।

एनर्जी- 
उड़द की दाल में आयरन की मात्रा अधिक होती है, जिस वजह से शरीर में एनर्जी का लेवल बढ़ता है। इसे खाने से आप लंबे वक्त तक एक्टिव फील करते हैं। यह दाल शरीर के सभी अंगों में ऑक्सीजन ले जाने के लिए जिम्मेदार है। 

हड्डियों की मजबूती के लिए- 
उड़द दाल का सेवन से शरीर की हड्डियां मजबूत बनती हैं। उड़द की दाल में मैग्नीशियम, आयरन, पोटेशियम, फॉस्फोरस और कैल्शियम जैसे महत्वपूर्ण खनिज होते हैं।

15-01-2021
ऑलटाइम रेडी एवरीवंस फेवरेट राजमा राइस क्रोकेट्स, सुबह या शाम सर्व कीजिए और वाहवाही लूटिए

रायपुर। सुबह हो या शाम को राजमा राइस क्रोकेट्स नाश्ता बनाए। ये स्वादिष्ट होते हैं और बनाने में आसान होते हैं। बड़ों से लेकर बच्चों को भी पसंद आएगा। 

सामग्री
1 कप उबला चावल
1/2 कप राजमा उबला हुआ
1 आलू उबला हुआ
जरूरत के अनुसार चीज
1 प्याज बारीक कटा
1 हरी मिर्च बारीक कटी
1 चम्मच हरा धनिया बारीक कटा
1/4 चम्मच अदरक लहसुन पेस्ट
1/2 चम्मच चिली फ्लेक्स
1/2 चम्मच जीरा पाउडर
1/2 चम्मच धनिया पाउडर
1/2 छोटी चम्मच चाट मसाला
स्वादानुसार नमक
3-4 चम्मच कॉर्न फ्लोर
आवश्यकता अनुसार ब्रेड क्रम्स
आवश्यकता अनुसार तेल तलने के लिए

विधि :
-राजमा, चावल और आलू को अच्छे से मेश कर लें। प्याज, हरी मिर्च और धनियां डालें। अब सारे मसाले ओर चीज डाल कर मिला लें। इस मिश्रण की छोटी छोटी बॉल बना कर अलग रखें।
-एक कटोरी मे कॉर्न फ्लार मे पानी डाल कर घोल बना लें। एक प्लेट में ब्रेड क्रम्स लें। अब तैयार बॉल को कॉर्न फ्लार के घोल में डाले फिर ब्रेड क्रम्स लगा कर डीप फ्राय करें।
-राजमा राइस क्रोकेट्स तैयार है।

15-01-2021
बाल सिर्फ महिलाओं की ही नहीं पुरूषों की खूबसूरती को चार चांद लगाते हैं, लापरवाही से झड़ने न दे घने बालों को

रायपुर। बाल ऐसी चीज है, जो न सिर्फ महिलाओं के लिए, बल्कि पुरुषों की सुंदरता के लिए भी जरूरी है। इसलिए इनका विशेष ख्याल रखना आपकी जिम्मेदारी है, क्योंकि किसी भी तरह की लापरवाही इनके झड़ने का कारण बन सकती है। नारियल का दूध बालों के लिए किसी संजीवनी से कम नहीं है। नारियल के दूध को आप सूखे नारियल के सफेद हिस्से को अच्छे से कसने के बाद निकाल सकते हैं। इसमें मौजूद वसा मॉइस्चराइजिंग गुण की तरह काम करता है और आपके बालों को मुलायम बनाने के साथ ही इनके उलझने की समस्या को दूर करता है। साथ ही यह दो मुंहे बालों की समस्या को दूर करने में भी सहायक साबित हो सकता है।

14-01-2021
त्वचा के लिए काफी कारगर है नींबू, मृत कोशिकाओं को हटाने में करता है मदद  

रायपुर। निखरी और दमकती त्वचा के लिए नींबू काफी कारगर होता है। नींबू में मौजूद साइट्रिक एसिड त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाने में मदद करता है और त्वचा को साफ करता है। इसमें पाए जाने वाले विटामिन सी त्वचा के काले धब्बे को ही नहीं हटाता है बल्कि कोशिका पुनर्जीवन की प्रक्रिया को भी तेज करता है। नींबू में ब्लीचिंग का भी गुण होता है, जिससे आपकी त्वचा तरोताजा महसूस करती है।

-चेहरे और गर्दन पर ताजा निचोड़ा हुआ नींबू का रस लगाएं। 10 मिनट के बाद गुनगुने पानी से धो लें। इसके बाद त्वचा को मॉइश्चराइज करने के लिए अपनी त्वचा पर खीरे के स्लाइस रगड़ें। इसे रोज या हर दूसरे दिन करने से त्वचा में काफी निखार आएगा।

-एक दूसरा विकल्प यह भी है कि एक आधा नींबू का रस निचोड़कर उसमें दो बड़े चम्मच शहद मिला कर चेहरे पर लगाएं। 15 से 20 मिनट के बाद इसे धो लें। काफी फायदा होगा।

14-01-2021
डार्क सर्कल्स से हैं परेशान तो आजमाएं ये घरेलू नुस्खा

रायपुर। आंखों के नीचे पड़ने वाले डार्क सर्कल आपकी खूबसूरती को खराब कर देते हैं। ये समस्या कई कारणों से जैसे शरीर में पोषक तत्वों की कमी होना, नींद पूरी ना होना, मानसिक तनाव या फिर ज्यादा देर तक मोबाइल, कम्प्युटर पर काम करने से भी हो सकती है। इन डार्क सर्कल से खूबसूरती तो कम होती ही है साथ में व्यक्ति बहुत थका हुआ अधिक उम्र का भी लगता है। तो आइए जानते हैं कुछ ऐसे उपाय जिनसे ये डार्क सर्कल कम कर सकते हैं।

टमाटर :
टमाटर के रस में नींबू का रस, चुटकीभर बेसन और हल्दी मिला लें। इस पेस्ट को अपनी आंखों के चारों तरफ़ लगा कर 20 मिनट तक रखें, उसके बाद चेहरे को धो लें। ऐसा लगातार 3 हफ्ते तक करें। ऐसा करने से डार्क सर्कल कम हो जाएंगे।

आलू :
आलू भी डार्क सर्कल कम करने में काफी असरदार है। रात में सोने से पहले चेहरे को अच्छे से साफ करें। इसके बाद आलू की पतली स्लाइस काटकर उन्हें आंखों पर 20-25 मिनट लगाएं। इसके बाद चेहरे को साफ कर लें।

गुलाब जल
आप डार्क सर्कल को गुलाबजल से भी कम कर सकते हैं। बंद आंखों पर गुलाब जल में रुई को भिगों कर कुछ देर रखें, ऐसा आप 10 मिनट तक करें। कुछ दिनों के बाद आप इसका असर देख सकते हैं। आंखों के आस पास की त्वचा चमक जाएगी।

बादाम का तेल
आंखों के काले घेरे से छुटकारा पाने के लिए बादाम के तेल का इस्तेमाल करें। बादाम के तेल को आंखों के आस पास कुछ देर लगा कर रखें। फिर उगंलियों से हल्की हल्की मालिश करें। इसके बाद चेहरे को साफ कर लें।

14-01-2021
तिल का विशेष महत्व होता है मकर संक्रांति को खासकर तिल के लड्डू और खिचड़ी का, आप भी ट्राई कीजिए

रायपुर।  मकर संक्रांति पर तिल के लड्डू और खिचड़ी खाई जाती है। इस दिन लड्डू और खिचड़ी बनाने की परंपरा है। अगर आप इस परंपरा को कायम रखना चाहते हैं, तो बनाएं तिल के लड्डू और खिचड़ी।

तिल का लड्डू बनाने के लिए सामग्री :
 60 ग्राम सफेद तिल
कद्दूकस किया हुआ गुड़ 150 ग्राम
घी
विधि :
- तिल को बीनकर अच्छी तरह साफ कर लें।
- अब गैस पर एक कड़ाही में तिल को सुनहरा होने तक भूनें।
- इसके बाद गैस पर एक पैन में आधा कप पानी डालकर गर्म करें और इसमें गुड़ डालकर पिघला दें।
- गुड़ सही तरह पक गया है, यह देखने के लिए एक कटोरी में ठंडा पानी लें. पानी में थोड़ा-सा पकता हुआ गुड़ डालें. अगर पानी में गुड़ का बॉल बन जाए तो लड्डू बनाने के लिए परफेक्ट गुड़ पक चुका है। अब गैस बंद कर दें।
- अब गुड़ में भुने तिल डालकर मिक्स करें और फिर गुड़-तिल के मिश्रण को हल्का ठंडा कर लें।
- इसके बाद हाथ पर घी लगाकर मिश्रण का थोड़ा-थोड़ा भाग लेकर इसके गोल-गोल लड्डू बना लें।


खिचड़ी बनाने के लिए सामग्री :
चावल – 200 ग्राम
उड़द की छिलके वाली दाल – 150 ग्राम
घी – 2 बड़े चम्मच
नमक – स्वादानुसार
हरा धनियां – 1 बड़ा चम्मच
हींग – 1 चुटकी
जीरा – 1 छोटा चम्मच
हरी मिर्च – 2 (बारीक कटी हुई)
अदरक – 1 इंच का लम्बा टुकड़ा (बारीक कटा हुआ)
हल्दी पाउडर – 1/2 छोटा चम्मच
हरी मटर के दाने – 1 छोटा कटोरी

 विधि :
-सबसे पहले थोड़ा पानी डाल कर चावल को भिगोएं और इसको अच्‍छी तरह धो लें। इसके बाद कुकर में घी डालकर गर्म कीजिए।
फिर इसमें हींग और जीरा डालिए। जीरा भुनने के बाद इसमें हरी मिर्च, अदरक, हल्दी पाउडर और मटर के दाने डाल कर 2 मिनट तक भूनिए।
- अब इस मसाले में चावल को डालिए और 2-3 मिनट तक चमचे से चला कर खिचड़ी को भूनिए।जब यह भुन जाए तो इसमें दाल और चावल की मात्रा का चार गुना पानी डाल दीजिए। कुकर बन्द कीजिए।
-एक सीटी आने के बाद 5 मिनट तक धीमी गैस पर खिचड़ी को पकने दीजिए। अब गैस को बन्द कर दीजिए। कुकर का प्रेशर खत्‍म होने के बाद कुकर का ढक्कन खोलिए। आपकी खिचड़ी तैयार है। खिचड़ी को बाउल में निकालिए। हरा धनियां ऊपर से डाल कर सजाइए।

13-01-2021
लोहड़ी पर बनाइए कड़ा प्रसाद और चना दाल खिचड़ी ट्रेडिशनल पंजाबी स्टाइल में

रायपुर। लोहड़ी का त्योहार आज है। अगर आप भी लोहड़ी को लेकर काफी एक्साइटेड हैं लेकिन इस मौके पर क्या बनाएं इसे लेकर कन्फ्यूज हैं तो यहां हम आपको कड़ा प्रसाद और चना दाल खिचड़ी ट्रेडिशनल पंजाबी रेसिपीज के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें इस मौके पर आपको जरूर ट्राई करना चाहिए।

कड़ा प्रसाद की रेसिपी-
सामग्री :
1 कप गेहूं का दरदरा आटा
1 कप चीना
1 कप घी
4 कप पानी

विधि :
- कड़ाह प्रसाद, कड़ा प्रसाद या आटे का हलवा बनाने के लिए सबसे पहले मोटे तल का बर्तन लें।
- इसमें 4 कप पानी डालकर मध्यम आंच पर उबलने के लिए रखें।
- एक दूसरे पैन में घी डालकर गर्म होने के लिए रखें।  जैसे ही घी पिघल जाए आंच धीमी कर दें और इसमें आटा डालकर अच्छी तरह मिक्स करते हुए सुनहरा होने तक भूनें।
- इसमें चीनी और पानी डालकर अच्छी तरह चलाते हुए पकाएं।  ध्यान रहे पानी डालते वक्त इसमें गांठ न पड़ें।
- आंच तेज करके 7-8 मिनट तक या पानी सूखने तक चलाते हुए पकाएं।
- आंच बंद कर दें और ठंडा होने के बाद कड़ा प्रसाद सर्व करें।

चना दाल खिचड़ी रेसिपी -
सामग्री:
चावल- 1 कप
चना दाल- 1/2 कप
घी- 2 बड़े चम्मच
जीरा- 1 छोटा चम्मच
काली मिर्च पाउडर- 1/2 छोटा चम्मच
हींग- चुटकीभर
दालचीनी- 1 टुकड़ा
काली मिर्च- 8-10
नमक- स्वादानुसार
पानी- 2 कप

विधि :
-सबसे पहले दाल और चावल को धोकर 1 घंटे के लिए पानी में अलग-अलग बाउल में भिगोएं।  
-अब कुकर में घी गर्म करके उसमें जीरा, दालचीनी, कालीमिर्च और हींग भूनें।
-दाल डालकर 5 मिनट तक भूनें।
-फिर चावल, कालीमिर्च पाउडर, नमक और पानी डाल कर ढक्कन बंद करके गैस की मीडियम आंच पर 2 से 3 सिटी लगवाएं।  
- इसे थोड़ी देर भांप में रहने दें।
-तैयार खिचड़ी के ऊपर 1 बड़ा चम्मच घी डालकर मिलाएं और सर्विंग प्लेट में डालकर गर्मा- गर्म सर्व करें।  
-लीजिए आपकी पंजाबी स्टाइल चना दाल खिचड़ी बनकर तैयार है।

13-01-2021
शकरकंद खाइए मगर छिलके मत फेंकिए, एंटीऑक्सीडेंट, खनिज से भरपूर प्रतिरोधक क्षमता बढ़ता है शकरकंद का छिलका

रायपुर। अगली बार आप जब भी शकरकंद खाएं तो उसके छिलकों को संभालकर रख लें। यह इसलिए क्योंकि शकरकंद के छिलकों में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट और खनिज मौजूद होते हैं, जो न सिर्फ आपके खाने के पोषण की मात्रा को बढ़ाते हैं, बल्कि आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ाते हैं। जड़ वाली सब्जी होने की वजह से, शकरकंद फाइबर, बीटा-कैरोटीन, विटामिन सी, विटामिन ई, फोलेट, पोटेशियम और आयरन से भरपूर होती है और आलू को पकाना या बेक करने से इनका पोषक तत्व बरकरार रहता है और भोजन भी पौष्टिक बनता है।

Please Wait... News Loading