GLIBS

19-07-2019
चेहरे से दाग-धब्बे व झाइयां दूर करने के लिए अपनाएं, ये घरेलू नुस्खे

नई दिल्ली। लड़कियों में पिंपल्स, डार्क सर्कल्स, फटे होंठ, पफी, आईज और ब्लैकहेड्स जैसी समस्याएं आम देखने को मिलती हैं, हालांकि लड़कियां इसके लिए महंगे प्रोडक्ट्स या क्रीम्स का सहारा लेती हैं, लेकिन कैमिकल्स युक्त प्रोडक्ट्स नुकसान भी पहुंचा सकता हैं। ऐसे में आज आपकी हर ब्यूटी प्रॉब्लम्स से कुछ छोटे-छोटे नुस्खे देंगे, जिससे आप इनसे छुटकारा पा सकती हैं।

पिंपल्स : लहसुन का पेस्ट बनाकर लगाएं और फिर गुनगुने पानी से चेहरा धोएं। इससे बैक्टीरिया मर जाएंगे और पिंपल्स जड़ से खत्म हो जाएगा।

झाइयां : सेब या पपीते के पल्प से रोजाना 5 मिनट मसाज करें। इससे बढ़ती उम्र में भी झाइयों की समस्या नहीं होगी।

डार्क सर्कल्स : पुदीने की पत्तियों का रस आंखों के नीचे लगाएं। इससे आंखों की त्वचा को नमी और पोषण मिलेगा, जिससे डार्क सर्कल्स की समस्या दूर होगी।

झुर्रियां : नारियल तेल और विटामिन ई कैप्सूल को मिलाकर मसाज करने से झुर्रियों की समस्या नहीं होगी।

स्किन टैनिंग : एलोवेरा जेल से 5-10 मिनट तक डेली मसाज करें। इससे स्किन टैनिंग और सनबर्न की समस्या दूर होगी।

स्किन टाइटनिंग : चुटकीभर फिटकरी को गुलाबजल में मिक्स करके लगाएं। इससे त्वचा टाइट होती है और आप एंटी-एजिंग की समस्याओं से बचे रहते हैं।

फटे होंठ : नींबू और शहद को मिलाकर हल्के हाथों से मसाज करें। इससे होंठ सॉफ्ट व मुलायम होंगे।

होंठों का कालापन : चुकंदर के रस को होंठों पर 10 मिनट लगाएं और पानी से साफ करें। कुछ ही दिनों में आपको बेहतर रिजल्ट मिलेगा।

पफी आईज : खीरे की पतली स्लाइस को ठंडा करके आंखों पर 10-15 मिनट रखें। इससे ना सिर्फ आंखों की सूजन दूर होगी बल्कि यह डार्क सर्कल्स से भी छुटकारा दिलाएगा।

ब्लैकहेड्स : फिटकरी और ऑलिव ऑयल मिलाकर स्क्रब करें। ऐसा हफ्ते में 2-3 बार करें। इससे ब्लैकहेड्स निकल जाएंगे।

हाथों का खुरदुरापन : टमाटर, नींबू का रस और ग्लिसरीन को मिलाकर हाथों की मसाज करें। इससे हाथ सॉफ्ट व सुदंर होंगे।

मजबूत नाखून : रात को सोने से पहले ग्लिसरीन से नाखूनों की मालिश करें। इससे नाखूनों में मजबूती आएगी और उनकी चमक भी बरकरार रहेगी।

फुट डिटॉक्स : शुगर, बेकिंग सोडा, ऑलिव ऑयल और शहद को मिक्स करके पैरों पर स्क्रबिंग करें और फिर गुनगुने पानी से धो लें। इससे पैर मुलायम और साफ होंगे।

14-07-2019
बच्चों को बेहद पसंद आएगी इडली मसाला सैंडविच, यह है रेसिपी...

नई दिल्ली। बच्चे जब शाम को खेलकूद कर या फिर ट्यूशन से पढ़कर आते हैं तो कुछ खाने की डिमांड करते हैं। ऐसे में उन्हें घर पर ही लाइट एंड हैल्दी इडली मसाला सैंडविच बनाकर खिलाएं। तो चलिए जानते हैं इस सैंडविच को बनाने की रेसिपी..

सामग्री :
दही - 2 से 3 टेबलस्पून
उबले आलू - 3
हरी मटर - 2 टेबलस्पून
हरा धनिया - 1 से 2 टेबलस्पून 
तेल - 2 टेबलस्पून 
सरसों के दाने - 1 टीस्पून
जीरा - 1 टीस्पून
अमचूर पाउडर - 1 टीस्पून
धनिया पाउडर - 1 टीस्पून
लाल मिर्च पाउडर - 1 टीस्पून
हरी मिर्च - 2 (बारीक कटी हुई)
अदरक पेस्ट - 1/2 टीस्पून

बनाने की विधि : 
—सबसे पहले एक बाउल में सूजी, दहीं और नमक डालकर तीनों चीजों को अच्छी तरह से मिक्स कर लें। 
—अगर बैटर घाड़ा लगे तो उसमें थोड़ा सा पानी मिला लें, तैयार मिश्रण को 15 मिनट के लिए ढककर रख दें। 
—अब आलू को छीलकर मैश कर लें।
—एक पैन में 2 चम्मच तेल गर्म करें।
—तेल गर्म होने पर उसमें सरसों, जीरा, हरी मिर्च और अदरक डालकर भून लें।
—उसके बाद मटर और एक चुटकी नमक डालकर कुछ देर ढककर पकने दें।
—2 मिनट के बाद ढक्कन उतार हल्दी पाउडर और धनिया पाउडर डालकर फिर से अच्छी तरह हिलाएं।
—हल्दी भुनने के बाद मैशड आलू डालें साथ ही लाल मिर्च और अमचूर पाउडर डाल दें।
—अब इस मिश्रण को ठंडा होने के लिए एक प्लेट में निकाल कर रख दें।

इडली बनाने का तरीका :
—सबसे पहले सूजी के बैटर में ईनी फ्रूट सॉल्ट डाल दें।
—एक प्रैशर कुकर में पानी उबलने के लिए रख दें।
—जब पानी उबल जाए तो उसमें कोई भी 2 से 3 इंच का स्टैंच रखें।
—अब उस स्टैंड पर छोटे साइज की कटोरियों में सूजी भरकर रख दें।
—गैस को सिम करके कुकर को ऊपर से प्लेट के साथ ढक दें।
—7 से 8 मिनट तक इडली बनकर तैयार हो जाएगी।

सैंडविच बनाने की विधि : 
— इडली जब ठंडी हो जाए तो उन्हें बीच में से काटकर आधा कर लें।
—अब तैयार आलू के मिश्रण को इडली के बीच फिल कर दें।
—एक पैन में 2 से 3 चम्मच तेल गर्म करके इडली सैंडविच को दोनों तरफ से शैलो फ्राई करें।
—इडली मसाला सैंडविच बनकर तैयार है इसे अपनी मनपसंद सॉस के साथ सर्व करें। 

13-07-2019
 मोटापा कम करना है तो डाइट में शामिल करें ये पांच फल

नई दिल्ली। मोटापा कम करने के लिए वर्कआउट के साथ-साथ हेल्दी डाइट होना बहुत ही जरुरी है। इसलिए हम आपको कुछ ऐसे फल के बारे में बता रहे है। जिससे आप तेजी से वजन कम कर सकते है।
आज के समय में दस में से तीसरा व्यक्ति मोटापे से परेशान है। जिससे निजात पाने के लिए लोग जिम का सहारा लेते हैं। इसके अलावा कठिन डाइट के साथ-साथ कई लोग दवाइयों की भी मदद लेते हैं लेकिन इसके बाद में बहुत ही साइड इफेक्ट होते है।
मोटापा कम करने के लिए वर्कआउट के साथ-साथ हेल्दी डाइट होना बहुत ही जरुरी है। इसलिए हम आपको कुछ ऐसे फूड्स के बारे में बता रहे हैं। जिससे आप तेजी से वजन कम कर सकते है।
 

सेब

रोजाना सुबह एक सेब खाओ और बीमारियों से कोसों दूर रहे हैं। जो कि 100 प्रतिशत सही है। वहीं कैलोरी कम मात्रा में पाया जाता है जो कि आपको वजन कम करने में काफी मदद करता है।

तरबूज
तरबूज कम कैलोरी के साथ-साथ अधिक मात्रा में फाइबर, पोटैशियम, आयरन और विटामिन- ए, बी व सी से समृद्ध होता है। ये शरीर से विषाक्त तत्वों को बाहर निकालने में मदद करता है। तरबूज में भरपूर मात्रा में पानी होता है। ये आपके शरीर में पानी की कमी को पूरा करने के साथ-साथ पाचन तंत्र को भी ठीक रखता है।
 

बेरीज 

बेरीज कई तरह की होती है। इसमें आप अकाई बेरी, गोजी बेरी, रसबेरी,  क्रेनबेर और स्ट्राबेरी होती है। इसमें कम मात्रा में कैलोरी होती है। जिनमें न तो शक्कर होती है, न वसा। इनमें मौजूद विटामिन सी शरीर में मौजूद फैट को तेजी से बर्न करने में मदद करता है।


केला
अधिकतर लोग सोचते हैं कि इसका सेवन करने से तेजी से वजन बढ़ता है लेकिन आपको बता दें कि इससे आपका फैट भी खत्म होता है। केले में विटामिन सी, विटामिन बी6, मैंगनीज, बायोटिन, पोटैशियम और फाइबर होता है, यह सभी पोषक तत्व आपके शरीर के लिए बेहद जरूरी है। केले में अधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो आपके पेट को काफी देर तक भरा रखता है। ये आपके मेटाबॉलिज्म को मजबूत रखने में मदद करता है। आप इस बात का ध्यान रखें कि आपका कैलोरी इनटेक टारगेट कितना है और उसकी सीमा में रहकर ही केला खाएं। ऐसा करने से केला आपका वजन नहीं बढ़ाएगा, बल्कि वजन कम करने में मददगार साबित होगा।
 

 

कीवी
कीवी कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूर होती है जो आपके शरीर को स्वस्थ तो रखता ही है साथ में वजन को भी कम करने में मदद करती है। कीवी में विटामिन सी, विटामिन के, फोलेट, पोटैशियम एवं विटामिन ई प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसके साथ ही इसमें कैलोरी बहुत ही कम मात्रा में पाई जाती है। जिससे आप आसानी से अपना वजन कम कर सकते है।

 

12-07-2019
जामुन खाने से होते हैं अनेक फायदे, जानिए क्या?

नई दिल्ली। जामुन खाना तो बहुत से लोगों पसंद होता है। खट्टे-मीठे स्वाद वाला यह फल खाने में जितना स्वादिष्ट होता है उतना ही सेहत के लिए फायदेमंद भी होता है। डायबिटीज के मरीजों के लिए तो यह किसी वरदान से कम नहीं है। इतना ही नहीं, इसका सेवन आपकी खूबसूरती में चार-चांद लगाने का काम भी करता है। चलिए आज हम आपको जामुन के कुछ ऐसे फायदे बताते हैं, जिसे जानने के बाद आप इसे रोजाना खाना शुरू कर देंगे।

जामुन के न्यूट्रिशन :
इसमें 62 कैलोरी के अलावा 0.7 ग्राम फैट होता है। इसके अलावा इसमें 0% कोलेस्ट्रॉल, 85% पानी, 1.4 एमजी सोडियम, 233.3 पोटेशियम, 14% काबोर्हाइड्रेट, 32% डाइटरी फाइबर, 7 जी शुगर, 4% प्रोटीन, 6% विटामिन ए, 50% विटामिन सी, 4% कैल्शियम, 4% आयरन और 7% मैग्निशियम होता है।

कैंसर से बचाव
एंटीऑक्सीडेंट, एंटीबैक्टीरियल और एंटी कैंसर गुणों से भरपूर जामुन शरीर में कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता है, जिससे आप इस बीमारी से बचे रहते हैं।
ब्लड शुगर को करे कंट्रोल
इसके बीजों का पाउडर बनाकर रोजाना गुनगुने पानी के साथ खाएं। इससे शुगर लेवल कंट्रोल में रहेगा। साथ ही इसमें शुगर का मात्रा ना के बराबर होती है, जिसके कारण डायबिटीज मरीज इसका सेवन बिना किसी डर के कर सकते हैं।
ब्लड प्रेशर
अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है तो रोजाना इसका सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है क्योंकि यह ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में भी काफी मददगार है।
पाचन क्रिया को रखे दुरुस्त
इस मौसम में पेट से जुड़ी समस्याएं आम देखने को मिलती है लेकिन जामुन का सेवन पाचन क्रिया को मजबूत करता है, जिससे आप एसिडियी, कब्ज और दस्त जैसी परेशानियों से बचे रहते हैं।
लिवर को करे डिटॉक्स
जामुन का सेवन करने से लिवर डिटॉक्स होता है। साथ ही यह शरीर में खून की कमी को भी पूरा करता है और ब्लड सकुर्लेशन को भी बेहतर बनाता है।
दिल को रखे स्वस्थ
इसमें एंथोसाइनिडिंस, ऐलेजियेक एसिड और एंथोसायनिंस जैसे पोषक तत्व होते हैं जो धमनियों के कार्यों को बेहतर बनाते हैं। इससे आप दिल की बीमारियों से बचे रहते हैं।
पथरी की समस्या
जामुन के बीजों से बने पाऊडर को रोजाना गुनगुने पानी के साथ लेने से किडनी स्टोन की समस्या भी दूर होती है। आप चाहे तो इसके पाऊडर को दही के साथ भी खा सकते हैं।
दांतों के लिए फायदेमंद
जामुन दांतों को स्वस्थ बनाने में भी फायदेमंद है। रोजाना जामुन के पाउडर का मंजन करने से दांत और मसूड़ों से जुड़ी समस्याएं दूर होती हैं।
ग्लोइंग स्किन
विटामिन ए और विटामिन सी से भरपूर जामुन का सेवन स्किन में ब्लड सकुर्लेशन बढ़ाता है, जिससे चेहरे पर निखार आता है।
त्वचा को करे हाइड्रेट
इसमें 85% पानी होता है, जो त्वचा को हाइड्रेट करता है। इससे त्वचा रूखी और बेजान नहीं होती, जिससे आप दाग-धब्बे, पिंपल्स और मुहांसे जैसी समस्याओं से बचे रहते हैं।
रंगत निखारे
जामुन की गुठलियों के पाऊडर में बेसन व दूध मिलाकर चेहरे पर 20 मिनट लगाएं। इसके बाद इसे सादे पानी से धो लें। हफ्ते में 2-3 बार इस पैक को लगाने से त्वचा में निखार आएगा।
डैंड्रफ का इलाज
जामुन में विटामिन सी होता है जो कि कोलेजन को पैदा करने में मददगार होता है। यह एंटी-आॅक्सीडेंट बालों को प्रदूषण और सूर्य की किरणों के बुरे असर से बचाता है और बालों को खूबसूरत बनाए रखता है। साथ ही नींबू के रस में इसका पाऊडर मिलाकर लगाने से डैंड्रफ की समस्या दूर होती है।

गुणकारी जामुन के भी हैं कुछ नुकसान
-जामुन को कभी भी खाली पेट नहीं खाना चाहिए। इससे पेट से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं।
-जामुन खाने के तुरंत बाद दूध का सेवन नहीं करना चाहिए।
-दिनभर में 200 ग्राम से ज्यादा इस फल को नहीं खाना चाहिए।

08-07-2019
सनस्क्रीन बचाता है धूप की हानिकारक किरणों से, लगाते वक्त ना करें ये गलतियां

नई दिल्ली। यूं तो धूप में निकलने से पहले सनस्क्रीन लोशन लगाना बहुत ही जरूरी होता है, ताकि त्वचा सूरज की हानिकारक अल्ट्रा यूवी किरणों से बची रहे। मगर कई बार लड़कियां सनस्क्रीन लगाते समय भी ऐसी गलती कर बैठती हैं, जो स्किन को प्रोटेक्ट करने की बजाए उसे नुकसान पहुंचा देता है। अगर आप भी इन गलतियों को करती हैं तो स्किन को सनस्क्रीन का पूरा फायदा नहीं मिल पाएगा और फ्री रेडिकल डैमेज से चेहरे पर वक्त से पहले झुर्रियां नजर आने लगेगी। ऐसे में हर लड़की को पता होना चाहिए कि सनस्क्रीन लगाने का सही तरीका क्या है और इसका इस्तेमाल कैसे किया जाए।
ना करें ये गलती
अक्सर लड़कियां बेवक्त सनस्क्रीन लोशन लगा लेती हैं लेकिन आपको इस आदत को बदलने की जरूरत है क्योंकि इसे लगाने का भी एक वक्त होता है। धूप में निकलने से तुरंत पहले सनस्क्रीन लोशन लगाने की गलती बिल्कुल ना करें। इसे हमेशा घर से निकलने के 10-15 मिनट पहले लगाएं, ताकि स्किन इसे अच्छी तरह अब्जार्ब कर सके।

स्किन के हिसाब से चुनें लोशन
यूं तो बाजार में कई तरह के सनस्क्रीन लोशन मिलते हैं। लेकिन आपको अपनी स्किन टाइप का ध्यान रखते हुए इसका चयन करना चाहिए। साथ ही एसपीएफ देखकर ही सनस्क्रीन लोशन खरीदें। एसपीएफ से आप जान सकते हैं कि वो धूप से आपकी स्किन कितनी देर बचाकर रखेगा। डर्मटॉलजिस्ट की मानें तो सन प्रोटेक्शन के लिए एसपीएफ-30 और पीए++ वाला लोशन का यूज करना चाहिए।

सांवली लड़कियों के लिए भी जरूरी
सांवली लड़कियों को लगता है कि उन्हें इसकी जरूरत नहीं है जबकि यह पूरी तरह गलत है। सनस्क्रीन रंगत को डार्क होने के लिए नहीं बचाता बल्कि यह सूरज किरणों से त्वचा को प्रोटेक्शन देता है, जो हर किसी के लिए जरूरी है।

दिन में कम से कम 2 बार करें यूज
अगर आप दिनभर घर में रहती हैं तो सिर्फ एक बार सनस्क्रीन लगा सकती हैं लेकिन अगर आप कहीं बाहर है तो कुछ घंटों बाद दोबारा इसे एप्लाई करें। इससे सनस्क्रीन का असर ज्यादा टाइम तक बना रहेगा।

गर्मी ही नहीं सर्दी में भी हैं जरूरी
महिलाओं को अक्सर यह लगता है कि सनटैन से बचने की या सनस्क्रीन लोशन लगाने की जरूरत केवल गर्मी में होती है जबकि ऐसा नहीं है। जहां गर्मियों के मौसम में सनस्क्रीन और मेकअप धूप और पसीने के साथ निकल जाता है, वहीं सर्दियों में ठंडी हवाएं चलने से मॉइस्चराइजिंग लोशन का असर जल्दी खत्म होता है। ऐसे में सनस्क्रीन का इस्तेमाल करके आप सर्दियों में भी स्किन को एक्स्ट्रा प्रोटेक्शन दें।

घर के अंदर भी फायदेमंद 
घर से बाहर निकलते समय तो सनस्क्रीन लगाने की सलाह दी ही जाती है, लेकिन एक्सपर्ट्स का मानना है कि घर के अंदर भी सनस्क्रीन लगाना फायदेमंद होता है, क्योंकि आर्टिफिशल लाइट भी त्वचा पर असर डालती है। इनमें भी कुछ मात्रा में रेडिएशन होता है। घर के भीतर भी एक बार एसपीएफ 15 तक का सनस्क्रीन लगाना चाहिए।

हल्के हाथों से लगाएं 
सनस्क्रीन को कभी अधिक रगड़कर त्वचा पर ना लगाए। इसे हल्के हाथों से मसाज करते हुए त्वचा पर एक परत की तरह लगाएं, जिससे की वो आपको सूर्य की किरणों से लंबे समय तक बचाने में मदद करेगा।

त्वचा पर सीधे ना लगाएं लोशन
कभी भी सनस्क्रीन लोशन को सीधे त्वचा पर ना लगाएं। त्वचा पर पहले मॉश्चराइजर और फिर सनस्क्रीन लगाएं। इससे सनस्क्रीन का फायदा और भी अधिक मिलेगा।

स्किन टाइप के हिसाब से चुनें 
-यदि आपकी स्किन ऑयली है तो आप ऑयल फ्री सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें। आपको जैल वाला सनस्क्रीन सूट करेगा।
-अगर आपकी त्वचा रूखी है तो ग्लिसरीन और एलोवेरा युक्त सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें।
-सेंसटिव स्किन के लिए आप हाइपोएलर्जिक युक्त सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें लेकि ध्यान रहें कि वो खुशबूदार ना हो। 
-सनस्क्रीन पानी के संपर्क में आते ही धुल जाता है। इसलिए आप हमेशा वाॅटर प्रूफ सनस्क्रीन ही खरीदें।

 

07-07-2019
घरेलू नुस्खों से स्किन को रखा जा सकता है चमकदार, जानिए कैसे...... 

नई दिल्ली। चेहरे से डेड स्किन सेल्स हटाने के लिए लोग कई महंगे-महंगे स्क्रब करते हैं। घरेलू नुस्खों से स्किन को ताजा और चमकदार बनाया जा सकता है। क्योंकि बाजार में बिकने वाले प्रोडक्ट में कैमिकल्स मिले होते हैं, जो स्किन को कई और नुकसान पहुंचा सकते हैं। ऐसे में आज हम आपको कुछ स्किन को एक्सफोलिएट करने वाले मास्क बताते हैं, जिनका आपको बिना किसी नुकसान के फायदा ही मिलेगा।  

क्यों जरूरी है स्किन एक्सफोलिएट? 
धूल-मिट्टी, प्रदूषण के संपर्क में लगातार आने से हमारी त्वचा रूखी-बेजान नज़र आने लगती हैं लेकिन इस रूखी-बेजान त्वचा के नीचे एक चमकदार स्किन छिपी होती हैं। मगर ये चमक खुद ब खुद बाहर नहीं आती बल्कि इसके लिए नियमित त्वचा को एक्सफोलिएट करना पड़ता है, ताकि त्वचा पुर्नजिवित हो सके और नए स्किन सेल्स में बढ़ोत्तरी हो। जब नए स्किन सेल्स बनते हैं तो त्वचा चमकदार व हैल्दी नजर आती हैं। 

कॉपी और शहद मास्क 
3 टेबलस्पून कॉपी पाउडर, आधा टी स्पून शहद
लगाने का तरीका 
3 टेबलस्पून कॉपी पाउडर में आधा टीस्पून शहद मिलाकर गाढ़ा पेस्ट तैयार करें। अब इसे अपने चेहरे पर मास्क की तरह एप्लाई करें। 20 मिनट तक रखने के बाद चेहरे को वॉश करते हुए हल्के हाथों से स्क्रब करें। इससे डेड स्किन सेल्स निकल जाएंगे। 

बेकिंग सोडा और पानी मास्क 
1 टेबलस्पून बेकिंग सोडा, आधा टीस्पून पानी 
लगाने का तरीका 
बाउल में थोड़ा सा पानी लेकर उसमें बकिंग सोडा मिला लें। आप चाहे तो पानी की जगह पर शहद इस्तेमाल कर सकते हैं। इसको अच्छे से मिक्स करके मास्क तैयार करें और अपने चेहरे पर अप्लाई करें और 15 मिनट के लिए हल्के हाथों से सर्कुलेशन मोशन में मसाज करें। इसे बाद फिंगरटिप्स की मदद से इस मास्क को धो दें। 

कोकोनट शुगर और दही मास्क 
1 टेबलस्पून कोकोनट शुगर, 2 टेबलस्पून दही 
लगाने का तरीका 
बाउल में 1 टेबलस्पून कोकोनट शुगर और 2 टेबलस्पून दही मिलाकर अच्छे से ब्लेंड करके गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें। अब इस मास्क को अपने चेहरे पर कम से कम 15 मिनट के लिए लगाएं और उंगुलियों की मदद से सर्कुलेशन मोशन में चेहरे को स्क्रब करें। इसके बाद चेहरे को सादे पानी से धो लें।

ओटमील और शहद मास्क 
3 टेबलस्पून ओटमील पाउडर, 1 टेबलस्पून कच्चा शहद
लगाने का तरीका  
बाउल में 3 टेबलस्पून ओट्मील और 1 टेबलस्पून कच्चा शहद मिलाकर मास्क तैयार करें। अपने इसे अपने चेहरे पर लगभग 20 मिनट तक लगाकर रखें। फिर अपनी उंगुलियों की मदद से इसे सर्कुलेशन मोशन में स्क्रब करें। इसके बाद चेहरे को साफ पानी से धो लें।  

दालचीनी और शहद मास्क 
1 टेबलस्पून दालचीनी, 1 टेबलस्पून शहद 
लगाने का तरीका 
1 टेबलस्पून दालचीनी में बराबर मात्रा में शहद मिलाएं और गाढ़ा पेस्ट तैयार करें। अब इसे मास्क की तरह चेहरे पर अप्लाई करें। 20 मिनट लगाने के बाद अपनी फिंगरटिप्स की मदद से चेहरे को स्क्रब करें। इससे स्किन अच्छे से एक्सफोलिए होगी और डेड स्किन सेल्स आसानी से निकल जाएंगे।

06-07-2019
खाने में शामिल करें कॉर्न सैलेड, सेहत के लिए है फायेदेमंद

नई दिल्ली। अधिकतर लोगों को खाना-खाने का मन नहीं करता। ऐसे में लोग लीक्वेड चीजें या फिर सलाद आदि खाना पसंद करते हैं जो उन्हें हैल्दी भी रखेंगे और अच्छी तरह से डाइजेस्ट भी हो जाए। अगर आप भी सलाद खाना पसंद करते हैं तो कॉर्न सैलेड खा सकते हैं क्योंकि यह बेस्ट फूड होने के साथ-साथ हैल्दी फूड भी है। बच्चे हो या बड़े, कॉर्न (मक्की) खाना हर कोई पसंद करता है लेकिन इसको आप सलाद के रुप में भी अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इससे एक तो आपका खाने का टेस्ट भी बदल जाएंगा और दूसरा आपको सेहत से जुड़े कई फायदे भी मिलेंगे। चलिए आज हम आपको कॉर्न सैलेड बनाने के 4 तरीके बताते हैं जिनको आप घर पर ही ट्राई कर सकते हैं। 

हैल्दी कॉर्न सैलेड
कॉर्न और एवोकाजो सैलेड
कोर्न और एवोकाडो दो पावरफुल फूड्स हैं जो डाइजेशन के लिए भी सबसे बढ़ियां माना जाता हैं। अगर आप अपने पाचन तंत्र को मजबूत व हैल्दी बनाएं रखना चाहते हैं तो इन दोनों को मिलाकर सलाद बनाकर खाएं। रोजाना इसका सेवन आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। 

कॉर्न और रॉ मैंगो सैलेड
आम सबसे बेस्ट फूड हैं जो शरीर को हैल्दी रखने में भी अहम भूमिका निभाता है। अगर आप अकेला आम खाना पसंद नहीं करते तो इसमें कोर्न यानी मक्की के दाने मिलाकर सलाद तैयार करें। इससे आम का टेस्ट बिल्कुल चेंज हो जाएंगा। आम और कोर्न से बना सलाद शरीर को हैल्दी भी रखेंगा। 

कोल्ड कॉर्न सैलेड
यह अनोखा सलाद रेड वाइन और शहद ड्रेसिंग के साथ पनीर, कॉर्न्स और आलू को मिलाकर बनाया जाता है। यह फ्रेश, कलरफुल व स्वादिष्ट मील होता है जो न केवल खाने में टेस्टी होता है बल्कि सेहत से जुड़ी कई प्रॉबल्म को दूर करने में भी मदद करता हैं। 

ग्रील्ड कॉर्न और टोमैटो सैलेड
ग्रील्ड कॉर्न डिश अलग ही स्वाद देती है। चेरी टमाटर, जैतून और सलाद जैसे फूड्स से बना यह सलाद फिटनेस के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। ये सलाद आपके स्वस्थ आहार का एक अभिन्न हिस्सा बन सकते हैं और आपके पार्टी मेनू में भी शामिल हो सकते है। आप इन अलग-अलग सलाद के रूप में कॉर्न्स को अपने मेहमानों के आगे सर्व कर सकते है। 

मक्की के गुण
100 ग्राम मक्की यानी कॉर्न में 86 कैलोरी, 1% फैट, 0% कोलेस्ट्रॉल, 15 मिलीग्राम सोडियम, 7% पोटेशियम, 6% काबोर्हाइड्रेट, 10% डाइटरी फाइबर, 3.2 ग्राम शुगर, 6% प्रोटीन, 11% विटामिन सी, 1% कैल्शियम, 2% लौह, 5% विटामिन बी-6 और 9% मैग्नीशियम होता है। इतना ही नहीं, इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी इंफ्लामेट्री जैसे गुण भी पाए जाते हैं, जिससे आप कई बीमारियों से बचे रहते हैं।

मक्की खाने के फायदे 
- वजन बढ़ाने के लिए दिनभर में तीन टाइम कॉर्न का सेवन करें लेकिन अगर वजन घटाना चाहते हैं तो सिर्फ ब्रेकफास्ट में ही इसका सेवन करें। 
- कॉर्न्स में अच्छी मात्रा में फाइबर होता है जो डाइडेशनस सिस्टम को स्मूद बनाकर रखता हैं। 
उच्च एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा के कारण कॉर्न फ्री रेडियन्स से लड़ने में मददगार हैं जिससे आप इंफैक्शन या बीमारियों से बचे रहते हैं। 
- इसके अलावा कॉर्न्स में उच्च मात्रा में विटामिन सी और ए होता हैं जो स्किन और बालों को हैल्दी रखते हैं। 
- स्वीट कॉर्न में मौजूद स्टार्च और फाइबर ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने में मदद करते हैं। 
- कॉर्न में एंटी-ऑक्सीडेंट होते है जो आंखों से जुड़ी कई बीमारियों के खतरे को कम करते है। 
- कॉर्न में फेनोलिक फ्लेवोनोइड्स एंटीऑक्सीडेंट और फेरुलिक एसिड भी अच्छी मात्रा में होता हैं जो कैंसर से बचाव में सहायक साबित होते हैं। 
- इसमें विटामिन बी 12, आयरन और फोलिक एसिड होता है, जो लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन में मदद करता है। 
- अगर आपको एनिमिया की शिकायत है तो डाइट में कार्न को जरूर शामिल करें। 

04-07-2019
शादी के बंधन में बंधने से पहले अपनाए ये ब्यूटी टिप्स, चेहरा करेगा ग्लो 

नई दिल्ली। अगर आप भी शादी के बंधन में बंधने ही वाली हैं तो ये ब्यूटी टिप्स आपके बहुत काम आने वाले हैं। यदि आप सोच रही हैं कि शादी के दिन केवल मेकअप ही अपना जादू चलाएगा तो ऐसा बिल्कुल नहीं है। मेकअप अकेले ही कुछ नहीं कर सकता। अगर चेहरा अंदर से ग्‍लो करेगा तभी मेकअप का भी असर दिखेगा।

इस तरह रखें त्वचा का ध्यान

आज हम आपको कुछ ऐसे ब्‍यूटी टिप्‍स देंगे जिन्‍हें आपको अपनी शादी के 1 महीने पहले आजमाना शुरू करना होगा, तभी ये अपना रिजल्‍ट दिखाएंगे। शादी की भाग दौड़ में लड़कियां अपना ख्‍याल रखना ही भूल जाती हैं, जिससे उनके शरीर पर तनाव का असर साफ दिखाई देने लगता है। अगर आप शादी की टेंशन लेंगी तो आपका चेहरा दाग धब्‍बो से भर जाएगा और चेहरे का ग्‍लो एकदम गायब हो जाएगा। इसलिए आपको मेंटल टेंशन छोड़ कर नियमित चेहरे की क्‍लीनिंग, टोनिंग और मॉइस्‍चराइजिंग पर ध्‍यान देना होगा।

स्किन क्लिजिंग है सबसे जरूरी
साफ त्वचा के लिए रुटीन में स्किन की क्लिजिंग बेहद जरूरी है। सबसे बढ़िया रहेगा कि रात को सोने से पहले चेहरे की क्लीनिंग करके ही सोएं। शहद और नींबू का पेस्ट चेहरे को क्लीन करने के लिए सबसे बेस्ट ऑपशन है। शहद और नींबू के साथ चेहरे को साफ करने के बाद हल्के गर्म पानी के साथ चेहरा धो लें। 

चेहरे का मसाज है आवश्यकचेहरे की क्लिजिंग के बाद मसाज करना बेहद जरूरी है, हालांकि रोजाना मसाज की भी आवश्यकता नहीं है। आप चाहें तो हफ्ते में दो बार मसाज कर सकते हैं। ध्यान रखें मसाज ऊपर की ओर ही करें। 2 से 3 मिनट तक मसाज करने के बाद गीले कपड़े के साथ चेहरे को पोंछ लें।

ऐलोवेरा और शहद फेस पैक
चेहरे को कोमल बनाने के लिए एलोवेरा और शहद अपनी त्‍वचा मुलायम और साफ बनाने के लिए शहद और एलोवेरा जैल को 20 मिनट तक चेहरे पर लगा कर छोड़ दें और फिर धो लें। ऐसा एक महीने तक रोजाना करें। 

आंखों पर दे खास ध्यान
आंखों के आसपास की त्‍वचा काफी मुलायम होती है। अपनी अंडर आई एरिया को बादाम तेल से कम से कम 2 मिनट तक के लिये मसाज करें। आप चाहें तो अंडर आई क्रीम भी लगा सकती हैं।

03-07-2019
मेट्रो सिटी में अपार्टमेंट में रहना खतरनाक, हो सकती है दिल की बीमारी

नई दिल्ली। मेट्रो सिटी में अपार्टमेंट में रहना है चलन है। एक रिपोर्टस के मुताबिक अब अपार्टमेंट में रहना लोगों के लिए खतरा बनता जा रहा है। एक रिसर्च के मुताबिक लोगों के लिए अपार्टमेंट में रहने वाले ज्यादातद लोग प्राकृतिक वातावरण में नहीं रहे पाते है। रिसर्च के अनुसार मेट्रो सिटी में अपार्टमेंट में प्रदूषण की मात्रा अधिक होती है। इससे डॉयबटीज़ और दिल के बीमारी का खतरे की आशंका रहती है। बता दें कि मेट्रो सिटी में रहने वाले लोग की लाइफ स्टाइल अलग होती है। मेट्रो सिटी में रहने वाले लोगों को जमीन ख़रीदना बहुत महंगा पड़ता हैं। लोग चाह कर भी जमीन नही खरीद पाते है और उन्हें अपार्टमेन्ट रहने को मजूबर होना पड़ता है। 

01-07-2019
बालों में तेल लगाते वक्त न करें ये गलतियां, नहीं तो हो जाएंगे और भी खराब

नई दिल्ली। हेयर ऑयल का इस्तेमाल बालों की खूबसूरती और मजबूती को बढ़ाने के लिए किया जाता है लेकिन तेल मालिश के बावजूद कई बार बाल रुखे और बेजान रह जाते हैं। बालों की तंदरुस्ती और खूबसूरती के लिए जरुरी है कि चंपी करते वक्त कुछ बातों को ध्यान रखें, जिससे आपके बाल सुंदर व घने दिखें। आइए जानते है उपाय

क्यों जरुरी है तेल मालिश ?
बालों को घना और मजबूत बनाए रखने के लिए तेल मालिश बेहद कारगर तरीका है। अगर नियमित रूप से मालिश की जाए तो आगे चलकर बालों की हेल्थ बनी रहती है। तेल लगाने से बालों को मजबूती तो मिलती ही है साथ ही सिर की त्वचा में इंफेक्शन नहीं होता और बाल समय से पहले सफेद भी नहीं होते। इसके अलावा भी बालों में तेल लगाने के ढेरों फायदे हैं।

तेल लगाने से पहले सुलझाएं बाल
बिना कंघी किए बालों में तेल नहीं लगाना चाहिए। जिन महिलाओं के बाल अधिक टूटते-झड़ते हैं, उन्हें तेल लगाने से पहले चौड़े दांतों वाली कंघी से एक बार बाल जरुर सुलझा लेने चाहिए। इससे तेल लगाने के बाद आपके बाल उलझकर टूटेंगे नहीं। 

हल्के हाथों से करें मालिश 
बाल टूटने का मुख्य कारण बालों की जड़ों का कमजोर होना है। कभी भी जोर लगाकर सिर में मालिश नहीं करनी चाहिए, इससे बाल और कमजोर होते हैं। कोशिश करें जिनके बाल अधिक झड़ते हैं वह रुई के मदद से बालों में तेल लगाएं। हमेशा बालों को छोटे-छोटे हिस्सों में बांट कर ही तेल लगाना चाहिए।

हल्का गुनगुना होना चाहिए तेल
तेल को हमेशा गुनगुना गर्म करके ही लगाना चाहिए। इससे तेल बालों की जड़ों में अच्छी तरह चला जाता है। कोशिश करें रात को तेल लगाकर सोएं और सुबह बाल धो लें। जिन्हें बाल झड़ने की अधिक परेशानी हो वह चंपी के बाद गर्म पानी में तौलिया डालकर निचोड़ने के बाद सिर में 3 से 4 मिनट तक रखें। इससे बाल झड़ने की प्रॉबल्म दूर होती है। 

बालों को टाइट न बांधे
तेल लगाने के बाद कभी भी बालों को टाइट बांधने की गलती ना करें। इससे आपके बाल कमजोर हो सकते हैं। रात को सोते वक्त भी हल्की सी चोटी बांधकर सोना चाहिए। इससे सारा दिन टाइट बंधे हुए बालों को थोड़ा आराम मिलता है।

10 मिनट तक करें मसाज 
तेल को सिर्फ जड़ों पर लगाकर यूं ही नहीं छोड़ देना चाहिए। 5 से 10 मिनट तक की हल्की मसाज ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने में मदद करती है। जिससे बालों का अच्छे से पोषण मिलेगा। 

4 से 5 घंटे तक लगाकर रखें ऑयल
ऑयल लगाने के तुरंत बाद सिर धोने की गलती न करें। कम से कम 4 घंटों तक बालों में तेल लगा रहना चाहिए। कोशिश करें कि रात को सोते वक्त ही तेल लगाएं ताकि अधिक समय तक बालों में तेल लगा रह सके।

30-06-2019
ग्लोइंग स्किन और सुंदर हेयर पाने के लिए आजमाएं खीरा

नई दिल्ली। हम खीरे को सिर्फ फेसपैक के तौर पर इस्तेमाल करते हैं। लेकिन खीरे का इसके अतिरिक्त भी कई तरह के फायदे हैं। इससे हम अपनी स्किन, बालों व आखों को और भी सुंदर बना सकते हैं।
खीरे के फायदे

स्किन जलन को करता है दूर 

आईब्रो बनवाने के बाद अगर स्किन पर जलन हो रही है तो खीरे के पतले स्लाइस काट कर कुछ देर के लिए स्किन पर रख लें। इससे स्किन की जलन दूर होने के साथ स्किन की रैडनेस भी खत्म हो जाएगी।

डैंड्रफ को करता है दूर 

बालों में अगर डैंड्रफ हो चुकी है तो खीरे के छिलके उतार कर कद्दूकस कर लें, इसमें एक अंडा व थोड़ा सा नमक मिला कर अच्छे से मिक्स कर लें। अब इस मिश्रण को थोड़ी देर सिर पर लगा कर वाश कर लें। इससे डैंड्रफ तो दूर होगी ही साथ ही बाल भी मुलायम हो जाएंगे।

दूर करेगा काले घेरे 

आखों के नीचे अगर काले घेरे बन गए है तो सुबह उठ कर खीरे के स्लाइस को काट कर 15 मिनट के आखों के नीचे रख लें। हर रोज 15 मिनट ऐसा करने से काले घेरे दूर हो जाएंगें। 

मूंह से बदबू को करेगा दूर 

अगर आपके या आपके पार्टनर के मुंह से बदबू आ रही है तो एक या दो स्लाइस खीरें के खा लें। कुछ ही मिनटों में बदबू दूर हो जाएगी। 

सूखे होंठ 

होंठ सूख चुके हैं तो खीरे के छिलके पर थोड़ी सी चीनी डाल कर कम से कम 5 मिनट तक होठों पर रगड़ों। इससे आपके होंठ मुलायम व सुंदर हो जाएंगे। 

सनबर्न में होगा असरदार

अगर ज्यादा देर धूप में रहने के कारण आपकी स्किन सनबर्न हो चुकी है तो आप खीरे के छोटे छोटे पीस करके उसमें एलोवेरा जेल डाल कर मिक्सी में पीस लें। अब उसमें थोड़ा सा पानी डाल कर लिक्वड बना लें। जब भी धूप में से बाहर आए तो स्किन पर इसे स्प्रे कर लें। इससे सनबर्न तो ठीक होगा ही आपकी स्किन भी सुंदर बनेगी।

 

29-06-2019
फेशियल के बाद भूल कर भी ना करें ये गलतियां, हो सकता है नुकसान

नई दिल्ली। ग्लोइंग चेहरा पाने के लिए हर कोई टाइम-टू-टाइम पार्लर जाकर क्लीनअप या फेशियल करवाती हैं, जोकि जरूरी भी है। इससे त्वचा में ब्लड सकुर्लेशन तेज होता है और चेहरे पर जमी गंदगी व डेड सेल्स भी निकल जाते हैं, जिससे स्किन ग्लो होने लगती है। लेकिन केवल फेशियल करा लेना ही काफी नहीं होता, बल्कि उस खूबसूरती को बरकरार रखने के लिए आपको कुछ बातों का ध्यान रखना भी जरूरी है। यदि आपने जरा सी भी लापरवाही बरती तो चेहरे पर दाने या रैशेज भी पड़ सकते हैं।

क्यों जरूरी है फेशियल?

हर महिला के लिए फेशियल करवाना सबसे ज्यादा रिलैक्सिंग टाइम होता है तथा वह अपनी स्किन में एक ताजगी का अनुभव भी करती है। यूं भी कहते हैं कि 30 की उम्र में पहुंचने के बाद महीने में कम से कम एक बार फेशियल करवाना चेहरे की स्किन के लिए अच्छा रहता है। फेशियल करवाने के बाद आपको कुछ चीजों को नजरअंदाज करना होगा।

फेशियल करवाने के बाद न करें ये काम
स्क्रब न करें
कई महिलाएं फेशियल करवाने के तुरंत बाद अपनी खूबसूरती को और अधिक निखारने के चक्कर में स्क्रब कर लेती हैं, जबकि ऐसा करना अपने चेहरे की स्किन को नुकसान पहुंचाने के जैसे होता है, कम से कम 12 घंटे के लिए चेहरे को स्क्रब न ही करें तो बेहतर होगा।

वैक्सिंग करवाना
फेशियल करवाने के तुंरत बाद कभी भी चेहरे पर वैक्सिंग न करवाएं, क्योंकि फेशियल के बाद चेहरे की सबसे ऊपरी स्किन बेहद मुलायम और संवेदनशील हो जाती है और वैक्स करने से वह उधड़ सकती है तथा चेहरे पर लाली छा सकती है।

थ्रैडिंग न करवाएं
यदि आपको फेशियल और थ्रैडिंग दोनों करवाने हैं तो थ्रैडिंग करवा लें और उसके बाद ही फेशियल करवाएं। वैसे भी थ्रैडिंग बहुत ही दर्द भरी प्रक्रिया होती हैं, ऐसे में फेशियल के बाद मुलायम स्किन पर इसे करवाना अधिक दर्दनाक हो सकता है। फेशियल के बाद कभी भी थ्रैडिंग न करवाएं।

धूप से बचें
फेशियल करवाने के बाद तुरंत धूप में न निकलें, इससे स्किन पर सन बर्न हो सकता है। यदि आपका निकलना जरूरी है तो मुंह को पूरी तरह से किसी कॉटन के कपड़े से कवर कर लें और छाता साथ में ले लें।

बोटॉक्स
फेशियल के बाद चेहरे पर बोटॉक्स करवाने से बचें, यदि आप ऐसा करती हैं तो आपके चेहरे पर भयानक दाने हो जाएंगे और इंफैक्शन भी हो सकता है। हमेशा फेशियल करवाने से 72 घंटे पहले ही बोटॉक्स करवा लें।

नया प्रोडक्ट
यदि आपकी स्किन संवेदनशील है तो कभी भी फेशियल के बाद नए प्रोडक्ट को चेहरे पर इस्तेमाल न करें। इससे चेहरे पर इंफैक्शन हो सकता है और चेहरा छिल सकता है। किसी भी नए प्रोडक्ट को फेशियल के तीन दिन पहले तक आप इस्तेमाल कर सकती हैं लेकिन उसके बाद बिल्कुल नहीं। अपने फैमिलीयर प्रोडक्ट का ही इस्तेमाल करना सही रहता है।

कैमिकल्स पील
फेशियल से 39 घंटे पहले और बाद में कभी भी रासायनिक या फ्रूट पील का इस्तेमाल चेहरे पर न करें। इससे स्किन में खुजली और जलन हो सकती हैं।

Please Wait... News Loading