GLIBS

18-09-2020
सियार का शिकार करते रंगे हाथ पकड़े गए 5 शिकारियों को जेल,बंदूक सहित दो बाइक जब्त

रायपुर। बिलासपुर वनमंडल के वन परिक्षेत्र बिटकुला के अंतर्गत दो वन्यप्राणियों सियार (जेकाल) के अवैध शिकार के मामले में गिरफ्तार 5आरोपियों मगती, राजू, संदीप, महताब और मनीष शिकारी को जेल भेज दिया गया है। सियार का शिकार करते मौके पर पकड़ाए पांचों आरोपियों के पास से दो बाइक सहित एक भरमार बंदूक भी जब्त की गई है। जेल भेजे गए सभी आरोपी सीपत के पास स्थित ग्राम मटियारी के रहने वाले है। अपर प्रधान मुख्य वनसंरक्षक (वन्यप्राणी) अरूण पाण्डेय ने कहा कि 17 सितंबर की रात्रि वनमंडलाधिकारी बिलासपुर कुमार निशांत को मुखबिर से को सूचना मिली थी। बताया गया था कि, वन परिक्षेत्र बिटकुला के अंतर्गत वन्यप्राणी के शिकार होने की आशंका है। सूचना के तुरंत बाद वनमंडलाधिकारी निशांत के मार्गदर्शन में सोंठी वन परिक्षेत्र के सहायक वनपरिक्षेत्राधिकारी नमित तिवारी के नेतृत्व में वन विभाग के कर्मियों की टीम ने तत्काल मौके पर घेराबंदी की। मौके पर  पांच आरोपियों को दो वन्यप्राणी सियार का शिकार करते पकड़ा गया। इन आरोपियों के पास से एक भरमार बंदूक, बारूद, छर्रा और 2  बाइक भी जब्त की गई। सभी के विरुद्ध वन्यप्राणी संरक्षण अधिनियम के तहत वन अपराध प्रकरण पंजीबद्ध कर जेल भेजा गया। उल्लेखनीय है कि, वन मंत्री मोहम्मद अकबर के निर्देशानुसार राज्य में वन विभाग की ओर से वन्यप्राणियों के अवैध शिकार की रोकथाम सहित वनों की सुरक्षा के लिए अभियान लगातार चलाया जा रहा है। वन विभाग की ओर से वन अपराधियों के विरुद्ध राज्य में लगातार हो रही कार्रवाई से भय व्याप्त है।

 

 

18-09-2020
शादी का झांसा देकर दो बहनों का बनाया अश्लील वीडियो, वायरल करने की धमकी देकर करता था पैसों की मांग,आरोपी गिरफ्तार

कोरबा। दर्री थाना क्षेत्र में रहने वाली दो लड़कियों को एक युवक ने शादी का झांसा देकर उनका  दैहिक शोषण किया। युवक ने लड़कियों का अश्लील वीडियो और फोटो भी तैयार कर लिया था। उसे सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी देते हुए लड़कियों से पैसे की उगाही भी कर रहा था। किसी तरह दोनों लड़कियों ने हिम्मत जुटाई और इस मामले की शिकायत पुलिस से की। इस पर पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ धारा 376, 384, 506 34 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर मामले की जांच शुरू की। पतासाजी कर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। सीएसपी दर्री खोमनलाल सिंह ने प्रेसवार्ता मे बताया की आरोपी-रूपेश कुमार मिरी दर्री का निवासी है। उसने पडोस में ही रहने वाली दो सगी बहनों को प्यार के जाल में फंसाया। शादी का झांसा देकर जबरदस्ती शारीरिक संबंध बनाया और शारीरिक संबंध बनाते समय वीडियों और फोटो तैयार कर सोशल मीडिया में वायरल करने का धमकी देता था। उसने एक बहन से 2.50 लाख रूपये और दूसरे बहन से 1.50 लाख रूपये वसूल भी लिया था। इसके बाद भी और पैसा की मांग करता रहा। पैसे नहीें देने पर आरोपी पीड़िता के मोबाइल पर अश्लील वीडियो भेजने लगा। इससे क्षुब्ध और परेशान होकर पीड़िता ने हिम्मत जुटाकर थाना दर्री में शिकायत की और आरोपी को गिरफ्तार किया गया।

 

18-09-2020
 जमीन के कागजात को बैंक में गिरवी रख किया धोखाधड़ी,मामला दर्ज

रायपुर। एक लिमिटेड कंपनी के संचालक ने कमल विहार स्थित जमीन को तीन वर्ष के लिये बैंक में बंधक रखकर लोन ले लिया व लोन का रकम बैंक में जमा नहीं करने की रिपोर्ट राजेन्द्रनगर थाने में दर्ज की गई है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार  पुरैना निवासी दीपक अडवानी ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि प्रार्थी की कंपनी अमीशा इस्काई क्रियेशन का कमल विहार स्थित भूमि का कागजात को एक लिमिटेड फर्म के संचालक निवासी मुंबई महाराष्ट्र ने नासिक स्टेट बैंक में गिरवी रखकर लोन लिया व डेढ़ प्रतिशत व्याज देने का आश्वासन दिया था। लोन लिये गये रकम को अपने व्यवसाय में लगाने की बात कही थी। कागजात को 9 सितंबर 2016 में गिरवी रखकर उसने लोन लिया। तीन वर्ष पूर्ण हो जाने के बाद पता चला कि आरोपी ने लोन का पैसा बैंक में जमा नही किया।  लोन लिए रकम को बैंक में जमा न कर रकम को एनपीए कराकर जान बूझकर प्रार्थी के साथ धोखाधडी किया। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है। 

 

18-09-2020
नौकरी लगाने के नाम पर 23 लाख की ठगी,कार भेजकर सरपंच को बुलाया था रायपुर

रायपुर। सरपंच को अपर कलेक्टर के नाम से सरकारी नौकरी लगाने की बात कहकर झांसे में लेकर 23 लाख 65 हजार रुपए ठगी किए जाने की रिपोर्ट पण्डरी थाने में दर्ज की गई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सिकरीमा थाना फरसाबहार जशपुर निवासी सर्वेश्वर साय ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि प्रार्थी वर्तमान में ग्राम सिकिरमा थाना फरसाबहार जशपुर का सरपंच है। अप्रैल 2020 में पीडि़त के मोबाइल फोन पर कॉल कर स्वयं को अपर कलेक्टर बताते हुए छग राज्य के विभिन्न जिलों के लिए 1380 पद स्वीकृत हुआ है,जिसमें अंबिकापुर, बलरामपुर, सरगुजा एवं जश्पुर जिले में डाटा एंट्री आपरेटर, क्लर्क, भृत्य एवं वाहन चालक का पद पर सीधी भर्ती किया जाना है। स्वयं को अपर कलेक्टर बताये जाने से पीड़ित उसकी बातों में आकर अपने घरवालों एवं दोस्तों से सलाह करके पत्नी,बहनों एवं अन्य रिश्तेदारों को भृत्य एवं क्लर्क पद के लिए तथा डाटा एंट्री आपरेटर के लिए एक व्यक्ति एवं दो व्याख्याताओं के ट्रांसफर कराने के नाम पर फोन पर फर्जी अधिकारी से बात की।

अधिकारी ने बताया कि उपरोक्त रकम तुम्हें रायपुर में देना है और आने जाने के लिये कार बुक करा दी। पीड़ित ने बताया कि संपूर्ण राशि की व्यवस्था नहीं है तब उनके कहने पर कि जितना नकद है उतना ले आओ एवं शेष राशि के लिये एटीएम कार्ड ले आना कहने पर 13 जून की शाम सिकिरमा से रायपुर के लिए निकला एवं 14 जून को रायपुर पहुंचने पर मोवा ब्रिज के आगे एफसीआई रोड में आने को कहा, वहां पहुंचने पर अपने भतीजे को भेज रहा हूं  पैसे दे देना कहने पर उसे 9 लाख,20 हजार रुपए व बाकी रकम एटीएम से निकाल लेने की बात कहकर पिन कोड बताते हुए दे दिया। पैसा एवं एटीएम कार्ड देते समय ठग स्वयं नही आया। उसने कॉल करके कहा कि सभी लोगों की भर्ती हो जाएंगी कहकर कुल 23,65,207.75/- ले लिए। बाद में कॉल करने पर मंत्रालय जाने की बात कहकर गुमराह किया। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने मोबाइल नंबर के आधार पर आरोपी के खिलाफ 420 के तहत अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है। 

 

18-09-2020
फर्जी कंपनी का सेल्स मैनेजर बनकर की लाखों की ठगी,मामला दर्ज

रायपुर। फर्जी कंपनी का एरिया सेल्स मैनेजर बनकर लाखों की ठगी करने की रिपोर्ट डीडीनगर थाने में दर्ज की गई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार रायपुर निवासी अभिषेक मिश्रा ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि उसके डीडी नगर स्थित आफिस में सुदेश मिश्रा ने मुलाकात। खुद को एक कंपनी के एरिया सेल्स मैनेजर बताया। उसने कहा कि कंपनी ने आफर दिया और कंपनी के मैनेजर से मोबाइल से बात कराई। उसके बाद माल मंगवाने के लिये आर्डर किया था। इसका 5 लाख 50 हजार रुपए आरोपी के खाते में जमा करा दिया था। 22 जुलाई से 17 सितंबर के मध्य आरोपी ने माल का डिलवरी नहीं किया। संदेह होने पर उसे कॉल किया तो माल पिथौरा तक पहुंच चुका है कहकर गुमराह किया। बिल्टी व ट्रक नंबर मांगने पर आरोपी ने फोन उठाना बंद कर दिया है। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है। 

 

18-09-2020
सुशांत सिंह मामले से जुड़े ड्रग पेडलर को एनसीबी ने धरदबोचा,1 किलो चरस के साथ साढ़े 4 लाख रूपए किए जब्त

मुंबईं। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत डेथ केस में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यरो की टीम अलग-अलग जगहों पर छापेमारी करके ड्रग पेडलर्स और उनके रैकेट का भंड़ाफोड़ कर रही है। शुक्रवार को एनसीबी मुंबई की टीम ने राहिल विश्राम नाम के एक ड्रग पेडलर को गिरफ्तार करके उसके पास से 1 किलो चरस और 4.5 लाख रूपए नकद बरामद किये हैं। सुशांत मामले से जुड़े कई ड्रग पेडलर्स को एनसीबी ने गिरफ्तार किया था और बताया जा रहा है कि राहिल इन तस्करों से सीधे तौर पर जुड़ा हुआ है।

आज एनएनआई ने ट्वीट कर जानकारी दी कि हिमाचल प्रदेश के राहिल विश्राम को नारकोटिक्स विभाग ने हिरासत में ले लिया है। इस बात की सूचना एनसीबी के जोनल डायरेक्टर ने मीडिया को दी है। सुशांत मामले में सीबीआई , प्रवर्तन निदेशालय के बाद एनसीबी ने ड्रग्स मामले की जांच शुरू करने के लिए हस्तक्षेप किया था। कुछ ही दिनों की पूछताछ के बाद रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोविक चक्रवर्ती, सैमुएल मिरांडा समेत अन्य लोगों को एनसीबी ने गिरफ्तार किया। 

18-09-2020
कलेक्टर की फेसबुक पर फर्जी आईडी बनाकर ठग मांग रहा लोगों से रुपए, सोशल मीडिया पर दी जानकारी

रायपुर। रायगढ़ कलेक्टर भीम सिंह के नाम से फेसबुक पर फर्जी आईडी बनाकर लोगों से रुपये मांगने के ​मामले में कलेक्टर ने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है। बता दें कि रायगढ़ कलेक्टर भीम सिंह के नाम से फेसबुक में कुछ लोगों से रुपए मांगे गए। संदेह होने पर इसकी जानकारी कलेक्टर को दी गई। तब पूरा मामला सामने आया है। उन्होंने स्वयं आगे आकर लोगों को ठग के बारे में जानकारी दी है। दरअसल कलेक्टर भीम सिंह ने फेसबुक पर जानकारी दी है कि कुछ लोग उनके नाम से रुपए मांग रहे हैं। उन्होंने अपनी फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि दोस्तों मेरी फर्जी प्रोफाइल किसी ने बना ली है और कुछ लोगों से रुपए की मांग रहा है। मैंने इसकी रिपोर्ट की और पुलिस में एफआईआर भी दर्ज कराई है। आगे उन्होंने लिखा है कि कोई भी आपसे किसी भी कारण रुपए मांगे तो उस पर विश्वास न करें।

18-09-2020
78 किलो गांजा सहित दो आरोपी गिरफ्तार

रायपुर/जगदलपुर। जिले की कोतवाली पुलिस ने कार से 78 किलो गांजा सहित 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से बरामद गांजे की अनुमानित बाजार मूल्य 3 लाख 90 हजार रुपये आंकी गई है। एसआई अमित सिदार ने बताया कि गुरुवार को मुखबिर से मिली सूचना पर एक सिल्वर रंग की कार क्रमांक सीजी 12 वाय 1200 में 2 युवक आंनद राम सारथी व महेश केवट ने कार की डिक्की में सफेद रंग के 3 बोरी में 78 किलो गांजा परिवहन कर रहे थे। एनएमडीसी चौक के पास पुलिस ने आरोपी को घेराबंदी कर गिरफ्तार किया है। आरोपियों के विरूद्ध एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। विदित हो कि कोतवाली पुलिस ने एक दिन पहले 21 किलो गांजा पकड़ा गया था। गांजे की घरपकड़ की कार्यवाही में एसआई अमित सिदार, एसआई होरीलाल नाविक, एसआई पीयूष बघेल, एएसआई सतीश वास्तव, वेद प्रकाश देशमुख, तरुण पटेल, शंकर चांदले शामिल थे।

18-09-2020
नक्सलियों ने जवान की हत्या कर शव को फेंका सड़क पर

बीजापुर। नक्सलियों ने जवान का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी है। इसके बाद फिर शव को गंगालूर-बीजापुर मार्ग में फेंका दिया। मामला बीजापुर कोतवाली क्षेत्र के पदेडा गांव का है। पुलिस मौके पर पहुंची गई है। जवान का नाम मल्लूराम सूर्यवंशी है जो सीएएफ के पायनियर प्लाटून में पदस्थ था। मल्लूराम 5 दिनों से लापता था। शव के पास से नक्सल पर्चा भी मिला है। गंगालूर एरिया कमेटी ने हत्या की ज़िम्मेदारी ली।

Please Wait... News Loading