GLIBS

22-10-2020
राजधानी में युवक के अपहरण की असफल कोशिश, रास्ते में धरदबोचा अपहरणकर्ताओं को

रायपुर। राजधानी के पॉश इलाके में अपहरण की कोशिश को पुलिस ने असफल कर दिया। मिली जानकारी के अनुसार घटना सिविल लाइन थाना क्षेत्र अंतर्गत शंकर नगर की है। यहां बीती देर रात एक युवक का अपहरण किया गया। अपहरणकर्ताओं की संख्या चार बताई जा रही है। घटना की खबर पुलिस को लगते ही साइबर सेल की मदद से आरोपियों को ट्रेस किया और रास्ते में धरदबोचा। पुलिस ने बताया कि अपहरणकर्ता गारियाबंद की ओर जा रहे थे। पुलिस ने 3 अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार किया और एक फरार बताया जा रहा है। पुलिस फरार आरोपी की तलाश कर रही है। पुलिस ने अपहृत युवक सोहेल को सकुशल बरामद किया। पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने 30 लाख की फिरौती की मांग अपहृत के परिजनों से की थी।

22-10-2020
सैलून को भी नहीं छोड़ा चोरों ने, उड़ा ले गए ट्रीमर, मसाज मशीन और क्रीम पाउडर

कोरबा। जिले में चोरों का आतंक लगातार जारी है। शहर के विभिन्न इलाकों से लगातार चोरी की खबर आ रही है। पुलिस इन पर लगाम लगाने में नाकामयाब है। ऐसा ही एक मामला सीतामढ़ी से सामने आया है,जहां चोरों ने दो दुकानों सहित एक ढाबे को अपना निशान बनाया है।बीती रात कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत सीतामढ़ी रेलवे स्टेशन रोड के पास स्थित दो दुकान राकेश जनरल स्टोर और डायमंड हेयर सैलून का ताला चोरों ने तोड़ा इसके साथ ही चोरों ने वही कुछ ही मीटर दूर स्थित एक ढाबे को भी अपना निशाना बनाया। चोरों ने सैलून दुकान का ताला तोड़कर सैलून से मशीनरी समान जैसे ट्रीमर,मसाज मशीन, क्रीम पाउडर सहित नगद पार की।जनरल स्टोर से चोरों ने गल्ले से पैसे लेकर फरार हो गए। पुलिस मौके पर पहुंच कर जांच में जुटी है।

 

22-10-2020
Video: अपहृत नाबालिग को पुलिस ने किया बरामद, आरोपी को किया गिरफ्तार

महासमुन्द। 11 महीने से अपहृत नाबालिग बालिका को कोमाखान पुलिस ने अपहरणकर्ता के कब्जे से पुलिस ने आजाद किया। युवक को गिरफ्तार कर पुलिस ने 363, 366, 376 व पोस्को एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी को जेल भेजा। कोमाखान थाना प्रभारी उमाकांत तिवारी ने बताया कि 22 नवम्बर 2019 को  नाबालिग के परिजनों ने थाने में अपहरण की शिकायत दर्ज कराई  थी। परिजनों ने गांव के ही एक युवक केशवदास मानिकपुरी पर संदेह जताया था। तब से पुलिस आरोपी युवक की तलाश कर रही थी। कोमाखान पुलिस को 11 माह बाद जानकारी मिली कि नाबालिग केशवदास मानिकपुरी के साथ प्रदेश के कई जिलों में घूमते पाए गए है। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर अपहरणकर्ता को गिरफ्तार कर नाबालिग को कब्जे से छुड़ा लिया है। आरोपी केशवदास मानिकपुरी के खिलाफ भादवि की धारा 363,366,376 और पोस्को एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध न्यायालय भेजा।

 

22-10-2020
सेल्स अधिकारी बताकर ट्रक को रोका और लूट लिया 5 लाख का ड्राई फ्रूट, हुए फरार

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में ड्राई फ्रूट से भरे ट्रक में बदमाशों ने लूट लिया। बदमाशों ने फर्जी सेल्स टैक्स अफसर बनकर ट्रक के ड्राइवर को बंधक बनाया और पांच लाख रुपये के ड्राई फ्रूट ले उड़े। घटना को नई दिल्ली के तिलक मार्ग इलाके में हुई। यहां पर ड्राई फ्रूट से भरे ट्रक को 3 बदमाशों ने रोका। बदमाशों ने खुद को सेल्स टैक्स अधिकारी बताया और ड्राइवर को बंधक बनाकर 5 लाख रुपये के ड्राई फ्रूट लूट लिए। बदमाशों ने ट्रक को पूर्वी दिल्ली के गाजीपुर फ्लाईओवर पर छोड़कर फरार हो गए। इस वारदात की नई दिल्ली इलाके में शिकायत की गई। मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है। आरोपी फरार है और पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है। पुलिस का कहना है कि आरोपियों को पकड़ने के लिए सीसीटीवी फुटेज की जांच करने, सीडीआर का विश्लेषण करने और आरोपियों को पकड़ने के लिए खुफिया जानकारी इकट्ठा करने के लिए कई टीमें बनाई गई हैं।

 

22-10-2020
ट्रेन में हुई जहरखुरानी, लूट ली यात्री की चैन और अंगूठी 

राजनांदगांव। ट्रेन में सफर कर रहे यात्री को बदमाशों ने नशा सुंघाकर लूट की वारदात को अंजाम दिया। यात्री का नाम विरेन्द्र सकलेचा (44) बताया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार अहमदाबाद से नागपुर के लिए ए 2 बर्थ नम्बर 14 में एक यात्री सफर कर रहा था। नागपुर में वह नहीं उतरा तो घर वालों ने आरपीएफ से संपर्क किया। आरपीएफ ने गोदिया सेक्शन से संपर्क किया। एक जवान ट्रेन में उसकी सीट पर पहुंचा तो देखा यात्री बेहोश अवस्था में था। वह राजनांदगांव स्टेशन पर फोन किया। यात्री के रिश्तेदार एम्बुलेंस लेकर स्टेशन पहुँचे। पुलिस और जीआरपी भी वहा पहुँच गई। यात्री को मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। यात्री की स्थिति सामान्य बताई गई है। यात्री के चाचा डॉ. सकलेचा ने बताया कि मेरा भतीजा जिस बर्थ में था उसके सामने वाली बर्थ में कोई यात्री था, जिसने इसे केला खाने को कहा इसने ले लिया तथा खाने के बाद बेहोश हो गया। उसकी चैन, अंगूठी आदि लूट कर फरार हो गया। आगे कार्यवाही की जा रही है।

22-10-2020
बेटा सो रहा था चैन की नींद, मां ने अंधविश्वास में आकर चढ़ा दी बेटे की बलि,पति से कहा- मैंने अपना काम कर दिया

भोपाल। पन्ना जिले में एक दिल दहलाने वाली घटना समाने आई है। यहां एक मां ने अपने बेटे की बलि चढ़ा दी। गुरुवार को यहां अंधविश्वास के चलते देवी मां को खुश करने के लिए एक महिला ने अपने 24 वर्षीय बेटे की कुल्हाडी मारकर कथित रूप से बलि चढ़ा दी। यह घटना पन्ना जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत कोहनी गांव में हुई। घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गई है और भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पन्ना कोतवाली थाना प्रभारी अरुण सोनी ने बताया,‘आज तड़के करीब साढ़े चार बजे पुलिस को सूचना मिली कि कोहनी गांव में सुनिया बाई लोधी (लगभग 50 साल उम्र) ने अपने बेटे द्वारका लोधी (24) के गले पर कुल्हाडी से वार कर हत्या कर दी है।

’उन्होंने कहा, ‘सुनिया बाई को लगभग पिछले दो साल से कुछ दैवीय प्रभाव होने का अहसास होता था और ऐसी घटना आज रात में भी हुई थी। इसी भाव के आने की दशा में कुल्हाडी से उसने अपने बेटे द्वारका लोधी के गले पर कुल्हाडी से वार कर हत्या कर दी।’ सोनी ने बताया कि कानूनी कार्रवाई कर शव का पोस्टमॉर्टम करवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि आरोपी महिला को भी गिरफ्तार कर लिया है और उससे पूछताछ जारी है। सोनी ने बताया कि पुलिस ने वारदात में उपयोग की गई कुल्हाड़ी भी जब्त कर ली है।जब उनसे सवाल किया गया कि क्या उसने देवी मां को बलि चढाई है तो इस पर उन्होंने कहा, ‘शुरुआती तौर पर पता चला है कि उसको ये भाव आते रहते थे और उस भाव के आने के स्थिति में वह यह बात करती थी कि इसे मारना है, उसे मारना है। यह बात गांव वालों ने आज बताई है।

बातचीत करके इसका आगे पूरा खुलासा किया जाएगा।’ सोनी ने बताया कि इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया गया है और विस्तृत जांच जारी है। इसी बीच, कोहनी गांव के राम भगत ने मीडिया को बताया, ‘सुनिया बाई ने अपने बच्चे को मार दिया। उसको देवी मां के भाव आते थे और कहती थी कि मैं बलि ले लूंगी। उसने रात में सोये में अपने बच्चे की हत्या कर दी।’ उन्होंने कहा, ‘घटना के समय उनके घर में सुनिया बाई, उसका पति एवं बेटा थे। उसका पति एवं बेटा सोये हुए थे। रात में सुनिया बाई ने कुल्हाड़ी ली और उसने अपने बेटे को काट दिया। उसने अपने बच्चे को काटकर अपने पति को भी बताया था कि देखो मैंने अपना काम कर दिया है। बलि ले ली है। बच्चे को मार दिया है और जाकर देखो।’

 

 

21-10-2020
हत्या का खुलासा: शराब के नशे में गेट कीपर ने की थी अपने साथी की हत्या, 5 आरोपी गिरफ्तार

कोरबा। दिन पहले उरगा थाना क्षेत्र में हुई गेट कीपर के हत्या के मामले में पुलिस में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में रेलवे में पदस्थ एक गेटकीपर अपने साथियों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया था। डॉग स्क्वायड व साइबर टीम की मदद से पुलिस ने आरोपियों को पकड़ लिया। मृतक बड़े अधिकारियों से अक्सर उसकी शिकायत किया करता था। इसकी वजह से वो नाराज था,उसे सबक सिखाने के लिए उसने वारदात को अंजाम दिया।उरगा थाना क्षेत्र अंतर्गत बड़वानी में रहने वाले हरेश सिंह रेलवे में गेट कीपर के पद पर पदस्थ था। नवलपुर फाटक के पास उसकी ड्यूटी थी। मड़वारानी और मदवानी के बीच स्थित नवलपुर फाटक के पास बने केबिन से कुछ ही दूरी पर शुक्रवार को हरीश का शव खून से लथपथ बरामद किया गया था। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ डॉग स्क्वायड, साइबर,फॉरेंसिक की टीम पहुंच गई थी। पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा ने बताया की इस मामले में बाघा डॉग ने काफी मदद की। घटना को अंजाम देने के बाद 200 मीटर की दूरी पर बने बोर में जाकर आरोपियों ने खून साफ किया था।

बाघा ने घटनास्थल और बोर के पास से गंध लेकर सीधे आरोपियों के गांव कोचर जा पहुंचा और इस घटना में शामिल पवन श्रीवास के घर के आसपास घूमता रहा। पवन मृतक के साथ घूमता था। पुलिस ने इस मामले में पवन को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ शुरू की,लेकिन वह पुलिस को गोल-मोल जवाब देता रहा ।घटना को देखकर पुलिस अंदाजा लगा लिया था कि किसी एक व्यक्ति का काम नहीं है। इस मामले में पुलिस को जानकारी मिली कि गेट कीपर अजय ध्रुव घटना के दिन ही सुबह बिलासपुर चला गया है। इससे पुलिस का शक गहरा गया। पुलिस ने जब अजय ध्रुव से संपर्क किया तो वह बिलासपुर में होने की जानकारी दी। पुलिस बिलासपुर जाकर अजय को पकड़कर कोरबा लाई और उससे पूछताछ की। सभी आरोपी से अलग अलग पूछताछ की गई। इसके बाद पूछताछ में उन्होंने घटना को अंजाम देना स्वीकार किया ।अजय ने बताया कि उसके साथ 4 और साथी थे। उसका कहना था कि हरेश अक्सर उसकी शिकायतें बड़े अधिकारियों से किया करता था। इसकी वजह से वह काफी नाराज रहता था। बीच में उसका इस मामले को लेकर विवाद भी हुआ था। घटना के दिन पवन श्रीवास के घर सभी ने शराब का सेवन किया। इस दौरान अजय धुर्वे अपने साथियों से कहा कि मैं अक्सर तुम लोगों को पार्टी देता हूं लेकिन तुम लोग मेरा सहयोग नहीं करते। अजय की बातों में आकर पवन श्रीवास ,छतराम यादव, प्रेमदास महंत और शत्रुघ्न कुमार सभी नवलपुर फाटक के पास पहुंचे। उस दौरान हरीश कुमार ड्यूटी में तैनात था। उन्होंने हरीश को कॉलर पकड़कर केबिन के बाहर निकाला और रोड में लाकर मारपीट किए। उसी दौरान अजय फावड़ा से हरेश के चेहरे और सिर पर कई बार वार किया,जिससे उसकी मृत्यु हो गई। सभी आरोपी बोर में जाकर हाथ पैर धो कर फरार हो गए। घटना के दिन ही पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त फावड़ा को बरामद कर लिया।

 

21-10-2020
बंदरों पर एयरगन से हुआ था फायर, वन अमले ने दो लोगों को लिया हिरासत में

राजनांदगांव। जिला मुख्यालय से लगभग 10 किलोमीटर दूर स्थित ग्राम रेंगाकठेरा में बंदरों के आतंक को देखते हुए ग्रामवासियों ने बैठक बुलाकर बंदरों को गाँव से भगाने के लिए 8 हजार रुपए जमा कर ठेका दिया था। लेकिन बन्दर भगाने की बजाए बंदरों का शिकार कर दिया गया,जिसकी सूचना मिलते ही वन विभाग का अमला पहुंच गया है, जांच की जा रही है।ग्राम रेंगाकठेरा में बंदरों की आवाजाही से परेशान ग्रामीणों द्वारा गाँव से बंदरो को भगाने के लिए हर घर से 100-100 रूपए की राशि ली गई और बन्दर भगाने वालो को ठेका दिया गया। लेकिन ठेका लेने वाले ने बंदर को भगाने की बजाए एयरगन से 4 से 5 बन्दरो कों मार दिया, जिसमें से 1 बन्दर बुरी तरह से घायल हो गया। घायल बन्दर का रेस्क्यू वन विभाग द्वारा किया गया लेकिन बन्दर वन विभाग को चकमा देकर अपने साथियों के साथ भाग गया।

इस संबंध में वन विभाग के रेंजर रत्न कुमार जैन ने बताया कि ग्रामीणों से मिली जानकारी के पर बन्दरों को मारे जाने का मामला सामने आया है, लेकिन अभी तक कुछ मिला नही है, हां एक बन्दर घायल हुआ है, जिसका रेस्क्यू किया जा रहा है।वही इस संबंध में  शिकायतकर्ता ग्रामीण ज्ञानेश्वर साहू ने बताया कि 1 दिन पहले गांव में मुनादी कराकर बंदरों को भगाने के लिए पैसा इकट्ठा किया गया था और बंदर भगाने के लिए 8000 में ठेका दिया गया था। ठेका लेने वाले ने मंदिर के ऊपर एयर फायरिंग की लेकिन बंदर नहीं भागने पर उसने बंदरों पर एयर गन से फायरिंग कर दिया,जिससे 4 से 5 बंदर मारे गए। एक बंदर घायल हुआ था जिसकी शिकायत वन विभाग में की गई है ।आज वनमंडलाधिकारी भानु प्रताप सिंह ने बताया कि बहुत खोजबीन के बाद अंततः दो आरोपियों को बंदूक सहित हिरासत में लिया गया।

 

21-10-2020
दो लाख के सोने-चांदी को घर से किया पार,3 चोरों को पुलिस ने महज कुछ घंटों में दबोचा

कोरबा।  सोने चांदी के जेवरात की चोरी करने वालों को पुलिस ने 5 घंटे में धरदबोचा है। चोरी करने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मामला दर्री थाना क्षेत्र अंतर्गत अयोध्यापुरी का है। दर्री थाना प्रभारी ने बताया कि रविंद्र नाथ सिंह निवासी अयोध्यापुरी ने शिकायत दर्ज कराई थी कि अज्ञात चोर ने अलमारी में रखे चांदी की पायल ,चांदी की मूर्ति, बिछिया, सोने का हार, सोने का झुमका,मंगलसूत्र कुल कीमत दो लाख का सामान चोरी कर लिया।प्रार्थी की रिपोर्ट पर दर्री पुलिस ने धारा 457, 380 भादवि कायम कर विवेचना में लिया। विवेचना में पुलिस ने अभय गोस्वामी उर्फ ताता उम्र 23 वर्ष , अमित मरकाम उम्र 23 वर्ष निवासी अयोध्यापुरी व एक नाबालिग बालक को तलब कर पूछताछ की। इस दौरान आरोपियों ने मंगलवार के मध्य रात्रि प्रार्थी के घर घुसकर चोरी करना स्वीकार किया। आरोपियों के कब्जे से सोने एवं चांदी के जेवरात कीमती दो लाख रुपए जब्त किया। आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।

 

21-10-2020
Video: लाखों की सट्टा पट्टी के साथ दो आरोपी गिरफ्तार, नगदी और कार जब्त

दुर्ग। मोहन नगर थाना अंतर्गत पुलिस को मुखबिर से ऑनलाइन आईपीएल सट्टा खिलाने की जानकारी प्राप्त हुई। जिसे तत्काल संज्ञान में लेते हैं दुर्ग पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में टीम गठित की गई। इस बारे में जानकारी देते मोहन नगर थाना प्रभारी बृजेश कुशवाहा ने बताया कि धमधा रोड स्थित महिमा अस्पताल के पास दुर्ग में आरोपी घेराबंदी कर पकड़े गए। आरोपियों में रोशनलाल देवांगन,दशरथलाल देवांगन को पकड़ा गया। जिनसे एक कार,एलईडी सेट,नगदी 18000 रुपए,लाखों की सट्टा पट्टी बरामद की गई। पूरे मामले का मास्टरमाइंड रोशन लाल ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। पुलिस ने मर्ग कायम कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है ।

 

21-10-2020
ब्राउन शुगर को बेचने की फिराक में ग्राहक तलाश रहा था आरोपी, पुलिस ने दबिश देकर धरदबोचा

अंबिकापुर। पुलिस ने एक आरोपी को ब्राउन शुगर के साथ गिरफ्तार किया हैं। आरोपी ब्राउन शुगर लेकर गांधीनगर थाना क्षेत्र में ग्राहक की तलाश में घूम रहा था। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस के तहत मामला दर्ज कर आरोपी को जेल भेज दिया हैं।आईजी रतन लाल डांगी के निर्देश पर सरगुजा संभाग के प्रत्येक जिले में नशे के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा हैं। इस अभियान के तहत जिले भर में नशे को लेकर पुलिस विभाग के द्वारा धर पकड़ जारी हैं। इसी कड़ी में गांधीनगर पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी कि ब्रम्हपारा निवासी भीम कुमार ब्राउन शुगर लेकर ग्राहक की तलाश में गांधीनगर थाना क्षेत्र में घूम रहा हैं।

सूचना के बाद गांधीनगर पुलिस ने सूचना वाली जगह पर दबिश दी और आरोपी भीम कुमार को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही तलाशी के दौरान पुलिस ने आरोपी के पास से 5 ग्राम ब्राउन शुगर भी बरामद किया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ एनडीपीएस के तहत मामला दर्ज कर लिया हैं। आरोपी को न्यायालय में पेश करने के बाद जेल दाखिल कर दिया है।

 

Please Wait... News Loading