GLIBS

17-11-2019
रोजर फेडरर को युवा टेनिस प्लेयर सितसिपास ने दी मात, एटीपी फाइनल्स से किया बाहर
खे
01:23pm

लंदन। 20 बार के ग्रैंड स्लैम विजेता रोजर फेडरर को हराकर ग्रीस से युवा टेनिस खिलाड़ी स्टीफानोस सितसिपास ने एटीपी फाइनल्स से बाहर कर दिया है। 21 वर्षीय सितसिपास ने शानदार प्रदार्शन करते हुए फेडरर को सीधे सेटों में 6-3, 6-4 से मात दी। प्रतियोगिता के फाइनल में उनका मुकाबला अब आस्ट्रिया के डोमिनिक थीम से होगा।

सितसिपास वर्ष 2009 के बाद से इस प्रतियोगिता के फाइनल में पहुंचने वाले सबसे युवा खिलाड़ी हैं। 2009 में जुआन मार्टिन डेल पोट्रो ने टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई थी। इस टूर्नामेंट में 2002 के बाद ऐसा मौका आया है जब फेडरर, जोकोविक या नडाल में से कोई भी फाइनल मैच में नहीं खेल रहा है। आस्ट्रिया के डोमिनिक थीम ने कहा कि "फाइनल में मुझे लगता है कि खिलाड़ियों के बैकहैंड के बीच कड़ा मुकाबला होगा। हम दोनों अटैकिंग खिलाड़ी हैं, उन्हें खेलते हुए देखकर बहुत आनंद आता है। मुझे सितसिपास को खेलते हुए देखना बहुत पसंद है और मैं उनका मुकाबला करने के लिए उत्सुक हूं।

17-11-2019
मार्च तक बिक जाएगी एयर इंडिया, बीपीसीएल : केंद्रीय वित्त मंत्री
01:12pm

नई दिल्ली। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने कहा देश की दूसरी सबसे बड़ी पेट्रोलियम कंपनी भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) और विमानन कंपनी एयर इंडिया को बेचने की प्रक्रिया पूरी कर लेगी। वित्त मंत्री कहा कि अगले साल की शुरुआत में ही ये दोनों काम पूरे हो जाने की उम्मीद है। सरकार को इन दो कंपनियों को बेचने से इस वित्त वर्ष में 1 लाख करोड़ का फायदा होगा। दोनों कंपनियां जल्द की निजी हाथों में चली जाएंगी। रिपोर्ट के मुताबिक, सीतारमण ने कहा, एयर इंडिया की बिक्री प्रक्रिया शुरू होने से पहले ही निवेशकों में उत्साह देखा गया है। पिछले साल निवेशकों ने एयर इंडिया को खरीदने में ज्यादा उत्साह नहीं दिखाया था इसलिए इसे नहीं बेचा जा सका था। बता दें कि मौजूदा वित्त वर्ष में कर संग्रह में गिरावट को देखते हुए सरकार विनिवेश और स्ट्रैटजिक सेल के जरिए रेवेन्यू जुटाना चाहती है।

वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि आर्थिक सुस्ती से निपटने के लिए समय पर जरूरी कदम उठाए गए हैं और कई क्षेत्र अब सुस्ती से बाहर निकल रहे हैं। उन्होंने बताया कि कई उद्योगों से कहा गया है कि वे अपनी बैलेंस शीट में सुधार करें और उनमें से कई नए निवेश की तैयारी कर रहे हैं। निर्मला सीतारमण ने कहा कि उन्हें उम्मीद थी कि कुछ क्षेत्रों में सुधार से जीएसटी कलेक्शन बढ़ेगा। इसके अलावा सुधार के कदमों से भी टैक्स कलेक्शन बढ़ सकता है। उन्होंने कहा, सुप्रीम कोर्ट ने एस्सार स्टील पर जो फैसला सुनाया है इससे काफी सुधार देखने को मिला है और अगली तिमाही में इसका प्रभाव बैंकों की बैलेंस शीट पर देखने को मिलेगा।

17-11-2019
बाला साहेब को दिया वचन उद्धव करेंगे पूरा, शिवसेना का होगा सीएम : संजय राउत
रा
01:05pm

मुंबई। बाला साहेब ठाकरे की पुण्यतिथि पर रविवार को मुंबई के शिवाजी पार्क में श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। बाला साहेब ठाकरे को श्रद्धांजलि देने के बाद शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि आज भी बाला साहेब हमारे साथ हैं। यह भूमि नहीं है यह पवित्र जगह है जहां हिन्दुत्व, पूरी मानवजात को, देश को हमेशा एक संदेश बाला साहेब ने दिया है और अब यह प्ररेणा स्थान देगा। उन्होंने कहा कि बाला साहेब के लिए आज हम कुछ भी करेंगे। सरकार बनेगी और बाला साहेब को उद्धव ठाकरे ने वचन दिया था कि शिवसेना का मुख्यमंत्री होगा वह जल्द ही इस स्थल पर आ जाएगा। छगन भुजबल और जयंत पाटिल ने बाला साहेब को श्रद्धांजलि दी। छगन भुजबल ने कहा कि बाला साहेब से बहुत सारी पुरानी यादें जुड़ी हुई है। सरकार बनाने की कोशिश सकारात्मक रूप से जारी है। सरकार बनाने के लिए पूरी कोशिश करेंगे।

पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा है बाला साहेब जब बोलते थे लोगों को ताकत मिलती थी उनको देखने से ऊर्जा मिलती थी। बाला साहेब कहते थे नाम जपो नाम बड़ा होगा। तुम्हें सब कुछ मिलेगा। बाला साहेब की याद कर स्फूर्ति आती है। हिन्दू सम्राट बाला साहेब का आशीर्वाद मिलता रहे। बाला साहेब बोलते थे हिंदुत्व का झंडा लहराता रहना चाहिए। उनके स्मृति हमेशा हमारे साथ रहेगी केन्द्रीय मंत्री नीतिन गडकरी ने ट्वीट करके बाला साहेब को श्रद्धांजलि दी है। एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने ट्वीट कर कहा,  बालासाहेब ठाकरे द्वारा उठाए गए कदमों से मराठी व्यक्ति,जो गर्व से क्षेत्रीय अस्मिता पर घमंड करता था। बाला साहेब ने राजनीति के अलावा समाजवाद को प्राथमिकता दी थी।

17-11-2019
दिल्ली में वायु गुणवत्ता में आया सुधार, एक्यूआई 254 किया गया दर्ज
12:58pm

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के लोगों को रविवार को प्रदूषण से थोड़ी राहत मिली और वायु गुणवत्ता सुधार के साथ ‘गंभीर’ श्रेणी से ‘खराब’ श्रेणी में पहुंच गयी। रविवार को सुबह नौ बजे वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 254 दर्ज किया गया जबकि इसी समय शनिवार को यह 412 था। फरीदाबाद में यह सूचकांक 228, गाजियाबाद में 241, ग्रेटर नोएडा में 192, नोएडा में 224 और गुड़गांव में 193 दर्ज किया गया। वायु गुणवत्ता 201-300 के बीच ‘खराब’ मानी जाती है। वहीं 301-400 के बीच ‘बेहद खराब’ और 401-500 के बीच ‘गंभीर’ मानी जाती है। राष्ट्रीय राजधानी का न्यूनतम तापमान 16 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि आर्द्रता का स्तर 71 फीसदी था। मौसम वैज्ञानिकों ने दिन में आकाश साफ रहने और अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना जाहिर की है। दिल्ली में शुक्रवार तक लगातार चार दिन गहन धुंध छायी रही क्योंकि मौसम के अनुकूल नहीं होने की वजह से प्रदूषक कणों के बिखराव में बाधा आ रही थी। वायु गुणवत्ता सूचकांक शनिवार शाम चार बजे 357 दर्ज की गई थी।

17-11-2019
पहले घूमता था गलियों में, अब पुलिस श्वान दल की शान बना
12:50pm

देहरादून। गलियों में घूमने वाला आवारा डॉगी, आज पुलिस के श्वान दल की शान बना हुआ है। जी हां, देश में पहली बार यह प्रयोग किया है उत्तराखंड पुलिस ने। सड़कों पर आवारा घूमने वाले डॉगी को पुलिस की ट्रेनिंग दी तो वह नामी नस्लों के लाखों रुपये के दाम वाले डॉगी से कहीं आगे निकला। अब यह डॉगी उत्तराखंड पुलिस का सबसे फुर्तीला स्निफर डॉग है। उत्तराखंड पुलिस ने इसकी सूंघने की खूबी को अपनी ताकत बनाया और अपनी डॉग स्क्वाड का हिस्सा बना लिया। इस स्निफर डॉग का नाम ‘ठेंगा’ रखा गया है। ‘ठेंगा’ विदेशी और विलायती डॉगी को ही पुलिस में परंपरागत भर्ती के स्थापित नार्म्स को तोड़ता है। देश में पहली बार उत्तराखंड पुलिस ने गली के स्ट्रीट डॉग को श्वान दल में शामिल करने का प्रयोग किया है।

ठेंगा को पालने में नहीं ज्यादा खर्च

अब तक बेल्जियम, जर्मन शैफर्ड, लैबरा, गोल्डन रिटीवर आदि विदेशी नस्ल के कुत्तों को ही पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों के श्वान दल का हिस्सा होते थे, जिन्हें 30 से लेकर 70 हजार रुपये में खरीदा जाता था। इनकी ट्रेनिंग में काफी खर्च आता है। अमूमन आम घराें में भी गली के बजाय विदेशी नस्ल के कुत्ताें को ड्राइंग रूम का हिस्सा बनाया जाता है। आईजी संजय गुंज्याल ने इस मिथक को तोड़कर एक गली से दो माह के कुत्ते को उठाकर श्वान दल को सौंपा था। करीब छह माह के प्रशिक्षण के बाद ठेंगा विदेशी नस्ल के कुत्तों को मात दे रहा है। श्वान दल के प्रशिक्षक कमलेश पंत और प्रेम वल्लभ बताते हैं कि ठेंगा को पालने में ज्यादा खर्च नहीं आया। खाने में कुछ भी दे दिया जाए, सब पचा लेता है। प्रशिक्षण की अवधि में ठेंगा एक बार भी बीमार नहीं हुआ है। जबकि विदेशी नस्ल के कुत्तों के रख-रखाव में काफी दिक्कत आती है। कई तरह की बीमारी के चलते दवा के साथ उनका ट्रीटमेंट करना पड़ता है।

स्थापना दिवस परेड में किया अद्भुत प्रदर्शन

आमतौर पर सभी स्निफर डॉग की ट्रेनिंग आईटीबीपी ट्रेनिंग सेंटर में होती है। लेकिन ठेंगा की ट्रेनिंग देहरादून में ही हुई है। नौ नवंबर को पुलिस लाइन में हुई स्थापना दिवस परेड में ठेंगा अपने काबलियत प्रदर्शित कर चुका है। आग के गोलों से निकलने के साथ अल्प प्रशिक्षण में साक्ष्य को सूंघकर अपराधियों तक पहुंचने के कौशल को देखकर श्वान विशेषज्ञ भी दंग है। परेड के दौरान ठेंगा ने अपराधी के छूटे हुए साक्ष्य को सूंघकर अपनी विशेष क्षमता के बल पर छुपे अपराधी को खोज निकाला।  

ठेंगा को देखने कई राज्यों की टीम आएंगी

दिल्ली में शुक्रवार को हुई दिल्ली, बिहार, उत्तराखंड, आसाम आदि राज्यों के पुलिस महानिदेशकों की बैठक में ठेंगा का सफल प्रयोग सुर्खियों में रहा। उत्तराखंड के प्रतिनिधि के तौर पर बैठक में शामिल आईजी संजय गुंज्याल ने बताया कि इस नए प्रयोग को लेकर बैठक में चर्चा हुई। कई राज्यों के प्रतिनिधि जल्द देहरादून आकर इस सफल प्रयोग का अवलोकन करेंगे।

ठेंगा नाम रखने के पीछे एक पौराणिक कथा को प्रतीक में लिया है। ठेंगा उस कटे हुए एकलव्य के अंगूठे से है जो ऐसे समाज में जहां राजपरिवार या अर्जुन को अजेय और सर्वश्रेष्ठ बनाने की जिद में तार्किकता और न्याय का दम घोटा जाता है। जो कहीं न कहीं सामाजिक असमानता को पोषित करने का दोषी भी है। गुरु द्रोण के इस सिस्टम में एक लायक को उस इनायत का हकदार नहीं बनाया गया, क्योंकि वह एक भील या निषाद वर्ग से था। उस असमानता को नियति मानने से इनकार करता विद्रोही सोच वाला वह निर्जीव सा दिखने वाला अंगूठा आज उस सोच को ठेंगा दिखाने की कोशिश में पुलिस के सिपाही बनने के लिए प्रशिक्षणाधीन है। इस प्रशिक्षण से ठेंगा की घ्राणशक्ति को यकीनन एक दिशा और दशा मिली है ।
 
-संजय गुंज्याल, पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस आधुनिकीकरण 

 

17-11-2019
कार के ऊपर चढ़ा ट्राला, 5 लोगों की मौके पर मौत, बच्ची घायल
12:41pm

भोपाल। मध्यप्रदेश के बड़वानी में रविवार सुबह सड़क हादसा हो गया, जिसमें पांच लोगों की मौत हो गई और एक बच्ची घायल हो गई। जिले के मंडवाड़ा के पास एक कार और ट्राले में जबरदस्त टक्कर हो गई, कार सवार सभी लोग कसरावद शादी समारोह में शामिल होने जा रहे थे। हादसे  में मौके पर ही पांच लोगों ने दम तोड़ दिया। हादसे में एक बच्ची घायल है, जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। जानकारी के मुताबिक जिले के मंडवाड़ा के पास एक कार और ट्राले में जबरदस्त टक्कर हुई। जानकारी के अनुसार एक परिवार खरगोन जिले के कसरावद शादी समारोह में शामिल होने जा रहा था। इसी दौरान मंडवाड़ा के पास दूसरी ओर से आ रहे तेज रफ्तार ट्राले ने उन्हें टक्कर मारी और कार के ऊपर चढ़ गया। हादसा इतना दर्दनाक था कि कार में बैठे पांच लोगों ने दम तोड़ दिया। ट्राले के नीचे आने से कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। हादसे में एक बच्ची घायल है जिसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। दुर्घटना के बाद लोगों ने पुलिस और एंबुलेंस को इसकी सूचना दी और अंदर फंसी घायल बच्ची को बाहर निकाला। इसके बाद उसे अस्पताल पहुंचाया गया। क्रेन के जरिए ट्राले को कार के ऊपर से उठाया गया और फिर शवों को बाहर निकाला गया।  

17-11-2019
10 रुपए के लिए दो दोस्तों के बीच हुआ विवाद, फिर हुआ कुछ ऐसा की दहल गया सबका दिल
12:35pm

नई दिल्ली। मेरठ के नूर नगर इलाके में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां सिर्फ 10 रुपये के विवाद को लेकर एक दोस्त ने दूसरे दोस्त को मौत के घाट उतार दिया। आरोपी ने चाकू से गोदकर अपने ही दोस्त की हत्या कर दी। इसके बाद इलाके में सनसनी फैल गई। वहीं मौत की खबर मिलते ही मृतक के घर में कोहराम मच गया। दरअसल शहर के थाना ब्रह्मपुरी क्षेत्र के मोहल्ला नूर नगर में शनिवार देर शाम बंटी नाम के युवक और उसके दोस्त प्रवीण के बीच 10 रुपये के लेनदेन को लेकर विवाद हो गया। देखते ही देखते विवाद इतना बढ़ गया कि बंटी ने अपने दोस्त प्रवीण की चाकू से गोदकर हत्या कर दी और हत्या के बाद मौके से फरार हो गया। घटना की सूचना मिलते ही इलाके में सनसनी फैल गई और प्रवीण के परिवार में मातम छा गया।

10 रुपये के मामूली विवाद को लेकर हुई बेरहमी से हत्या इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है। जहां एक दोस्त ने ही अपने दोस्त को मौत के घाट उतार दिया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। वहीं प्रवीण के परिजनों का कहना है कि हत्या का कारण मात्र 10 रुपये का विवाद था जिसके चलते बंटी ने प्रवीण के ऊपर चाकू से हमला कर दिया और फरार हो गया। फिलहाल पुलिस बंटी की तलाश में जुट गई है।

 

17-11-2019
सांसद गौतम गंभीर के लगे गुमशुदगी के पोस्टर, जानिए क्या है लिखा...
रा
12:21pm

नई दिल्ली। पूर्व किक्रेटर और दिल्ली के भाजपा सांसद गौतम गंभीर के गुमशुदा होने के पोस्टर लगाए गए हैं।  पोस्टर में लिखा है, क्या आपने इन्हें देखा है। आखिरी बार इन्हें इंदौर में जलेबी खाते देखा गया था पूरी दिल्ली इन्हें ढूंढ रही है। बता दें कि 15 नवंबर को दिल्ली में वायु प्रदूषण पर शहरी विकास की संसदीय स्थायी समिति की बैठक में गौतम गंभीर शामिल नहीं हुए थे। इसके बाद संसदीय कमेटी की बैठक को स्‍थगित कर दिया गया था। संसदीय समिति के 29 सांसद सदस्य हैं, लेकिन बैठक के लिए सिर्फ 4 सांसद ही पहुंचे थे। एमसीडी के तीनों कमिश्नर, डीडीए के वाइस चेयरमैन और पर्यावरण मंत्रालय के संयुक्त सचिव भी इस बैठक में नहीं पहुंचे थे। कई वरिष्ठ अधिकारियों के बैठक में नहीं पहुंचने के कारण से दिल्ली में वायु प्रदूषण के मसले पर प्रेजेंटेशन नहीं हो पाई। ऐसे में दिल्ली में सांसद गौतम गंभीर के गुमशुदगीे के पोस्टर लगाए गए हैं।

17-11-2019
परिणीति ने सानिया के जन्मदिन पर कही ये खास बात...
एं
12:12pm

मुंबई। बॉलीवुड एक्ट्रेस परिणीति चोपड़ा और टेनिस स्टार सानिया मिर्जा अच्छी दोस्त है। सानिया मिर्जा के जन्मदिन पर परिणीति ने इंस्टाग्राम में एक अहम पोस्ट किया है। परिणीति का मानना है कि टेनिस स्टार सानिया मिर्जा एक अच्छी इंसान हैं और उनके अंदर फरेब नहीं है। परिणीति ने इंस्टाग्राम पर सानिया मिर्जा को उनके 33वें जन्मदिन पर बधाई दी और उनकी तरीफ की। सानिया के साथ अपनी फोटो साझा करते हुए परिणीति ने लिखा, "आई लव यू। मुझे आप इसलिए पसंद हैं, क्योंकि आप इस फरेबी दुनिया में एक सच्ची इंसान हैं। आप हमेशा जमीन से जुड़ी रहती हैं, आपके पास एक अच्छा दिल है, आप अकेले अपने दम पर ऊंचाइयों पर पहुंची हैं और आप काफी फनी भी हैं। मुझे आप इसलिए भी पसंद हैं, क्योंकि आपके सामने मुझे कुछ और बनने की जरूरत नहीं है।" परिणीति ने लिखा,"मैं आपको बहुत मिस कर रही हूं। मेरे जीवन में आने के लिए धन्यवाद! जन्मदिन मुबारक हो सानू!" सानिया ने भी इसका जवाब देते हुए लिखा, "मैं भी आपसे बहुत प्यार करती हूं।"

17-11-2019
जूता कारखाना में लगी भीषण आग, 24 दमकल गाड़ियों ने पाया काबू
12:00pm

नई दिल्ली। दिल्ली के नरेला में एक जूता कारखाने में शनिवार देर रात आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि उसे बुझाने के लिए दमकल की 24 गाड़ियों को भेजा गया। अधिकारियों ने रविवार सुबह यह जानकारी दी। मुख्य अग्निशमन अधिकारी ने बताया कि आग जूता कारखाने के भूमिगत तल, भूतल और ऊपर की दो मंजिलों तक फैल गई। घटना के बारे में सूचना देर रात करीब 12 बजकर 45 मिनट पर मिली। उन्होंने बताया कि दमकल की 24 गाड़ियों को घटनास्थल पर भेजा गया, जिनकी मदद से आग को काबू में किया गया।

17-11-2019
भारतीय सेना ने किया युद्ध अभ्यास, सिंधु सुदर्शन एक्सरसाइज में दिखाया दम
11:49am

नई दिल्ली। राजस्थान के बाड़मेर में सेना के जवानों ने युद्ध लड़ने का अभ्यास किया। 200 किलोमीटर के दायरे में सिंधु सुदर्शन एक्सरसाइज़ हुई। सिंधु सुदर्शन एक्सरसाइज़ में सेना की स्ट्राइक कोर ने दुश्मन के इलाक़े को घेरने, 100 किलोमीटर तक घुसने और उसकी जमीन पर कब्जा करने का अभ्यास किया है। इसके लिए दुश्मन के इलाके में हेलीकॉप्टर से उतरने की प्रैक्टिस भी की गई। बता दें कि बाड़मेर से पाकिस्तान की सीमा 200 किलोमीटर दूर ही है और सेना भी यह अभ्यास 200 किलोमीटर के दायरे में ही कर रही है। सिंधु सुदर्शन एक्सरसाइज़ में 300 टैंक, 400 बख़्तरबंद गाड़ियां और 300 तोपें शामिल की गई। इसके अलावा पिनाका और बीएम-21 ग्रैड मल्टी बैरल रॉकेट लॉन्चर का भी इस्तेमाल किया गया है। टी-90 टैंक हर 8 सेकेंड में एक गोला दाग़ता है, यानी हर मिनट में 7 गोले फायर कर सकता है। वहीं के-9 वज्र एक मिनट में 8 गोले दाग़ सकता हैं और पिनाका मल्टी बैरल लॉन्चर 12 रॉकेट दाग़ता है। इसके अलावा बीएम-21 ग्रैड 20 सेकेंड में 40 रॉकेट लॉन्च करता है। इनके जरिए दुश्मन को खाक में मिलाना और आसान हो जाता है।

17-11-2019
विश्व पैरा एथलेटिक्स स्पर्धा : भारत ने किया शानदार प्रदर्शन, जीते सबसे ज्यादा पदक
खे
11:40am

नई दिल्ली। विश्व पैरा एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में भारत ने नौ दिन की प्रतियोगिता में 24वें स्थान पर रहकर अपना अभियान समाप्त किया। इसके साथ ही भारत ने अपने सबसे ज्यादा पदक जीतने का भी रिकॉर्ड कायम कर दिया है, जिसमें कुल मिलाकर नौ पदक जीते गए हैं। इससे पहले लंदन 2017 भारत का अब तक का सबसे अच्छा प्रदर्शन था, जहां पैरा एथलीट संयुक्त रूप से 34वें स्थान पर पांच पदक (एक स्वर्ण) के साथ समाप्त हुए थे। भारत ने टोक्यो 2020 पैरालिम्पिक्स में 13 क्वालीफाइंग स्पॉट हासिल करने के साथ कुछ चौथे स्थान के अलावा दो स्वर्ण, दो रजत और पांच कांस्य जीते। चीन 25 स्वर्ण सहित 59 पदकों के साथ पदक तालिका में शीर्ष पर रहा। ब्राजील (39) और ग्रेट ब्रिटेन (28) चीन के बाद रहे। यूएसए 34 पदक के साथ चौथे स्थान पर रहा। 2016 के डोपिंग प्रतिबंध के बाद पहली बार चैंपियनशिप में भाग लेने वाला रूस 41 पदकों के साथ छठे स्थान पर था।

एशियाई पैरा गेम्स 2018 के चैंपियन भाला फेंक खिलाड़ी संदीप चौधरी ने पुरुषों की भाला-दौड़ वर्ग में 65.80 मीटर के व्यक्तिगत स्वर्ण पदक के साथ नया विश्व रिकॉर्ड स्थापित करके भारतीय खिलाड़ियों के बीच शानदार उपलब्धि हासिल की। इसी स्पर्धा में, भारत ने एक-दो पोडियम फिनिश किए,जिसमें सुमित एंटिल ने रजत जीता (62.88 मी) और अपनी ही श्रेणी (एफ 64) में विश्व रिकॉर्ड बनाया। सुंदर सिंह गुर्जर ने पुरुषों के भाला एफ46 में अपने खिताब का बचाव किया, जिसमें सीजन की सबसे अच्छी दूरी 61.22 मीटर थी। अनुभवी हाई जम्पर शरद कुमार ने भारत के लिए अन्य रजत पदक जीता, जो पुरुषों के उच्च कूद टी63 फाइनल में 1.83 मीटर में मिला। पैरालंपिक कमेटी ऑफ इंडिया (पीसीआई) के अंतरिम अध्यक्ष गुरशरण सिंह ने टीम के प्रदर्शन पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने कहा, "खिलाड़ी हमारी उम्मीदों पर खरा उतरे हैं। नौ पदकों के अलावा, खिलाड़ियों ने कई व्यक्तिगत और सीज़न के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी किए। कुछ पोडियम मिस भी थे। "मुझे उम्मीद है कि सभी खिलाड़ी टोक्यो 2020 में और भी बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं। मैं उन सभी को धन्यवाद देता हूं, जिन्होंने भारत में पैरालंपिक आंदोलन को समर्थन और योगदान दिया।

Please Wait... News Loading