GLIBS
नक्सलियों ने सड़क निर्माण में लगे 5 वाहन फूंके

बीजापुर।  सोमवार की शाम को अज्ञात नक्सलियों ने कोतवाली थाना क्षेत्र के चेरपाल में सड़क निर्माण कार्य में लगे 5 वाहनों को आग लगा दी। मंगलवार को ये जानकारी पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग ने दी। उन्होंने कहा कि बीजापुर से गंगालूर के बीच सड़क निर्माण कार्य चल रहा था। अज्ञात नक्सलियों ने वहां धावा बोलकर एक हाइवा, एक पानी टैंकर समेत 3 मिक्चर मशीनों के टायरों में आग लगा दी।वारदात को अंजाम देने के बाद नक्सली अपने साथ निर्माण स्थल से 40 बोरी सीमेंट, वाइब्रेटर मशीन और अन्य निर्माण सामग्री भी ले गए। मौका-ए वारदात पर पहुंची पुलिस मामले की तहकीकात कर रही है।

पहले ही दिन रद्द हुई जगदलपुर-विशाखपट्टनम की उड़ान,यात्री हलाकान

जगदलपुर।विमान सेवा का लाभ लेने का सपना संजोए बैठे बस्तर वासियों को पहले ही दिन जोर का झटका लगा है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कल ही किये गये भव्य उद्घाटन के तत्काल बाद,दूसरे ही दिन एयर ओडिशा ने जगदलपुर से विशाखापट्टनम का अपना पहला फेरा रद्द कर दिया है।नेवल क्लियरेंस के अभाव में विशाखापत्तनम एयरपोर्ट प्राधिकरण ने एयर ओडिशा को वाईज़ेग एयरपोर्ट में लैंडिंग की अनुमति नहीं दी है।एयर ओडिशा की इस गंभीर लापरवाही की वजह से विशाखापट्टनम की पहली उड़ान भरने एयरपोर्ट पहुंचे यात्री परेशान देखे गये।

आज जगदलपुर-विशाखपट्टनम की हवाई यात्रा करने में ऐसे मरीज़ भी शामिल है जिन्हें आपातकालीन चिकित्सा लाभ लेने समय पर विशाखपट्टनम पहुँचना ज़रूरी था और कई यात्री ऐसे भी हैं जिन्हे विशाखापट्टनम से आगे की यात्रा के लिये अपनी ट्रेन और प्लेन पकड़ने समय पर विशाखपट्टनम पहुँचना था। इस लापरवाही पर एयर ओडिशा के अधिकारी ने बताया कि जानकारी के अभाव में नेवल क्लीयरेंस नहीं लिया गया था।आज की उड़ान रद्द होने के बाद सभी यात्रियों को रायपुर होते विशाखपट्टनम भिजवाया जा रहा है और अब मिनिस्ट्री ऑफ़ डिफ़ेंस की अनुमति के पश्चात सोमवार से जगदलपुर-विशाखपट्टनम की नियमित उड़ान प्रारंभ होने की संभावना है।

रायपुर-जगदलपुर घरेलू हवाई सेवा का शुभारंभ, पीएम मोदी ने दी सौगात

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ प्रवास पर पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी ने आज भिलाई से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जगदलपुर में वायु सेवा का शुभारंभ किया। इसके साथ ही अब बस्तर का नाम भी हवाई यात्रा के मानचित्र पर दर्ज हो गया है। हवाई यात्रा के अपने सपने को पूरा होते देखने बड़ी संख्या में आम नागरिकों ने भी विमान तल पर अपनी उपस्थिति दर्ज करवा कर इस एतिहासिक क्षण के साक्षी बने।

आज जगदलपुर से पहली हवाई यात्रा करने वाले यात्रियों की सूची में आईआईटी रायपुर का स्टूडेंट राहुल कुमार कवाची, जगदलपुर के ही आईआईटी स्टूडेंट राकेश कुमार भुआर्य, छेपडागुड़ा निवासी एमबीबीएस की छात्रा कुमारी इंदु नेताम, ग्राम पंचायत वालीकोंटा की महिला सरपंच तयमनी कश्यप, अंध-मूक विद्यालय के छात्रा गारेंगा निवासी गुरुवारी कन्नौजे, आसना की रहने वाली स्व सहायता समूह की महिला अध्यक्ष हीरावती के अलावा अबूझमाड़ का एक किशोर लालू राम मंडावी शामिल है।

बता दें कि जगदलपुर पहली बार हवाई यात्रा सुविधा से जुड़ रहा है, जहां से अब बस्तर के लोग भी हवाई सेवा का लाभ ले सकेंगे। एयर ओड़िशा का 17 सीटर विमान 15 जून से अपने निर्धारित समय पर नियमित रूप से अब आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम और प्रदेश की राजधानी रायपुर के लिए जगदलपुर से उड़ान भरेगा। एयर ओड़िशा के एमडी शैशव शाह के मुताबिक आने वाले समय में रायपुर, विशाखापट्टनम के अलावा हैदराबाद आदि बड़े शहरों तक हवाई सेवा का विस्तार प्रस्तावित है।

आज शुभारंभ अवसर पर जगदलपुर विमानतल में प्रदेश के मंत्री केदार कश्यप, सांसद दिनेश कश्यप, विधायक संतोष बाफना, जिला पंचायत अध्यक्ष जबिता मंडावी, महापौर जतिन जायसवाल, श्रीनिवास मद्दी, किरण देव, बैदुराम कश्यप, संभागायुक्त दिलीप वासनीकर, आईजी विवेकानंद सिन्हा, डीआईजी रतनलाल डांगी, जिलाधीश धनंजय देवांगन, पुलिस अधीक्षक डी.श्रवण, सीईओ जिला पंचायत अमिताभ आदि जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी खास तौर पर उपस्थित रहे।

आम आदमी पार्टी के चुनाव प्रबंधन प्रभारी का बस्तर दौरा

जगदलपुर। आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल व दिल्ली सरकार के विशेष सलाहकार राकेश सिंहा मंगलवार से बस्तर लोक सभा क्षेत्र के दो दिवसीय प्रवास पर होंगे। ज्ञात हो कि सिंहा छत्तीसगढ़ के प्रदेश चुनाव प्रबंधन प्रभारी भी हैं और आसन्न चुनावों के मद्देनजर केजरीवाल ने उन्हें  विशेष तौर पर जिम्मीदारी सौंपी है। उनके दो दिवसीय प्रवास में वे बस्तर लोकसभा क्षेत्र के अब तक घोषित सभी प्रत्याशियों की जगदलपुर में बैठक लेंगे। साथ ही वे विधानसभा क्षेत्र पहुंच कर पार्टी कार्यालय का निरीक्षण करेंगे और चुनावी रणनीतियों पर कार्यकर्ताओं से चर्चा भी करेंगे।

आम आदमी पार्टी के चुनाव प्रबंधन प्रभारी बस्तर,जगदलपुर,चित्रकोट, दंतेवाड़ा और सुकमा के प्रत्याशियों और उक्त विधानसभा क्षेत्रों के चुनाव संचालक एवं पदाधिकारियों-कार्यकर्ताओं की बैठक लेंगे।इस बैठक में विधानसभावार की जा रही चुनावी तैयारियों की समीक्षा की जाएगी और प्रत्याशियों सहित उपस्थित कार्यकताओं के साथ गोपनीय चुनावी रणनीति और कार्ययोजना साझा की जाएगी।आम आदमी पार्टी के जगदलपुर विधानसभा प्रत्याशी रोहित सिंह आर्य ने कहा कि केंद्रीय एवं छत्तीसगढ़ प्रदेश की शीर्ष नेतृत्व छत्तीसगढ़ चुनाव को लेकर योजनाबद्ध तरीके से कार्य कर रही है, जिसके तहत चुनावों तक अब हर पखवाड़े पार्टी के बड़े व अनुभवी नेताओं का बस्तर प्रवास की क्रमबद्ध योजना है।

गश्ती दल को देख कर भाग रहे दो नक्सलियों को पुलिस ने पकड़ा

सुकमा। गश्त पर निकले पुलिस को देख कर भाग रहे दो नक्सलियों को जिला बल, डीआरजी एवं एसटीएफ के संयुक्त दल ने  गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज विवेकानंद सिन्हा, उपमहानिरीक्षक दक्षिण बस्तर रेंज रतनलाल डांगी एवं पुलिस अधीक्षक सुकमा अभिषेक मीणा के निर्देशन में चलाए जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत सुकमा जिले के भेजी थाने से जिला बल, डिस्ट्रिक्ट रिजर्व ग्रुप और स्पेशल टास्क फोर्स के जवान नक्सल मामलों में फरार चल रहे आरोपियों की खोजबीन में ग्राम एलारमड़गु की ओर गश्त पर निकले थे।

गांव से लगे जंगल में गश्ती दल के जवानों को देखकर दो संदिग्ध व्यक्ति भागने का प्रयास कर रहे थे, जिन्हें  गश्ती दल ने घेराबंदी कर पकड़ लिया। गिरफ्तार माड़वी उमेश पिता माड़वी हांदा के साथ सोड़ी गंगा पिता सोड़ी बुधरा ने पूछताछ में स्वीकार किया कि दोनों ही भेजी थाना क्षेत्र के गोमपाढ़ तालाब के पास विगत 27 अप्रैल को पुलिस गश्ती दल पर फायरिंग की घटना में शामिल रहे। भेजी थाने में दर्ज उक्त नक्सल प्रकरण के तहत पुलिस ने दोनों आरोपियों को दंतेवाड़ा न्यायालय में पेश किया जहां से दोनों को न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया है।

जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंग, जवाबी कार्रवाई में एक नक्सली ढेर

बीजापुर। भैरमगढ़ थाना क्षेत्र में पुलिस नक्सली मुठभेड़ की खबर सामने आ रही है जहां एक नक्सली के ढेर होने की सुचना है। एक घंटे से अधिक चली मुठभेड़ में जवानों ने एक नक्सली को मार गिराया है।

खबर है कि जवान भैरमगढ़ थाना क्षेत्र में सर्चिंग पर निकले थे तभी अचानक उन पर नक्सलियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई करते हुए जवानों ने एक नक्सली को मार गिराया। मारे गए नक्सली का नाम मोती फरसा बताया जा रहा है जो नक्सल संगठन में मिलिट्री प्लाटून कमांडर था। बीजापुर एसपी मोहित गर्ग ने मामले की पुष्टि की है। इसके अलावा पुलिस ने मौके से एक हथियार और कुछ सामान भी बरामद किया है।

चोलनार ब्लास्ट के चार नक्सलियों को पुलिस ने दबोचा, पहले से ही तैयार थी योजना

जगदलपुर। विगत 20 मई को दंतेवाड़ा जिले के चोलनार में हुए नक्सल विस्फोट की घटना को अंजाम देने वाले चार नक्सलियों को दंतेवाड़ा पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। किरंदुल थाना क्षेत्र के पेरपा ग्राम से लगे जंगल में एरिया सर्चिंग पर निकले सुरक्षा बल के जवानों को देखकर भाग रहे संदिग्धों की घेरेबंदी कर 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस की गिरफ्त में आए ग्राम फूलपाड़ निवासी बुधरा मड़कामी, नीलावाया निवासी कुंजामी देवा, पोड़िया तथा महिला नक्सली कोसी कोर्राम पर विगत 20 मई को दंतेवाड़ा जिले के चोलनार में हुए नक्सली ब्लास्ट को अंजाम देने के आरोप है।

पुलिस ने उक्त चारों नक्सलियों के कब्जे से 2 नग टिफिन बम और 2 डेटोनेटर भी बरामद किया है। गिरफ्तार चारों नक्सलियों ने पूछताछ में पुलिस को चोलनार ब्लास्ट से जुड़ी कई अहम जानकारियां भी दी है। गिरफ्तार नक्सलियों के मुताबिक 20 मई को चोलनार में हुए ब्लास्ट की योजना 2 दिन पूर्व 18 मई को ही बना ली गई थी। प्रदीप,आयता,मंगु आदि नक्सल नेताओं ने योजनाबद्ध तरीके से 2 दिन पूर्व ही ग्राम कुटरेम में बैठक लेकर ग्राम,ककाड़ी,बौड्डेपारा,समेली फुलपाड़,हिरोली,चोलनार,मडकामीरास,पीरनार,आलनार आदि ग्रामों के अपने सहयोगियों की बैठक लेकर योजना तैयार की थी।गिरफ्तार नक्सलियों ने उस बैठक में शामिल लगभग 45 लोगो के नाम भी बताए हैं,जिनके विरुद्ध जल्द ही वैधानिक कार्यवाही की तैयारी दंतेवाड़ा पुलिस द्वारा की जा रही है। 

दंतेवाड़ा पुलिस के मुताबिक आज गिरफ्तार हुए चारों नक्सली विगत 5 वर्षों से नक्सली संगठन में जनमिलिशिया सदस्य के रूप में कार्य करते हुए नक्सल लीडरों के संतरी के तौर पर कार्य करने, नक्सल बैनर पोस्टर लगाने,सड़क खोदने,पुलिसवालों की रेकी करने और नक्सलियों के लिए खाना बनाने जैसे कार्यों में शामिल थे।

चोलनार ब्लास्ट में शामिल दो नक्सली गिरफ्तार

दंतेवाड़ा। चोलनार ब्लास्ट मामले में शामिल 2 और नक्सली गिरफ्तार किए गये हैं। जिले के ककाड़ी ग्राम में पुलिस को महत्वपूर्ण सफलता हाथ लगी है। किरंदुल पुलिस ने यहां से दो नक्सलियों को गिरफ्तार किया है।पुलिस के मुताबिक़ गिरफ्तार नक्सलियों पर चोलनार ब्लास्ट में शामिल होनें का आरोप है।आपको बता दें कि चोलनार में हुई आईईडी ब्लास्ट में कुल 7 जवान शहीद हो गए थे।बताया जा रहा है कि पुलिस की गिरफ़्त में आये नक्सली मोटू कड़ती और हीड़िया कड़ती चोलनार ब्लास्ट के दौरान संतरी ड्यूटी कर रहे थे।दोनों ही नक्सली विगत 4 वर्षो से नक्सली संगठन से जुड़े हैं।

वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए प्रधानमंत्री से बातचीत कर हितग्राहियों की खुशी हुई दोगुनी 

जगदलपुर। पक्के मकान का गरीब महिलाओं का कभी न पूरा होने वाला सपना प्रधानमंत्री आवास योजना के कारण सच हो गया। पक्के मकान पाकर खुश इन महिलाओं की खुशी तब दोगुनी हो गई,जब मंगलवार को इन्हें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से बातचीत करने का अवसर मिला। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियों से रुबरु हुए। जिला कार्यालय में स्थित एनआईसी के वीडियो कांफ्रेंसिंग कक्ष में बस्तर की तीस महिलाएं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से वातार्लाप में शामिल हुर्इं। 

प्रधानमंत्री ने इस कांफ्रेंसिंग की शुरूआत भी बस्तर जिले से की और लोहण्डीगुड़ा तहसील के बड़े धाराउर की फूलमती बघेल से बातचीत की। प्रधानमंत्री ने महिलाओं से उनके पक्के आवास के संबंध में बातचीत की। महिलाओं ने पक्का आवास का सपना पूरा करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रति आभार व्यक्त किया। शिल्पकला से जुड़ी हुई महिलाओं ने प्रधानमंत्री को इस अवसर पर मृदाशिल्प से तैयार भगवान गणेश की प्रतिमा भी भेंट की। प्रधानमंत्री ने बातचीत के दौरान महिलाओं को तम्बाखू और गुड़ाखु जैसे नशीले पदार्थों से दूर रहने और गांव के दूसरे ग्रामीणों को भी प्रेरित करने का आह्वान किया।

उन्होंने सभी महिलाओं से आग्रह किया कि वे स्वस्थ जीवनशैली को अपनाएं और परिवार को खुशहाल रखें। प्रधानमंत्री ने शिक्षा और स्वस्थ जीवन शैली के साथ आगे बढ़ने और देश के विकास में योगदान की अपील की। प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि 2022 तक सभी आवासहीनों को आवास उपलब्ध कराने का लक्ष्य निश्चित तौर पर पूर्ण किया जाएगा। इस वीडियो कांफ्रेंसिंग में बस्तर जिले के 30 हितग्राही शामिल हुए इनमें 15 हितग्राही ग्रामीण क्षेत्र के और 15 हितग्राही शहरी क्षेत्र के शामिल थे। इस वीडियो कांफ्रेंसिंग का सीधा प्रसारण सिरहासार चौक, शहीद पार्क, कोतवाली थाना तथा नगर निगम में किया गया। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से वातार्लाप में तितिरगांव की जानकी, मनमती, मंदन, चांदबाई, घाटकवाली की मालती, दरभा की नीलाबती नाग, मालती कश्यप, बड़े धाराउर की फुलमती बघेल, चिड़ोबाई कश्यप, सुकी बाई, सोमारी, भनी, नारायणपाल की जानकी, उलनार की पद्मनी कश्यप व घाटधनारो की जयमनी सेठिया बस्तर नगर पंचायत से आराबती बघेल, जीवनराम यादव, मोसू राम नाग, तारा बघेल, ठिरली राम यादव, जगदलपुर से द्रोपती देवांगन, निर्मला कश्यप, पूजा साहू, प्रमिला तम्बोली, रसमती बिसोई, संगीता राव, सरोज शर्मा, सुनीता सामंत और सुशीला झा उपस्थित थीं।

जनता कांग्रेस ने दी अफवाहों से बचने और कानून अपने हाथ में न लेने की सीख 

जगदलपुर। शहर और आसपास के गांवों में बच्चा चोर गिरोह को लेकर फैले अफवाहों के बीच रविवार को युवा जनता कांग्रेस ने शहर के विभिन्न मोहल्लों और साप्ताहिक बाजार में जागरूकता अभियान चलाया।युवा जनता कांग्रेस के बस्तर संभाग अध्यक्ष जावेद खान,शहर जिला अध्यक्ष राम साहू और जिला उपाध्यक्ष सूरज केसवानी के नेतृत्व में युवा जनता कांग्रेस ने शहर के कुम्हारपारा, नयामुंडा,फ्रेजरपुर,अटल आवास और संजय मार्केट में जागरूकता अभियान चलाया।इस दौरान युवा जनता कांग्रेसियों ने लोगों को समझाया कि जगदलपुर और शहर से लगे आसपास के ग्रामीण इलाकों में कुछ शरारती तत्वों के द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से भ्रम फैलाया जा रहा है कि शहर में बच्चों को उठाकर ले जाने वाला एक गिरोह सक्रिय है।इस अफवाह के चलते शहर और आसपास विगत सप्ताह भर में 8 बेगुनाह लोगों को भीड़ के आक्रोश का सामना करना पड़ा है।अफवाहों के चलते लोग कानून अपने हाथ में ले रहे हैं,जिस का शिकार गरीब तबके के लोग और मानसिक रूप से कमजोर लोग हो रहे हैं,जबकि सच्चाई यह है कि जगदलपुर शहर में अब तक किसी भी बच्चे को ऐसे किसी गिरोह ने नुकसान नहीं पहुंचाया है।यहां पुलिस पूरी तरह सक्रिय है और लगातार रात्रि गश्त भी जारी है।युवा जनता कांग्रेस  ने लोगों को समझाया कि ऐसी किसी भी स्थिति से निपटने हमारी पुलिस सक्षम है और हमें किसी भी स्थिति में कानून अपने हाथ में लेने की जरूरत नहीं है।ऐसी किसी भी गतिविधि की शंका होने पर हमें पुलिस को सूचना देनी चाहिए।अभियान के दौरान जिला महासचिव संजय,जिला सचिव  फुरकान,जिला महासचिव रविन्द्र जाधव, रोहित,सुरेश,विपुल, अनिल,भारत तथा युवा पदाधिकारी उपस्थित थे।

नक्सलियों ने जन अदालत मे की पूर्व सरपंच की हत्या

 

बीजापुर। उसूर थाना क्षेत्र मे माओवादियों ने एक पूर्व सरपंच की हत्या कर दी है। बीजापुर जिले के गलगम पंचायत के पूर्व सरपंच कट्टम मुत्ता का अपहरण करने के बाद माओवादियों द्वारा बेरहमी से हत्या किए जाने की खबर आ रही है। कट्टम मुत्ता को 24 मई को अपहरण कर माओवादी अपने साथ ले गए थे।

बताया जा रहा है कि माओवादियों ने पुलिस की मुखबिरी का आरोप लगाकर जनअदालत में मुत्ता को मौत की सजा सुनाई थी। भुसापुर गांव में जन अदालत लगाकर नक्सलियों ने ग्रामीणों के सामने ही पूर्व सरपंच की निर्मम हत्या कर दी। इस घटना के बाद इलाके में दहशत का माहौल व्याप्त है। नक्सलियों ने सजा के बाद जान से मार कर शव को दफना दिया। उसूर टीआई चाणक्य नाग ने की घटना की पुष्टि की है।
 

गश्त पर निकले जवानों पर लगा ग्रामीणों के साथ मारपीट का आरोप 

बीजापुर। जिले के गंगालूर थाना क्षेत्र के सावनार में गश्त पर निकले जवानों पर ग्रामीणों के साथ मारपीट का आरोप लगा है।ग्रामीणों का आरोप है कि गश्त पर निकले जवानों ने सावनार और तोड़का के नौ नाबालिग युवक-युवतियों समेत 15 ग्रामीणों के साथ नक्सलियों के मददगार होने का आरोप लगाते हुए मारपीट की है।सावनार निवासी रघु कुरसम के मुताबिक़ एक जून की सुबह पुलिस के जवान ट्रैक्टर से गांव में उस वक़्त पहुंचे थे जब गांव के कुछ युवक तेंदूपत्तों के बोरो में भरने का काम कर रहे थे,जबकि कुछ लोग घरेलू कार्यों में लगे हुए थे।अचानक पहुंचे जवानों ने पहले तेंदूपत्ता भर रहे युवकों को बंदूक के कूंदे और डंडों से पीटना शुरू कर दिया।जिसके बाद घरों से निकालकर युवकों और महिला-पुरूषों के साथ भी उन्होंने मारपीट की।मधु कुरसम बतातें हैं कि जवानों के कहर का शिकार बने पंद्रह लोगों में नौ नाबालिग है,जबकि पांच बच्चे स्कूली छात्र हैं,जो छुट्टियों में अपने गांव आए हुए हैं।जिनमे आठवीं कक्षा की छात्रा गीता हेमला पिता सुक्कु 14 वर्ष,नौवी के छात्र करण हेमला पिता कोया 15 वर्ष,दसवीं के छात्र मुन्ना पोटाम पिता पांडू 16 वर्ष,तीसरी का छात्र लच्छू हेमला पिता डूम्मा 11 वर्ष और पांचवीं की छात्रा आयती ताती पिता पाण्डू शामिल हैं। वही इनके अलावा लच्छू कड़ियम पिता सुक्कू 25 वर्ष, जीना हेमला पिता सोमलू 13 वर्ष, मोटी हेमला पिता सोनू 13 वर्ष, जमली पूनेम, आयती पूनेम , बोरली कड़ियम, सनकी हेमला, कमलू हेमला व कोसी हेमला के साथ भी मारपीट के आरोप जवानों पर लगे हैं।

पहले भी लग चुके हैं आरोप

रघु का कहना है कि जवानों ने चार दिन तक सावनार में अस्थाई कैम्प लगा रखा था और स्थायी कैम्प लगाने की बात कर रहे थे और बीजापुर वापसी के दिन ही टैक्टर से सावनार पहुंचे जवानों ने ग्रामीणों के साथ मारपीट की। इसके पूर्व सावनार से लगे गांव कोरचोली में मुठभेड़ के बाद ग्रामीणों ने जवानों पर महिला पुरूषों के साथ बेरहमी से मारपीट करने का आरोप लगाया था। जिस पर सर्व आदिवासी समाज ने जांच समिति बनाकर पीड़ितों से मिलने के बाद अपनी रिपोर्ट राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा था। एक बार फिर से गस्त से लौटने के बाद सावनार के ग्रामीणों ने जवानों पर मारपीट के आरोप लगाया है।

करेंगे आरोपों की जांच-एसपी

इस मामले में बीजापुर एसपी मोहित गर्ग का कहना है कि अब तक ग्रामीणों की ओर से इस तरह की कोई भी शिकायत नहीं आई है अगर शिकायत आती है तो मामले की जांच कर दोषी पाए जाने पर जवानों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

 

Please Wait... News Loading
Visitor No.