GLIBS
BJP : भाजपा अध्यक्ष दूसरी पारी में भी नाकाम, सड़क पर बिखरा पार्टी का अनुशासन 

शहडोल। भारतीय जनता पार्टी नगर बकहों से अध्यक्ष हंसराज द्विवेदी ने मंडल अध्यक्ष एवं भाजपा के जिला अध्यक्ष को सामूहिक रूप से इस्तीफा सौंपते  हुए अपनी नाराजगी व्यक्त की है। ऐसे में आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी की चिंता बढ़ी दी है।  जिस तरह से भाजपा के अंदर बगावत की बिगुल बज गई है उससे अनुशासन और संगठनात्मक एकता का विषय दूर-दूर तक एक दूसरे के करीब नजर नही आ रहा है।

जिम्मेदारी से भाग रहे अध्यक्ष

भाजपा जिला अध्यक्ष इंद्रजीत छावड़ा अपनी जिम्मेदारियों से क्यों दूर भाग रहे है और क्यों इनके द्वारा कार्यकतार्ओं के बीच समन्वय स्थाापित नही किया जा रहा है, यह भाजपा के लिए चिंता का विषय है। यूं तो एक नगर अध्यक्ष का सामूहिक इस्तीफा भले ही भाजपा के नेताओं के लिए महत्व न रखता हो, लेकिन अगर यही सिलसिला जारी रहा तो पार्टी को मुश्कील में डाल सकती है। 

इन लोगों ने भेजा त्यागपत्र 

09 अगस्त को भाजपा नगर बकहो के अध्यक्ष हंसराज द्विवेदी के लेटर पैड पर जिन लोगो ने अपने इस्तीफे का उल्लेख किया है। नगर अध्यक्ष हंसराज द्विवेदी, सुनील गुप्ता, कुलभूषण शुक्ला, लल्ला केवट, सतीश तिवारी, गजेन्द्र नारायण द्विवेदी, काशी प्रसाद शर्मा, लक्ष्मी केवट, रेणू पाण्डेय, दुर्गा प्रसाद नापित, सुखलाल बैगा, किशोरी मंडल, धर्मेन्द्र दुबे, सुजीत केवट, शिवशंकर गुप्ता, शीला सिंह, मनोज केवट के नाम शामिल है।

नहीं कर पा रही उजागर

सोशल मीडिया में वायरल पत्र चर्चा का विषय बना हुआ है। जहां एक ओर भाजपा पदाधिकारी इस पत्र की सच्चाई उजागर नही कर पा रहे है, वहीं इस पत्र को लेकर रहस्य बरकरार है। इस पत्र की सच्चाई चाहे जो कुछ भी हो  भाजपा को इस पर मंथन की आवश्यकता है।

शून्य प्रबंधन का तमगा

 इंद्रजीत छावड़ा के कार्यकाल  को जानने वाले भाजपा नेताओं की माने तो चुनाव प्रबंधन के मामले में इंद्रजीत छावड़ा को शून्य प्रबंधन का तमगा दिया जाता है। विश्वस्त सूत्रों की माने तो वर्ष 2009 में लोकसभा चुनाव के दौरान मीडिया मैनेजमेंट एंव अन्य प्रबंधन का कार्य इंद्रजीत छावड़ा को सौंपा गया था, जिसके बाद उनकी कमियां पार्टी में चर्चा का विषय बनी और आखिरकार उन्हे हटाकर अनुपम अनुराग अवस्थी को प्रभार सौंप दिया गया था। यह अवसर था जब लालकृष्ण आडवानी शहडोल पहुंचे थे और उन्हे कार्यक्रम स्थल में ही भाजपा के जीत और 

हार का वह दृश्य नजर आ गया था, जिसके  परिणाम भाजपा ने शहडोल संसदीय क्षेत्र की सीट गवांकर खामियाजा भुगतना पड़ा था। इस बार पुन: इंद्रजीत छावड़ा के ऊपर भाजपा दांव लगा रही है,लेकिन उनका यह प्रबंधन उनके लिए हार का सबब न बन जाए। जो व्यक्ति सत्ता और संगठन के बीच में समन्वय स्थापित न कर पाए वह आखिर कैसे चुनाव प्रबंधन में भाजपा को विजय दिला पाएगा इस बात पर मंथन करने की जरूरत है। 

नुक्कड़ों में जनचर्चा

जानकार सूत्रों की माने तो जिला अध्यक्ष इंद्रजीत छावड़ा के दूसरे कार्यकाल में उनकी कमियां प्रत्येक कार्यकर्ता के बीच में चर्चा का विषय बन चुकी है। जिस तरह वह कार्यकतार्ओं को नजरअंदाज कर अपनी खुद की दुकान संचालित कर रहे है, उससे कार्यकर्ता आक्रोषित है। जिस अध्यक्ष को सत्ता और संगठन के बीच में समन्वय की जिम्मेदारी सौंपी गई है वह स्वयं ही अपने उन कार्यो को छिपाने मे जुटा रहता है। जिसकी कहानी जन-जन की जुबानी गूंज रही है। यह अगल बात है कि भाजपा के शीर्ष नेता किन कारणो से जिला अध्यक्ष के ऊपर मेहरबान है यह बात अब लोगो की जुबानी नुक्कड़ो में सुनी जा सकती है। 

इनका कहना है...

आपके द्वारा जानकारी मिल रही है, यह पत्र फर्जी भी हो सकता है तथा 09 अगस्त का पत्र मुझे अभी तक प्राप्त नही हुआ है, जब तक मेरे पास यह पत्र नही पहुंचता है, तब तक इस संबंध में कुछ कह नही सकता कि सही क्या है। इंद्रजीत सिंह छावड़ा, भाजपा जिला अध्यक्ष शहडोल

 

 

 

 

Cabinet Meeting : 21 अगस्त को होगी कैबिनेट की बैठक 

 

रायपुर। मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह की अध्यक्षता में मंत्रिपरिषद की बैठक मंगलवार 21 अगस्त को सवेरे 11.30 बजे यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में आयोजित की जाएगी।

Bahujan samaj party  :  बसपा का शहीदों की शहादत को सलाम सप्ताह का आगाज

बड़वानी। बहुजन समाज पार्टी के द्वारा संपूर्ण बड़वानी जिले में शहीदों की शहादत को सलाम सप्ताह का आगाज सोमवार से किया जाना है। जिसमें 1857 की क्रांति के संग्राम सेनानी तथा 1947 के महा योद्धाओं  के वंशजों का सम्मान किया जाएगा। मुख्य लोकसभा प्रभारी रमेश डावर  के निर्देशन पर तथा लोकसभा प्रभारी खरगोन बड़वानी भगवान बडोले एवं लोकसभा प्रभारी संजीव गांगुली की सहमति पर जिला प्रभारी बालकृष्ण बाविस्कर ने बताया कि भाजपा सरकार द्वारा शहीदों के सम्मान में भेदभाव किया गया है स्वतंत्रा दिवस के उपलक्ष में भाजपा ने शहीदों को सम्मान की जो परंपरा शुरू की है वह भेदभाव पूर्ण है एवं अधूरी है। क्योंकि स्वतंत्रता संग्राम सेनानी वर्तमान शहीदों को ही न मानकर 1857 से 1947 तक अपने प्राणों की आहुति देने वाले सभी स्वतंत्रता संग्राम सेनानी है लेकिन वर्तमान सरकार ने केवल समकालीन शहीदों के परिवारों का सम्मान किया है लेकिन बहुजन समाज पार्टी की विचारधारा बहुजन हिताय बहुजन सुखाय की है उसी को आगे बढ़ाते हुए बहुजन समाज पार्टी सोमवार 19 अगस्त से संपूर्ण जिले में महान स्वतंत्रता सेनानियों के वंशजों का सम्मान करेगी जिसका अंतिम पड़ाव 24 अगस्त पानसेमल  निर्धारित की गई है और वही कार्यक्रम का  समापन किया जाएगा।

Agriculture Minister : खेती के लिए बांधों से पानी छोड़ने सिंचाई मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने दिए निर्देश

रायपुर। प्रदेश के सिंचाई एवं कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने खरीफ फसल की सिंचाई के लिए। महानदी परियोजना समूह के जलाशयों से जल छोड़े जाने के निर्देश दिए हैं। अपने निर्देश में उन्होंने कहा कि पेयजल,निस्तारी एवं अन्य आवश्यक उपयोग की मात्रा को सुरक्षित रख कर किसानों को सिंचाई के लिए शीघ्र पानी प्रदान किया जाए ताकि वे खरीफ की फसल अच्छे से ले सके।

महानदी परियोजना समूह के जलाशयों में क्रमशः रविशंकर जलाशय(गंगरेल डैम) में 90 प्रतिशत, दुधावा जलाशय में 64 प्रतिशत, मुरुमसिल्ली जलाशय में 46 प्रतिशत एवं सोंढूर जलाशय में 92 प्रतिशत जल भराव उपलब्ध है। महानदी जलाशय के कुछ सिंचित क्षेत्र बलौदा बाजार, भाटापारा एवं आरंग में खंड वर्षा के कारण किसानों द्वारा पानी की मांग किसानों ने श्री अग्रवाल के समक्ष रखी थी। किसानों की मांगों को गंभीरता से लेते हुए श्री अग्रवाल ने विभागीय अधिकारियों से जलभराव की स्थिति की जानकारी ली उसके पश्चात उन्होंने या किसान हित का यह निर्णय लिया।

इस संबंध में मुख्य जल संसाधन विभाग के मुख्य अभियंता एसवी भागवत ने बताया कि जल संसाधन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल के निर्देश पर खरीफ सिंचाई 2018 उपरोक्त जलाशयों की नहर प्रणाली से पानी छोड़ा जाएगा।  कल 20 अगस्त प्रातः 8:00 बजे से महानदी मुख्य नहर में जल प्रदान किया जाना प्रारंभ होगा।

Flood in kerala : केरल बाढ़ पीड़ितों के लिए 10 करोड़ की सहायता का छत्तीसगढ़ सरकार ने किया ऐलान

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने सदी के सबसे भीषण बाढ़ से जूझ रहे केरल के बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए लगभग 7 करोड़ रुपए का एक रेलवे रैक चावल और 3 करोड़ रुपए की राशि भेजने की घोषणा की है। इस तरह कुल10 करोड़ रुपए की तत्काल सहायता केरल के बाढ़ पीड़ितों को भेजी जाएगी। उन्होंने कहा है कि यह सहायता कल ही भेजने की कोशिश की जाएगी

मुख़्यमंत्री डॉ सिंह ने कहा है कि उनकी केरल के मुख्यमंत्री से भी चर्चा हुई है। उन्होंने कहा है प्राकृतिक आपदा की इस घड़ी में छत्तीसगढ़ सरकार केरल के साथ है और हर संभव सहायता के लिए तत्पर है। मुख़्यमंत्री ने कहा है कि केरल सरकार की सहमति मिलने पर छत्तीसगढ़ से डॉक्टर और स्वयं सेवकों की टीम भी भेजने के लिए तैयार है।

आपको बता दें कि केरल इस समय भयंकर बाढ़ की चपेट में है। लोगों के घर ताश की पत्ती की तरह ढह गए हैं। बाढ़ की वजह से अरबों रुपए का नुकसान हुआ है। सैकड़ों लोगों की बाढ़ की चपेट में आने से मौत हो गई है। इसे देखते हुए केन्द्र सरकार और सभी राज्य सरकारों ने केरल के बाढ़ पीड़ित लोगों की मदद के लिए हाथ बढ़ाया है।

Brijmohan Agrawal : अटल जी के सपनों को साकार करना हमारी सरकार का  संकल्प : बृजमोहन

रायपुर। छत्तीसगढ़ निर्माता पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी आज पंचतत्व में विलीन हो गए। राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार  नई दिल्ली के  स्मृति स्थल पर किया गया। वाजपेयी जी के अंतिम संस्कार में शामिल होने छत्तीसगढ़ के मंत्रीगण व भाजपा संगठन के अनेक पदाधिकारी  पहुंचे थे । सभी ने छत्तीसगढ़ निर्माता अटल बिहारी वाजपेयी जी के पार्थिव शरीर पर पुष्प अर्पित कर अपने और राज्य की जनता की ओर से उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। स्मृति स्थल पर छत्तीसगढ़ प्रदेश के कद्दावर भाजपा नेता एवं  कृषि-सिंचाई मंत्री  बृजमोहन अग्रवाल,विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल,भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय सह संगठन मंत्री सौदान सिंह, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, नगरी निकाय मंत्री अमर अग्रवाल, खाद्य मंत्री पुन्नूलाल मोहले,वन मंत्री महेश गागड़ा,वन औषधि बोर्ड के अध्यक्ष राम प्रताप सिंह सहित अनेक मंत्री व भाजपा संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित थे। 

स्व वाजपेयी के अंतिम संस्कार पश्चात अपनी प्रतिक्रया व्यक्त करते हुए बृजमोहन  अग्रवाल ने  कहा कि हमारे लिए यह बेहद ही भावुक क्षण है। क्योंकि अटल जी का छत्तीसगढ़ से बहुत गहरा और भावनात्मक रिश्ता जुड़ा हुआ है। उन्होंने हमें राज्य निर्माण की सौगात दी है, फलस्वरूप राज्य की सवा दो करोड़ जनता के उज्जवल भविष्य का निर्माण हो पा रहा है। उनके ही बदौलत हम आने वाली पीढ़ी को समृद्ध छत्तीसगढ़ बनाकर दे सकेंगे।  बृजमोहन ने कहा कि आज के इस दुखद अवसर पर हमने  राज्य की संपूर्ण जनता की ओर से उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की है। और हमने यह संकल्प लिया है कि अटल जी ने छत्तीसगढ़ जैसे उपेक्षित और पिछड़े क्षेत्र की पीड़ा को महसूस कर उसकी बेहतरी के लिए  जिन सपनों के साथ अलग  राज्य का निर्माण किया था, उन सपनों को हर हाल में हम पूरा करेंगे।

Kamal Nath : शिवराज सरकार से जनता का भरोसा उठ गया है : कमलनाथ 

इंदौर। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ मुरारका ने आज धार में ऐतिहासिक जनसभा को सम्बोधित किया। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष  ने अपने संबोधन में भाजपा सरकार को जमकर घेरा। उन्होंने कहा कि शिवराज सरकार पर से जनता का भरोसा उठ गया है।  हमें एक नया मध्यप्रदेश बनाना है, जिसमें युवाओ के लिए रोजगार हो, किसान भाइयों के लिए खुशहाली हो, महिलाओ को सम्मान मिले, दलित, अल्पसंख्यक और आदिवासी वर्ग के कल्याण को लेकर जमीनी स्तर पर कार्य हो। जनसभा को नेताप्रतिपक्ष अजय सिंह, प्रभारी  संजय कपूर , कार्यकारी अध्यक्ष  जीतू पटवारी सहित अन्य वरिष्ठ नेताओं ने भी सम्बोधित किया। 

Janata Congress : अटल बिहारी बाजपेयी के निधन से राजनीति के एक युग का अंत : अजीत जोगी 

रायपुर। पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर गहन शोक व्यक्त करते हुये जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के संस्थापक एवं पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने उनके निधन को देश की राजनीति के लिये अपूरणीय क्षति निरोपित किया है। अपनी शोकांजली अर्पित करते हुये जोगी ने कहा है कि स्व. वाजपेयी एक प्रखर एवं बेबाक वक्ता थें, जिन्हे भुलाया नही जा सकता है। देश को उनकी कमी सदैव महसूस होती रहेगी। राजधर्म पर विश्वास करने वाले ऐसे स्पष्टवादी राजनेता सदियो में जन्म लेते है।
जोगी ने कहा है कि स्व. अटल जी भारतीय राजनीतिक आकाश के दैदिप्यमान नक्षत्र के समान थे। मानवता के पुजारी स्व. वाजपेयी को भूला पाना असंभव है। आज देश-विदेश के हर वर्ग, समाज एवं धर्म के लोग उनकी विलक्षण प्रतिभा के सामने नतमस्तक होकर उन्हे अपनी श्रद्धांजली दे रहा है।

Please Wait... News Loading
Visitor No.