GLIBS
बारिश के मौसम में घर को ऐसे बचाएं सीलन से

नई दिल्ली। बारिश का मौसम कितना सुहावना होता है रिमझिम बारिश में घर में बैठ कर गरम गरम चाय या कॉफ़ी और अपनी पसंदीदा बुक पढ़ने या टीवी देख़ने का मजा ही कुछ और होता है। लेकिन बारिश के मौसम में घर की दीवारों, छतों के किनारों, किचन या फिर बाथरूम में सीलन नजर आने लगती हैं। सीलन के कारण घर में से बदबू आने के साथ ही तबियत भी खाराब होने का डर रहता है।इससे घर की सुन्दरता खराब होने के साथ साथ परिवार की सेहत को भी नुकसान झेलना पड़ सकता है। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए आपको कुछ तरिके बताने जा रहे है।

1)सीलन को दूर करने के लिए सिरके और  पानी को बराबर मात्रा में मिलाकर स्प्रे बोतल में डालकर फंगल लगी दीवार पर स्प्रे करके कुछ देर के लिए छोड़ दें।फिर सूखे कपड़े से इसे साफ कर ले।

2)खाने में स्तेमाल होने वाली बेकिंग सोडा साफ-सफाई में भी आपके बहुत का आ सकता है। स्प्रे बोतल में पानी डालकर 1/4 टेबलस्पून बेकिंग सोडा डाल उसे दीवार पर स्प्रे करें और ब्रश की मदद से साफ करें।

3)घर की दीवारों को सीलन से बचाने के लिए उनपर हल्के रंग का पेंट करवाएं। लेकिन पेंट करवाने से पहले दीवारों की दरारों को भरवा दें ताकि ऊपर से किया गया वाटर प्रूफ पेंट टिका रहे और अच्छी लुक दें। ससे दीवारों पर कीड़े भी नहीं लगेंगे और घर सुदंर भी लगेगा।

4)बारिश के दिनों में घर के किसी हिस्से में पानी जमा न हो। अगर छत थोड़ी भी टपक रही हो तो तुरंत उस की मरम्मत कराएं। इसके अलावा खिड़कियों और दरवाजों का फ्रैम भी सीलबंद रखें।

5)कभी कभी दीवारों के निचले हिस्सों में सीलन के धब्बे नजर आने लगते हैं। जिसका कारण ग्राउंड वाटर होता है, जो धीरे-धीरे ऊपर चढ़ता है। ऐसे में आप दीवारों पर डैपप्रूफ कोर्स जरूर करवाएं।

6)सीलन के कारण कभी कभी घर में अजीब सी बदबू आने लगती है।इससे छुटकारा पाने के लिए खुशबूदार फूलों से घर सजा सकते है। फूलों को फ्लावर पॉट में सजाकर आप घर की खूबसूरती निखारने के साथ ही उसे खुशबू से भी महका सकते हैं।

फीफा वर्ल्ड कप : सेमिफाइनल में जगह बनाने फ्रांस और उरुग्वे के बीच मुकाबला आज

नई दिल्ली। फीफा वर्ल्ड कप-2018 में अंतिम 8 में पहुंचीं दिग्गज टीमों के बीच क्वार्टर फाइनल मुकाबला आज शुक्रवार से शुरू हो जाएंगे। राउंड ऑफ-16 में आठ टीमों को बाहर करने के बाद पांच बार की विश्व चैंपियन ब्राजील के अलावा इंग्लैंड, बेल्जियम, क्रोएशिया, उरुग्वे, स्वीडन, फ्रांस और मेजाबन रूस ने क्वार्टरफाइनल में प्रवेश किया है।

पहला मुकाबला शुक्रवार को फ्रांस और उरुग्वे के बीच खेला जाएगा। इस मैच में हारने वाले टिम का सफर फीफा विश्व कप में समाप्त हो जाएगा। वही दूसरा मुकाबला ब्राजील और  बेल्जियम के बीच होगा। शनिवार को स्वीडन और इंग्लैंड सेमिफाइनल में जगह बनाने के लिए एक दूसरे से भिड़ेगी। वही शनिवार को दूसरा मुकाबला रूस और क्रोएशिया के बीच होगा।

शेड्यूल पर एक नजर :

1) 6 जुलाई: फ्रांस Vs उरुग्वे

2) 6 जुलाई: ब्राजील Vs बेल्जियम

3) 7 जुलाई: स्वीडन Vs इंग्लैंड

4) 7 जुलाई: रूस Vs क्रोएशिया

श्रीकांत का शीर्ष पांच में वपसी, पीवी सिंधु तीसरे स्थान पर बरकरार

नई दिल्ली। मलेशिया ओपन में भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत सेमिफाइनल में जगह बनाने के साथ ही रैंकिंग में सातवें स्थान से एक बार फिर शीर्ष पांच में पहुंच गए हैं। इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में गत एशियाई चैंपियन केंतो मोमोता के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था।इंडोनेशिया ओपन के पहले ही दौर में मोमोता ने ही श्रीकांत के सफर को रोका है।

महिला एकल में पीवी सिंधु तीसरे स्थान पर बरकरार हैं। साइना नेहवाल भी एक स्थान के फायदे से नौवें स्थान पर आ गई हैं।इंडोनेशिया ओपन में लिन डैन को हराकर उलटफेर करने वाले एचएस प्रणय 14वें स्थान पर है।प्रणय को एक स्थान नुकसान झेलना पड़ा है। जबकि समीर वर्मा बी. साई प्रणीत से एक स्थान ऊपर 20वें पायदान पर हैं।

दो स्थान के फायदे से 53वें स्थान पर वैष्णवी रेड्डी जक्का का है।वही कृष्णा प्रिया कुदरावल्ली 78 वें पायदान पर खिसक गईं।ऋत्विका शिवानी गाडे तीन स्थान के फायदे पर 90वें पायदान पर हैं। ऋत्विका शिवानी गाडे दक्षिण एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता रहे है।

महिला युगल में अश्विनी पोनप्पा और एन सिक्की रेड्डी 26 वें पायदान पर बरकरार हैं।वही पुरुष युगल में सात्विकसाईराज रैंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी दो स्थान के नुकसान से 21वें पायदान पर खिसक गए, जबकि मुन अत्री और बी सुमित रेड्डी 28वें नंबर पर हैं।

इन लेटेस्ट डिजाइन्स के ‘नैल आर्ट’ से बढ़ाए अपने हाथों की खूबसूरती

नई दिल्ली। बदलते फैशन के दौर में हर कोई चाहता है कि वो अट्रैक्टिव और अलग दिखें।इस कारण अलग अलग तरह से अपने आप को सजाते सवारते रहते है।इसलिए नेल आर्ट पर भी खास ध्यान दिया जाता है।अलग अलग तरह से कलाकारी दिखा कर छोटे से नाखून को भी अत्यधिक खूबसूरत बनाया जाता है।

लड़किया अपनी पसंद, मर्ज़ी और मौके के हिसाब से  नेल्स को सजाते है।फैशन के लेटेस्ट ट्रेंड में नेल आर्ट के अलग-अलग तरह के डिजाइन पसंद किए जाते हैं। आप अपनी ड्रेस के कलर के साथ मैच करके नेल आर्ट भी करवा सकते हैं।फंक्शन में भी खास तौर पर नेल आर्ट करवाई जाती है।

 

 

 

इससे हाथों की खूबसूरती और भी बढ़ जाती है। लेकिन हम आपको कुछ अलग तकह के नैल आर्ट दिखाने जा रहे है।नेल आर्ट के कुछ लेटेस्ट डिजाइन्स दिखाने जा रहे है जिससे आपके हाथ और ज्यादा खूबसूरत दिखेंगे।

बच्चों के साथ ज्यादा सख्ती उनके मानसिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक, रखें इन बातों का ध्यान

नई दिल्ली। बच्चों के व्यक्तित्व विकास और शिक्षा में माता पिता एक अहम भूमिका निभाते है। सही मार्गदर्शन बच्चों को सफलता की ओर ले जाता है। बच्चों की परवरिश करना पेरेंट्स के लिए सबसे मुश्किल काम होता है।हर पेरेंट्स चाहता है कि उनका बच्चा अच्छा बच्चा बन कर रहे । इसलिए अक्सर पेरेंट्स उन्हें समझाने के लिए सख्ती से पेश आते हैं। लेकिन जरूरत से ज्यादा की गई सख्ती बच्चे के मानसिक स्वास्थ्य के साथ-साथ उनके भविष्य पर भी बुरा असर डालती है।

आप को बता दे कि बच्चों के साथ ज्यादा सख्ती से पेश आने पर वो जिद्दी के साथ साथ अत्यधिक गुस्सैल हो जाते हैं। और बच्चे पेरेंट्स को उल्टे सीधे जवाब देते है इसके साथ ही गलत एटीट्यूट दिखाने लगते है। पेरेंट्स को अपने बच्चों के साथ सोच समझ कर व्यवहार करना चाहिए।

बच्चों के साथ सख्ती से पेश आने के पहले रखे इन बातो का ध्यान :

1)बच्चों की गल्तियों पर उन पर बात बात पर चिल्लाना गलत है। इससे बच्‍चों पर बुरा असर पड़ता है। हर बच्चा गलती करकें ही सिखता है।अगर आप बात बात पर चिल्लाएंगे तो इस माहौल में बच्चे अच्‍छे से बढ़ नहीं पाते।इसलिए बच्चों के प्रति किए गए अपने व्यवहार को संतुलन में रखे।ज्यादा डांटने से बच्चे के दिमाग पर बुरा असर डालता है। इससे कई बार बच्चा बात-बात पर डरने लगता है और किसी भी काम को करने से पहले ही पीछे हट जाता है। इसलिए अपने बच्‍चों को शांत तरीके से समझाए कि वह जो कर रहा है वो गलत है।

2) बच्चों को किसी भी वजह से कभी डराना-धमकाना नहीं चाहिए क्योंकि इससे बच्चों पर बुरा असर पड़ता है और उनका मानसिक विकास नहीं हो पाता।

3)  अपने बच्चों की तुलना दूसरे बच्चों से नही करना चाहिए। इससे उसके मन में आपके प्रति नकरात्मक सोच तो आती ही है वह दूसरें बच्चों के साथ भी सही तरह से नहीं रह पाते।

4) बच्चों की गलतियों पर उनकी पिटाई या सजा के तौर पर उन्हें अंधेरे कमरे में बंद करना आदि व्यवहार नहीं करना चाहिए। इससे बच्चों के दिमाग और मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य पर बुरा असर पड़ता है और वह बिगड़ैल हो जाता है।आ फिर कुछ नकरात्मक कदम भी उठा सकते है।

5) बच्‍चों को अच्‍छे संस्‍कार या उनसे किसी भी तरह की उम्‍मीद करने से पहले अपनी बुरी आदतों को बदलें। क्‍योंकि बच्‍चा वही करता है जो अपने आसपास देखता है।

 

‘संजू’ का चला बॉक्स ऑफिस पर जादू, 6 दिनों में बनाया ये रिकॉर्ड

मुबई। फिल्म "संजू"  ने 6 दिनों में बॉक्स ऑफिस पर 186.41 करोड़ का कलेक्शन कर नया रिकॉर्ड बना दिया है। रणबीर कपूर की "संजू" ने बिना किसी हॉलीडे और वीकेंड के सबसे ज्यादा कमाई करने वाली पहली फिल्म होने का रिकॉर्ड बना लिया है।आपको बता दे कि फिल्म संजू ने शुक्रवार को 34.75 करोड़, शनिवार को 38.60 करोड़, रविवार को 46.71 करोड़ और सोमवार को 25.35 करोड़, मंगलवार 22.10 करोड़, बुधवार 18.90 करोड़ का कलेक्शन किया है।

रणबीर की फिल्म ने एक दिन में सबसे ज्यादा कमाई करने वाली बाहुबली का रिकॉर्ड भी तोड दिया है।संजू ने तीसरे दिन में 46.71 करोड़ की कमाई की है जबकी बाहुबली ने तीसरे दिन में 46.50 करोड़ की कमाई की थी।रणबीर की फिल्म संजू साल की हाईएस्ट ओपनिंग वीकेंड फिल्म बन चुकी है। फिल्म ने पहले दिन 34.75 करोड़ की कमाई के साथ रेस 3 और बागी 2 का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। पहले दिन रेस 3 ने 29.17 और बागी ने 25.10 करोड़ की कमाई की थी।

राजकुमार हिरानी की फिल्म संजू उनकी अब तक की सबसे बड़ी ओपनर फिल्म बन चुकी है। इससे पहले अनुष्का शर्मा-आमिर खान की फिल्म पीके राजकुमार हिरानी की सबसे बड़ी ओपनर फिल्म थी। संजू की पहले दिन की कमाई 34.75 करोड़ रही जबकी पीके की पहले दिन की कमाई 25.45 करोड़ थी।

मेकअप प्रॉडक्ट्स के इस्तेमाल से जुड़े कुछ सीक्रेट्स

नई दिल्ली। आज के दौर में हर लड़की चाहती है कि वो खूबसूरत दिखे और खूबसूरत दिखने के लिए वो हर तरह की प्रॉडक्ट्स का इस्तेमाल करती है। आंखों की खूबसूरती के लिए आईशैडो, आईलाइनर, पेंसिल लाइनर आदि यूज करती है। लेकिन क्या आप जानती है कि आप अपने मेकअप प्रॉडक्ट्स का इस्तेमाल अलग-अलग तरीके से भी कर सकते है।

लिप ग्लॉस का इस्तेमाल : अगर आपका हाईलाइटर खतम हो गये है तो घबराने की जरुरत नहीं है आप इसकी जगह लिप ग्लॉस इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए  हल्का-सा क्लीयर लिप ग्लॉस लें कर  उंगुलियों की मदद से ब्रो बॉन या फिर गालों पर लगाएं।

लिपस्टिक का इस्तेमाल : लिपस्टिक का इस्तेमाल ब्लश और आईशैडो के लिए भी कर सकते है। इसके लिए लिपस्टिक को गालों या आईलिड्स पर लगाकर ब्रश के साथ अच्छी तरह ब्लेंड कर लें।

आईशैडो का इस्तेमाल : आईशैडो को लिप ग्लॉस के रुप में भी इस्तेमाल कर सकते है। अपनी पसंद के हिसाब से आईशैडो कलर चम्मच में लें और जरूरत अनुसार पेट्रोलियम जैली अच्छी तरह मिलाएं। फिर इसे ब्रश के साथ लिप्स पर लगाएं।

 आईशैडो का इस्तेमाल : आइशैडो में कई ऐसे कलर  है जिसका उपयोग नेल पेंट्स के रूप में भी कर सकते है। आईशैडो शेड्स को खुरच कर कटोरी में निकाल लें और इसमें प्लेन नेल पेंट मिक्स करके कलर्ड नेल पेंट तैयार कर लें। अब इसे नेल पेंट ब्रश से लगाएं।

इंडोनेशिया ओपन के दूसरे दौर में सिंधु ने बनाई जगह, श्रीकांत पहले ही दौर में हुए बाहर

नई दिल्ली। इंडोनेशिया ओपन टूर्नामेंट के दूसरे दौर में भारत की महिला खिलाड़ी पीवी सिंधु ने जगह बना ली है। महिला एकल वर्ग के पहले दौर के मैच में सिंधु ने थाईलैंड की पोर्नपावी चोचुवोंग को हरा कर अगले दौर का टिकट कटाया।

64 मिनट तक चले कड़े मुकाबले में सिंधु ने पोर्नपावी चोचुवोंग को 21-15, 19-21, 21-13 से मात दी। अगले दौर में सिंधु का मुकाबला जापान की वर्ल्ड नंबर-16 अया ओहोरी से होगी। अया ओहोरी ने अमेरिका की बेइवान झांग को 21-15, 21-23, 21-11 से मात दी थी।

वही दूसरी तरफ किदांबी श्रीकांत पहले ही दौर में जापान के केंतो मोमोता से हार कर बाहर हो गए हैं। वर्ल्ड नंबर-11 जापान के केंतो मोमोता ने वर्ल्ड नंबर-7 श्रीकांत को 12-21, 21-14, 21-15 से मात दी।

03-07-2018
आंखे 2 में अरशद वारसी और अर्जुन रामपाल कि जगह होंगे कार्तिक व सुशांत सिंह

मुंबई। 'आंखें 2' का प्रोमो  2016 में रिलीज किया था।इस फिल्म में अमिताभ बच्चन के साथ अरशद वारसी और अर्जुन रामपाल होने वाले थे।लेकिन अब सूत्र के हवाले से अमिताभ के साथ कार्तिक आर्यन और सुशांत सिंह राजपूत हो सकते हैं।राजतरू स्टूडियोज लिमिटेड ने 2002 की फिल्म 'आंखें' के राइट्स सालों पहले गौरंग दोषी से खरीदे थे।महिनों की कानूनी लड़ाई के बाद अब सब कुछ सही हो गया है।इस फिल्म को अब राजतरू स्टूडियोज ही प्रोड्यूस करेंगी। इस कारण फिल्म की स्टार-कास्ट में भी बदलाव हुए हैं।

बादाम के सेवन से सिर्फ फायदे ही नहीं हो सकते है ये नुकसान

नई दिल्ली। बादाम स्वाद और गुणों से भरपुर एक ऐसी खाध-पदार्थ है जिसे लोग मेवा (nuts) भी कहते है। आयुर्वेद में इसको बुद्धि और नसों के लिए गुणकारी माना जाता है। आपने बुजुर्गों से हमेशा कहते सुना होगा कि बादाम हमे रोज खाना चाहिए। बादाम खाने से कई हैल्थ प्रॉबल्म्स भी दूर रहती हैं। दरअसल, बादाम में प्रोटीन, वसा, विटामिन और मिनरल अन्य आदि भरपूर होते हैं। शायद यही वजह है कि अधिकर लोग अपनी डाइट में बादाम शामिल करते हैं।पर आपको बता दे की बादाम खाने के हमेशा फायदे ही नहीं होते है।कुछ लोगों को बादाम का सेवन करना नुकसान दायक हो सकता है।आपको बताते है कि किन लोगो को बादाम का सेवन नहीं करना चाहिए।

1)    अगर आप अपने मोटापे से परेशान है।तो आप बादाम का सेवन बिल्कुल न करें। क्योकि बादाम में कैलोरी और वसा अधिक होती है। ऐसे में बादाम का अधिक सेवन करने से मोटापा बढ़ता चला जाता हैं।

2)    अगर आप भी किसी स्वास्थ्य संबंधी प्रॉबल्म के चलते एंटीबायोटिक मेडिसिन खा रहे है तो बादाम का सेवन न करें।

3)    एसे लोग जिनका ब्लड प्रैशर हमेशा हाई रहता है तो दवाइयों के साथ बादाम का सेवन नुकसान पहुंचा सकता है और समस्या अधिक बढ़ सकती हैं।तो हाई ब्लड प्रैशर वाले लोगो को बादाम का सेवन नहीं करना चाहिए।

4)    किडनी या गॉल ब्लेडर पथरी या इनसे जुड़ी अन्य कोई प्रॉबल्म रहती है तो बादाम बिल्कुल न खाएं क्योंकि इसमें ऑक्सलेट अधिक मात्रा में होता है जो आपको नुकसान पहुंचा सकता हैं।

5)    अगर आपको भी डाइजेशन संबंधी समस्या या एसिडिटी रहती है तो बादाम बिल्कुल न खाए। बादाम ज्यादा खाने से कब्ज़ और पेट मे सूजन हो सकता है क्यूकी इसमे फ़ाइबर अधिक होती है।

6)    बादाम मे विटामिन ई होता है। हमारे शरीर को १५ एमजी की एक दिन में विटामिन ई की जरूरत होती है अगर हम अधिक मात्रा में बादाम खाएगे तो विटामिन ई की मात्रा काफी बढ़ जाएगी जिससे पेट फूलना,दस्त,दृष्टि का साफ न होना,सिर में दर्द और सुस्ती भी आ सकती है।

Please Wait... News Loading
Visitor No.