GLIBS
उर्जा क्षेत्र में भारत के बढ़ते कदम पर राष्ट्रीय कार्यशाला कल, सीएम डॉ. रमन सिंह होंगे शामिल 

रायपुर।  देश के राज्य विद्युत नियामक आयोगों के सचिवों की राष्ट्रीय कार्यशाला 21 मई को रायपुर में होगी।  कार्यशाला होटल बेबीलॉन इंटरनेश्नल में सुबह 10 बजे शुरू होगी। इस एक दिवसीय कार्यशाला में राज्य  नियामक आयोगों के ऊर्जा क्षेत्र में भारत के बढ़ते कदम के साथ ही नियामक आयोग की भूमिका, इलेक्ट्रीकल वाहनों के बेहतर संचालन और उससे जुड़ी नीतियों के क्रियान्वयन समेत अन्य प्रमुख मुद्दों पर विचार विमर्श करेंगे। कार्यक्रम में बतौर मुख्यअतिथि  मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह शामिल होंगे। 

छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत नियामक आयोग के  सचिव पीएन सिंह ने बताया कि यह पहला मौका है, जब नियामक आयोग की सचिव स्तरीय बैठक किसी राज्य में आयोजित की जा रही है।  कार्यशाला में केन्द्रीय विद्युत नियामक आयोग के सचिव सनोज कुमार झा समेत सभी राज्यों के सचिव हिस्सा लेंगे। 

कार्यशाला के दौरान विभिन्न राज्यों से आए सचिव नियामक आयोग के दिशा- निर्देशों के समूचित क्रियान्वयन में अपने अनुभव साझा करने के साथ ही नियामक आयोगों की स्वायत्ता और भारत में ऊर्जा क्षेत्र के विस्तार को ध्यान में रखते हुए नियामक आयोग की भूमिका पर भी विचार-विमर्श करेंगे।

हैंडपंप उगल रहा था गंदा पानी, अफसरों ने नहीं दिया ध्यान, आज एक बच्ची की पीलिया से मौत 

पेंड्रा। पेंड्रा के झाबर गांव में एक बच्ची की पीलिया से मौत हो गई। वह छठवीं कक्षा की छात्रा थी। बताया जा रहा है कि उसका छोटा भाई भी पीलिया से पीड़ित है। इस घटना के बाद गांव में मातम का माहौल है। वहीं लोगों में प्रशासन के खिलाफ जबर्दस्त नाराजगी भी है। ग्रामीणों का आरोप है कि गांव में लोग हैंडपंप का गंदा पानी पीने मजबूर हैं। पेयजल की समुचित व्यवस्था नहीं है। इसकी सूचना और शिकायत प्रशासन को दी गई लेकिन उनकी ओर से कोई कार्रवाही नहीं की गई। गांव में आए दिन जलजनित बीमारियां हो रही हैं। प्रशासन इस गंभीर समस्या पर ध्यान नहीं दे रहा है। गांव में हैडपंप के अलावा कोई अन्य वैकल्पिक सुविधा भी नहीं है।

बता दें कि पेंड्रा अंतर्गत झाबर गांव के नारायण सिंह और उसकी पत्नी गांव में ही मजदूरी कर जीवन यापन करते हैं उनकी बेटी जूही  कक्षा छठवी में पढ़ती थी जो कुछ दिनों से बीमार थी। उसका इलाज गांव में उसके परिजन करा रहे थे। जूही   बीमारी से काफी कमजोर हो गई थी। उसे इंजेक्शन लगाने पर थोड़ा आराम मिला। लगातार पीलिया से जूझने की वजह से उसके शरीर में खून की कमी हो गई। 

रविवार को उसके परिजन काम पर गए थे, तभी बच्ची की पीलिया से मौत हो गई। 

बताया जा रहा है कि मृतका का छोटा भाई करण भी पीलिया की चपेट में है। उसका इलाज चल रहा है। 

दंतेवाड़ा में नक्सली मुठभेड़, 7 जवान शहीद 2 घायल

दंतेवाड़ा। रविवार को पुलिस नक्सली मुठभेड़  मुठभेड़ में 7 जवान शहीद हुए हैं। वहीं 2 जवान घायल भी हुए हैं। नक्सलियों ने आईईडी ब्लॉस्ट कर पुलिया को उड़ा दिया है। जवानों के हथियार लूटकर भाग निकले हैं। बताया जाता है कि बचेली चोलनार मार्ग पर नक्सलियों ने आईईडी ब्लास्ट किया। इससे जिला पुलिस बल के 7 जवान शहीद हो गए हैं। वाहन में कुल 9 जवान सवार थे। इनमें 2 जवान घायल भी हुए हैं।

 

चिल्फीघाटी सड़क हादसे पर सीएम ने जताया खेद
मृतकों के आश्रितों को 25 हजार की तात्कालिक सहायता के निर्देश, घायलों का इलाज सरकारी खर्चे पर
भाजपा नेत्री के पति ने लिखा

सूरजपुर।  शिक्षाकर्मियों की लगाई संविलियन की आग अब भाजपाइयों के घर भी पहुंचने लगी है। प्रदेश भर में शिक्षाकर्मी जोर-शोर से वॉल पेंटिंग का अभियान चला रहे हैं और इसके तहत "विधानसभा मिशन हमारा संविलियन" के नारे के साथ सरकार को उनके संकल्प पत्र और घोषणा की याद दिलाते हुए प्रदेश के सभी शिक्षाकर्मी का मूल शिक्षा विभाग में संविलियन की मांग कर रहे हैं। शिक्षाकर्मियों के इस अभियान को जबरदस्त प्रतिसाद भी मिल रहा है और शिक्षाकर्मियों और उनके परिजन वॉल पेंटिंग के बाद वोट देने की मुद्रा में फोटो खिंचा कर भी सोशल मीडिया पर लगातार डाल रहे हैं।  इसी कड़ी में सुरजपुर जिले में भारतीय जनता पार्टी की जिला महामंत्री व सुरजपुर जनपद पंचायत की सदस्य शांति देवी के पति अजय सिंह ने प्रेमनगर विधान सभा के रामानुजनगर विकास खण्ड में विधानसभा मिशन हमारा संविलियन के नारे के साथ वाल पेंटिग कर शिक्षाकर्मी संविलियन के लिए अपनी दमदारी दिखाई है और शिक्षाकर्मियों के बुलंद हौसले को दिखाने की कोशिश की है।

पूरे क्षेत्र में मिल रही प्रशंसा : 

अजय सिंह को इसके लिए पूरे क्षेत्र में तारीफ भी मिल रही है कि, भले ही उनकी पत्नी भाजपा की नेत्री है, पर वह अपने और अपने पंचायत संवर्ग के साथियों के हित के लिए सरकार के विरुद्ध बिगुल फूंकने से भी नहीं चूक रहे हैं।  इस तरीके से वह अपनी मांग सरकार तक पहुंचा रहे हैं। उनके इस कदम के बाद पूरे सूरजपुर जिले के शिक्षाकर्मियों में जोश और उत्साह दुगना हो गया है । वे लोग भी अब बढ़-चढ़कर इस वॉल पेंटिंग अभियान में हिस्सा ले रहे हैं।  उनका सीधा मानना है कि जब अजय सिंह  अपने परिजनों के बीजेपी नेता होने के बावजूद अपने मांगों और अधिकारों के लिए खुलकर सामने आ सकते हैं तो फिर वह क्यों नहीं और इसी के साथ सूरजपुर जिले में शिक्षाकर्मियों का अभियान और तेज हो गया है ।

पारिवारिक संस्कार और सेवा ही अग्रवाल समाज की पहचान: बृजमोहन

रायपुर। मध्यप्रदेश के सेंधवा में आयोजित अग्रवाल समाज के अखिल भारतीय युवक युवती-परिचय सम्मेलन में छत्तीसगढ़ प्रदेश के कृषि एवं सिंचाई मंत्री बृजमोहन अग्रवाल बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए। इस सम्मेलन के शुभारंभ अवसर पर उपस्थित देश भर से आए अग्रवाल समाज के लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि यह परिचय सम्मेलन समाज की स्वस्थ परंपरा है। इस आयोजन से परिजनों को अपने बेटे-बेटियों के लिए योग्य वर-वधु ढूंढने में आसानी तो होती ही है, इससे धन और समय दोनों की बचत होती है। समाज को चाहिए कि इसी तरह सामूहिक विवाह का भी आयोजन हो ताकि बेटे-बेटियों को पूरे समाज का आशीर्वाद एक साथ मिल सके। इस अवसर पर उन्होंने परिचय सम्मेलन में पधारें युवक-युवतियों को शुभकामनाएं दी। यह आयोजन सेंधवा के मंगल भवन में संपन्न हुआ। जिसमें मध्य प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री अंतर सिंह आर्य बतौर अतिथि शामिल हुए।

बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि पारिवारिक संस्कार ही हम अग्रवालों की पहचान है। परंतु बदलते दौर में कही कही संस्कारों का क्षरण देखने को मिल रहा है । जिसके कारण परिवार बिखरते दिख जाते हैं । ऐसे में हमे ऐसा प्रयास करना चाहिए कि संस्कार बने रहे। परिवार एकजुट रहे ताकि हम अपनी श्रेष्ठता बनाए रख सके। इस सम्मेलन में 29 प्रांतों के 1000 लोगों ने हिस्सा लिया। इस अवसर पर अग्रवाल समाज के अध्यक्ष कैलाश एरन ने अतिथियों का अभिनंदन किया। कार्यक्रम में पुरुषोत्तम गोयल, किरण तायल, गिरधारी गोयल, श्यामसुंदर तायल, रोहित गर्ग, सुनील अग्रवाल आदि उपस्थित थे।

मोबाइल एप्लिकेशन व पत्रिका का विमोचन?

इस सम्मेलन में अग्रवाल समाज सेंधवा के मोबाइल एप्लीकेशन तथा सामाजिक पत्रिका का बृजमोहन अग्रवाल ने विमोचन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि समय के साथ-साथ चलना बेहद जरूरी है। आज की आपाधापी के दौर में लोग मोबाइल पर ही सारी जानकारी पाना चाहते हैं। ऐसे में मोबाइल एप्लीकेशन सहायक सिद्ध होगा । साथ ही पत्रिका भी समाज के लोगों को जोड़ने में अपनी भूमिका निभाएगा।

सेवा की परंपरा को आगे बढ़ाएं 

महाराज अग्रसेन जी के वंशज अपने परिश्रम के दम व्यवसायिक सहित विभिन्न क्षेत्रों में सफलता अर्जित कर रहे हैं । फल स्वरुप माता लक्ष्मी का आशीर्वाद भी बना रहता है। हमारे पुरखों ने बावलियां और धर्मशालाएं बहुत बनवाए है।

ऐसे में महाराजा अग्रसेन जी के बताये सेवा मार्ग का अनुसरण हम भी करें और कमजोर तबके की सेवा का बीड़ा उठाए। कमजोर की बेटी का ब्याह,उसके बच्चे की शिक्षा तथा उस परिवार के बीमार का इलाज कराने हम सहयोग करें। उन्होंने कहा कि हर परिवार प्रतिवर्ष एक निश्चित धन राशि तय कर इस के लिए सहयोग कर सकता है। समाज एक टीम बनाकर इस कार्य को व्यवस्थित तरीके से कर सकता है।

विकास यात्रा की तैयारियों को लेकर प्रभारी मंत्री कश्यप ने ली बैठक

बचेली। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह 22 मई को विकास यात्रा लेकर दन्तेवाड़ा के बचेली आ रहे हैं । मुख्यमंत्री  के कार्यक्रम की तैयारियों के मद्देनजर जिले के प्रभारी मंत्री और राज्य शासन में स्कूल शिक्षा मंत्री केदार कश्यप ने शनिवार को बचेली पहुंचकर प्रस्तावित सभा स्थल का निरीक्षण किया । 

 मंत्री  ने कलेक्टर सौरव सिंह को कार्यक्रम स्थल में निर्मित डोम से संबंधित आवश्यक निर्देश दिए । हितग्राहियों को लाने ले जाने और उनके भोजन , पानी सहित अन्य व्यवस्थाओं को सुचारू बनाने के निर्देश दिए ।
  प्रशासनिक भवन में जिला अधिकारियों की बैठक लेकर मंत्री ने अधिकारियों को पूरी व्यवस्था चाक चौबंद रखने एवम भूमिपूजन और लोकार्पण की सभी तैयारियों को समय सीमा में पूर्ण करना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए ।
मंत्री कश्यप ने भाजपा सहित सभी निर्वाचित जनप्रतिनिधियों की भी एक बैठक ली और कार्यक्रम से संबंधित महत्वपूर्ण विषयों पर आवश्यक चर्चा की। 

राहुल गांधी हैं संघ फोबिया से ग्रसित : धरमलाल कौशिक 

रायपुर। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि चुनावों में कांग्रेस के शर्मनाक प्रदर्शन के चलते राहुल गांधी मानसिक हताशा का शिकार हो गए हैं । ऐसा व्यक्ति अपनी कमजोरी को स्वीकार करने के बजाए एक काल्पनिक कारण ढूंढ कर उसे दोषी ठहराने लगता है । यह दुर्भाग्य का विषय है कि राहुल ने इसके लिये देशभक्त तथा गैर राजनीतिक संगठन ,आरएस एस को चुना है  । धरमलाल कौशिक ने कहा कि समूचा देश जानता है कि संघ की भूमिका उसके स्थापना काल से सशक्त भारत निर्माण की रही है । यही नहीं जब भी देश में किसी तरह की आपदा आई चाहे वह आंतरिक हो या बाह्य संघ ने तन मन और धन से देशहित में काम किया है ।  उन्होंने कहा कि देश हित में कार्यरत संघ को राजनीति में घसीट राहुल और हास्यास्पद और अविश्वस्नीय बनेंगे।

राज्यपाल ने दिया कुमारस्वामी को सरकार बनाने का न्यौता, सोमवार को लेंगे सीएम पद की शपथ

बेंगलुरु।  कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद अब जेडीएस-कांग्रेस मिलकर सरकार बनाने जा रहे हैं। सूबे के राज्यपाल वजुभाई वाला ने जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया है। अब सोमवार को जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।
इस शपथ समारोह में तेलंगाना राष्ट्र समिति प्रमुख के. चंद्रशेखर राव, तृणमूल कांग्रेस नेता ममता बनर्जी, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत अन्य दिग्गज नेताओं के शामिल होने की उम्मीद है।
शनिवार को राज्यपाल से मुलाकात के बाद कुमारस्वामी ने कहा कि वो शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी को आज रात या रविवार सुबह खुद आमंत्रित करेंगे। इसके अलावा वो सभी क्षेत्रीय नेताओं को व्यक्तिगत तौर पर समारोह में शामिल होने के लिए फोन करेंगे। 
इससे पहले 17 मई को बीएस येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री की शपथ ली थी। इसके बाद राज्यपाल वजुभाई वाला ने उनको विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन की मोहलत दी थी, जिसके खिलाफ कांग्रेस और जेडीएस सुप्रीम कोर्ट चले गए थे।

सुप्रीम कोर्ट ने बीएस येदियुरप्पा को 28 घंटे यानी शनिवार शाम चार बजे तक विधानसभा में बहुमत साबित करने को कहा, लेकिन वो बहुमत जुटाने में विफल रहे और शक्ति परीक्षण से पहले ही इस्तीफे का ऐलान कर दिया।
इस दौरान बीजेपी नेता येदियुरप्पा ने भावुक भाषण दिया और किसानों व दलितों की समस्याओं को जोरशोर से उठाया. वहीं, शनिवार को येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद जेडीएस के कुमारस्वामी ने राज्यपाल से मुलाकात की और सरकार बनाने का दावा पेश किया।
इसके बाद राज्यपाल वजुभाई वाला ने जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन को सरकार बनाने का न्योता दिया. अब सोमवार को जेडीएस के कुमारस्वामी सूबे के नए मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. जेडीएस-कांग्रेस के पास बहुमत से ज्यादा विधायक यानी कुल 115 विधायक हैं।
मालूम हो कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए 12 मई को मतदान हुए थे, जिसके नतीजे 15 मई को आए थे. इस चुनाव में बीजेपी 104 सीटों पर जीत दर्ज करके सबसे बड़ी पार्टी बनकर सामने आई थी। इसके अलावा कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 37 सीटों पर जीत मिली थी। 

 विकास यात्रा में बलरामपुर के सरकारी जिला अस्पताल को मिला नया भवन, सीएम ने किया लोकार्पण

 रायपुर।  मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेश व्यापी विकास यात्रा के अपने व्यस्त कार्यक्रमों के तहत बलरामपुर-रामनुजगंज जिले के तहसील मुख्यालय राजपुर की विशाल आम सभा में जिले की जनता को 148 करोड़ 76 लाख रुपए के 59 विभिन्न विकास कार्यो की सौगात दी। उन्होंने इनमें से 44 करोड.60 लाख रूपए के 44 पूर्ण हो चुके निर्माण कार्यों का लोकार्पण और 104 करोड़ 16 लाख रूपए के 15 नये स्वीकृत निर्माण कार्यों का भूमिपूजन और शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री के हाथों आज लोकार्पित भवनों में बलरामपुर का शासकीय जिला अस्पताल भवन भी शामिल है। उन्होंने राजपुर की आमसभा में विभिन्न हितग्राहीमूलक योजनाओं के तहत 12 हजार 775 ग्रामीणों को 3 करोड़ 80 लाख रूपए की सामग्री और सहायता राशि के चेक का वितरण किया।
       मुख्यमंत्री ने जिन कार्यो का लोकार्पण किया, उनमें 15.77 करोड़ रूपए की लागत से बलरामपुर में नवनिर्मित जिला अस्पताल भवन, रामचन्द्रपुर में आईटीआई भवन, तहसील कार्यालय भवन रामानुजगंज एवं बलरामपुर में मॉडल रिकार्ड रूम, 16.70 करोड़ रूपए की लागत से नवनिर्मित मोरन नदी पर दो पुलिया, रिगर नदी पर पुलिया, इरिया नदी पर पुलिया, एक करोड़ 14 लाख रूपए की लागत से निर्मित दुवारी, धनवार, कारीमाटी, देवीगंज के उप स्वाथ्य केन्द्र भवन भी शामिल हैं। इसके अलावा उन्होंने दो  करोड़ 14 लाख रूपए की लागत से बलरामपुर के जिला अस्पताल कैम्पस में ट्रांजिस्ट हॉस्टल का भी लोकार्पण किया। डॉ. सिंह ने बलरामपुर के जिला पुस्तकालय भवन सहित दो करोड़ रुपए की लागत से राजपुर में निर्मित 33/11 के.व्ही. क्षमता के विद्युत सब-स्टेशन भी जनता को समर्पित किया। डॉ. सिंह ने ग्राम करौंधा, तातापानी और महावीरगंज के लिए नये स्वीकृत विद्युत सब-स्टेशनों का शिलान्यास और भूमिपूजन भी किया।
     मुख्यमंत्री ने जिन कार्यों का भूमिपूजन एवं शिलान्यास किया, उनमें में 52 करोड़ 14 लाख रुपए की लागत से कुसमी-कौरंधा से झारखण्ड सीमा तक 05 किलोमीटर सड़क चौड़ीकरण कार्य भी शामिल हैं। इसके अलावा उन्होंने अन्य कई सड़कों के निर्माण के लिए भी भूमिपूजन किया। लगभग 37.65 करोड़ रूपए की खापर नाला, खुटपाली, हरहरा और गम्हरिया व्यपवर्तन सिंचाई योजनाओं का भूमिपूजन और शिलान्यास भी मुख्यमंत्री के हाथों सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर गृह, जेल और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री रामसेवक पैकरा, श्रम, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री  भईयालाल राजवाड़े और राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम सहित अनेक वरिष्ठ जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

2019 के महगठबंधन का मंच बनेगा कुमारस्वामी का शपथ ग्रहण समारोह

नई दिल्ली/बेंगलुरु। कर्नाटक में सीएम बीएस येदियुरप्पा को महज ढाई दिन में इस्तीफा दिलवाने से उत्साहित कांग्रेस अब विपक्षी खेमे को बुलाकर शक्ति प्रदर्शन करने के मूड में है। कर्नाटक में सोमवार को जेडीएस नेता कुमारस्वामी मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। वह शाम को राज्यपाल वजुभाई वाला से मिलकर उन्हें विधायकों के समर्थन का पत्र सौंपेंगे। 
2019 के लोकसभा चुनावों के लिए बीजेपी के खिलाफ गठबंधन बनाने में जुटी कांग्रेस ने इस मौके के लिए कई दलों के नेताओं को बुलाया है।  कांग्रेस (78 सीटें) कर्नाटक में जेडीएस (37 सीटें) के मुकाबले करीब दोगुनी सीट लाकर भी सहयोगी की भूमिका में है। 
कांग्रेस ने कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में बीएसपी प्रमुख मायावती, तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी, सपा नेता अखिलेश यादव, एनसीपी प्रमुख शरद पवार, टीआरएस प्रमुख और तेलंगाना के सीएम केसीआर, आंध्र प्रदेश के सीएम और टीडीपी नेता चंद्रबाबू नायडू, डीएमके नेताओं, राजद नेताओं सहित आरएलडी नेता अजित सिंह को बुलावा भेजा है। 
भले ही कर्नाटक में कांग्रेस का सीएम न हो, पर इस राज्य में बीजेपी के साथ हुई लड़ाई में वह सीएम पद पाने से कहीं बड़ा राजनीतिक संदेश देने में सफल रही है।  फिलहाल कांग्रेस के सामने राज्यों में सत्ता पाने से बड़ा लक्ष्य 2019 का है. बीजेपी चाहती है कि वह राष्ट्रीय स्तर पर बीजेपी के खिलाफ गठबंधन का नेतृत्व करती हुई दिखे और इसके लिए वह राज्यों में कुबार्नी देने को भी तैयार है। इसलिए वह कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में किसी को भी नहीं छोड़ना चाहती है।
बीएस येदियुरप्पा ने 17 मई को शपथ ली थी, लेकिन पिछले 5 दिनों से चल रही लंबी कवायद और जोर-आजमाइश के बाद कर्नाटक में बीजेपी सरकार ने फ्लोर टेस्ट का सामना नहीं किया और बीएस येदियुरप्पा ने संख्याबल जुटाने से पहले इस्तीफा देने का ऐलान कर दिया। 

Please Wait... News Loading
Visitor No.