GLIBS

Vijay Khandelwal : सालों की मेहनत और लगन का नतीजा है छात्रों का नेशनल गेम्स में चयन- विजय खंडेलवाल 

गायत्री सिंह  | 01 Nov , 2018 03:04 PM
Vijay Khandelwal : सालों की मेहनत और लगन का नतीजा है छात्रों का नेशनल गेम्स में चयन- विजय खंडेलवाल 

रायपुर। मेहनत और लगन से बच्चों की प्रतिभा में निखार जरुर आता है। जिसके बाद इनकी प्रतिभा को सम्मान और सही दिशा देना जरुरी है। इस बात की मिसाल बन रही है शासकीय जेआर दानी कन्या शाला। जहां की दो छात्राओं नीतू सोनवाने और शालू प्रधान का चयन नेशनल गेम्स में छग की टीम से भाग लेने के लिए हुआ है। इस बात की जानकारी प्राचार्य विजय खंडेलवाल ने दी।

वही कक्षा बारहवीं की छात्रा शालू प्रधान ने अपने खेल से जुडाव के विषय में बताया। उन्होंने कहा की उनकी माँ की प्रेरणा से ही आज इस मुकाम पर है। छग शासन ने 2017 में उन्हें कौशल यादव अवार्ड से सम्मनित किया था। नेशनल लेवल में होने वाले गेम्स के लिए चयनित दूसरी छात्रा नीतू सोनवाने ने अपने खेल केनोइंग- कयाकिंग के बारे में बताया। इन्होने कहा की विगत तीन वर्षों से इस खेल की प्रैक्टिस बुढातालाब में कर रही है। पहले उनके पिता को खेल पसंद नहीं था। पर अब वह उनके प्रदर्शन से काफी खुश है। आगे वे केनोइंग- कयाकिंग ढेरों मैडल जितना चाहती है। साई इनके खेल में संसाधन की व्यवस्था करता है। 

चयनित छात्रों के इस खेल का नाम खेल केनोइंग- कयाकिंग है। उक्त जानकारी कन्या शाला की व्यायाम शिक्षिका प्रीति व्यास ने दी। उन्होंने आगे बताया की यह खेल बोटिंग रेस होती है। जो दो स्टाइल केनोइंग और कयाकिंग में खेली जाती। कन्या शाला के प्राचार्य विजय खंडेलवाल ने प्रतिभावान छात्राओं के बारे में बात करते हुए कहा की नेशनल गेम्स में चयन गर्व की बात है। स्कूल ने ऐसी प्रतिभावान छात्रों का हमेशा साथ दिया है। 7 साल बाद जब व्यायाम शिक्षिका की नियुक्ति हुई है तब से इन छात्रों को सही दिशा मिल गई है। आगे बड़े राज्य का नाम रोशन करे। उनकी प्रैक्टिस के लिए समय और सहायता के लिए स्कूल सदा साथ है।