GLIBS

#MeToo : केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों के बाद इस्तीफे की मांग तेज

समीर वर्मा  | 11 Oct , 2018 03:53 PM
#MeToo : केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों के बाद इस्तीफे की मांग तेज

नई दिल्ली। भारत में महिलाएं #MeToo कैम्पेन की मदद से अपने साथ अतीत में हुई यौन शोषण की घटनाओं का सोशल मीडिया की मदद से जमकर खुलासा कर रही है। इस कैम्पेन से जुड़े सभी मामले में बॉलीवुड सितारों से जुड़े हुए थे लेकिन अब यह राजनीति में भी रुख कर चुका है। इस कैंपेन ने केंद्रीय मंत्री और पूर्व संपादक एमजे अकबर को शिकार बनाया है। वे मध्यप्रदेश से भाजपा सांसद भी हैं। बता दें कि 9 महिलाओं ने उनपर यौन उत्पीड़न को आरोप लगाया है। केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों से उनकी मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। अब कांग्रेस ने भी एमजे अकबर के मामले में न सिर्फ कांग्रेस ने मामले की जांच की मांग की है, बल्कि उनके इस्तीफे की भी मांग की है।

इससे पहले विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मंगलवार को पूछा गया था कि क्या उनकी सरकार केंद्रीय मंत्री के खिलाफ कोई कार्रवाई करेगी, लेकिन उन्होंने सवाल को टाल दिया था। देश में '#MeToo' अभियान तेज हो गया है, मनोरंजन और मीडिया जगत से जुड़ी कई महिलाओं ने यौन उत्पीड़न की आपबीती साझा की है।

बता दें कि अकबर कई अखबार और पत्रिकाओं के संपादक रह चुके हैं। साल 2017 में एक महिला पत्रकार ने बताया था कि उसके बॉस ने उसे होटल के कमरे में जॉब इंटरव्यू के लिए बुलाया था। प्रिया रमानी नाम की एक महिला ने ट्वीट किया है कि एमजे अकबर ने होटल रूम में इंटरव्यू के दौरान कई महिला पत्रकारों के साथ आपत्तिजनक हरकतें की हैं।