GLIBS

कुमारस्वामी की अग्निपरीक्षा आज, विधानसभा में हासिल करना होगा विश्वास मत

कुमारस्वामी की अग्निपरीक्षा आज, विधानसभा में हासिल करना होगा विश्वास मत

बंगलूरू। सियासी संकट में घिरी कांग्रेस-जदएस गठबंधन की राज्य सरकार की किस्मत का फैसला सोमवार को होगा, जब विधानसभा में विश्वास मत पर वोटिंग होगी। इससे पहले, राज्यपाल वजूभाई वाला ने मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी को पत्र लिखकर दो बार फ्लोर टेस्ट कराने को कहा था, लेकिन शुक्रवार को वोटिंग नहीं हो सकी थी। इसके बाद स्पीकर केआर रमेश कुमार ने विधानसभा की कार्यवाही सोमवार तक स्थगित कर दी थी। हालांकि सूत्रों का कहना है कि सरकार विश्वास प्रस्ताव पर चर्चा को लंबा खींचने की कोशिश करेगी, क्योंकि उसे सुप्रीम कोर्ट से कुछ राहत मिलने की उम्मीद है। मुख्यमंत्री कुमारस्वामी और कांग्रेस नेता दिनेश गुंडू राव ने शुक्रवार को ही सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर 17 जुलाई के फैसले पर स्पष्टीकरण की मांग की थी। 

वहीं, सीएम ने राज्यपाल को सरकार को निर्देश देने से रोकने का अनुरोध भी शीर्ष अदालत से किया है। उम्मीद है कि सुप्रीम कोर्ट सोमवार को ही दोनों याचिकाओं पर सुनवाई करेगा। इस बीच, सत्ता पक्ष और विपक्ष ने विश्वास मत को लेकर अपने-अपने दावे किए हैं। कांग्रेस नेता एचके पाटिल ने जहां विश्वास मत जीतने का विश्वास जताया है, वहीं भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा का दावा है कि सरकार बहुमत साबित नहीं कर पाएगी। 

भाजपा और कांग्रेस ने बनाई रणनीति 
विश्वास मत से पहले रविवार को कांग्रेस और भाजपा के शीर्ष नेताओं ने बंगलूरू में बैठक की। भाजपा विधायक दल की बैठक रमादा होटल में हुई, जबकि कांग्रेस नेताओं ने ताज विवांता में रणनीति तैयार की। इस बीच, जदएस नेता जीटी देवेगौड़ा, एसआर महेश और सीएस पुट्टाराजा ने पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया से मुलाकात की। 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.