GLIBS

सांसद ज्योत्सना महंत ने सुनीं जनजातियों की समस्याएं, दिलाया शीघ्र निराकरण का भरोसा

ग्लिब्स टीम  | 21 Jul , 2019 10:23 PM
सांसद ज्योत्सना महंत ने सुनीं जनजातियों की समस्याएं, दिलाया शीघ्र निराकरण का भरोसा

कोरबा। कोरबा प्रवास पर पहुंची सांसद ज्योत्सना महंत अपने संसदीय क्षेत्र के विभिन्न इलाकों में भ्रमण कर आमजन से मुलाकात करने के साथ उनकी समस्याओं से रूबरू हो रही हैं। अपने शासकीय निवास पर जनता से मुलाकात करने के पश्चात आज उन्होंने प्रदेश के राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल के साथ जिले के वनांचल ग्राम व पहाड़ी कोरवा सहित अन्य जनजातियों के लोगों से मुलाकात करने ग्राम गढ़कटरा, अजगरबहार का भ्रमण किया। यहां पहुंची सांसद को अपने बीच पाकर ग्रामवासी गदगद हो उठे और उनके साथ महिलाओं ने सेल्फी भी ली। इस अवसर पर ग्राम चुईया, अजगरबहार, धनगांव, कछार, सतरेंगा, गढ़, लेमरू, अरेतरा में पहाड़ी कोरवाओं, पंडो जनजाति के लोगों व खासकर महिलाओं से मिलकर उनकी समस्याओं और जरूरतों को सांसद ने जाना और समझा। उन्होंने आदिवासी अंचल के वृद्धजनों, बच्चों एवं विद्याथिज़्यों से भी आत्मीय चर्चा की एवं शिक्षा-स्वास्थ्य के बारे में जाना।  महंत ने उपस्थित ग्रामवासियों को बताया कि केन्द्र सरकार ने छात्रावासों और दालभात केन्द्रों के चावल के कोटे में कटौती कर दी है। गरीबों को मिलने वाले मिट्टी तेल के कोटे में भी कटौती कर दी है। योजना का लाभ लेने से आज भी अधिकांश ग्रामवासी वंचित हैं जबकि पिछले 15 साल से यहां भाजपा की सरकार थी।  महंत ने ग्रामवासियों को आश्वस्त किया कि अब प्रदेश में गरीब, किसान, मजदूर, आदिवासियों की सरकार का गई है और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार बनने के पहले दिन से ही सभी वर्ग के लोगों के लिए घोषणा और योजना पर काम शुरू कर दिए हैं। ग्रामवासियों द्वारा बताई गई मूलभूत समस्याओं का यथाशीघ्र निदान कराने का भरोसा उन्होंने दिलाते हुए कहा कि आने वाले समय में ज्यादा से ज्यादा समस्याओं का निवारण करने का प्रयास किया जाएगा। राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कहा कि छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार किसानों और आदिवासियों की सरकार है। किसानों को धान का समर्थन मूल्य और वनवासियों को उनके काबिज वनभूमि का पट्टा देने का काम हमने किया है। कांग्रेस की सरकार हमेशा आप लोगों के साथ है। गांवों के भ्रमण के दौरान प्रमुख रूप से  रामपुर विधानसभा के पूर्व विधायक श्यामलाल कंवर, जिला कांग्रेस शहर अध्यक्ष राजकिशोर प्रसाद, ग्रामीण अध्यक्ष  उषा तिवारी, पूर्व अध्यक्ष हरीश परसाई, ब्लाक अध्यक्ष अजीत दास महंत, रज्जाक अली सहित क्षेत्र के कांग्रेसजन एवं ग्रामवासी उपस्थित थे। गांवों में कार्यक्रमों के दौरान दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के निधन पर शोक संवेदना भी व्यक्त की गई एवं 2 मिनट का मौन धारण कर मृतात्मा की शांति के लिए ग्रामवासियों ने कामना की।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.