GLIBS

डॉ. चरणदास महंत ने बदला बस्तर की बेटी राजेश्वरी का जीवन, सरकारी नौकरी देकर खुशियों से भरी झोली

प्रियंका कौशल  | 12 Feb , 2019 12:49 PM
डॉ. चरणदास महंत ने बदला बस्तर की बेटी राजेश्वरी का जीवन, सरकारी नौकरी देकर खुशियों से भरी झोली

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने अपनी संवेदनशीलता का परिचय देते हुए मानव तस्करी का शिकार होकर लौटी बस्तर की बेटी राजेश्वरी सलाम का जीवन ही बदल दिया। डॉ महंत ने जब राजेश्वरी की पीड़ा सुनी तो भरे मन से उन्होंने मानव तस्करी को लेकर सख्त कानून बनाने की बात तो की ही, साथ ही तत्काल फैसला लेते हुए राजेश्वरी को छत्तीसगढ़ विधानसभा में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के रूप में नौकरी भी दे दी। इतना ही नहीं उन्होंने उदारता का परिचय कुछ इस तरह भी दिया कि राजेश्वरी भृत्य का काम नहीं करके सामाजिक जागरुकता जैसे विषय पर ही काम करेगी, ऐसी घोषणा भी की। 

इस मौके पर नई दिल्ली से पधारी जानी-मानी वरिष्ठ पत्रकार अमृता राय भी विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद थीं। श्रीमती राय ने मानव तस्करी विषय पर सारगर्भित बात रखते हुए कहा कि इस समस्या को दूर करने के लिए समाज को सरकार के साथ आकर काम करना होगा। उन्होंने राजेश्वरी को गले से लगाते हुए उसे संबल भी प्रदान किया। 

कार्यक्रम में संसदीय कार्य मंत्री रविंद्र चौबे ने भी कहा कि मैं मानव तस्करी विषय पर प्रदेश के मुख्य सचिव से बात करूंगा और इसे रोकने के लिए हरसंभव कदम उठाए जाएंगे। इस मौके पर कांग्रेस की वरिष्ठ नेता करुणा शुक्ला, वरिष्ठ पत्रकार हिमांशु द्वेदी, वरिष्ठ साहित्यकार गिरीश पंकज, वैभव प्रकाशन के सुधीर शर्मा, डिजीआना ग्रुप के चैयनमेन तेजिंदर सिंह घुम्मन, विधानसभा के सचिव चंद्रशेखर गंगराडे समेत कई बुद्धिजीवी, साहित्यकार, पत्रकार मौजूद थे। 



 

 

​​​​​​​

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.