GLIBS

नगरीय निकाय चुनाव: कटघोरा में जनता चुन सकती है नया चेहरा, इस बार बदलाव की स्थिति ?

बीएन यादव  | 01 Oct , 2019 10:40 AM
नगरीय निकाय चुनाव: कटघोरा में जनता चुन सकती है नया चेहरा, इस बार बदलाव की स्थिति ?

कोरबा। इस बार कटघोरा की जनता नगरीय निकाय चुनाव में अध्यक्ष का नया चेहरा चुन सकती है। पुराने चेहरों को देखते सालों बीत गए लेकिन नगर विकास की बजाय पतन की ओर अग्रसर है, जो शासन की तमाम सुविधाओं से कटघोरा वासी वंचित महसूस कर रहे हैं। जैसा कि हम सब को ज्ञात है कि विधानसभा चुनाव में कटघोरा को जिला बनाये जाने की बात कही गई थी, लेकिन वो सिर्फ चुनावी जुमले ही साबित हुए। कटघोरा के समस्याओं की अगर बात करेेें तो शायद पांच साल भी कम पड़ जाए। यहाँ के सड़कोें की दुर्दशा किसी से छिपी नहीं है, जो जिम्मेदार सरकार व प्रतिनिधि सीना ताने कटघोरा की जनता के सब्र का इन्तजार कर रहे हैं। जनता बड़ी उम्मीद से प्रतिनिधि चुनाव करती है, लेकिन जब वे उनकी उम्मीदों पर खरा नहीें उतरते तो जनता अपने आप को ठगा सा महसूस करने लगती है। कटघोरा तमाम उन सुविधाओं से हमेशा वंचित रहा है जब कटघोरा वासियों को स्वास्थ्य सुविधा से लेकर अस्पताल की जरूरत महसूस हुई है, तब केवल करोड़ों की बिल्डिंग खड़ी कर दी गई है लेकिन ईलाज तो कोरबा और अन्य स्थानों पर ही मिलता है। जब यहां के बच्चों की पढ़ाई की बात आती है तो वे भी अच्छे स्कूल और कॉलेज के लिए भटकते ही नजर आते हैं। न तो आज तक बिजली व्यवस्था सुधर पाई और न ही घरों तक पानी पहुँच सका। इन सबके बीच हर पांच साल में आते चुनाव, वही चेहरे, वही वादे, वही ढकोसले आखिर कब तक निर्दोष जनता इनके बहकावे का शिकार होते रहेगी। अब तो पुराने चेहरों से भरोसा ही उठ गया है। अब जनता ने मन बनाया है शायद नया चेहरा ही कटघोरा को विकास की गति प्रदान कर सकता है।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.