GLIBS

प्रदेश सरकार किसानों का पूरा धान ख़रीदने से बचने की साजिश पर आमादा नज़र आ रही : भाजपा

राहुल चौबे  | 02 Dec , 2020 08:51 PM
प्रदेश सरकार किसानों का पूरा धान ख़रीदने से बचने की साजिश पर आमादा नज़र आ रही : भाजपा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्यामबिहारी जायसवाल ने धान ख़रीदी के लिए प्रदेश सरकार द्वारा सोमवार से शुक्रवार तक की समयावधि निर्धारित करने पर कड़ा एतराज़ जताया है। जायसवाल ने कहा कि प्रदेश सरकार का यह निर्णय किसानों की परेशानी ही बढ़ाएगा। यह निर्णय किसान विरोधी है और प्रदेश सरकार एक बार फिर इरादतन किसानों का पूरा धान ख़रीदने से बचने के साजिशाना हथकंडों पर आमादा नज़र आ रही है। जायसवाल ने कहा कि धान ख़रीदी शुरू हो चुकी है, लेकिन ख़रीदी केंद्रों में अव्यवस्था के चलते धान बेचने पहुँचे किसान कई तरह की परेशानियों से जूझकर धान बेचे बिना ही वापस लौटने को विवश हो रहे हैं। भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष जायसवाल ने कहा कि पिछले दो वर्षों में प्रदेश सरकार ने अन्नदाता किसानों को सिवाय खून के आँसू रुलाने के और कोई काम नहीं किया है।

क़दम-क़दम पर किसानों को छलने-ठगने में लगी प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल विपक्ष में रहते हुए एक नवम्बर से ही धान ख़रीदी का हंगामा मचाया करते थे लेकिन सत्ता में आने के बाद में उन्हें इस बात पर ज़रा भी शर्म महसूस नहीं हो रही है कि वे एक माह विलंब से धान की ख़रीदी शुरू कर रहे हैं और सिर्फ़ दो माह धान ख़रीदने की बातें कर रहे हैं। जायसवाल ने कहा कि प्रदेश सरकार सप्ताह में पाँच दिन ही धान ख़रीदने की बात कहकर किसानों को परेशान करने पर उतारू है। इन पाँच दिनों में जो सार्वजनिक अवकाश के दिन पड़ेंगे, उसमें धान ख़रीदी नहीं होने की दशा में प्रदेश सरकार ने कोई वैकल्पिक उपाय के बारे में नहीं कहा है। जायसवाल ने कहा कि किसानों की परेशानी को ध्यान में रखकर प्रदेश सरकार तत्काल धान ख़रीदी फ़रवरी माह तक करने की घोषणा करे और यह सुनिश्चित करे कि धान बेचने आए किसानों को प्रदेश सरकार व प्रशासन के तुग़लक़ी फ़रमानों और ख़रीदी केंद्रों की अव्यवस्था के चलते अनावश्यक परेशान न होना पड़े और निर्धारित समयावधि में उनका पूरा धान बिके और उसका पूरा भुगतान समय पर उसे मिले।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.