GLIBS

छग के विभूतियों के नाम पर संस्थानों का नामकरण भूपेश सरकार का सराहनीय फैसला: विनोद चंद्राकर

छग के विभूतियों के नाम पर संस्थानों का नामकरण भूपेश सरकार का सराहनीय फैसला: विनोद चंद्राकर

महासमुंद। विधायक विनोद चंद्राकर ने कुशाभाउ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय का नाम चंदूलाल चंद्राकर तथा कामधेनु विश्वविद्यालय का नामकरण वासुदेव चंद्राकर के नाम पर किए जाने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का आभार जताया है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के महापुरूषों की स्मृति को अक्षुण्ण बनाने या उनके योगदान को संजोए रखने संस्थानों का नामकरण न केवल छत्तीसगढ़वासियों के लिए बल्कि समाज के लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि चंदूलाल चंद्राकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर के पत्रकार रहे हैं और छत्तीसगढ़ से राष्ट्रीय और विश्व पटल पर वे पत्रकारिता के आधार स्तंभ रहे हैं। ऐसे में चंदूलाल चंद्राकर के नाम से विश्वविद्यालय को जाना व पहचाना जाना चाहिए। ऐसी महान विभूति के नाम पर पत्रकारिता विश्वविद्यालय का नामकरण किया जाना हर छत्तीसगढ़वासियों के लिए गर्व की बात है।

विधायक चंद्राकर ने कहा कि कुशाभाउ ठाकरे का न तो छत्तीसगढ़ से किसी प्रकार का जुड़ाव रहा है और न ही पत्रकारिता में रहा है। छत्तीसगढ़ राज्य की मांग करने वाले चंदूलाल चंद्राकर पहले व्यक्ति रहे हैं और उन्होंने पत्रकारिता से अपने कैरियर की शुरूआत की थी। ऐसे में कुशाभाउ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय का नामकरण चंदूलाल चंद्राकर के नाम से करने का राज्य सरकार का फैसला सराहनीय है। इसी तरह स्व.वासुदेव चंद्राकर ने मरते दम तक किसानों के हितों के लिए संघर्ष किया। उन्होंने किसानों के हितों के साथ कभी समझौता नहीं किया। छत्तीसगढ़ के चाण्यक्य के नाम से मशहूर वासुदेव चंद्राकर के नाम पर कामधेनु विश्वविद्यालय का नामकरण करना सराहनीय फैसला है। उन्होंने विधायक व पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर के विरोध जताने संबंधी बयान पर एतराज जताया है। उन्होंने विधायक व पूर्व मंत्री अजय चंद्राकर के बयान को ओछी राजनीति का परिचायक बताते कहा कि वे समाज के विरोधी हैं और छत्तीसगढ़ियों के विरोधी भी हैं। उनके बड़बोलेपन के कारण भाजपा उन पर कभी विश्वास नहीं की। इसी वजह से वे अपना मानसिक संतुलन खो बैठे हैं और उलजुलूल बयानबाजी कर रहे हैं।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.