GLIBS

मोदी सरकार के खिलाफ आरंग ब्लाक कांग्रेस कमेटी ने दिया धरना

मोदी सरकार के खिलाफ आरंग ब्लाक कांग्रेस कमेटी ने दिया धरना

आरंग। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर ब्लाक कांग्रेस कमेटी आरंग द्वारा स्थानीय बस स्टैंड में एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन का आयोजन छत्तीसगढ़ में केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा धान क्रय पर बोनस पर प्रतिबंध लगाए जाने के विरोध में किया गया। प्रदर्शन के दौरान ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष कोमल सिंह साहू ने  कहा कि जब से प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी है तब से विकास के हर क्षेत्र में छत्तीसगढ़ के खिलाफ  मोदी सरकार सौतेला व्यवहार कर रही है। मोदी को किसानों के कर्जमाफी से तकलीफ  हो रही है लेकिन उद्योगपतियों के हजारों, लाखों करोड़ रुपए का कर्ज माफ  करने से खुशी होती है। प्रधानमंत्री नहीं चाहते कि किसान भाइयों को उनकी उपज का उचित मूल्य मिले। यदि ऐसा नहीं है तो प्रदेश की कांग्रेस सरकार  द्वारा छत्तीसगढ़ के किसानों के धान का समर्थन मूल्य 2500/- क्विंटल देने में उन्हें तकलीफ  नहीं होनी चाहिए, बल्कि कांग्रेस सरकार का सहयोग करने के लिए आगे आना चाहिए। धरना-प्रदर्शन में मुख्य रूप से कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय सचिव व छत्तीसगढ़ प्रभारी चंदन यादव उपस्थित थे। उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्र की मोदी सरकार की गलत नीतियों के कारण देश में आर्थिक मंदी आ गई है। उद्योगधंधे बंद होने की कगार पर आ गए हैं। देश में चारों तरफ  बेरोजगारी छा गई है। किसान कर्ज के बोझ के कारण आत्महत्या कर रहे हैं। बड़े बड़े उद्योगपति देश छोड़कर रातों रात भाग रहे हैं। मोदी सरकार के चंद चहेते उद्योगपति देश का पैसा डुबाकर विदेशों में जा छुपे हैं और उन्हें मोदी सरकार का भरपूर संरक्षण मिला हुआ है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल वाली कांग्रेस सरकार ने सिर्फ दस माह में प्रदेश की उत्तरोत्तर उन्नित का कार्य किया है। पूरे देश में मंदी का आलम है किंतु हिंदुस्तान का छत्तीसगढ़ एकमात्र ऐसा राज्य है जहां भूपेश सरकार की नीतियों के चलते किसी भी क्षेत्र में कोई मंदी नहीं है। प्रदेश की कांग्रेस सरकार किसान हितैषी है। इसलिए भूपेश सरकार किसान हित में मोदी सरकार के खिलाफ हर लड़ाई लडऩे को तैयार है। धरना प्रदर्शन में प्रमुख रूप से जिला पंचायत अध्यक्ष शारदा देवी वर्मा, जिला पंचायत सदस्य द्वारिका साहू, शहर कांग्रेस अध्यक्ष अब्दुल कादिर, पिछड़ावर्ग जिला अध्यक्ष गौरव चंद्राकर, युवा कांग्रेस अध्यक्ष चंद्रप्रकाश साहू, वरिष्ठ कांग्रेसी एवं किसान नेता पारसनाथ साहू, केके चंद्राकर, युवराज सोनवानी, डॉ. घनश्याम टंडन, श्रवण चंद्राकर, नंदकुमार कोशल, घसिया राम साहू, देवशरण साहू, हिरामन साहू, चंद्रकला साहू, लल्ला साहनी, शोभा सोनी (पार्षद), मनोज तम्बोली (पार्षद), अवध साहू, चंद्रहास साहू, चेतन साहू, संतोष तारक, तोरण साहू, सलमा बेगम, राममोहन लोधी, अरविंद गुप्ता, रविन्द्र गुप्ता, दिनेश्वर तम्बोली, प्रदुम्मन शर्मा, एल्डरमेन (मंगलमूर्ति, गणेश बांधे, विजेंद्र लोधी, सदाराम जलक्षत्री, राजेश्वरी साहू), दीपक चंद्राकर, मनीष चंद्राकर, ललित चंद्राकर, शरद गुप्ता, सजल चंद्राकर, आलोक चंद्राकर, भगवती धुरंधर, हरी बंजारे, शोभित साहू, रामचंद वर्मा, माखन कुर्रे, कैलाश साहू, शिव साहू, खेमीचंद साहू, पूनम साहू, सुखू साहू, यादराम साहू, डुगेश्वर साहू, तुलसी भाई पटेल, चंपाकली कोसले, गौरीबाई देवांगन, गणेश बंदे, सनत बघेल, जय डहरिया, चम्मन कोसले, देवचरण देशलहरे सहित बड़ी संख्या में युवा कांग्रेस कार्यकर्ता, महिला कांग्रेस कार्यकर्ता एवं किसान उपस्थित थे।

 

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.