GLIBS

बूढ़ातालाब का सौंदर्यीकरण होना सांसद सुनील सोनी को रास नहीं आ रहा : घनश्याम तिवारी

रविशंकर शर्मा  | 01 Jun , 2020 05:09 PM
बूढ़ातालाब का सौंदर्यीकरण होना सांसद सुनील सोनी को रास नहीं आ रहा : घनश्याम तिवारी

रायपुर। ऐतिहासिक बूढ़ातालाब के सौंदर्यीकरण पर भाजपा सांसद सुनील सोनी की आपत्ति पर कांग्रेस ने पलटवार किया है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने कहा है कि भाजपा शासनकाल में जब मल्टीपर्पस स्कूल और स्प्रे स्कूल मैदान छोटे किए जा रहे थे, तब सुनील सोनी की अंतरात्मा कहा सोई हुई थी? तिवारी ने आरोप लगाया है कि बूढ़ातालाब को जलकुंभी मुक्त किया जाना सांसद सुनील सोनी को रास नहीं आ रहा है। सुनील सोनी बताएं कि उनको जलकुंभियों से इतना प्रेम क्यों है? महापौर कार्यकाल में जलकुंभियों को बनाए रखा। अब जलकुंभियों को हटाया जा रहा है तो भी सुनील सोनी को तकलीफ हो रही है। 15 वर्षों तक प्रदेश की सत्ता में दो-दो कद्दावर कैबिनेट मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, राजेश मूणत राजधानी से रहे। मगर बूढ़ातलाब पर कभी ध्यान नहीं दिया। कांग्रेस सत्ता पर है और जनभागीदारी से तालाब का विकास करना चाहती है तो कार्य अवरुद्ध कराने नए-नए प्रपंच किए जा रहे हैं। तिवारी ने कहा कि, वर्तमान में स्मार्ट सिटी संसदीय दल के सदस्य और 2004 से 2009 तक रायपुर महापौर रहे सुनील सोनी को यह भी बताना चाहिए कि, बूढ़ातालाब गॉर्डन के पेड़ों को किसने कटवाया था? बूढ़ातालाब को छत्तीसगढ़ पर्यर्टन मंडल को किसने सौंपा था, जो तालाब से जलकुंभी भी साफ नहीं कर पाता था। भाजपा शासनकाल में दक्षिण विधानसभा के विधायक पूर्वमंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने बूढ़ातालाब को लेकर कौन सा मॉडल बनवाया था,जिसमें दानी गर्ल्स और स्प्रे शाला के मैदान को छोटा कर दुकानों के लिए नींव खोदी गई थी।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.