GLIBS

ताम्रध्वज साहू ने आईजी-एसपी की ली बैठक, कहा- लॉकडाउन का सख्ती से कराएं पालन 

रविशंकर शर्मा  | 13 Apr , 2021 09:54 PM
ताम्रध्वज साहू ने आईजी-एसपी की ली बैठक, कहा- लॉकडाउन का सख्ती से कराएं पालन 

रायपुर। गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने Þमंगलवार को अपने रायपुर निवास कार्यालय से वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से सभी रेंज के पुलिस महानिरीक्षकों और पुलिस अधीक्षकों की बैठक ली। उन्होंने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिलों में लगाए गए लॉकडाउन की स्थिति और कानून-व्यवस्था की समीक्षा की। जिला प्रशासन से समन्वय कर लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने कहा है। उन्होंने लॉकडाउन के दौरान जारी गतिविधियों की जानकारी ली। कानून व्यवस्था के सुचारू संचालन के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

 गृहमंत्री ने कहा कि पिछले लॉकडाउन के अनुभव से हमें बहुत कुछ  सीखने को मिला है। उसी अनुभव के आधार पर एक्शन मोड में हमें काम करना है। उन्होंने कहा कि पुलिस अस्पतालों को पुलिसकर्मियों के लिए कोविड सेंटर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने के लिए जिला प्रशासन के साथ समन्वय बनाते हुए अपने संभाग और जिलों में लोगों से लॉकडाउन के नियमों का पालन कराएं और चेकिंग पॉइंट्स में मुस्तैद रहें। दिन में और रात में पेट्रोलिंग नियमित करें, गली, मोहल्ले में भी गश्त करते रहें।

उन्होंने अवैध शराब और नशे के अवैध कारोबार पर भी नजर रखने, पिछले वर्ष के लॉकडाउन में हुए नेचर आॅफ क्राइम की स्टडी करके अपने-अपने जिले में कानून व्यवस्था चुस्त रखने के निर्देश पुलिस अधिकारियों को दिए। गृह मंत्री ने कहा कि दवाइयों की कालाबाजारी और रेमडेसिविर वैक्सीन के अवैध बिक्री और ओवर रेट पर बेचने की शिकायत पर तुरंत कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि सभी आईजी और एसपी अपने जिले में पुलिस विभाग के सभी कर्मियों, शहीद परिवार वालों का शतप्रतिशत वैक्सीनेशन कराएं और सभी थानों में मास्क और सैनिटाइजर की व्यवस्था तय करें। स्टाफ की जरुरत पड़ने पर ट्रेनी डीएसपी की भी ड्यूटी फील्ड में लगाएं। उन्होंने कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए गाइड लाइन का पालन करते हुए इलाज में लगे डॉक्टरों, नर्सों और अन्य कर्मचारियों को पर्याप्त सुरक्षा देने के भी निर्देश दिए। वीडियो कांफ्रेंसिंग में अपर मुख्य सचिव गृह सुब्रत साहू, विशेष पुलिस महानिदेशक आर के विज सहित गृह विभाग के वरिष्ठ अधिकारी और सभी रेंज के पुलिस महानिरीक्षक एवं पुलिस अधीक्षक जुड़े थे।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.