GLIBS

विद्यार्थी प्रतिभा निखारकर करें समाज और देश का नेतृत्व : विधायक विकास उपाध्याय

राहुल चौबे  | 11 Oct , 2019 03:36 PM
विद्यार्थी प्रतिभा निखारकर करें समाज और देश का नेतृत्व : विधायक विकास उपाध्याय

रायपुर। प्रदेश में संचालित 41 एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों की राज्य स्तरीय सांस्कृतिक उत्सव प्रतियोगिता आज राजधानी के पंडित दीनदयाल उपाध्याय ऑडिटोरियम में शुरू हुई। विधायक विकास उपाध्याय ने प्रतियोगिता का शुभारंभ करते हुए प्रतिभागियों को शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। राज्य स्तरीय सांस्कृतिक प्रतियोगिता में एकल संगीत, समूह संगीत, एकल नृत्य और समूह नृत्य की प्रतियोगिता में संभाग स्तर से लगभग 125 प्रतिभागी अपनी कला का प्रदर्शन कर रहे हैं। उद्घाटन सत्र में सरगुजा संभाग से कोरिया जिले के बच्चों ने सुआ नृत्य, दुर्ग संभाग से राजनांदगांव जिले की पेण्ड्री विद्यालय के बच्चों ने करमा व बस्तर संभाग से डण्डा नृत्य की शानदार प्रस्तुति दी। प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को राजस्थान के उदयपुर में आयोजित होने वाली राष्ट्रीय प्रतियोगिता में शामिल किया जाएगा। विभिन्न विधाओं के विजेताओं को प्रमाण पत्र और नगद पुरस्कार दिया जाएगा। विधायक विकास उपाध्याय ने  प्रतियोगिता का शुभारंभ करते हुए कहा कि एकलव्य विद्यालयों में पढऩे वाले बच्चे प्रदेश और देश का भविष्य हैं। इन विद्यालयों में पढऩे वाले बच्चों में प्रतिभा की कमी नहीं है।

यहां पढऩे वाले बच्चे अपनी प्रतिभा को निखारकर समाज और देश का नेतृत्व करें। उपाध्याय ने कहा कि एकलव्य के पास हुनर और क्षमता थी। उसने सीमित संसाधन में लक्ष्य प्राप्त किया। प्रतिभागी बच्चे भी एकलव्य की भांति मेहनत और लगन से लक्ष्य को प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की सोच भी एकलव्य की भांति है जिनके पास प्रतिभा और क्षमता है। सरकार उनके हुनर निखारने का अवसर प्रदान कर रही है। एकलव्य विद्यालय में जनजातीय बच्चों के विकास हेतु सतत प्रयत्नशील है। उपाध्याय ने कहा कि कक्षा दसवीं बोर्ड परीक्षा की प्रावीण्य सूची में एकलव्य आदर्श विद्यालय छूरीकला जिला कोरबा के छात्र राजेन्द्र प्रसाद कंवर ने स्थान प्राप्त किया। राज्य और राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगी परीक्षाओं में 42 विद्यार्थियों ने जेईई मेन्स, 08 विद्यार्थियों ने मेडिकल के लिए नीट में अर्हता प्राप्त की। इनमें से 9 विद्यार्थियों ने एनआईटी और समकक्ष संस्थानों में प्रवेश लिया। वर्ष 2019-20 में एकलव्य विद्यालय कटेकल्याण की किरण बघेल ने मद्रास आईआईटी में प्रवेश लेकर कीर्तिमान बनाया। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर 2 विद्यार्थियों ने खेलकूद में उपलब्धि अर्जित की और राष्ट्रीय स्तर पर 18 पदक प्राप्त किए। आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास के उपायुक्त प्रज्ञान सेठ ने स्वागत भाषण देते हुए विभागीय प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। विभाग के उपायुक्त संजय गौड़ ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.