GLIBS

प्रदेशभर में जांच और उपचार के नाम पर लूट जारी: संजय श्रीवास्तव 

रविशंकर शर्मा  | 18 Sep , 2020 11:06 PM
प्रदेशभर में जांच और उपचार के नाम पर लूट जारी: संजय श्रीवास्तव 

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता संजय श्रीवास्तव ने कोरोना मामलों की जांच और इलाज में मची लूट को प्रदेश सरकार की एक और विफलता बताया है। उन्होंने कहा है कि कोरोना टेस्ट के लिए सरकार की नई गाइडलाइन के बावजूद न केवल राजधानी, अपितु प्रदेशभर में जांच और उपचार के नाम पर लूट जारी है। सरकार की नाक के नीचे राजधानी के कई बड़े निजी अस्पतालों में कोरोना का डर दिखाकर, बेड की कमी बताकर बेड मुहैया कराने, चाकू के वार से जख़्मी के इलाज के लिए लोगों से लाखों रुपए न केवल मांगे जा रहे हैं, बल्कि परिजनों को इसके लिए बाध्य तक किया जा रहा है। श्रीवास्तव ने इसे प्रदेश सरकार की कलंकित कार्यप्रणाली का नमूना बताया है। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता ने आरोप लगाया है कि अपने तमाम दावों के ढोल पीट रही सरकार यह देखने की जरूरत महसूस नहीं कर रही है कि कोविड सेंटर्स में कोरोना के नाम पर किस कदर लूट मची हुई है। हालात अब इस बात की आशंका को बल प्रदान कर रहे हैं कि क्या प्रदेश सरकार और निजी अस्पतालों में कोई गुप्त समझौता हुआ है,जिसके चलते राजधानी समेत प्रदेशभर के निजी अस्पताल सरकार की तयशुदा गाइडलाइन के बावजूद लूट का यह खेल चल रहा है। श्रीवास्तव ने कहा है कि कोविड सेंटर्स को इस कदर नारकीय यंत्रणा का केंद्र बनाकर प्रदेश सरकार ने रख दिया है कि वहां भर्ती मरीज भागकर ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या के लिए विवश हो रहे हैं और सरकार व प्रशासन अब भी अपनी झूठी वाहवाही में आत्ममुग्ध होते जरा भी नहीं लजा रहे हैं। निजी अस्पतालों में मरीजों और खाली बेड्स की जानकारी हर तीन घंटे में अपडेट करने की व्यवस्था का पालन तक सरकार नहीं करा पा रही है और मरीज इलाज के लिए अस्पतालों के चक्कर लगाने विवश हैं।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.