GLIBS

सूरजपूर जिले के लटोरी को मिलेगा तहसील का दर्ज, मुख्यमंत्री ने की घोषणा

ग्लिब्स टीम  | 09 Nov , 2019 07:50 PM
सूरजपूर जिले के लटोरी को मिलेगा तहसील का दर्ज, मुख्यमंत्री ने की घोषणा

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सूरजपुर जिले के ग्राम पंचायत सिलफिली में आयोजित सुपोषण संगोष्ठी एवं किसान सभा को सम्बोधित करते हुए लटोरी को तहसील बनाने की घोषणा की। मुख्यमंत्री ने जिले को 149 करोड़ 4 लाख 24 हजार से अधिक की राशि के कुल 532 विकास एवं निर्माण कार्यों का लोकार्पण एवं भूमिपूजन कर सौगात दी। इनमें 55 करोड़ 73 लाख 91 हजार रूपये के 121 कार्यों का लोकार्पण एवं 93 करोड 30 लाख 33 हजार रूपये से अधिक के 411 कार्यों का भूमिपूजन शामिल है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि किसानों से हर परिस्थिति में 25 सौ रुपये में धान खरीदी करेंगे। हमने केंद्र सरकार से चावल खरीदी का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि कमजोर और कुपोषित बच्चों से मजबूत छत्तीसगढ़ नहीं बन सकता है, इसलिए सुपोषण अभियान शुरू किया गया है। इसमें महिलाओं और बच्चों को पोषण युक्त आहार दिया जा रहा है। मुझे खुशी है कि सूरजपुर पहला जिला है जहां वरिष्ठ नागरिकों को घर पर ही पेंशन पहुँचाई जा रही है। सरकार ने समृद्ध छत्तीसगढ़ बनाने के लिए किसानों का ऋण माफ किया है और धान पर बोनस दे रहे हैं। सरकार ने बिजली बिल आधा किया है और 35 किलो चावल दे रही हैं। उन्होंने कहा कि कुदरगढ़ सूरजपुर निवासियों के साथ ही छत्तीसगढ़ का प्रमुख आस्था का केन्द्र है, वहां नलजल योजना का कार्य शीघ्र शुरू किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन द्वारा लगाये गये विभिन्न स्टालों का अवलोकन किया। सूरजपुर ट्रायबल मार्ट के माध्यम से एनआरएलएम महिला स्व सहायता समूहो को रोजगार तथा आय में वृद्धि के लिए मुख्यमंत्री ने प्रसन्नता व्यक्त की। तेजस्वी सूरजपुर के अंतर्गत ’गढबो नवा छत्तीसगढ़ जाहु कमाये बर’ इस नारे के साथ रोजगार उपलब्धता तथा आजीविका के नये अवसर प्रदान कर रही है। उन्होंने शिक्षा, महिला एवं बाल विकास, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग, जिला पंचायत के नरवा, गरुवा, घुरुवा एवं बाड़ी के स्टालों का अवलोकन किया।

 

कार्यक्रम में किसान परिवार की बालिका चांदनी सिंह ने मंच से ही कर्ज माफी करने पर मुख्यमंत्री को सरगुजिहा बोली में आभार व्यक्त किया। चांदनी ने कहा कि मेरे पिता कृषक है उनपर बैंक का बहुत ऋण था जिसे आपके नेतृत्व वाली सरकार ने माफ किया। इस अवसर पर चांदनी ने भूपेश बघेल को गुलाब का फूल भेंट किया। उच्च शिक्षा एवं जिले के प्रभारी मंत्री  उमेश पटेल ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद देते हुए जिले को मिले सौगातों के लिए जनता की तरफ से आभार व्यक्त किया। पटेल ने कहा कि मुख्यमंत्री ने प्रभारी मंत्रियों को डीएमएफ मद की जिम्मेदारी दी है हम उसका समुचित उपयोग कर रहे है। डीएमएफ मद का उपयोग जिले में एम्बुलेंस, रोजगार, स्व सहायता समूहों के आय मे वृद्धि तथा जनजीवन को बेहतर बनाने में किया जा रहा है।

 

 

 

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.