GLIBS

अमित-ऋचा का नामांकन निरस्त होने पर भड़के जोगी कांग्रेसी,पुतला दहन के दौरान पुलिस के साथ जमकर झूमा झटकी

रविशंकर शर्मा  | 18 Oct , 2020 10:04 PM
अमित-ऋचा का नामांकन निरस्त होने पर भड़के जोगी कांग्रेसी,पुतला दहन के दौरान पुलिस के साथ जमकर झूमा झटकी

रायपुर। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी और ऋचा जोगी का नामांकन निरस्त होने पर जेसीसीजे के लोग भड़क गए हैं। युवा जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) के नेता प्रदीप साहू ने आरोप लगाया है कि तानाशाह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आदेशानुसार नामांकन अवैधानिक रूप से निरस्त किए गए। इसके वरोध में रविवार को बड़ी संख्या में जोगी कांग्रेसी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का पुतला जलाने धरना प्रर्दशन करने बूढ़ापारा पहुंचे। पुतला को जलाने के दौरान पुलिस बल के साथ झूमाझटकी हुई। पुतला का अस्थि पंजर अलग-अलग हो गया। इसे जोगी कांग्रेसियों ने पुलिस से छीनकर बूढ़ातालाब में बहाकर भड़ास निकाली। प्रदीप साहू ने कहा है कि 17 अक्टूबर का दिन छत्तीसगढ़ के इतिहास में लोकतंत्र का काला दिन के रूप में जाना जाएगा। इस दिन तानाशाह मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आदेश पर न सिर्फ हमारे अध्यक्ष अमित जोगी और ऋचा जोगी का नामांकन निरस्त हुआ हैं, बल्कि लोकतंत्र की हत्या भी हुई है। जोगी परिवार को मरवाही से चुनाव लड़ने से रोककर भूपेश बघेल ने स्व. जोगी और मरवाही की जनता का अपमान भी किया है। प्रदीप साहू ने कहा है बात उठेगी तो दूर तलक जाएगी, जोगी परिवार से जाति पूछने वाले पहले अपने गांधी परिवार से पूछे कि खान परिवार, गांधी परिवार कैसे हो गया। 20 साल से मरवाही की जनता को धोखे में रखने का आरोप लगाने वाले पहले यह बताए कि किस परिवार ने देश को 70 साल से धोखा दिया है।


जनता कांग्रेस महिला विभाग की प्रदेश अध्यक्ष अनामिका पॉल ने कहा है कि मरवाही की जनता इतनी बेबस और बेवकूफ नहीं कि कांग्रेस की चाल को नहीं समझ रही है। चुनाव लड़ने से पहले ही कांग्रेस चुनाव हार गई है और जोगी कांग्रेस का मुकाबला करने से कांग्रेस डर गई है। इसलिए उन्होंने अमित जोगी और ऋचा जोगी को नामांकन षडयंत्र पूर्वक निरस्त कर दिया। कार्यक्रम में महेन्द्र चंद्रकार, राजीव कश्यप, संदीप यदु, विक्रम नेताम, अजय देवांगन, हरीश वर्मा, सुजीत डहरिया, नजीब अशरफ , राज नायक, डेमन लाल, अनिल भारती,, सन्नी सालोमन,, मंसु निहाल, सन्नी तिवारी, सन्नी सिंह होरा, दशमु तांडी, राजकिशोर साहू, रोहित नायक, गजेन्द्र कश्यप, संजू धीवर, दुर्गेश सारथी, सनील नेताम, दिलीप राठौर, सतीश नागवानी, मनीराम, मनीष धीवर, प्रसन्न पंडया, राहूल बंजारे, राजेश, राज, मंजीत चेलक, शाहरूख, अफसार कुरैशी, पारस साहू, अजय सेन, अजय चंद्राकर, जयप्रकाश, विवेक बंजारे, योगेंद्र देवांगन, चेतन आडिल सहित बड़ी संख्या में जोगी कांग्रेसी उपस्थित थे।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.