GLIBS

प्रदेश सरकार के फैसले के विरोध में जेसीसीजे ने किया प्रदर्शन, राज्यपाल के नाम सौंपा ज्ञापन

रविशंकर शर्मा  | 08 Nov , 2019 08:47 PM
प्रदेश सरकार के फैसले के विरोध में जेसीसीजे ने किया प्रदर्शन, राज्यपाल के नाम सौंपा ज्ञापन

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने 15 नवंबर से धान खरीदी न कर 1 दिसंबर से खरीदी करने के फैसले के खिलाफ और शासन द्वारा छत्तीसगढ़ नगर पालिक निगम संशोधन अध्यादेश 2019 जारी कर सरपंच व महापौर चुनने का अधिकार छीनने, महापौर चुनने का अधिकार जनता को वापस दिलाए जाने की मांग को लेकर शुक्रवार को धरना दिया। धरना-प्रदर्शन के बाद राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा। जकांछ (जे) रायपुर  जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश देवांगन व केंद्रीय कार्यालय प्रभारी राहिल रउफी ने बताया कि आज पार्टी ने फायर ब्रिगेड चौक सुभाष स्टेडियम के सामने प्रदेश सरकार के विरोध में धरना दिया। उनका कहना है कि प्रशासन द्वारा जो जगह हमें दी गई थी, वहां आज कांग्रेसियों ने पहले से अपना पंडाल लगाकर धरना दिया। इसके बावजूद जनता कांग्रेस ने अपना धरना पंडाल उनके सामने लगाया। इस धरने में जकांछ के पदाधिकारी बड़ी संख्या में शामिल हुए। दोनों ने बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार ने अपने घोषणा पत्र में 2500 रुपए क्विंटल धान का समर्थन मूल्य देने का वादा किया था, लेकिन 1815 रुपए में धान खरीदी का आदेश देकर किसानों के साथ धोखा किया है। इसके अलावा   15 नवंबर से धान खरीदी न कर 1 दिसंबर से खरीदी करने के फैसले के खिलाफ व नगर पालिक निगम संशोधन अध्यादेश 2019 जारी कर सरपंच व महापौर चुनने का अधिकार छीन लिया। सरपंच व महापौर चुनने का अधिकार जनता को वापस दिलाए जाने की मांग को लेकर आज धरना दिया गया। फिर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया। धरना को पार्टी के वरिष्ठ नेता इकबाल अहमद रिजवी, मीडिया चेयरमैन रायपुर जिला अध्यक्ष डॉक्टर ओमप्रकाश देवांगन, केंद्रीय कार्यालय प्रभारी राहिल, रायपुर ग्रामीण अध्यक्ष डॉक्टर अमीन खान, रायपुर लोकसभा प्रभारी डॉ अनामिका पाल, एवज देवांगन, प्रदीप साहू, माखन ताम्रकार, बलदाऊ मिश्रा, संदीप यदु, भगत हरवंश व हितेश कुमार ने भी संबोधित किया।
 

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.