GLIBS

Video: अयोध्या में माता कौशल्या के मायके से किसी भी साधु-संत,धर्माचार्य को बुलावा नहीं : विकास तिवारी

रविशंकर शर्मा  | 02 Aug , 2020 06:44 PM
Video: अयोध्या में माता कौशल्या के मायके से किसी भी साधु-संत,धर्माचार्य को बुलावा नहीं : विकास तिवारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता व प्रदेश सचिव विकास तिवारी ने कहा है कि, उत्तर प्रदेश राज्य में भारतीय जनता पार्टी का शासन है। राजनीतिक वैमनस्यता के कारण उन्होंने कौशल प्रदेश छत्तीसगढ़ राज्य के किसी भी धर्मगुरु साधु संत,धर्माचार्य और प्रदेश प्रमुख को आमंत्रण नहीं दिया गया। इससे पौने तीन करोड़ की आबादी वाले भगवान राम के ननिहाल और कौशल्या माता के मायके में निराशा व्याप्त हो गई है। 5 दिसंबर को होने वाले अयोध्या के भूमि पूजन कार्यक्रम में मंदिर निर्माण समिति की ओर से पूरे देश से 600 से अधिक लोगों को आमंत्रित किया गया है। इसमें अधिकतर आरएसएस विश्व हिंदू परिषद और बड़े औद्योगिक घराने से तालुकात रखते हैं। कांग्रेस प्रवक्ता ने उत्तर प्रदेश राज्य के पावन नगरी अयोध्या में 5 अगस्त को होने वाले बहुप्रतीक्षित भगवान राम के मंदिर के भूमि पूजन आयोजन का स्वागत किया है। तिवारी ने कहा है कि भगवान रामचंद्र का भव्य मंदिर और रामराज्य की कल्पना, भारतवर्ष के पूर्व युवा प्रधानमंत्री स्व.राजीव गांधी ने देखी थी। रामलला के पूजन के लिए सालों साल बंद पड़े मंदिर का ताला खुलवाया था। इसके बाद ही,पूरे देश और विदेश के राम भक्त राम लला के दर्शन कर सके। मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम के ननिहाल कौशल प्रदेश, जो कि माता कौशल्या का मायका है, जहां भगवान राम ने अपने वनवास के अधिकतम समय व्यतीत भी किए हैं। जहां पर विश्व का एकमात्र माता कौशल्या का मंदिर भी है। उस कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि ,माता कौशल्या के मायके कौशल राज्य छत्तीसगढ़ के प्रमुख मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की ओर से पूरे विश्व में एकमात्र स्थित कौशल्या माता के मंदिर का जीर्णोद्धार करवाने का संकल्प लिया है। निर्माण कार्य शीघ्र अति शीघ्र प्रारंभ होने जा रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कौशल्या माता के मंदिर निर्माण को तेजी से बनाने के लिए कहा है। उन्होंने कहा है कि आस-पास के क्षेत्र को पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाएगा। ताकि पूरे विश्व के राम भक्त अपने आराध्य के ननिहाल कौशल प्रदेश छत्तीसगढ़ आकर माता कौशल्या का दर्शन कर सके। राम वन गमन में भी चल कर अपने आराध्य का सुमिरन कर सकेंगे। कांग्रेस प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा है कि राजनीति से ऊपर उठकर मंदिर निर्माण समिति आरएसएस और विश्व हिंदू परिषद को तत्काल माता कौशल्या के कौशल प्रदेश छत्तीसगढ़ राज्य के मुखिया भूपेश बघेल को सपत्नीक अयोध्या के  राम मंदिर भूमि पूजन के कार्यक्रम में सम्मिलित होने का निमंत्रण भेजना था। ताकि माता कौशल्या के जन्म भूमि की पावन रज को अयोध्या लेजाकर भगवान राम के मंदिर के भूमि पूजन पर अर्पित कर सकें।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.