GLIBS

सरकार के संरक्षण में अपराधी बेख़ौफ़, जनता असहाय: विष्णुदेव साय

राहुल चौबे  | 26 Aug , 2021 07:27 PM
सरकार के संरक्षण में अपराधी बेख़ौफ़, जनता असहाय: विष्णुदेव साय

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा है कि छत्तीसगढ़ प्रदेश इन दिनों महिलाओं के साथ हो रहे दुष्कर्म, सामूहिक दुष्कर्म, अपहरण, मानव तस्करी, निर्मम हत्याओं, शराब, गांजा-अफ़ीम और ड्रग्स की तस्करी जैसे जघन्य और मानवता को लज्जित कर देने वाले अपराधों को लेकर काफ़ी चिंतातुर है। प्रदेश सरकार पूरी तरह संवेदनहीन है और महिलाओं के साथ-साथ समाज के हर तबके की आबरू और जान सांसत में है। साय ने कहा कि प्रदेश में क़ानून के राज का ख़ौफ़ अपराधियों में ज़रा भी नहीं रह गया है। अपराधियों के बढ़ते दुस्साहस का आलम यह है कि न तो प्रदेश की राजधानी तक सुरक्षित है और न ही राजधानी में क़ानून की रखवाली में लगे पुलिस के जवान ही अब सुरक्षित रह गए हैं।


साय ने कहा कि सरेआम ख़ूनी वारदातें अंजाम देकर गुंडा तत्व  आतंक फैला रहे हैं। कई मामलों में तो अपराधियों को सत्तावादी संरक्षण दिया जा रहा है और कई ऐसे शर्मनाक मामलों में कांग्रेस के पदाधिकारियों, नेताओं, जनप्रतिनिधियों व उनके रिश्तेदारों-क़रीबियों की संलिप्तता तक जगज़ाहिर हुई है। साय ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार के ढाई-पौने तीन साल के शासनकाल में अब तक बलात्कार के 10,829 मामले दर्ज हुए हैं,जिनमें सामूहिक दुष्कर्म के 1,047 और और नाबालिगों से बलात्कार के लगभग 4,000 मामले हैं। इसी तरह नाबालिगों के ग़ुम होने के 6,125 मामले दर्ज हुए हैं। आत्महत्या के कुल 19,084 मामलों में 94 मामले सामूहिक हत्याओं के हैं। शराबखोरी के चलते महिलाओं के साथ घरेलू हिंसा के मामले भी बढ़े हैं। मानव तस्करी के 111 मामले मानव सभ्यता के बर्बर युग की याद दिलाते हैं। साय ने कहा कि इस सरकार की कुल जमा उपलब्धि यही है कि ढाई-पौने तीन साल में इस नाकारा सरकार ने छत्तीसगढ़ को अपहरण के मामले में देश में सातवें स्थान पर, बच्चों के साथ अपराध के मामलों में तीसरे और आत्महत्या के मामलों में दूसरे स्थान पर ला पटका है।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.