GLIBS

धमतरी, मगरलोड और कुरूद जनपद में कांग्रेस का कब्जा, नगरी में भाजपा ने मारी बाजी

वैभव चौधरी  | 13 Feb , 2020 05:46 PM
धमतरी, मगरलोड और कुरूद जनपद में कांग्रेस का कब्जा, नगरी में भाजपा ने मारी बाजी

धमतरी। नगरीय निकाय चुनाव में मिली जीत को बरकरार रखते हुए कांग्रेस ने त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में भी परचम लहराने में कामयाब रहा। जिले के चारों जनपद पंचायत के लिए आज गुरुवार को अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए चुनाव हुए। इसमें धमतरी, कुरूद और मगरलोड जनपद पंचायत पर कांग्रेस का कब्जा हुआ। वही नगरी जनपद पंचायत में भाजपा अध्यक्ष बनाने में कामयाब रहा। बता दें कि आज भारी गहमागहमी के बीच चारों जनपद पंचायत में अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के लिए मतदान हुआ। अध्यक्ष,उपाध्यक्ष चुनाव के मद्देनजर कांग्रेस और भाजपा के बड़े नेता जनपद में डटे रहे। वही धमतरी जनपद पंचायत में क्रास वोटिंग की संभावना पहले से ही था। मतदान के वक्त भाजपा समर्थित एक जनपद सदस्य ने कांग्रेस के पक्ष में क्रास वोटिंग कर दिया। मगरलोड जनपद पंचायत में भी कांग्रेस का कब्जा हुआ है। कांग्रेस समर्थित अध्यक्ष के दावेदार ज्योति ठाकुर को 25 में से 13 वोट मिला तो भाजपा को 12 वोट।
सिहावा विधानसभा अंर्तगत जनपद पंचायत नगरी में हुए जनपद चुनाव में भाजपा और कांग्रेस समर्थित दस-दस उम्मीदवारों ने जीत हासिल की थी। इसके साथ ही 5 सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवारों ने विजय प्राप्त की थी। बताया जा रहा है कि यहां भी कांग्रेस का जनपद अध्यक्ष बनना लगभग तय था लेकिन कांग्रेस पार्टी के कुछ आला नेताओं से नाराजगी के चलते दिनेश्वरी नेताम ऐन वक्त में भाजपा का दामन थाम लिया। जिसे भाजपा ने अपना अध्यक्ष के लिए दावेदार बनाया और दिनेश्वरी नेताम ने जीत हासिल की। नगरी जनपद में दिनेश्वरी नेताम को 13 मत मिले। वही भाजपा का गढ़ कहे जाने वाले जनपद पंचायत कुरूद में भाजपा को नगरीय निकाय चुनाव के बाद पंचायत चुनाव में भी करारी शिकस्त मिली है। नगर पंचायत को गंवाने के बाद भाजपा ने यहां जनपद पंचायत भी इनके हाथों से निकल गई। आज जनपद पंचायत के अध्यक्ष के लिए हुए मतदान में कांग्रेस के शारदा साहू को 13 मत मिले। बहरहाल जिले के चार जनपद पंचायतों में से तीन जनपद पंचायत में कांग्रेस समर्थित प्रत्याशियों को जीत मिलने से कांग्रेस काफी गदगद नज़र आ रही है और पार्टी में जश्न का माहौल है।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.