GLIBS

मध्यान्ह भोजन वितरण में छत्तीसगढ़ टॉप पर,आपदाकाल में ओछी राजनीति करने वाली भाजपा को करारा जवाब : घनश्याम

रविशंकर शर्मा  | 16 Sep , 2020 08:40 PM
मध्यान्ह भोजन वितरण में छत्तीसगढ़ टॉप पर,आपदाकाल में ओछी राजनीति करने वाली भाजपा को करारा जवाब : घनश्याम

रायपुर।  देश के छोटे राज्यों में एक छत्तीसगढ़ का 90 प्रतिशत से अधिक स्कूली बच्चों को सूखा राशन वितरण कर देश में प्रथम स्थान पाना भूपेश सरकार की आपदाकाल में संवेदनशीलता को दर्शाता है। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी प्रवक्ता घनश्याम राजू तिवारी ने मध्यान भोजन वितरण में देश में अव्वल आने पर कांग्रेस भूपेश सरकार को बधाई दी है। संकटकाल के इस दौर में सरकार की संवेदनशीलता का आभार माना है। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा है कि, छत्तीसगढ़ भाजपा वैश्विक महामारी कोरोना संकटकाल के वक्त भी  झूठे और तथ्यविहीन आरोप लगाकर राजनीति करने से बाज नहीं आ रही है, आपदाकाल में प्रदेश सरकार की यह उपलब्धि भाजपा के मुंह पर करारा तमाचा है। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा है कि,केंद्र की मोदी सरकार राज्य के साथ लगातार पक्षपात कर सौतेला व्यवहार कर रही है। जीएसटी की लगभग 29 सौ करोड़ की राशि पिछले 6 माह की नहीं दी जा रही है।  प्रदेश के 25 लाख किसानों का किसान सम्मान निधि से नाम हटा दिया गया है। जबकि प्रदेश में 19.5 लाख पंजीयक किसान है। मजदूर कल्याण योजना से प्रदेश को अलग कर दिया गया है। छत्तीसगढ़ भाजपा के 9 सांसद छत्तीसगढ़ के अधिकारों को मोदी सरकार के सामने रखने में असफल साबित हुए हैं। भाजपा अपने असफल सांसदों की निष्क्रियता पर पर्दा डालने के लिए राज्य सरकार पर आरोप लगाकर इतिश्री कर लेती हैं। कोरोना संक्रमण से देश की लगभग आधी आबादी को भाजपा मोदी सरकार की गलतियों का खामियाजा भोगना पड़ रहा है। देश में 51 लाख लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। 82 हजार 66 लोगों की मौतें हो चुकी है। प्रतिदिन लगभग 1 लाख मरीज बढ़ रहे हैं। मोदी सरकार ताली, थाली पिटवाने से असफल होने के बाद राज्यों के भरोसे छोड़ अपने हाथ खड़े कर लिए हैं।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.