GLIBS

कोरोना काल में भी हो रही छत्तीसगढ़ की प्रगति, महज 4 दिनों में 8 जिलों को मिली 2660 करोड़ रुपए की सौगात

रविशंकर शर्मा  | 11 Jun , 2021 08:58 PM
कोरोना काल में भी हो रही छत्तीसगढ़ की प्रगति, महज 4 दिनों में 8 जिलों को मिली 2660 करोड़ रुपए की सौगात

रायपुर। कोरोना संक्रमितों की संख्या राज्य में घटने के साथ विकास कार्यों को प्रदेश में एक बार फिर गति मिल गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने महज चार दिनों में ही आठ जिलों को 2660 करोड़ रुपए की सौगात देने के साथ 3433 नए विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया है। नए कार्यों के लोकार्पण और भूमिपूजन से जहां जिलों में विकास की नई इबारत लिखी जा रही है, वहीं निर्माण कार्यों से रोजगार की नई संभावनाएं बनने के साथ राज्य की प्रगति तय हो रही है।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कोरोनाकाल में भी प्रदेश के लोगों से लगातार संवाद बनाए हुए हैं और प्रदेशवासियों को विकास कार्यों की सौगात दे रहे हैं। बीते चार दिनों में मुख्यमंत्री बघेल ने राज्य के आठ जिलों को 2660 करोड़ रुपए की सौगात दी है। इसी कड़ी में उन्होंने दुर्ग, बालोद, बलौदाबाजार-भाटापारा, महासमुंद, गरियाबंद, कबीरधाम, राजनांदगांव और धमतरी में जनसुविधा के विकास और निर्माण से कुल 3433 कार्यों का वर्चुअल लोकार्पण व भूमिपूजन किया है। मुख्यमंत्री जिलों में विकास एवं निर्माण कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन करने के साथ-साथ उस जिलों के लोगों के बीच संवाद भी स्थापित कर रहे हैं। वे शासन की विभिन्न योजनाओं एवं कार्यक्रमों से जुड़कर लाभ उठाने वाले हितग्राहियों, किसानों, ग्रामीणों, महिला स्व-सहायता समूहों और विभिन्न श्रेणी के हितग्राहियों के चर्चा भी कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने 8 जून को दुर्ग और बालोद जिले को 685 करोड़ रुपए की लागत वाले 244 कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन किया। इसमें दुर्ग जिले में 285.87 करोड़ की लागत वाले 57 कार्यों और बालोद जिले में 399.32 करोड़ रुपए  की लागत वाले 187 विकास एवं निर्माण कार्य शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने 9 जून को अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में बलौदाबाजार-भाटापारा और महासमंद जिले में लगभग 565 करोड़ रुपए की लागत के 1430 कार्योें का लोकार्पण और भूमिपूजन किया है। इसमें बलौदाबाजार जिले के लिए 295 करोड़ रुपए की लागत के 1172 कार्यों का और महासमुंद जिले के लिए 270 करोड़ रुपए की लागत के 258 कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन शामिल है।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 10 जून को गरियाबंद और कबीरधाम जिले में 581 करोड़ 97 लाख रुपए की लागत के 1270 कार्यों का लोकार्पण-भूमिपूजन किया। इसमें गरियाबंद जिले में 176 करोड़ 94 लाख रुपए के 211 कार्यों का लोकार्पण और 180 करोड़ 29 लाख रुपए के 305 कार्यों का भूमिपूजन और कबीरधाम जिले में 98 करोड़ 73 लाख रुपए के 415 कार्यों का लोकार्पण और 126 करोड़ एक लाख रुपए के 339 कार्यों का भूमिपूजन शामिल है।

मुख्यमंत्री ने 11 जून को राजनांदगांव और धमतरी जिले को लगभग 828 करोड़ 37 लाख रुपए की लागत के 462 कार्यों की सौगात दी। बघेल ने राजनांदगांव जिले में 556 करोड़ 86 लाख रुपए की लागत के 192 विभिन्न निर्माण कार्यों का शिलान्यास और लोकार्पण किया। इनमें 231 करोड़ 18 लाख रुपए की लागत से 135 कार्यों का शिलान्यास और 325 करोड़ 68 लाख 20 हजार रुपए की लागत के 57 कार्यों का लोकार्पण हुआ। मुख्यमंत्री ने धमतरी जिले में 271 करोड़ 51 लाख रुपए की लागत के 270 कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया। इनमें से 115 करोड़ 77 लाख रुपए की लागत के 146 कार्यों का लोकार्पण और 155 करोड़ 74 लाख रुपए की लागत के 124 कार्यों का शिलान्यास का कार्य शामिल है।

ताज़ा खबरें

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.