GLIBS

केन्द्र सरकार के पास महंगाई नियंत्रण करने की कोई योजना नहीं : वंदना राजपूत

रविशंकर शर्मा  | 21 Nov , 2020 08:40 PM
केन्द्र सरकार के पास महंगाई नियंत्रण करने की कोई योजना नहीं : वंदना राजपूत

रायपुर। महंगी दाल, सब्जी, आलू, प्याज  की मार ने पहले ही लोगों का दम निकाल रखा था।अब खाद्य तेलों के दामों में बेतहाशा वृद्धि से आमजनता चिंतित और परेशान हैं। प्रदेश कांग्रेस कमेटी की प्रवक्ता वंदना राजपूत ने आरोप लगाया है कि केन्द्र सरकार की गलत नीतियों के कारण दिनों-दिन महंगाई बढ़ती जा रही है। महिलाओं के रसोई का बजट पूरी तरह से डगमगा गया है। बढ़ती महंगाई आम जनता के लिए गले का फांस बनती जा रही है। भाजपा ने दावा किया था कि हम सत्ता में आते ही महंगाई को कम करने का काम करेंगे,लेकिन जिस हिसाब से महंगाई बढ़ रही है, रोकने में सरकार नाकाम रही है। वंदना राजपूत ने पूछा है कि क्या सरकार के पास महंगाई को रोकने के लिए कोई योजना नहीं है?
वंदना राजपूत ने कहा है कि दाम आसमान छू रहे हैं और सरकार मूकदर्शक बनकर बैठी है।

खाद्य पदार्थों की कीमतें जिस तेजी से बढ़ी है, उससे मध्यम वर्ग और उच्च मध्यम वर्ग की भी कमर टूटने लगी है। यह आश्चर्यजनक है कि केन्द्र सरकार में अनेक बुद्धिजीवियों की मौजूदगी के बावजूद खाद्य पदार्थों व अन्य दैनिक उपभोग वस्तुओं की कीमतें आसमान छू रही हैं। कुछ ही महिनों में ही अनेक खाद्य पदार्थों की कीमतें दो गुनी हो गई है। इससे केन्द्र सरकार की नीतियों पर प्रश्नचिह्न लगना स्वाभाविक है। बढ़ती हुई महंगाई ने तो भाजपा सरकार के नीतियों की कलाई खोल दी है। केन्द्र सरकार का खाद्य पदार्थों की कीमतों पर कोई नियंत्रण नहीं रह गया है। सम्पूर्ण देश में खाद्य पदार्थों की कीमतें आम आदमी की पहुंच से बाहर होती जा रही है। जनता महंगाई से परेशान है। सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी है। वह मंहगाई को काबू में करने के लिए अपनी ओर से कोई प्रयास नहीं कर रही है।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.