GLIBS

ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ने केन्द्र सरकार की जनविरोधी नीति के विरोध में किया धरना प्रदर्शन

वैभव चौधरी  | 04 Jul , 2020 06:34 PM
ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ने केन्द्र सरकार की जनविरोधी नीति के विरोध में किया धरना प्रदर्शन

धमतरी/नगरी। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार ब्लॉक कांग्रेस कमेटी नगरी, बेलरगांव, कुकरेल द्वारा संयुक्त रूप से केंद्र सरकार की जन विरोधी नीति और पेट्रोल डीज़ल एवं गैस की दर मे वृद्धि के विरोध मे एक दिवसीय धरना प्रदर्शन सिहावा विधायक डॉ.लक्ष्मी ध्रुव के नेतृत्व मे बजरंग चौक नगरी में किया गया एवं राष्ट्रपति के नाम पेट्रोल डीजल के मूल्यों में बढ़ोत्तरी के माध्यम से मोदी सरकार द्वारा जबरन वसूली को रोकने बाबत तहसीलदार नगरी को ज्ञापन सौंपा गया। कार्यक्रम में सिहावा विधायक डॉ.लक्ष्मी ध्रुव ने सभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि मोदी जब से सत्ता मे आये तब से उनकी सरकार द्वारा लोकलुभावन वादे अच्छे दिन लाऊंगा, काला धन लाऊंगा,लोगों के जनधन खातों मे 15 लाख डालूंगा जैसे झूठे जुमले से पूरे देश को ठगा गया है। भारतीय जनता पार्टी ने भेदभाव की राजनीति की है।

राशन कार्ड देने में भेदभाव, आवास योजना में भेदभाव,मनरेगा में भेदभाव यहाँ तक कि छत्तीसगढ़ के एक भी जिलों को गरीब कल्याण योजना मे शामिल तक नही किया यह भाजपा की भेदभाव की राजनीति का सिर्फ एक उदाहरण है। आज अंतरराष्ट्रीय बाजारों मे कच्चे तेल की कीमतों मे लगातार गिरावट के वाद भी मोदी सरकार द्वारा पेट्रोलियम के दामों मे बेतहाशा वृद्धि की जा रही है। आमजन मानस से लेकर किसानो व्यपारी वर्ग सभी वर्गों को पेट्रोलियम पदार्थों के मूल्यवृद्धि का असर सीधे उनके जेब पर पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि भूपेश सरकार द्वारा कर्मचारी,किसानों एवं गरीबों के लिए कई जनहितैषी फैसले लिए गए है। इसके परिणामस्वरूप आज छत्तीसगढ़ की अर्थव्यवस्था सुदृढ़ एवं विकासशील है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार की खिलाफ इस विरोध प्रदर्शन मे ब्लॉक कांग्रेस कमेटी नगरी ,बेलरगांव, कुकरेल के समस्त कर्मठ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा जनमानस को जागरूक करने के इस कार्यक्रम मे उपस्थित होने के लिए धन्यवाद दिया ।कार्यक्रम में अध्यक्ष ब्लॉक कांग्रेस कमेटी नगरी राजेन्द्र सोनी, अध्यक्ष ब्लॉक कांग्रेस कमेटी बेलरगांव कैलाश प्रजापति,शहर अध्यक्ष कृष्ण कुमार कश्यप, आलोक जाधव,सलीम रोकड़िया सहित नगरी, बेलरगांव, कुकरेल के कांग्रेसी कार्यकर्ता शामिल थे।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.