GLIBS

भाजपा की केन्द्र सरकार किसान सम्मान निधि किस्तों में ही देती है : मोहन मरकाम

रविशंकर शर्मा  | 22 May , 2020 06:16 PM
भाजपा की केन्द्र सरकार किसान सम्मान निधि किस्तों में ही देती है : मोहन मरकाम

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा है कि जिस भाजपा ने अपने शासनकाल में न किसानों को 2100 रुपए समर्थन मूल्य दिया, न 5 साल 300 रुपए बोनस दिया, न 5 हासपावर पंपो को मुफ्त बिजली का वादा निभाया और ना ही किसानों की कर्जमाफी की, वह किस मुंह से कांग्रेस सरकार पर सवाल खड़े करती है। छत्तीसगढ़ के किसान कभी इस बात को नहीं भूल सकते हैं कि इस साल 2500 रुपए धान का दाम देने में भाजपा की ही केन्द्र सरकार ने रूकावट डाली है। कोरोना संकट लॉक डाउन के कारण उत्पन्न वित्तीय संकट में राज्य की राजस्व आय में कमी आई है,इसके बावजूद कांग्रेस सरकार ने किसानों को 1500 करोड़ रुपए जारी किए हैं।मरकाम ने कहा है कि किसानों से वादाखिलाफी और किसान विरोधी आचरण भाजपा का चरित्र है। किसान विरोधी भाजपा की केन्द्र सरकार किसान सम्मान निधि किस्तों में ही देती है। किसानों की इतनी ही चिंता है तो भाजपा नेता केन्द्र सरकार को छत्तीसगढ़ राज्य के लिए 30 हजार करोड़ का वित्तीय पैकेज देने क्यों नहीं कहते? किस्तों पर भाजपा नेताओं के सवालों को खारिज करते हुए मरकाम ने कहा है कि इस समय प्रदेश की अर्थव्यवस्था बड़े खर्च की अनुमति नहीं दे रही है। विपरीत परिस्थितियों में कोरोना लॉक डाउन के कारण वित्तीय संकट के बावजूद छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने दृढ़ संकल्प के साथ गरीब, मजदूर, किसानों की मद्द के लिए कदम आगे बढ़ाए हंै, जो दूरदर्शी सोच का हिस्सा है। दरअसल किसानों को खेती के लिए पैसों की जरुरत एकमुश्त नहीं होती। समय-समय पर खर्च करने की आवश्यकता होती है और उसी आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए समय-समय पर उन्हें खाली हाथ मलने से बचाने के लिए किस्तों में पैसे देने का फैसला लिया गया। जाहिर है, इससे खेती का काम नहीं रूकेगा और समय पर किसान अपने कृषि कार्य को पूरा कर सकेंगे।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.