GLIBS

मो.अकबर ने कहा भाजपा का आरोप बिल्कुल गलत, लोगों ने स्वेच्छा से दिया कांग्रेस को समर्थन

रविशंकर शर्मा  | 03 Feb , 2020 07:57 PM
मो.अकबर ने कहा भाजपा का आरोप बिल्कुल गलत, लोगों ने स्वेच्छा से दिया कांग्रेस को समर्थन

रायपुर। राजीव भवन में आज सोमवार को अपने 24वें मंत्री से मिलिये कार्यक्रम में पहुंचे मंत्री मो. अकबर ने कांग्रेस के कार्यकताओं,पदाधिकारियों और जनसामान्य से मुलाकात कर अपने विभाग से संबंधित समस्याओं शिकायत और सुझाव पर आवश्यक कार्यवाही की। इसके बाद उन्होंने मीडिया से चर्चा की एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि भाजपा का आरोप बिल्कुल गलत है। अधिकांश स्थानों में कांग्रेस पार्टी ही चुनाव जीती है, चाहे वह पंचायतों में हो, जनपद में हो या जिला में है। अब भारतीय जनता पार्टी अपनी वाहवाही करे तो बात अलग है। खरीद फरोख्त करके दबाव पूर्वक अपना अध्यक्ष बनाया गया तो यह आरोप बिल्कुल गलत है। लोगों ने स्वेच्छा से अपना सहयोग,अपना समर्थन कांग्रेस पार्टी को दिया है। इसी का परिणाम 10 के 10 में नगर निगमों में कांग्रेस पार्टी ने चुनाव जीता है।

मंत्री मो. अकबर ने कहा कि आज उनका 24वां मंत्री से मिलिए कार्यक्रम है, पहले से आवेदनों में भी कमी आई है। इसका कारण यह भी हो सकता है कि आज त्रिस्तरीय पंचायती राज का आखिरी दौर का चुनाव है। जो भी आवेदन पत्र प्राप्त हुए हैं, सभी के निराकरण के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। प्रधानमंत्री आवास के संबंध में उन्होंने कहा कि जो आवास निर्माण का कार्य किया जाना था, बीच में थोड़ी आर्थिक कठिनाई का सामना करना पड़ा। दरों में कमी करके कुछ मकानों का विक्रय किया गया है, एकमुश्त राशि को जमा कर दें, उसमें छूट दी गई है। इस हिसाब से कुछ पैसा प्राप्त हुआ है,इससे कार्य को गति प्रदान करेंगे। उन्होंने कहा कि तेंदूपत्ता का जो संग्रह है वह लघु वनोपज सहकारी संघ के माध्यम से किया जाता है और संग्रहित करने के बाद उसका परिधान संबंधित ठेकेदार को दिया जाता है। जो अलग-अलग ग्रुप में लेते हैं। फिलहाल नईं नीति पर वर्तमान में कार्य चल रहा है। उन्होंने कहा कि आरडीए की स्थिति अभी कमजोर है,इसका मुख्य कारण समझ में आता है कि कमल विहार के लिए जो ऋण लिया गया था, वह सबसे बड़ा कारण है। बाकी स्थानों में भी उसको उबारने के लिए कोशिश हो रही है। राजधानी रायपुर में यातायात क्षेत्र में किए जा रहे नए प्रयोग पर मंत्री अकबर ने कहा कि यातायात का जो मामला है पूरी तरह से शहरों में पुलिस विभाग के नियंत्रण में है।

परिवहन विभाग में जो नई नीति आई थी उसके हिसाब से जुर्माने की राशि थी, वह बहुत अधिक थी। इसके कारण आम लोगों को कठिनाई ना हो तो जो आपसी राजीनामा के आधार पर स्थल पर जो जुर्माना लगेगा। यही मामला जब न्यायालय में जाएगा तो नया जो एक्ट लागू हुआ है उसके हिसाब से लगेगा। उन्होंने कहा कि जो भी नए प्रयोग है उसके लिए पुलिस विभाग लगातार प्रयास करती है नया प्रयोग होना भी चाहिए। धान खरीदी के मामले में मंत्री अकबर ने कहा कि पहले तीन टोकन निर्धारित किया गया था, फिर मंत्रिमंडल की उपसमिति की बैठक में तय हुआ,किसी कारण से तीन टोकन में यदि कोई बड़ा किसान अपना धान पूरा नहीं बेच पा रहा है तो उसे तीन टोकन के बाद और भी टोकन दिया जा सकता है। उस पर रोक को हटा दिया गया था, लेकिन शर्त यह है जो छोटे-छोटे किसान हैं उनको पहले टोकन देकर उसकी पूर्ति हो जाए। बाद में फिर उसको दिया जाएगा, लेकिन बंधन नहीं है।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.