GLIBS

दिमागी बुखार के कारण मुजफ्फरपुर में 31 बच्चों की मौत, अस्पतालों में अलर्ट जारी

तरुण कुमार  | 12 Jun , 2019 11:18 AM
दिमागी बुखार के कारण मुजफ्फरपुर में 31 बच्चों की मौत, अस्पतालों में अलर्ट जारी

नई दिल्ली। दिमागी बुखार से बिहार के मुजफ्फरपुर में एक सप्ताह में 56 से अधिक बच्चों की जान जा चुकी है। बताया जा रहा है कि दिमागी बुखार (इंसेफलािइटस) की वजह से मुजफ्फरपुर सहित कुल पांच जिलों में 31 बच्चों की मौत हो गई है। दिमागी बुखार से 12 जिले और 222 प्रखंड प्रभावित हैं। मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, सीतामढ़ी, शिवहर और वैशाली जिलों में दिमागी बुखार का कहर तेज हो गया है। इसके चलते अब तक 56 बच्चों की जान गई है। एसकेएमसीएच हॉस्पिटल के अधीक्षक सुनील शाही ने बताया कि एक से दो जून तक तेरह बच्चों को हॉस्पिटल में लाया गया, जिसमें से 3 की मौत हुई। जबकि 2 जून के बाद अबतक 86 को भर्ती किया गया है, जिनमें 31 की मौत हो चुकी है।

दिमागी बुखार से पिछले 10 वर्षों में 350 से अधिक बच्चों की मौत हो गई है। स्वास्थ्य विभाग ने लगातार सातवें दिन बच्चों की मौत होने पर सिविल सर्जन शैलेश प्रसाद सिंह से रिपोर्ट मांगी है और इलाज की बेहतर मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया।
बीमारी के कहर को देखते हुए चार आईसीयू चालू किए गए हैं, फिर भी बच्चों के लिए बेड कम पड़ रहे हैं। अस्पतालों में अलर्ट जारी किया गया है। वहां जरूरी सुविधाओं के साथ डॉक्टरों की रोस्टर ड्यूटी तय कर दी गई है। मंत्रियों के लापरवाही भरे बयान हर वर्ष होने वाली इस बीमारी को रोकने में बिहार सरकार नाकाम रही है।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.