GLIBS

अयोध्या में आतंकवादी हमला मामले का फैसला 18 जून को संभव

अयोध्या में आतंकवादी हमला मामले का फैसला 18 जून को संभव

प्रयागराज। अयोध्या में वर्ष 2005 में हुये आतंकवादी हमले के सिलसिले मे विशेष अदालत 18 जून को फैसला सुना सकती है। इस हमले को कथित रूप से जैश ए मोहम्मद के आतंकवादियों ने अंजाम दिया जिसमें केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के सात जवान घायल हो गये थे। पुलिस ने इस मामले में इरफान,आशिक इकबाल उर्फ फारूकी,शकील अहमद,मोहम्मद नसीम और मोहम्मद अजीज को गिरफ्तार किया था और उन्हे नैनी जेल में बंद किया गया था। डा इरफान सहारनपुर जिले का निवासी है जबकि अन्य जम्मू कश्मीर के पूंछ जिले के रहने वाले हैं।

सूत्रों ने बुधवार को बताया कि विशेष न्यायाधीश (एससी.एसटी) दिनेश चंद 18 जून को इस मामले का फैसला सुना सकते है। पुलिस ने पांच लोगों को षडयंत्र रचने और आतंकवादियों को मदद पहुंचाने समेत विभिन्न आरोप के तहत गिरफ्तार किया था। गौरतलब है कि पांच जुलाई 2005 को रामजन्मभूमि बाबरी मस्जिद परिसर में हथियारों से लैस आतंकवादियों ने हमला बोल दिया था। सुरक्षा बलों के साथ करीब एक घंटे चली मुठभेड़ में सीआरपीएफ के सात जवान घायल हो गये थे। आतंकवादियों ने नेपाल के रास्ते भारत में प्रवेश किया था जबकि उन्होने श्रद्धालुओं के वेश में अयोध्या में प्रवेश किया था।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.