GLIBS

गोरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा पर सरकार सख्त, बनेगा कड़ा कानून, सजा, जुर्माने का प्रावधान

ग्लिब्स टीम  | 27 Jun , 2019 03:31 PM
गोरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा पर सरकार सख्त, बनेगा कड़ा कानून, सजा, जुर्माने का प्रावधान

भोपाल। गोरक्षा के नाम पर हो रही हिंसा पर लगाम लगाने ने लिए मध्यप्रदेश सरकार सख्त कानून बनाएगी। इस कानून में गोरक्षा के नाम पर हिंसा एवं भीड़ द्वारा हत्या करने वाले स्वयंभू गोरक्षकों को जेल की सजा का प्रावधान किया जाएगा।
मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व में कैबिनेट बैठक में गोवंश वध प्रतिषेध अधिनियम-2०4 में संशोधन करने की मंजूरी दी गई है। प्रदेश के पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव ने इसकी पुष्टि की है। सूत्रों के अनुसार मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार 8 जुलाई से होने वाले आगामी विधानसभा सत्र में इस अधिनियम के संशोधन बिल को अमलीजामा पहनाने के लिए पेश करेगी।

आधिकारिक जानकारी के अनुसार इस संशोधन के विधानसभा में पारित होकर कानून बनने के बाद यदि कोई शख्स अकेला गोरक्षा के नाम पर हिंसा करेगा तो उसे छह महीने से लेकर तीन साल की सजा और जुर्माना देना पड़ेगा।  उन्होंने कहा कि गाय के नाम पर भीड़ द्वारा हिंसा या हत्या की जाती है, तो उनकी सजा को बढ़ाकर न्यूनतम एक साल और अधिकतम पांच साल किया जाएगा. उन्होंने कहा कि यदि अपराधी दोबारा अपराध करता है तो उसकी सजा दोगुनी कर दी जाएगी। 
अधिकारी ने बताया कि संशोधन में उन लोगों को एक से तीन साल की सजा देने का प्रावधान किया जाएगा जो हिंसा के लिए लोगों को उकसाने का कार्य करेंग। संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले गोरक्षकों को भी इसके तहत सजा दी जाएगी। 

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.