GLIBS

Airport : 035 तक 216 नए हवाई अड्डे बनाएगा चीन 

आर पी सिंह  | 16 Dec , 2018 11:57 AM
Airport : 035 तक 216 नए हवाई अड्डे बनाएगा चीन 

बीजिंग। चीन 2035 तक 216 नए हवाई अड्डों को बनाने जा रहा है। रविवार को ये जानकारी चीन के नागरिक उड्डयन प्रशासन (सीएएसी) ने दी। सीएएसी के अधिकारियों ने एक चीनी अखबार के संवाददाता को बताया कि  कुछ क्षेत्रीय परिवहन केंद्र विकसित करना है।

बीजिंग में भी बन रहा विशाल हवाई अड्डा:

राजधानी बीजिंग में एक नया हवाई अड्डा बनने जा रहा है। अक्टूबर 2019 में इसका ट्रायल शुरू होगा। बीजिंग के अधिकारियों के मुताबिक, इस प्रोजेक्ट का जुलाई 2019 में कामकाज पूरा हो जाएगा जिसके बाद यह प्रक्रिया अपनाई जाएगी। माना जा रहा है कि निर्माण के बाद यह दुनिया का सबसे बड़ा हवाई अड्डा होगा। बीजिंग अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा 46 किमी दक्षिण में दाक्सिंग जिले और लांगफांग की सीमा पर मौजूद है। बीजिंग को भी हवाई अड्डे से जोड़ने के लिए हाईवे का काम शुरू हो चुका है। किसी अंतरिक्षयान की तरह दिखने वाले इस हवाई अड्डे में 10 करोड़ यात्री सालाना यात्रा कर सकेंगे। इसमें गार्डन, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए अलग-अलग टर्मिनल और छह गलियारे होंगे।

भारत को घेरने की कोशिश:

इन हवाई अड्डों का मूल उद्देश्य ही भारत को घेरना है। चीन पाकिस्तान के साथ मिलकर भारत को चारों तरफ से घेरने की कोशिश में लगा हुआ है। तो वहीं उसकी पूरी कोशिश है कि कैसे भारत पर अपना  विस्तारवादी शिकंजा कसा जाए। पाकिस्तान को अपने शिकंजे में कस चुका चीन अब भारत पर भी निगाहें गड़ाने लगा है। यही कारण है कि उसने नेपाल को अपनी ओर मिला लिया। जब कि भारत नेपाल के हर संकट में काम आता रहा है। उसके बावजूद भी नेपाल का चीन प्रेम समझ से परे है।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.