GLIBS

Bhushan Award : रायगढ़ की बेटी तब्बू परवीन को दुबई में मिला कला भूषण सम्मान 

Bhushan Award : रायगढ़ की बेटी तब्बू परवीन को दुबई में मिला कला भूषण सम्मान 

रायगढ़। कला एवं संस्कृति की नगरी रायगढ़ में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है। खास तौर पर नृत्य और संगीत के क्षेत्र में रायगढ़ घराने की वैसे भी अंतरराष्ट्रीय पहचान रही हैं। इस पहचान को और अधिक निखारने में लगी शहर की युवा पीढ़ी ने भी एक के बाद एक कई बड़ी सफलताएं हासिल की हंै। इसी क्रम में शहर के मधुवन पारा की प्रतिभावान बेटी तब्बू परवीन ने भी हाल ही में एक बड़ी उपलब्धि प्राप्त की है। यूएई के दुबई शहर में 16-18 नवंबर को  अंतरराष्ट्रीय नृत्य महोत्सव नृत्यकलाकेली मंच में ऐसा श्रेष्ठ नृत्य किया कि आयोजन समिति ने उन्हें साउथ फिल्मों के सुपर स्टार सुरेश गोपी और पद्मभूषण धनजंयन एवम शान्ता धनंजयन के हाथों नदम कला भूषण सम्मान से नवाजा है।

 बता दें कि विगत 13 सालों से कत्थक नृत्य का प्रशिक्षण ले रहीं तब्बू परवीन अब किसी पहचान की मोहताज नहीं हंै। उन्होंनेे अपनी नृत्य कला-साधना के बल पर बहुत कम उम्र में ही कत्थक नृत्य में ऐसी निपुणता हासिल कर ली है कि वर्ष 2011 से 2018 के बीच करीब 15 बड़े और महत्वपूर्ण सम्मान प्राप्त किए हैं। नृत्यांगना तब्बू ने शहर के सुप्रसिद्ध नृत्यगुरु शरद वैष्णव से 13 साल तक कत्थक नृत्य की शिक्षा प्राप्त की है। उनके अलावा नृत्यगुरु पंडित सुनील वैष्णव व वासंती वैष्णव से भी नृत्य कला की बारीकियां सीखीं। कत्थक नृत्य में डिप्लोमा लेकर प्रभाकर बन चुकी युवा नृत्यांगना तब्बू परवीन भविष्य में प्रोफेशनल क्लासिकल डांसर बनना चाहती हैं। शहर के केएमटी कालेज में बीए फाइनल ईयर की छात्रा तब्बू आगे वकालत की पढ़ाई भी करना चाहती हैं। उन्होंने अपने संदेश में कहा है कि शहर की युवक-युवतियां अपने हुनर को न छुपाएं। वे जो भी करना चाहते हैं उस पर अपनी मेहनत और एकाग्रता से पूरा करते हुए समाज में अपना मुकाम पाएं। उन्होंने कहा है कि अब तक अर्जित सफलता के लिए जिन्होंने भी मेरा साथ दिया है उन्हें मैं तहे दिल से धन्यवाद देना चाहती हूं।