GLIBS

पुण्यतिथि पर कांग्रेस भवन में याद किए गए पं. विद्याचरण शुक्ल 

मुकेश पाण्डेय  | 12 Jun , 2019 12:46 PM
पुण्यतिथि पर कांग्रेस भवन में याद किए गए पं. विद्याचरण शुक्ल 

कोरबा। विद्या भैय्या जिंदादिल इंसान थे। उनके सरल व्यक्तित्व के सामने सब नतमस्तक हो जाते थे। उनके यहां जाने वाला कोई भी व्यक्ति मायूस होकर नही लौटा। उक्त कथन जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय कोरबा में आयोजित पूर्व केन्द्रीय मंत्री पं. विद्याचरण शुक्ल की 7वीं पुण्यथिति पर यह विचार पूर्व सभापति संतोष राठौर ने व्यक्त किये। जिला कांग्रेस कमेटी कोरबा शहर द्वारा आयोजित कार्यक्रम में पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने दो मिनट का मौन धारण करने के साथ अपने दिवंगत नेता के छायाचित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए उनसे जुड़ी यादों को साझा किया। संतोष राठौर ने आगे कहा कि विद्या भैया संगठन को लेकर काफी निष्ठावान रहा करते थे। यही कारण है कि प्रदेश की राजनीति में उन्हे विशेष सम्मान प्राप्त था। कांग्रेस की परिवर्तन यात्रा पर हुए नक्सल हमले ने उन्हे हमसे छीन लिया। 

जिला कांग्रेस शहर के कार्यालय महामंत्री एवं प्रवक्ता सुरेश कुमार अग्रवाल ने कहा कि विद्या भैया का प्रदेश और देश के विकास में अहम योगदान रहा। उन्होने बड़े प्रोजेक्ट को मूर्त रूप देने में विशेष रूचि ली। इसका लाभ क्षेत्र को लगातार प्राप्त हो रहा है। 
उन्होने आगे कहा कि विद्या भैया के अवसान से जो कमी आई है उसकी पूर्ति होना मुश्किल है। मौजूदा दौर में हमें संकल्प लेना होगा कि विद्या भैया के अधुरे सपने को पूरा करें। पूर्व जिला अध्यक्ष श्यामसुंदर सोनी ने इस अवसर पर प्रगति की दिशा में किये गये कार्यों को लेकर विद्या भैया के योगदान का स्मरण किया। इस अवसर पर जिला महामंत्री राजेन्द्र सिंह ठाकुर, गायत्री नायक, सुधीर जैन, संजय अग्रवाल, वेदनायक, रजनीश तिवारी, टीकाराम मनहर आदि ने विद्या भैय्या के जीवनी पर प्रकाश डालते हुए श्रद्धाजंली अर्पित किया।