GLIBS

आदेश अवहेलना व राजनीतिक संलिप्तता के मामले में सहायक शिक्षक बर्खास्त

आदेश अवहेलना व राजनीतिक संलिप्तता के मामले में सहायक शिक्षक बर्खास्त

धमतरी। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. सीआर प्रसन्ना ने नगरी विकासखण्ड की शासकीय प्राथमिक शाला मड़वापथरा के निलंबित सहायक शिक्षक एलबी योगेश चन्द्राकर को तत्काल प्रभाव से शासकीय सेवा से पदच्युत कर दिया है। उल्लेखनीय है कि उक्त शिक्षक की पदस्थापना नगरी के शासकीय प्राथमिक शाला बुडऱापारा (चमेदा ख) में की गई थी, जिन्हें अनधिकृत एवं अनियमित उपस्थिति के संबंध में प्राप्त शिकायत उपरांत पदीय दायित्वों के प्रति उदासीनता, घोर लापरवाही बरते जाने पर जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया था। बाद में निलंबन की बहाली भी की गई। उन्हें जिला निर्वाचन कार्यालय में संलग्न किया गया था। उच्चाधिकारी के उक्त आदेश की उनके द्वारा अवहेलना करते हुए विभागीय जांच में सहयोग नहीं किया किया गया।

इसके अलावा शासकीय कर्मचारी होने के बावजूद आदर्श आचरण संहिता के प्रतिकूल राजनीतिक गतिविधियों में भी उनकी संलिप्तता पाई गई, जिसकी पुष्टि अनुविभागीय अधिकारी कुरुद से मिले जांच प्रतिवेदन में भी की गई। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने उक्त  प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए योगेश चंद्राकर को पदीय दायित्वों के निर्वहन में घोर लापरवाही, स्वेच्छारिता व उच्चाधिकारियों के आदेशों, निर्देशों के प्रति उदासीनता बरते जाने, विद्यालय में पठन-पाठन प्रभावित होने और विभागीय जांच में आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन पाए जाने पर छत्तीसगढ़ सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण एवं अपील) नियम-उपनियम के तहत तत्काल प्रभाव से बर्खास्त कर दिया है। उक्त सहायक शिक्षक को 1966 के नियम 7 (1) के तहत सेवामुक्ति तिथि से किसी वेतन या भत्ते की पात्रता नहीं होगी।