GLIBS

नगर परिषद चांद में हुआ ‘आपकी सरकार आपके द्वार’ कार्यक्रम

ग्लिब्स टीम  | 14 Feb , 2020 09:46 PM
नगर परिषद चांद में हुआ ‘आपकी सरकार आपके द्वार’ कार्यक्रम

छिन्दवाडा। मुख्यमंत्री कमलनाथ के महत्वाकांक्षी व जनकल्याणकारी योजना ‘आपकी सरकार आपके द्वार’ के अंतर्गत आज जिले के चौरई विकासखंड की नगर परिषद चांद में शिविर आयोजित किया गया। कार्यक्रम के दौरान क्षेत्रीय विधायक सुजीत चौधरी, पूर्व विधायक गंभीरसिंह चौधरी, अन्य जनप्रतिनिधि व गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। वहीं जिला प्रशासन की ओर से कलेक्टर डॉ.श्रीनिवास शर्मा, पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी गजेंद्र सिंग नागेश, एसडीएम मेघा शर्मा, तहसीलदार शसुनैना ब्रम्हे व मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत प्रमोदकुमार खरे सहित सभी जिला और जनपद पंचायत स्तरीय अधिकारी और आम नागरिक उपस्थित थे। विधायक सुजीत चौधरी ने कहा कि लोगों की समस्याओं निराकरण के लिये प्रदेश सरकार ने ‘आपकी सरकार आपके द्वार’ ऐतिहासिक योजना शुरू की है। अब लोगों को अपनी समस्या के निराकरण के लिये परेशान नहीं होना पड़ेगा। सभी अधिकारी गांव में आकर लोगों की समस्याओं को सुनकर उनका  निराकरण कर रहे है। उन्होंने कहा कि ग्रामवासियों की सभी समस्याओं का तत्काल निराकरण किया जायेगा। शिविर के दौरान 5 हितग्राहियों को राजस्व पुस्तक परिपत्र के अंतर्गत 4-4 लाख रूपये की राशि के चेक, 9 हितग्राहियों को ऋण पुस्तिका, 17 हितग्राहियों को पट्टा वितरण, राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना के अंतर्गत 3 हितग्राहियों को 20-20 हजार रूपये की स्वीकृत राशि के चेक प्रदान किए गए। इसके अतिरिक्त नया सवेरा योजना के अंतर्गत दुर्घटना से मृत्यु होने पर 3 हितग्राहियों को 4-4 लाख रूपये और सामान्य मृत्यु होने पर 21 हितग्राहियों को 2-2 लाख रूपये दी गई। नगर पंचायत चांद में शिविर के दौरान विभिन्न विभागों के 445 आवेदन पंजीबध्द किये गये। इसमें से 79 प्रकरणों का निराकरण तुरंत किया गया। अन्य समस्याओं का निदान शीघ्र ही किया जायेगा। शिविर के दौरान प्राप्त आवेदनों और विभिन्न समस्याओं के निराकरण की जानकारी संबंधित अधिकारी द्वारा मंच पर आकर आम जन को दी गई। शिविर में मुख्यत: नामांकन, बंटवारा, आवास, बीपीएल में नाम जोड़ने, पेंशन, आवासीय पट्टा, मनरेगा आदि के आवेदन प्राप्त हुये ।

अरविंद वर्मा की रिपोर्ट

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.