GLIBS

हमने आरक्षण में विसंगतियों को सुधारने का काम किया : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

हर्षित शर्मा  | 29 Aug , 2019 02:46 PM
हमने आरक्षण में विसंगतियों को सुधारने का काम किया : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

रायपुर। छत्तीसगढ़ में आरक्षण में हुए परिवर्तन पर प्रदेश कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन में आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का सम्मान किया गया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं सहित अन्य वर्ग के लोगों ने मुख्यमंत्री का आभार जताया। उन्हें पगड़ी पहनाकर सम्मानित किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि अनुसूचित जाति जनजाति को उनकी जनसंख्या के अनुसार आरक्षण मिलना चाहिए। लोकसभा चुनाव के पूर्व पार्लियामेंट में प्रस्ताव पारित हुआ कि सामान्य वर्ग के गरीब को 10% आरक्षण मिलना चाहिए। छत्तीसगढ़ में अनुसूचित जाति के लोगों की संख्या 13% है लेकिन आरक्षण 12% था। इन विसंगतियों को जो व्यवस्था के विपरीत कानून के विपरीत है को सुधारने का काम किया है। सामान्य वर्ग के गरीब लोग हैं उनको 10% आरक्षण जो कानून व्यवस्था में हैl इसे लागू करने का काम हमने किया है। सामान्य प्रक्रिया का पालन किया है, किसी पर भी मैंने एहसान नहीं किया है। संविधान हम सब को सुरक्षा प्रदान करता है। जिस संविधान की शपथ लेकर हम सब काम करते हैं, इससे न्यायपालिका, कार्यपालिका, विधायिका संचालित होती है। छत्तीसगढ़ के सभी वर्गों ने इस फैसले का समर्थन किया हैं। हम सबका छत्तीसगढ़ हैं। सभी छत्तीसगढ़ के विकास में योगदान दे रहे हैं। हमें प्रदेश को अग्रणी बनाना चाहते हैं। छत्तीसगढ़ में दुर्भाग्यवश 39.9% लोग गरीबी रेखा के नीचे जी रहे हैं, 35% लगभग बच्चे कुपोषित हैं, 18% लोग झोपड़पट्टी में रहते हैंl हम जब तक इस वर्ग के लोगों को जो गरीब हैंl अनुसूचित जाति जनजाति के हैंl उन को साथ में लेकर नहीं चलेंगे, तब तक छत्तीसगढ़ समृद्ध नहीं हो सकता। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें सबकों साथ में लेकर चलना है। छत्तीसगढ़ को स्वस्थ्य छत्तीसगढ़, शिक्षित छत्तीसगढ़ बनाना है। कुपोषण और अशिक्षा के खिलाफ लड़ाई लड़ना, अनुसूचित जाति जनजाति को आरक्षण मिलना चाहिए।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.