GLIBS

उत्तराखंड : बादल फटने से मची तबाही, मलबे में दबे मजदूरों के 15 टेंट, नहीं हुई कोई जनहानी

ग्लिब्स टीम  | 20 Sep , 2021 12:17 PM
उत्तराखंड : बादल फटने से मची तबाही, मलबे में दबे मजदूरों के 15 टेंट, नहीं हुई कोई जनहानी

 चमोली। बादल फटने से सोमवार को सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) के मजदूरों के 15 टेंट मलबे में दब गए। हादसा उत्तराखंड के चमोली जिले के नारायणबगड़ का है। वहीं मलबे से कर्णप्रयाग-ग्वालदम हाईवे भी बंद हो गया है। मार्ग को खोलने का काम शुरू कर दिया गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी इस घटना का संज्ञान लिया। उन्होंने कहा स्थानीय प्रशासन राहत बचाव कार्य कर रहा है। बादल फटने की घटना से कोई जनहानी नहीं हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक नारायणबगड़ के पंती कस्बे के ऊपरी भाग में आज बादल फटने से मंगरीगाड़ में आई बाढ़ ने भारी तबाही मचाई है। गधेरे (बरसाती नाले) के सैलाब से कर्णप्रयाग-ग्वालदम हाईवे के किनारे बीआरओ के मजदूरों के करीब 10 से 15 टेंट मलबे में दब गए। जब मलबा आया मजदूर अपने टेंट के अंदर थे। लेकिन जानमाल का कोई नुकसान नहीं हुआ।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.