GLIBS

निर्माण कार्यों के गुणवत्ता को लेकर नहीं होगा कोई समझौता - नीलकंठ टीकाम

गिरीश जोशी  | 01 Nov , 2019 10:14 AM
निर्माण कार्यों के गुणवत्ता को लेकर नहीं होगा कोई समझौता - नीलकंठ टीकाम

 

कोंडागांव। जिला कार्यालय के सभाकक्ष में शुक्रवार को कलेक्टर नीलकंठ टीकाम द्वारा जिले में कराए जा रहे डीएमएफ-एलडब्लूई-सीएसआर मद तथा आदिवासी विकास प्राधिकरण, सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना एवं विधायक निधि अंतर्गत निर्माण कार्यो की गहन समीक्षा की गई। कलेक्टर ने इस मौके पर कहा कि इन योजनाओं के तहत कराये जा रहे कार्यो से ग्राम पंचायतो की स्थिति में लगातार परिवर्तन आया है इसलिए कार्यों की गुणवत्ता के साथ किसी भी प्रकार का समझौता नहीं किया जा सकता है। अतः संबंधित अधिकारी सही कार्य सही समय पर करे और गुणवत्तायुक्त कार्यों को सदैव प्रोत्साहन मिलेगा। इसके लिए लगातार निर्माण स्थलों में स्थल परीक्षण किया जाना चाहिए और किसी भी निर्माण कार्यो की क्वालिटी दोषयुक्त होने पर संबंधित एजेंसियां ही जिम्मेदार मानी जाएगी। इसके साथ ही पूर्ण हो गए निर्माण कार्यो के कार्य पूर्णता प्रमाण पत्र जिला कार्यालय में उपलब्ध कराए जाए। अधिकारियों को यह भी नसीहत दी गई कि अपने विभाग संबंधी निर्माण कार्यो हेतु प्रशासकीय स्वीकृति राशि जारी करने में बिल्कुल भी विलंब न किया जाए।

बैठक में जिला खनिज संस्थान न्यास निधि (डीएमएफ) अंतर्गत नवीन जिला अस्पताल कोण्डागांव पेवर ब्लाॅक कार्य, नरवा कार्यक्रम के तहत जिले के प्रमुख नदी-नालो में वाटर कंर्जवेशन डाइक निर्माण कार्य, जनपद पंचायत फरसगांव के अंतर्गत विभिन्न ग्राम पंचायतो में 100 हितग्राही को स्व-रोजगार हेतु हथकरघा मशीन एवं कपड़ा बुनाई कार्य एवं विशेष केन्द्रीय सहायता योजना (एलडब्लूई) अंतर्गत जिला अस्पताल में मूलभूत सुविधाऐं (कैंटीन, बाउण्ड्रीवाल, मरीजो के लिए शेड), विकासखण्ड कोण्डागांव में वन अधिकार मान्यता प्राप्त हितग्राहियों हेतु आर.सी.सी. पोल निर्माण कार्य एवं चैनलिंक स्टील वायर फैंसिंग कार्य, दुग्ध समिति जुगानी में 3 हजार लीटर की क्षमता का ब्लक मिल्क कुलर इकाई की स्थापना, नक्सल प्रभावित क्षेत्र के बेरोजगार युवक-युवतियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए मधुमक्खी एवं लाख पालन, औषधि पौधा रोपण हेतु प्रशिक्षण और एनएमडीसी परिक्षेत्र विकास निधि अंतर्गत कोण्डागांव के नारायणपुर चैक में सामुदायिक शौचालय एवं बहुउद्देशीय जिम्नेजियम जैसे निर्माण कार्यो की अद्यतन प्रगति की समीक्षा हुई।

इसके अलावा सांसद एवं विधायक स्थानीय क्षेत्र विकास योजना के अंतर्गत अपूर्ण कार्यो जैसे विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-केशकाल अंतर्गत ग्राम बड़ेठेमली, सिदावण्ड, पीपरा और खालेमुरवेण्ड में रंगमंच निर्माण, ग्राम करमरी में चबूतरा निर्माण, ग्राम खालेमुरवेण्ड के डोण्डरेपाल में आर.सी.सी स्लेब पुलिया निर्माण, ग्राम मस्सुकोकोड़ा, पीपरा, कोहकामेटा, चिखलडीही, खुटपदर, ऐटेकोनाड़ी, डुमरपदर, सालेभाट, कुकाड़दाह, सवाला, तोड़ासी, कलेपाल, हलिया, आंवराभाटा, आंवरी, जामगांव में पेयजल उपलब्ध कराये जाने हेतु पानी टेंकर प्रदाय, ग्राम तेंदुभाटा में मुक्तिधाम निर्माण, ग्राम लंजोड़ा एवं मोदे बेड़मा में सांस्कृतिक भवन निर्माण तथा विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-कोण्डागांव अंतर्गत कोसरिया, मरार, कलार एवं क्षत्रीय समाज हेतु सामुदायिक भवन निर्माण, डीएनके कालोनी स्थित सांस्कृतिक मंच निर्माण, सरस्वती शिशु मंदिर में अतिरिक्त कक्ष निर्माण, ग्राम रांधना में सामुदायिक भवन, शामपुर, माकड़ी एवं छिनारी में सांस्कृतिक भवन निर्माण जैसे कार्यो को कलेक्टर ने समय-सीमा में पूर्ण करने के निर्देश दिए। बैठक में वनमण्डलाधिकारी बी.आर.ठाकुर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनंत साहू, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जी.एस.सोरी, जिला सांख्यिकी अधिकारी सिप्रियानुस कुजूर सहित सभी जनपद पंचायत के सीईओ और संबंधित विभाग के अधिकारी, अभियंता एवं तकनीकी सहायक उपस्थित थे।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.