GLIBS

प्रधान आरक्षक की मौत के बाद भरा गया गड्ढा,जिम्मेदारी अब तक तय नहीं

वैभव चौधरी  | 26 Jun , 2020 09:02 PM
प्रधान आरक्षक की मौत के बाद भरा गया गड्ढा,जिम्मेदारी अब तक तय नहीं

धमतरी। रुद्री रोड राधा स्वामी सत्संग भवन के सामने पाइप लाइन बिछाने के लिए रोड के बीचों बीच गड्ढा खोद दिया गया था। पाइपलाइन बिछाने के बाद गड्ढे में नाम का ही मुरुम डाल दिया गया था, मुरुम डालने के बाद वह गड्ढा आवाजाही के कारण फिर से बढ़ता गया, जिसमें आए दिन लोग आते-जाते गिरने से घायल होने लगे। बुधवार को दरमियानी रात में सिटी कोतवाली में तैनात प्रधान आरक्षक जगदीश मिर्धा अपने ड्यूटी से घर लौट रहे थे, तब राधास्वामी सत्संग के पास गड्ढे में गिर पड़े, इनको आसपास के लोगों के सहयोग से जिला अस्पताल पहुंचाया गया था। जिला अस्पताल से रेफर कर मसीही अस्पताल में भर्ती करवाया गया,जिनका इलाज चल रहा था जहां मौत हो गयी। लोग सड़क पर खोदे गए गड्ढे को लेकर सवाल उठाने लगे तब जाकर प्रशासन ने सुध ली। शुक्रवार को राधास्वामी सत्संग भवन के सामने बीचोबीच गड्ढे को रिपेयरिंग किया गया। एक तरह से प्रशासन की नींद मौत के बाद खुली ऐसा लोग कहने लगे हैं। मामले में जनपद सदस्य जागेन्द्र साहू का आरोप है कि पीएचई के ठेकेदार ने पीडब्ल्यूडी विभाग से बगैर अनुमति के गड्ढा खोद दिया, हादसे का इंतजार करने के बाद रिपेयरिंग की गई, इसलिए इसमें जवाबदारी तय कर कार्रवाई की जानी चाहिए।

 

ताज़ा खबरें

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.