GLIBS

राष्ट्रकवि मैथलीशरण गुप्त की रचनाएं भारतीय सहित्य की अमूल्य धरोहर : भूपेश बघेल

रविशंकर शर्मा  | 02 Aug , 2020 04:29 PM
राष्ट्रकवि मैथलीशरण गुप्त की रचनाएं भारतीय सहित्य की अमूल्य धरोहर : भूपेश बघेल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राष्ट्रकवि मैथिलीशरण की कृतियों को याद करते हुए कहा कि, राष्ट्रीय और सामाजिक चेतना से ओतप्रोत खड़ी बोली की उनकी रचनाओं ने बड़े वर्ग पर प्रभाव डाला। स्वतंत्रता संग्राम के दौरान उनकी रचनाओं के प्रभाव को देखते हुए राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने उन्हें राष्ट्रकवि की उपाधि दी थी। राष्ट्रकवि गुप्त को उनके कालजयी साहित्य के लिए पद्भभूषण सहित कई पुरस्कारों से नवाजा गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि, राष्ट्रकवि गुप्त की  रचनाएं भारतीय सहित्य की अमूल्य धरोहर हैं, जो पीढ़ियों को प्रेरित करती रहेंगीं। बता दें कि, राष्ट्रकवि मैथिलीशरण की जयंती 3 अगस्त को है। मुख्यमंत्री बघेल ने उन्हें जयंती पर नमन किया है।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.