GLIBS

सात दोस्त एक साथ उतरे थे नदी में नहाने, 2 दोस्त डूबे, शहर में पसरा मातम

विष्णु कसेरा  | 25 Jun , 2019 05:47 PM
सात दोस्त एक साथ उतरे थे नदी में नहाने, 2 दोस्त डूबे, शहर में पसरा मातम

सूरजपुर। अपने दोस्तों के साथ रेणुका नदी में स्नान करने गए दो मासूम बच्चों की जल समाधि हो गई। समाचार लिखे जाने तक मृतकों के शव नदी से नहीं निकाला जा सके है। इसके लिए गोताखोरों की मदद ली जा रही है। गौरतलब है कि मंगलवार को दोपहर करीब 2 बजे नगर के नया बस स्टैंड मोहल्ला निवासी सुमित साहू 12 वर्ष और आयुष साहू 12 वर्ष अपने 5 अन्य दोस्तों के साथ छठ घाट के समीप स्थित नौकाघाट रेड नदी में स्नान करने गए थे। उसी दौरान सुमित और आयुष के गहरे पानी में चले जाने के कारण डूब गए। जबकि उनके साथ गए तीन अन्य साथी सकुशल हैं, जिन्होंने परिजनों को इस घटना की सूचना दी। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस टीम, परिजन और स्थानीय नागरिक मौके पर पहुंचे है। स्थानीय गोताखोरों ने उनकी तलाश शुरू कर दी है लेकिन अभी तक उनका कोई सुराग नहीं लग पाया है।

कपड़ों से हुई पहचान, परिजनों का रो रो कर बुरा हाल


जिस स्थान पर सुमित साहू और आयुष साहू के डूबने की बात कही जा रही है उसी स्थान पर नदी के घाट पर उन दोनों बच्चों के कपड़े चप्पल और जूते रखे हुए हैं, जो स्पष्ट है कि वे दोनों बच्चे आयुष और सुमित हैं। इस घटना की सूचना जब परिजनों के पास पहुंची तो दोनों बच्चों के परिजन तत्काल घटनास्थल पर पहुंच गए और कपड़े देखकर परिजनो का रो रो कर बुरा हाल है।

इसी स्थान पर होली के दिन हुआ था हादसा

बताया जा रहा है कि जहां पर वे दोनों बच्चे नहा रहे थे वहां पर गहरा खोह है। इसमें कुछ वर्षों पूर्व होली के दिन तीन बच्चों की जल समाधि हो चुकी हैं। इस हादसे के बाद रेड नदी के इस स्थल को प्रतिबंधित कर दिया गया था लेकिन पुनः प्रशासनिक अनदेखी के कारण आज पुनः दो बच्चों की इसी स्थान पर जल समाधि हो गई।

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.